'आतंकियों को सज़ा होगी तभी मेरे पति की आत्मा को शांति मिलेगी'

'मेरे पति और हमारे जवानों की हत्या करने वाले आतंकियों को सजा मिलनी होगी'

15.2.2020

'मेरे पति और हमारे जवानों की हत्या करने वाले आतंकियों को सजा मिलनी होगी'

पुलवामा हमले में मारे गए जवानों के परिवारों से बीबीसी ने मुलाक़ात की. पढ़ें एक साल में कितनी बदल गई उनकी ज़िंदगी.

ये एक्सटर्नल लिंक हैं जो एक नए विंडो में खुलेंगे शेयर पैनल को बंद करें Image caption सनमति और डीडमश्री आज से ठीक एक साल पहले 14 फरवरी 2019 को कश्मीर के पुलवामा में अर्धसैनिक बल सीआरपीएफ की एक टुकड़ी पर चरमपंथी हमला हुआ था. जिस समय हमला हुआ था सीआरपीएफ़ जवानों की बस दक्षिण कश्मीर जा रही थी. इस हमले में केंद्रीय रिज़र्व पुलिस बल के 40 से अधिक जवानों की मौत हो गई थी. इस चरमपंथी हमले की ज़िम्मेदारी चरमपंथी संगठन जैश ए मोहम्मद ने ली थी. आज उसी हमले की बरसी है. हमले में मारे गए जवान देश के अलग-अलग हिस्सों से थे. बीबीसी ने मारे गए जवानों के परिवार से मुलाक़ात की और जानना चाहा कि इस एक साल में उनकी ज़िंदगी कितनी बदल गई. Image caption सनमति असम - पुलवामा हमले में मारे गए मनेस्वर बसुमतारी के घर का हाल "14 फरवरी का दिन कैसे भूल सकती हूं. चरमपंथियो ने मेरे पति को इतने भयानक तरीके से मारा था कि मैं उनका शव तक नहीं देख पायी थी. मेरे पति और हमारे जवानों की हत्या करने वाले आतंकियों को सजा मिलनी चाहिए. भारत सरकार पुलवामा में सीआरपीएफ़ के जवानों पर हमला करने वाले आतंकी संगठन के लोगों को जब तक पकड़ कर सजा नहीं देगी, मेरे मन को शांति नहीं मिलेगी." 14 फरवरी 2019 को पुलवामा चरमपंथी हमले में मारे गए सीआरपीएफ़ के जवान मनेस्वर बसुमतारी की पत्नी सनमति जब ये बातें कह रह थी तो उनके चेहर पर बेबसी और आक्रोश दोनों नज़र आ रहे थे. घर की दीवार पर टंगी अपने पति की तस्वीर की तरफ देखते हुए सनमति कहती हैं,"देश की रक्षा के लिए कश्मीर में और भी जवान तैनात हैं. मैं चाहती हूं कि चरमपंथियों के ख़िलाफ़ भारत सरकार गंभीरता से कार्रवाई करे ताकि देश में पुलवामा हमले जैसी घटना दोबारा न हो. मेरी तरह किसी भी महिला को विधवा का जीवन जीना ना पड़े. सरकार ने हमें मुआवज़ा दिया है. बेटी को नौकरी भी दी है लेकिन हमारा तो सब कुछ छिन गया है." 'पापा हमारे हीरो थे' हालांकि भारत सरकार ने पुलवामा हमले के महज़ कुछ दिन बाद 26 फरवरी को कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तुनख़्वा प्रांत के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों को निशाने पर लिया था. साथ ही भारतीय सेना ने दावा भी किया था कि पुलवामा हमले के मुख्य साजिशकर्ता मुदस्सिर अहमद ख़ान को एक मुठभेड़ में मार गिराया गया