जीवनसंवाद, Jeevansamvad, जीवनसंवाद, दयाशंकर मिश्र, क्रेडिट कार्ड, अकेला जीवन, Dayashankar Mishra, Jeevan Samvad, Life Talk, Motivational Story

जीवनसंवाद, Jeevansamvad

#जीवनसंवाद : 'सब ठीक है' के आगे!

#जीवनसंवाद : 'सब ठीक है' के आगे! अपने भाई, परिवार, माता-पिता, रिश्तेदार से बात किए हुए बिना हमारे दिन आसानी से बीतते रहते हैं. बहुत छोटी दुनिया में सिमटते जा रहे हैं. #JeevanSamvad @DayashankarMi

16.10.2019

जीवनसंवाद : 'सब ठीक है' के आगे! अपने भाई, परिवार, माता-पिता, रिश्तेदार से बात किए हुए बिना हमारे दिन आसानी से बीतते रहते हैं. बहुत छोटी दुनिया में सिमटते जा रहे हैं. JeevanSamvad DayashankarMi

Jeevan Samvad : अपने भाई, परिवार, माता-पिता, रिश्तेदार से बात किए हुए बिना हमारे दिन आसानी से बीतते रहते हैं. बहुत छोटी दुनिया में सिमटते जा रहे हैं. | jeevan-samvad News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

हम किसी से मिलते ही पहली बात यही कहते हैं, आप कैसे हैं. कई बार हम इतनी जल्दी में होते हैं कि उसके 'ठीक है' वाले उत्तर को सुने बिना ही आगे बढ़ जाते हैं. बहुत समय नहीं हुआ, जब हम 'ठीक हैं' के साथ आगे-पीछे का पूरा हालचाल लिया करते थे. धीरे-धीरे हम 'सब ठीक है' पर सिमटते जा रहे हैं. हम दूसरों से व्यवहार करते हुए एक किस्म की दुनिया रच रहे होते हैं. हम सबके लिए जैसी दुनिया बनाएंगे, उसी दुनिया का हिस्सा तो हम भी बन जाएंगे. अकेलापन, उदासी और अवसाद बढ़ने के कारण की खोज करने जब हम निकलते हैं तो धीरे-धीरे अपने ही पास जाकर रुक जाते हैं.

यह अकेले उनकी कहानी नहीं है, हम सब कुछ इसी तरह की जीवन शैली रच रहे हैं. अपने भाई, परिवार, माता-पिता, रिश्तेदार से बात किए हुए बिना हमारे दिन आसानी से बीतते रहते हैं. बहुत छोटी दुनिया में सिमटते जा रहे हैं. आपको बात थोड़ी विचित्र लग सकती है लेकिन सच तो यह है कि इसी वजह से हम बहुत से पर्सनल लोन, क्रेडिट कार्ड, कर्ज से घिरते जा रहे हैं. हमें अपनों से छोटी-छोटी जरूरत के लिए मदद मांगने में शर्म/संकोच होता है, लेकिन बैंक से नहीं. क्‍योंकि बैंक अधिक सवाल नहीं करता. पर्सनल लोन देने वाले तो मानिए, हमारे इंतजार में ही बैठे रहते हैं.

इसलिए, जितना संभव हो उनसे कभी संवाद कम मत कीजिए, जिनसे आत्‍मा के तार जुड़े हैं. बचपन से सूत्र गुंथे हुए हैं. हम अपने परिवार, परिजन, रिश्‍तेदार और दोस्‍तों के साथ ही खुश हो सकते हैं. हमारी खुशी तब तक अधूरी है, जब तक उसके हिस्‍सेदार नहीं हैं. यह हिस्‍सेदार संवाद की कमी से छिटक रहे हैं. ऐसे सभी लोगों से जो आपकी जिंदगी की धुरी हैं. सहायक धुरी हैं, उनमें निरंतर स्‍नेह, प्रेम और आत्‍मीयता का निवेश करते रहिए. किसी और के लिए नहीं, अपने लिए. अपने जीवन को खुशमय, आनंदित और स्‍नेहिल बनाए रखने की दिशा में इससे बढ़कर कुछ और काम नहीं है.

ईमेल : dayashankarmishra2015@gmail.com अपने सवाल और सुझाव इनबॉक्‍स में साझा करें:

और पढो: News18 India

DayashankarMi बहुत सुंदर सर

कौन हैं अर्थशास्त्र का नोबेल पाने वाले अभिजीत बनर्जी, जेएनयू से भी की पढ़ाईभारतीय मूल के अमेरिकी अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी और उनकी पत्नी एस्थर डफ्लो को साल 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार

बुंदेलखंड: पहले सूखे अब बेमौसम की बारिश से परेशान किसान कर रहे हैं आत्महत्याजिससे किसानों में घोर निराशा है. ऊपर से बैंक के एक के बाद एक कर्जे वसूली की नोटिस से परेशान किसान आत्महत्या कर रहे हैं. हफ्तेभर पहले ललितपुर व जालौन जिले के दो किसानों ने आत्महत्या कर ली. अभी 14 अक्टूबर को कर्ज में डूबे किसान ने कीटनाशक दवा पीकर की आत्महत्या कर ली. ये न्यूज़ कहा से लाया,नोबेल मुखर्जी ने बताया क्या

कैप्टन कोहली से क्या चाहते हैं गांगुली, कोलकाता लौटकर बतायामुंबई में नामांकन दाखिल करने के बाद कोलकाता पहुंचे गांगुली ने ईडन गार्डन्स स्टेडियम में संवाददाताओं से कही अपने मन की बात. Rupa🙊🙈 ajtak aur aasaram mein gahra sabandh malum padta hai man mein ki baat jaan le rahay😂 गांगुली जैसे बहुत कम ही हीरे होते हैं यह एक अलग किस्म की शख्सियत हैं

सऊदी अरब के दौरे से पुतिन क्या हासिल करना चाहते हैं?रूसी राष्ट्रपति पुतिन दस साल बाद सऊदी अरब के दौरे पर जा रहे हैं. इस दौरान दो अरब डॉलर के समझौते होने की उम्मीद है. avoid saudi irani war Loda kkk Ye America ki lekar rahega

कुत्‍तों के आतंक से दहशत में पाकिस्‍तानी, जानें इमरान ने क्‍यों लगाई तुर्की से गुहारआतंकवाद बोने वाला पाकिस्‍तान इन दिनों आवारा कुत्‍तों से खौफ में है। मुल्‍क में कुत्‍तों के काटने की घटनाओं में इजाफा हुआ है। आइये जानें इमरान ने क्‍यों लगाई है तुर्की से गुहार... Innki koi nhi sunega 😁 Ha ha ha ha ha अपने बिरादरियों से मिलने पहुंचे हैं, उन्हें इज़्ज़त भी कैसे मिले, खुद के खानें के लिए है नहीं !!😂

सूरत: टेक्सटाइल मार्केट में आग लगने से मची अफरा-तफरी, धुंए से छाया अंधेरा

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

16 अक्तूबर 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

चिदंबरम को तिहाड़ जेल में दो घंटे पूछताछ के बाद ईडी ने गिरफ्तार किया, सीबीआई चार्जशीट की तैयारी कर रही

अगली खबर

PPF, NSC, सुकन्या समृद्धि समेत इन स्कीम में पैसा लगाने वालों के लिए खुशखबरी! अब घर बैठे होंगे ये सभी काम