Cyclone, Cyclonegulab, Odisha, Andhrapradesh, Ndrf, Andhra Pradesh, Odisha, Orange Alert For Cyclone Gulab, Cyclone Gulab, Cyclone İn Odisha, Cyclone, Cyclone İn Bay Of Bengal, Cyclone News, भारतीय मौसम विभाग, चक्रवात गुलाब, क्या है चक्रवात गुलाब

Cyclone, Cyclonegulab

'गुलाब' चक्रवात: ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से आज टकराने की संभावना, एनडीआरएफ की 18 टीमें तैनात

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र शनिवार को चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया।

25-09-2021 23:25:00

'गुलाब' चक्रवात: ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से आज टकराने की संभावना, एनडीआरएफ की 18 टीमें तैनात Cyclone Cyclone Gulab Odisha AndhraPradesh NDRF

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरे दबाव का क्षेत्र शनिवार को चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया।

Published by:Updated Sun, 26 Sep 2021 01:18 AM ISTसारआईएमडी के तूफान चेतावनी प्रभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान के पश्चिम की ओर बढ़ने और रविवार शाम को उत्तरी आंध्र प्रदेश के कलिंगपत्तन और दक्षिणी ओडिशा के गोपालपुर तट के बीच से गुजरने की संभावना है।विज्ञापन

हिंदू मंदिरों पर हमले के बाद बांग्लादेश में कई जगहों पर हिंसक प्रदर्शन - BBC News हिंदी मांडविया पर भड़कीं मनमोहन सिंह की बेटी: अस्‍पताल के बेड पर लेटे पिता की तस्‍वीर पब्लिक होने पर बोलीं- मेरे पेरेंट्स चिड़ियाघर के जानवर नहीं निहंगों को हटाने की मांग: किसान नेता बोले- हमारा आंदोलन कोई धार्मिक मोर्चा नहीं, निहंगों को यहां से चले जाना चाहिए

आंध्रप्रेदश-ओडिशा को ओर बढ़ रहा चक्रवात 'गुलाब' (सांकेतिक तस्वीर)- फोटो : ANIख़बर सुनेंख़बर सुनेंबंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र शनिवार को चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया। भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी देते हुए उत्तरी आंध्र प्रदेश और उससे लगे दक्षिण ओडिशा के तटीय इलाकों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। क्योंकि बंगाल की खाड़ी के ऊपर गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवात 'गुलाब' में तेज हो गया था।

आईएमडी के तूफान चेतावनी प्रभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान के पश्चिम की ओर बढ़ने और रविवार शाम को उत्तरी आंध्र प्रदेश के कलिंगपत्तन और दक्षिणी ओडिशा के गोपालपुर तट के बीच से गुजरने की संभावना है।आईएमडी ने कहा, ‘उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्यबंगाल की खाड़ी पर बना कम दबाव का क्षेत्र पिछले छह घंटों में सात किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम की ओर बढ़ा है और यह ताकतवर होकर चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया है।’’ headtopics.com

उत्तरी आंध्र प्रदेश और उससे सटे दक्षिण ओडिशा के लिए तूफान की चेतावनी जारी की गई है। आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटवर्ती क्षेत्रों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।गौरतलब है कि बहुत खराब मौसम होने की चेतावनी ऑरेंज अलर्ट के रूप में दी जाती है और इस दौरान सड़क और रेल यातायात बंद होने और बिजली आपूर्ति बाधित होने की आशंका होती है।

95 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलेंगी हवाएंभारतीय मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक उमाशंकर दास ने बताया कि दास ने कहा कि चक्रवर्ती तूफान के तहत आंध्रप्रदेश और ओड़िशा के लिए चेतावनी जारी की गई है।अनुमान है कि चक्रवात गुलाब दक्षिण ओड़िशा और उत्तर आंध्रप्रदेश के तटीय इलाके कलिंगापटनम के पास 26 सितंबर की शाम को लैंडफॉल करेगा। आईएमडी के महानिदेशक डॉ. मृत्युंजय मोहपात्र ने बताया कि चक्रवाती तूफान के प्रभाव से 95 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक हवा चलने का अनुमान है।

दिल्ली में हुई एनसीएमसी की समीक्षा बैठकइस बीच, केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने शनिवार को नई दिल्ली में राष्ट्रीय संकट प्रबंधन समिति (एनसीएमसी) की समीक्षा बैठक बुलाई। बैठक के दौरान कैबिनेट सचिव ने स्थिति से निपटने के लिए केंद्रीय मंत्रालयों, एजेंसियों और राज्य सरकारों की तैयारियों का जायजा लिया। उन्होंने संबंधित एजेंसियों को चक्रवाती तूफान के आने से पहले निवारक और एहतियाती उपाय सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

गौबा ने कहा कि बैठक का मुख्य उद्देश्य राज्य के साथ-साथ केंद्रीय एजेंसियों को यह सुनिश्चित करना था कि किसी की जान न जाए और संपत्ति और बुनियादी ढांचे को नुकसान कम से कम हो।चक्रवात से निपटने के लिए एनडीआरएफ की 18 टीमें तैयारबंगाल की खाड़ी में कम दबाव की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी देते हुए, भारतीय मौसम विभाग के महानिदेशक मृत्युंजय मोहपात्र ने एनसीएमसी को बताया कि चक्रवाती हवा 75-85 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही है, जिसकी रफ्तार 95 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है। रविवार शाम तक दोनों राज्यों के तटीय जिलों में बारिश होने की संभावना है। headtopics.com

इन आसान तरीक़ों से खाना बर्बाद होने से बचाएं - BBC News हिंदी उद्धव का भाजपा पर बड़ा हमला: दशहरा रैली में बोले- ठुकराए प्रेमी की तरह व्यवहार कर रही है भाजपा, इनके लिए सत्ता की भूख नशे की लत जैसी है मिल गया टीम इंडिया को नया कोच: राहुल द्रविड़ टी20 वर्ल्ड कप के बाद से 2023 के वर्ल्ड कप तक रहेंगे कोच

आईएमडी के शीर्ष अधिकारी के अनुसार, चक्रवाती तूफान आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम, विजयनगरम और विशाखापत्तनम जिलों और ओडिशा के गंजम और गजपति को प्रभावित कर सकता है। गौबा ने बताया कि राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) की 18 टीमों को दोनों राज्यों के तटीय क्षेत्रों में तैनात किया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि आपात स्थिति में अतिरिक्त टीमों को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं। केंद्रीय कैबिनेट सचिव ने कहा कि जहाजों और विमानों के साथ सेना और नौसेना के बचाव और राहत दल भी तैनात किए गए हैं।

ओडिशा के सात जिले हाई अर्लट परओडिशा सरकार के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, सात जिलों- गजपति, गंजम, रायगढ़ा, कोरापुट, मल्काजगिरि, नबरंगपुर और कंधमाल- को हाई अलर्ट पर रखा गया है क्योंकि भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) ने बंगाल की खाड़ी के ऊपर चक्रवाती तूफान बनने का पूर्वानुमान लगाया है। आईएमडी के पूर्वानुमान के मुताबिक तूफान दक्षिणी ओडिशा और पड़ोसी आंध्र प्रदेश के तट की ओर बढ़ सकता है।

मछुआरों को 25 से 27 सितंबर समुद्र में नहीं जाने की चेतावनीअगले तीन दिनों के दौरान समुद्र में ऊंची लहरें उठेंगी और ओडिशा, पश्चिम बंगाल और आंध्र प्रदेश में मछुआरों को 25 से 27 सितंबर तक बंगाल की खाड़ी के पूर्वी-मध्य और उत्तरपूर्वी क्षेत्र में समुद्र में जाने से मना किया गया है।

सरकार की ओर से शनिवार को जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि विशाखापत्तनम, विजयनगरम और श्रीकाकुलम जिलों में निचले इलाकों से लगभग 86,000 परिवारों को राहत शिविरों में स्थानांतरित करने की को योजना बनाई गई है। श्रीकाकुलम में एनडीआरएफ के दो दलों को तैनात किया गया है जहां चक्रवात का अधिक प्रभाव हो सकता है। इसके अलावा विशाखापत्तनम में एक दल को तैनात किया गया है। headtopics.com

विशाखापत्तनम में एसडीआरएफ के एक दल को भी आपातकालीन स्थिति के लिए तैयार रखा गया है। राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने इन जिलों के मछुआरों से 27 सितंबर तक समुद्र में नहीं जाने को कहा है।विस्तारबंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र शनिवार को चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया। भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी देते हुए उत्तरी आंध्र प्रदेश और उससे लगे दक्षिण ओडिशा के तटीय इलाकों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। क्योंकि बंगाल की खाड़ी के ऊपर गहरे दबाव का क्षेत्र चक्रवात 'गुलाब' में तेज हो गया था।

विज्ञापनआईएमडी के तूफान चेतावनी प्रभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान के पश्चिम की ओर बढ़ने और रविवार शाम को उत्तरी आंध्र प्रदेश के कलिंगपत्तन और दक्षिणी ओडिशा के गोपालपुर तट के बीच से गुजरने की संभावना है।आईएमडी ने कहा, ‘उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्यबंगाल की खाड़ी पर बना कम दबाव का क्षेत्र पिछले छह घंटों में सात किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम की ओर बढ़ा है और यह ताकतवर होकर चक्रवाती तूफान ‘गुलाब’ में तब्दील हो गया है।’’

लखबीर के शव का तरनतारन आने पर विरोध: पंचायत सदस्यों और ग्रामीणों ने कहा- जिस पर गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का आरोप, गांव में नहीं होने देंगे उसका संस्कार ब्रेस्ट कैंसर की चपेट में कम उम्र की लड़कियां भी क्यों आ रही हैं? - BBC News हिंदी BJP-TMC में तकरार बढ़ेगी: अब ममता की पुलिस से परमिशन लिए बगैर कोलकाता के मुहाने तक एक्शन ले सकेगी BSF, जद में 148 सीटें और पढो: Amar Ujala »

10तक: सियासत के लिए भी नमक की तरह इस्तेमाल होते हैं किसान!