है. लेकिन एक साल बाद भी सीआरपीएफ़ जवान मनेस्वर बसुमतारी की पत्नी को लगता है कि सरकार अब तक उन प्रमुख चरमपंथियों को सज़ा नहीं दे पाई है जिन्होंने इस हमले को अंजाम दिया. सनमति बसुमतारी कहती हैं,"पुलवामा हमले के बाद भारत सरकार ने एयर स्ट्राइक कर आंतकियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की थी. उससे मन को थोड़ी शांति मिली थी. लेकिन मुझे लगता है कि इतने बड़े आतंकी हमले को अंजाम देने वाले प्रमुख चरमपंथियों को अब भी सज़ा नहीं मिली है. सरकार जब इस हमले के प्रमुख (मास्टरमांइड) रहे आतंकियों को पकड़ कर सज़ा देगी तभी मेरे पति की आत्मा को शांति मिलेगी." सनमति जब ये बातें कह रही थी उस समय बगल में बैठीं उनकी 25 साल की बेटी डीडमश्री रोते हुए कहती हैं,"मेरे पापा हमारे हीरो थे. उनकी शहादत को हमेशा याद रखा जाएगा. मैं चाहती हूं, जिन आतंकियों ने इस हमले को अंजाम दिया था उनको सज़ा मिले." अपने पिता के एक सपने का बड़े भावुक अंदाज में ज़िक्र करते हुए डीडमश्री कहती है,"मेरे पापा चाहते थे कि मैं नर्सिंग की पढ़ाई करूं ताकि लोगों की सेवा कर सकूं. मैंने नर्सिंग के कोर्स में दाखिला भी लिया था लेकिन यह घटना हो गई. 14 फरवरी की सुबह करीब 5 बजे उन्होंने मां के मोबाइल पर फोन किया था. वे मार्च में छुट्टी पर घर आने वाले थे. वे बहुत अच्छे इंसान थे. अब मैं उन्हें केवल तस्वीरों में ही देखती हूं." नौकरी के लिए भेजेंगी? सीआरपीएफ़ की 98 बटालियन के हेड कांस्टेबल रहे मनेस्वर बसुमतारी की पत्नी असम के बाक्सा ज़िले के एक छोटे से गांव कोलबाड़ी में अपने बेटे धनंजय के साथ रहती हैं. जबकि असम सरकार से मुआवज़े के मार्फ़त उनकी बेटी डीडमश्री को पर्यटन विभाग में सूचना अधिकारी के सहायक पद पर नौकरी मिलने के बाद वे फिलहाल गुवाहाटी में रहती है. इस घटना के बाद क्या वे अपने इकलौते बेटे को सीआरपीएफ़ में नौकरी के लिए भेजेंगी? इस सवाल के जवाब में सनमति कहती है,"मेरा बेटा अभी बीए की पढ़ाई कर रहा है. इसके बाद अगर वो चाहे तो मैं उसे सीआरपीएफ़ की नौकरी में भेज सकती हूं. देश के लिए मरने से बड़ा और कुछ नहीं हो सकता. आज मेरे पति की शहादत की वजह से पूरा देश हमें पहचानता है." प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा बयानों की लंबी फ़ेहरिस्त पुलवामा हमले के बाद बालाकोट में भारत की तरफ से की गई एयर स्ट्राइक की घटना को लेकर उस समय राजनीतिक स्तर पर हुई बयानबाजी से कई पीड़ित परिवार आहत हुए थे. क्या देश के लिए जान की कुर्बानी देने वाले जवानों को लेकर राजनीति होती है? इस सवाल का जवाब देते हुए मनेस्वर बसुमतारी के भांजे कमल बसुमतारी कहते है,"देश के लिए बलिदान देने वालों के नाम पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. कुछ लोग ऐसा करते है. शहीद के परिवार के लिए इससे बड़ा दुख और क्या हो सकता है. देश के लिए मरने वालों की मर्यादा को हमेशा कायम रखना होगा. वरना शहीदों का सम्मान कैसे बचेगा. मेरे मामा के इस बलिदान के बाद देश के लोग जिस कदर हमारे परिवार से साथ खड़े रहे उसे हम कभी नहीं भूल सकते." Image caption भांजे कमल बसुमतारी देशभर की सहानुभूति मनेस्वर बसुमतारी के बचपन के साथी रहे और कोलबाड़ी गांव के सभापति तीर्थ बसुमतारी कहते है," सीआरपीएफ़ के इतने बड़े काफ़िले पर हुए चरमपंथी हमले को एक साल बाद भी भुला नहीं पाए हैं. यह बहुत भयानक हमला था. मनेस्वर मेरा बचपन का दोस्त था. उनके साथ मेरी बहुत सारी यादें है.हमारे गांव से काफी लोग मिलिट्री सेवा में है लेकिन ऐसी घटना पहले कभी नहीं हुई." सरकार से मिले मुआवजे को लेकर बसुमतारी के परिवार को कोई शिकायत नही है. सनमति कहती है,"केंद्र सरकार ने जो मुआवजा (35 लाख रु.) देने की बात कही थी वो हमें मिल गया है. इसके अलावा असम सरकार ने 20 लाख रुपए दिए है. बोडोलैंड टेरिटोरियल काउंसिल ने पांच लाख रुपए की मदद की है. मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल खुद हमारे घर पर आकर मेरी बेटी को राज्य सरकार की नौकरी का अपॉइंटमेंट लेटर दिया था. बॉलीबुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने मुझे मुंबई बुलाकर 10 लाख रुपए की आर्थिक मदद दी थी. इसके अलावा बाबा रामदेव से लेकर बंगाल, केरल जैसे राज्यों में मुझे लोगों ने बुलाकर मदद की है. हमारे परिवार के प्रति देशभर के लोगों ने सहानुभूति दिखाई है जिसें हम हमेशा याद रखेंगे." पुलवामा हमले के बाद कई लोगों ने जवानों को मिलने वाली पेंशन योजना को लेकर सवाल उठाए थे. इसपर सनमति कहती है,"सीआरपीएफ़ विभाग की तरफ से जो कुछ हमें मिलना चाहिए था वह सब मिला है. मेरी पेंशन भी शुरू हो गई है जो कि मेरे पति के आखिरी वेतन के बराबर मिल रही है." पुलवामा हमले को एक साल पूरा होने वाला है और इस मौके पर सनमति ने अपने पति की याद में घर के बिलकुल पास करीब आठ लाख रुपए खर्च कर उनकी एक मूर्ती लगवाई है. यह वही जगह है जहां मनेस्वर बसुमतारी के शव का अंतिम संस्कार किया गया था. सनमति आने वाले दिनों में यहां एक छोटा संग्रहालय का निर्माण करवाना चाहती है जहां वह अपने पति की यूनिफॉर्म से लेकर उनकी तमाम चिजों को रखेगी ताकि लोग उनके पति की शहादत को हमेशा याद रखें. हाथ में पति की तस्वीर लिए वो कहती है,"मुझे मुआवजे के तौर पर जो रकम मिली है मैं उस पैसे से उनकी स्मृति को संजोकर रखना चाहती हूं ताकि वो हमेशा हमारे बीच रहें.14 फरवरी को उनका वार्षिक श्राद्ध है उसी दिन हम उनकी मूर्ती का उद्घाटन करेंगे." ये भी पढ़ें: और पढो: BBC News Hindi

