मोहम्मद बिन सलमान से मिले इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था, इमरान खान का सऊदी अरब दौरा, Pakistan Pm İmran Khan Latest News, Pakistan Economy, İmran Khan Saudi Arabia Visit, İmran Khan Need Financial Help, İmran Khan Mohammad Bin Salman Meeting, İmran Khan İn Saudi Arabia, Pakistan News, Pakistan News İn Hindi, Latest Pakistan News, Pakistan Headlines, पाकिस्तान Samachar

मोहम्मद बिन सलमान से मिले इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान

'कटोरा' लेकर सऊदी अरब पहुंचे इमरान खान, दिवालियेपन की कगार पर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था

'कटोरा' लेकर सऊदी अरब पहुंचे इमरान, दिवालियेपन की कगार पर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था

23-10-2021 07:55:00

'कटोरा' लेकर सऊदी अरब पहुंचे इमरान, दिवालियेपन की कगार पर पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था

Pakistan: पाकिस्तान को जून 2018 में ग्रे सूची में डाला था। अक्टूबर 2018, 2019, 2020 और अप्रैल 2021 में हुए रिव्यू में भी पाक को राहत नहीं मिली थी। पाक एफएटीएफ की सिफारिशों पर काम करने में विफल रहा है। इसकी वजह इंटरनैशनल मॉनिटरिंग फंड (आईएमएफ), विश्व बैंक और यूरोपीय संघ से आर्थिक मदद मिलना मुश्किल है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान चौतरफा मुसीबतों से घिरे हुए हैं। जनता महंगाई से बेहाल है, देश पर कर्जा बढ़ता ही जा रहा है और मदद के सारे रास्ते बंद होते नजर आ रहे हैं। बीते दिनों एफएटीएफ ने पाकिस्तान को अपनी 'ग्रे लिस्ट' में बरकरार रखा। ऐसे में इमरान खान मदद और पैसे मांगने के लिए सऊदी अरब पहुंचे हैं। वैसे तो वह यहां एक सम्मेलन में हिस्सा लेंगे लेकिन उनका मुख्य उद्देश्य निवेशकों और कारोबारियों को लुभाना है।

पाकिस्तान से आती है प्रदूषित हवा : SC में प्रदूषण पर सुनवाई के दौरान यूपी सरकार केरल में CPM नेता की हत्या, पार्टी ने RSS को ज़िम्मेदार ठहराया - BBC Hindi पिछले पांच सालों में छह लाख से अधिक हिंदुस्तानियों ने छोड़ी भारतीय नागरिकता: केंद्र

इमरान खान 23 से 25 अक्टूबर तक सऊदी अरब का दौरा करेंगे। वह रियाद में मिडल ईस्ट ग्रीन इनीशियेटिव (एमजीआई) सम्मेलन के उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे तथा सऊदी नेताओं से बातचीत करेंगे। पाकिस्तान के विदेश कार्यालय के बयान के अनुसार शहजादे मोहम्मद बिन सलमान ने प्रधानमंत्री को आमंत्रित किया है। बयान में कहा गया, 'प्रधानमंत्री के साथ विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी और कैबिनेट के अन्य सदस्यों समेत एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल होगा।'

FATF क्या है? जिसने पाकिस्तान ही नहीं, तुर्की को भी ग्रे लिस्ट में डाला, जानें क्या होगा असर?निवेशकों और कारोबारियों से मिलेंगे इमरानएमजीआई सम्मेलन में इमरान खान जलवायु परिवर्तन के कारण विकासशील देशों के सामने आने वाली चुनौतियों पर अपना नजरिया साझा करेंगे और पर्यावरण संबंधी चुनौतियों के प्रकृति-आधारित समाधान के पाकिस्तान के अनुभवों को रेखांकित करेंगे। यह पश्चिम एशिया में आयोजित होने वाला इस तरह का पहला सम्मेलन होगा। इमरान खान पाकिस्तान में निवेश को बढ़ावा देने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में भी शिरकत करेंगे तथा सऊदी अरब के प्रमुख कारोबारियों से बातचीत करेंगे। headtopics.com

सबसे ज्यादा कर्ज लेने वालों में पाकिस्तान और पढो: NBT Hindi News »

वारदात: तेज हो गई समीर-नवाब की तकरार, क्या है स्कूल सर्टिफिकेट की सच्चाई?

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुंबई के जोनल हेड समीर वानखेड़े के बर्थ सर्टिफिकेट और मैरिज सर्टिफिकेट के बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक कथित रूप से उनके ये दो नए सर्टिफिकेट लेकर आए हैं. नवाब मलिक के मुताबिक समीर दादर के सेंट पॉल हाईस्कूल से प्राथमिक शिक्षा ली थी. इस सर्टिफिकेट में समीर वानखेड़े का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. यहां ये भी लिखा है कि छात्र की जाति और उपजाति तभी बताई जाए जब वो पिछड़े वर्ग, या अनुसूचचित जाति-जनजाति से आए. जबकि धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. इसके बाद समीर वडाला के सेंट जॉसेफ हाईस्कूल में पढने गए. यहां के स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट में समीर का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. और धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. दरअसल नवाब मलिक समीर वानखेड़े को मुसलमान साबित करने के लिए इसलिए जुटे हैं क्योंकि अगर उनकी बात सही साबित हो गई तो समीर वानखेड़े के नौकरी खतरे में पड़ जाएगी. देखें वीडियो.