देश की सियासत में किसान नमक की तरह इस्तेमाल होता है. जरूरत के हिसाब से सियासी दल उसका इस्तेमाल अपने हित के हिसाब से करते हैं. लखीमपुर खीरी का ही उदाहरण लीजिए जहां पहुंचने के लिए विपक्षी दलों में आज होड़ मच गई. मुश्किल में फंसी जनता का हाल जानना हर दल का फर्ज और हक दोनों है लेकिन जनता को कब कितना भाव दिया जाएगा ये चुनाव पर निर्भर करता है. यूपी में चुनाव है तो सभी दलों को किसानों की चिंता है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भी लखीमपुर खीरी आने को तैयार हैं, लेकिन उनके ही राज्य में पिछले 5 महीनों से आदिवासी किसान आंदोलन कर रहे हैं, उनकी सुध लेने का न तो मुख्यमंत्री को वक्त मिला है और न ही उनकी पार्टी के नेतृत्व ने उनके लिए आवाज उठाई है. देखें 10तक.

बांदा: कलयुगी पिता ने शराब के नशे में अपनी बेटी के साथ की छेड़छाड़ की कोशिशशुक्रवार को उसने बुरी नीयत से अपनी बेटी को पकड़ने का प्रयास किया. लड़की के विरोध करने पर उसने मारपीट भी किया है और अपनी बेटी के साथ पहले भी ऐसी घटना को अंजाम दे चुका है.

बाइडेन के किस्से, मोदी के ठहाके...व्हाइट हाउस में दिखी दोनों नेताओं की जबरदस्त बॉन्डिंगमोदी-बाइडेन की मुलाकात के कई ऐसे पल रहे जिन्हें देख साफ महसूस किया जा सका कि भारत-अमेरिका के रिश्ते नए अध्याय की ओर बढ़ रहे हैं. इसकी शुरुआत तो तभी हो गई जब पीएम मोदी ने व्हाइट हाउस में दस्तक दी और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने काफी गर्मजोशी से उनका स्वागत किया. FEKU is working very hard to make 130 crores jobless at the earliest possible ... bolo FEKU keejay .. FEKU is brining 5 trillion US$ from US .. US$ easily available in US .. what an invention FEKU.. अख़बार में आएगा कल फ़्रंट पेज पर Ye kab hua .. apka hi chenal dekh rha tha

चीन-कनाडा के बीच क़ैदियों की अदला-बदली, ख़्वावे की सीएफ़ओ हुईं रिहा - BBC Hindiदुनिया की दिग्गज कम्युनिकेशन कंपनी ख्वावे टेक्नॉलाजीज की मुख्य वित्त अधिकारी मेंग वानझोउ कनाडा की हिरासत से रिहा होने के बाद घर वापस लौट आई हैं.

इंदौर: कपड़े की दुकानों में भीषण आग, शॉर्ट सर्किट की आशंका, काबू पाने की कोशिश जारीसेंट्रल कोतवाली थाना क्षेत्र रिव्हर साइड रोड पर भीषण आग लग गई है। घटना के बाद फायर ब्रिगेड की टीम मौके पर मौजूद है।

यूपीएससी में यूपी के होनहार: अमरोहा की सदफ की 23वीं तो रामपुर के प्रखर की 29वीं रैंकयूपीएससी में यूपी के होनहार: अमरोहा की सदफ की 23वीं तो रामपुर के प्रखर की 29वीं रैंक UPSC UPSCCSEFinalResult2020 UPSCCSEResult UttarPradesh Amroha Rampur

पंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों की लिस्ट फाइनल: कैप्टन के 5 करीबियों की छुट्‌टी और 8 की वापसी, 7 नए चेहरों को भी जगह; कल शाम 4.30 बजे शपथग्रहणपंजाब कैबिनेट के नए मंत्रियों की लिस्ट फाइनल हो गई है। कैप्टन अमरिंदर सिंह के करीबी 5 मंत्रियों की छुट्टी कर दी गई है। इसके अलावा 8 मंत्री वापसी कर गए हैं। वहीं, नई कैबिनेट में 7 नए मंत्री शामिल किए जाएंगे। मंत्रियों की लिस्ट फाइनल करने के बाद राहुल गांधी वापस शिमला पहुंच गए हैं। वे बैठक करने वहीं से दिल्ली आए थे। मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी भी पंजाब लौटे। जिसके बाद उन्होंने गवर्नर बीएल पुरोहित से मु... | पंजाब कैबिनेट के विस्तार को लेकर कांग्रेस हाईकमान कनफ्यूज हो गया है। 3 बार बैठक के बाद भी मंत्रियों की लिस्ट फाइनल नहीं हो सकी।