ट्रंप भारत यात्रा: झुग्गियों को दीवार से ढकने के बाद 45 परिवारों को जगह खाली करने का नोटिस



अर्दोआन ने कश्मीर की रट क्यों लगा रखी है

फिल्म इंडस्ट्री हमेशा सत्ताधारियों के साथ रही है: नसीरुद्दीन शाह



जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव हुए स्थगित, सुरक्षा कारणों का दिया गया हवाला

मूडीज ने 2020 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 5.4 प्रतिशत किया



कसाब से ‘भारत माता की जय‘ के जयकारे लगवाए, पूर्व मुंबई पुलिस आयुक्त ने किताब में किया खुलासा

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, डर और लालच दिखाकर धर्मांतरण कराना महापाप से कम नहीं



Pahley to janch honi chahiye ki yeh hatyaein kisne aur kyun ki 300 kg RDX kahan se aaya,Shaheed hone walon ko shaheed ka darja ,aur milne wali suvidhaein na milne wajah... Jai Hind Ye self proclaimed rashtravad channel, zee news kabhi iss topic par prime time debate kyun nahi karti? Sirf government Ka mouthpiece hi bane rahenge ye log

GANDHI KE 3 BANDARON WAALI JANTAA HAI YAHAA...ISILIYE TO SARKAAR BHI VAISI HI CHUNKAR AATI HAI...NYAAY....VO KYA HOTA HAI... कोई इसका भी जवाब दो.... अभी कोई मुसलमान मिला नहीं है जिस पर केस लादा जा सके, DSP देवेंद्र बतायगे, 26 जनवरी दिल्ली इलैक्शन अब बिहार सब जगह राजनीति का कोई मुद्दा नहीं है। अभी भी समय है पाकिस्तान पर हमला करो हमारे जवानों का बदला लो हमारे जवान शहीद हुए हैं तो पाकिस्तान के जवान के ही सर चाहिए। जय जवान

वो तो सत्ता में है उन्हे सजा कौन दिलवाएगा ? ? बदला लिया गया है पुनः बदला लेने केलिए सेना सदैव सजग है, हमारे जवानों की कुर्बानी का सबूत मांगने वाले निर्लज्ज लोग देश के अन्दर बाहर हर जगह देश की सेना सरकार से सवाल पूछते रहते हैं पर आतंकियों से नहीं , आतंकियों के विरुद्ध विषवमन करते समय याराना झलकता है।।।

I'm very sad for you and all our brave soldiers who have been politically Murdered by Bjp. Culprits are sitting in the Parliament. But who can pull them out? यदि आप यह सवाल नहीं कर सकते कि, पुलवामा में RDX कैसे पहुँचा, तो आपको शहीदों को श्रद्धांजली देने का कोई अधिकार नहीं। Very good demand

निर्भया को इंसाफ में देरी, सुप्रीम कोर्ट ने मौत की सजा के लिए तय की गाइडलाइनगाइडलाइन में कहा गया है, अगर कोई हाईकोर्ट किसी को मौत की सजा देने की पुष्टि करता है और सुप्रीम कोर्ट इसकी अपील पर सुनवाई की सहमति जताता है तो 6 महीने के भीतर मामले को तीन जजों की पीठ में सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा. hyderabad police ne sab se badhiya kam kiya aye andha kanoon ghush khor layer kabhi saza nehi desakta दोसियों को सजा दी जाये जल्द से जल्द 🙄🙄🙄🙄🙄🙄🙄🙄🙄🙄😭😭😭😭😭😭😭😭😭

जवान तब लड़ नहीं रहा था! सुरक्षा की जवाब दारी सड़क पर सरकार की! तो सिक्योरिटी लेप्स के दोषी तलाश सजा देना ही राज्य का प्रायश्चित!🙏 उन्ही आतंकियों के साथी चैनल से आप बात कर रहीं हैं।

AGR पर सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट की कंपनियों और सरकार को फटकार- अदालत बंद कर दें?

बिटिया को 'अंग्रेजी Medium' पढ़ाने की कोशिश में जुटे इरफान खान, द‍िल छू लेगा Trailerकैंसर जैसी बीमारी से जूझ चुके एक्‍टर इरफान खान (Irrfan Khan) फिल्‍म अंग्रेजी मीडियम (Angrezi Medium) से वापसी कर रहे हैं जिसका ट्रेलर सामने आ गया है. | entertainment News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी irrfank जय महाकाल

पुलवामा के गुनहगारों को कैसे घर में घुसकर मारा, पढ़ें 12 दिन की पूरी स्टोरीपुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत में गुस्सा था. चालीस जवानों को खोने का बदला भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में आतंकी ठिकानों को खत्म करके लिया. Jay hind Main culprit is still alive. kuchh nahi kiya bs dikhawa kiya modi ne

दिल्ली: घूसखोरी केस में मनीष सिसोदिया के OSD रहे माधव को 14 दिन की जेलचुनाव से पहले उप मुख्यमंत्री के ओएसडी की गिरफ्तारी ने दिल्ली की सियासत में खलबली मचा दी थी. सीबीआई की टीम ने सिसोदिया के ओएसडी गोपाल कृष्णन माधव को उस वक्त गिरफ्तार किया, जब वे जीएसटी से जुड़े एक मामले को रफादफा करने के एवज में एक शख्स से 2 लाख रुपए की रिश्वत ले रहे थे. twtpoonam Ab Sach saamne aayega twtpoonam पार्टी में भीतरघात चालू ,,, twtpoonam Tukde Tukde Gang ko Jail hona galat baat hai.. Freedom of speech and Freedom of Work karne ki Ajaadi honi chahiye...😐😐