Indua ki kahan tak pahunchi? अगर पाकिस्तान के पास भी एयरपोर्ट, Railway, हवाई जहाज़, बेचने को होता तो शायद कटोरा पकड़ने में समय लगता...😬 पर हमारा वाला अभी नहीं पकड़ेगा.... 😁😁 Bharat ki conditions bhi Pakistan jaisi Hunger index mein hum unse gaye guzre hai.. अपनी चिंता नही है पडोसी की ज्यादा ही चिंता है।

Unhone katora haanth mein pakad rkha hai aur hamane sir par अपने देश का हाल बयान करो। Apne desh ki soacho. Pakke besharm ho tum log भुकमरी में पाकिस्तान से आगे है भारत, संघ की पट्टी अपनी आँखों से हटाओ नज़र आ जाएगा ऑक्सीजन कहां से आया था भारत?

मुंबई के लालबाग इलाके में बहुमंज़िला इमारत में लगी आग, दमकल की 8 गाड़ियां मौके परमुंबई के लालबाग इलाके में बहुमंज़िला इमारत में लगी आग, दमकल की 8 गाड़ियां मौके पर LalbagFire MumbaiFire पूरी ख़बरः

यात्री की तबीयत बिगड़ने पर इंदौर में विमान की इमरजेंसी लैंडिंग, नहीं बच सकी जानइंदौर। बेंगलुरू से दिल्ली जा रहे एक निजी एयरलाइन के विमान को उसमें सवार 50 वर्षीय मनोज अग्रवाल की तबीयत बिगड़ने पर गुरुवार रात इंदौर के देवी अहिल्याबाई होलकर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतारा गया। हार्ट अटैक के शिकार इस यात्री को हवाई अड्डे के नजदीकी अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उसकी जान नहीं बचाई जा सकी।

Yogi Adityanath की सुरक्षा में चूक, ऑडिटोरियम में रिवॉल्वर लेकर घुसा युवक, पुलिस ने की पहचानCM Yogi Adityanath Security: यूपी के बस्ती (Basti) जिले में सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा में बड़ी चूक देखने को मिली है. योगी के कार्यक्रम से पहले ऑडिटोरियम...

भाजपा सरकार में किसी ने गरीब की जमीन पर किया कब्जा तो छाती पर चढ़ेगा बुल्डोजरयोगी आदित्यनाथ ने यह भी कहा कि साल 1952 में कांग्रेस ने कश्मीर में जिस आतंकवाद की जड़ को बोया था। उस अनुच्छेद 370 को प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सदैव के लिए समाप्त कर दिया है। अपने विधायकों पर भी चला दोगे जनता को मूर्ख बनाने का कोई अवसर नहीं छोड़ती मोदी सरकार। यू पी ए के ज़माने में मोदी जी और उसके नेता चीख चीख कर सलाह देते थे कि ' सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी ' कम करे सरकार। अब मोदी सरकार इस सुझाव को भूल गई है और नागरिकों को क्रूरता से लूटने में लगी है। उधर अंध भक्त बढ़ती मंहगाई पर .

'रक्षा मंत्रालय की जमीन पर पाकिस्तान से आए प्रवासियों का है कब्जा'पिछली सुनवाई पर हाई कोर्ट ने ऐसे करीब 800 हिंदू प्रवासियों के लिए बिजली कनेक्शन की मांग वाली याचिका पर केंद्र, दिल्ली सरकार और टाटा पावर से जवाब मांगा था। बेंच ने गृह मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय, दिल्ली सरकार, नॉर्थ एमसीडी, दिल्ली विद्युत नियामक आयोग (डीईआरसी), टाटा पावर दिल्ली वितरण लिमिटेड (टीपीडीडीएल) और नॉर्थ दिल्ली के जिलाधिकारी को नोटिस जारी किए थे और उन्हें याचिका पर जवाब दाखिल करने के निर्देश दिए थे।

पाकिस्तान में चीन से निवेश कम होने पर उठ रहे तमाम सवाल - BBC News हिंदीपाकिस्तान के लिए चीन सदाबहार दोस्त रहा है. लेकिन अंतरराष्ट्रीय राजनीति में दोस्ती पारस्परिक हितों पर टिकी रहती है. एकतरफ़ा हितों वाली दोस्ती बहुत दिनों तक नहीं चलती है. Pakistani aapni betiyo ka nikah kr de chinito ke sath problem solve 😂😂😂 Because China has no hope of bargain in Pakistan Ab Pak ki jagah Bharat pal rha Hai china se...