फैक्ट चेक: क्या 'रॉबिनहुड' बनने के जुर्म में इस आदमी को दी गई मौत की सजा?सोशल मीडिया पर एक भावुक कर देने वाला पोस्ट खूब वायरल हो रहा है. पोस्ट में दिखाई गई तस्वीर में एक मुस्कुराते हुए आदमी के गले में रस्सी का फंदा बंधा नजर आ रहा है. arjundeodia इंडिया टुडे ग्रुप वाला कभी अपना न्यूज़ का भी जांच कर लिया करो क्यों नहीं करते क्योंकि अगर करोगे तो अरुण पुरी जो है तुम्हारा मालिक वह कहां रोड पर दिखेगा वह तो जेल चला जाएगा



J&K से अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वाली ब्रिटिश सांसद को नहीं मिली भारत आने की मंजूरी, कहा- मेरा वीजा रिजेक्ट हो गया

महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत

J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई

काशी महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव भी करेंगे सफर, भोलेनाथ के लिए रिजर्व की गई 64 नंबर सीट!

RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले, शिक्षा और संपन्नता अंहकार पैदा कर रहा जिसकी वजह से...

मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत

ब्रितानी सांसद डेबी को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका गया

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

15 फरवरी 2020, शनिवार समाचार

पिछली खबर

Coronavirus: 3rd Indian crew on-board cruise ship off Japanese coast tests positive

अगली खबर

बाज नहीं आया पाकिस्तान, पुलवामा की बरसी पर भी किया संघर्षविराम का उल्लंघन
ट्रंप भारत यात्रा: झुग्गियों को दीवार से ढकने के बाद 45 परिवारों को जगह खाली करने का नोटिस अर्दोआन ने कश्मीर की रट क्यों लगा रखी है फिल्म इंडस्ट्री हमेशा सत्ताधारियों के साथ रही है: नसीरुद्दीन शाह जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव हुए स्थगित, सुरक्षा कारणों का दिया गया हवाला मूडीज ने 2020 के लिए भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर 5.4 प्रतिशत किया कसाब से ‘भारत माता की जय‘ के जयकारे लगवाए, पूर्व मुंबई पुलिस आयुक्त ने किताब में किया खुलासा रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा, डर और लालच दिखाकर धर्मांतरण कराना महापाप से कम नहीं प्रशांत किशोर अब आगे क्या करेंगे? क्या भारत में इलेक्ट्रिक कारों का दौर आ गया है? ट्रेनों में तत्‍काल रिजर्वेशन कराने वालों के लिए खुशखबरी! रेलवे ने उठाया यह बड़ा कदम प्रशांत किशोर ने नीतीश कुमार पर बोला हमला तो सुशील मोदी ने दे डाली नसीहत, पूछे इन सवालों के जवाब... कोरोना वायरस: बुज़ुर्ग और बीमार को सबसे ज़्यादा ख़तरा
J&K से अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वाली ब्रिटिश सांसद को नहीं मिली भारत आने की मंजूरी, कहा- मेरा वीजा रिजेक्ट हो गया महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई काशी महाकाल एक्सप्रेस में भगवान शिव भी करेंगे सफर, भोलेनाथ के लिए रिजर्व की गई 64 नंबर सीट! RSS प्रमुख मोहन भागवत बोले, शिक्षा और संपन्नता अंहकार पैदा कर रहा जिसकी वजह से... मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत ब्रितानी सांसद डेबी को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका गया RSS चीफ मोहन भागवत बोले- खुद का कट्टर सनातनी हिंदू मानते थे महात्मा गांधी शाहीन बाग़ पर सुप्रीम कोर्ट: संजय हेगड़े प्रदर्शनकारियों से बात करें डोनाल्ड ट्रंप के भारत दौरे को लेकर शिवसेना का मोदी सरकार पर तंज- यात्रा की तैयारी दिखा रही गुलाम मानसिकता भीमा-कोरेगांव मामले की जांच पर महाराष्ट्र में खींचतान जारी, अब शरद पवार की NCP ने लिया यह फैसला भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था, ब्रिटेन, फ्रांस को पीछे छोड़ा: रिपोर्ट