सूरत, Gujarat, Surat, Heritage, Houses, Declared, Heritage, Surat, Heritage Houses - गुजरात न्यूज़, गुजरात समाचार

सूरत, Gujarat

हेरिटेज घोषित होंगे 2965 घर; मालिक मर्जी से एक ईंट भी नहीं लगा सकेंगे, मनपा चाहे तो कब्जा भी कर सकेगी

#सूरत : हेरिटेज घोषित होंगे 2965 घर; मालिक मर्जी से एक ईंट भी नहीं लगा सकेंगे, मनपा चाहे तो कब्जा भी कर सकेगी #Gujarat #Surat #Heritage

6.9.2019

सूरत : हेरिटेज घोषित होंगे 2965 घर; मालिक मर्जी से एक ईंट भी नहीं लगा सकेंगे, मनपा चाहे तो कब्जा भी कर सकेगी Gujarat Surat Heritage

सेंट्रल-रांदेर जोन की ऐतिहासिक इमारतों को हथियाने की तैयारी में मनपा नियम-कानून किए तैयार, इसी सप्ताह राज्य सरकार के पास अनुमति को भेजेगी | 2965 houses to be declared heritage in Surat : शहर के इतिहास को बचाने के नाम पर मनपा सेंट्रल और रांदेर जोन के लगभग 2965 घरों को हथियाने की तैयारी कर रही है। इन घरों को हेरिटेज घोषित करने के लिए नियम-कानून बना दिए गए हैं। ये नियम राज्य सरकार के पास संशोधन के लिए इसी सप्ताह भेजे जाएंगे।

ऐसी इमारतों को हेरिटेज घोषित करने के लिए मनपा 10 साल से तैयारी कर रही है। अब 2900 इमारतों की लिस्ट बना ली है।

नियम-कानून किए तैयार, इसी सप्ताह राज्य सरकार के पास अनुमति को भेजेगी

किसी भी तरह के बदलाव करने के लिए मनपा से इजाजत लेनी होगी। यही नहीं मनपा जब चाहेगी इन घरों को अपने कब्जे में ले लेगी। अगर मकान जर्जर हो जाता है तो मनपा की कोर कमेटी की इजाजत से ही मरम्मत संभव होगी। इसमें भी सिर्फ अंदरूनी बदलाव ही किया जा सकेगा। मालिक अगर मरम्मत करने में सक्षम नहीं है तो घर को दूसरे किसी व्यक्ति को दिया जा सकेगा। मनपा भी इसे लेकर जीर्णोद्धार कर सकेगी।

इन सैकड़ों वर्ष पुराने 2965 घरों के लिए मनपा ने अलग से नियम तैयार कर चुकी है। इस काम में मनपा पिछले 10 वर्षों से लगी हुई है। इस नियम में संशोधन के लिए इसी सप्ताह राज्य सरकार के पास भेजा जाएगा। बाद में इसे नए जीडीसीआर (गुजरात डेवलेपमेंट कंट्रोल रेग्युलेशन) में शामिल करने के लिए कार्रवाई शुरू की गई है।

2008-09 में मनपा की तरफ से शहर के सेंट्रल और रांदेर जोन में स्थित पुरानी इमारतों के सर्वे का काम शुरू किया गया था। इसमें कुल 5 हजार से भी ज्यादा घरों का सर्वे किया गया। 2017 तक 2965 इमारतों को हेरिटेज के रूप में चुन लिया गया। इनमें से करीब 2398 इमारतें सेंट्रल जोन, जबकि बाकी की रांदेर जोन की हैं। सेंट्रल जोन में कुल 4451 घरों का सर्वे किया गया था, जिनमें से 2398 को चिन्हित किया गया है।

मनपा ने घरों को तीन भाग में बांटा है। इनमें पहले 50 से 100 वर्ष पुराने, दूसरे 100 से 200 पुराने और तीसरे 200 वर्ष से ज्यादा पुराने घर हैं। इन्हें दो कैटेगरी रांदेर और सेंट्रल जोन में विभाजित किया गया है। रांदेर के घरों की नक्काशी बेहतरीन है। यहां की इमारतों में सीमेंट और पत्थर का इस्तेमाल ज्यादा किया गया है। सेंट्रल जोन की इमारतों में लकड़ी का इस्तेमाल ज्यादा किया गया है।

सर्वे में रांदेर के अलावा नानपुरा, संग्रामपुरा, सलाबतपुरा, बेगमपुरा, हरीपुरा, महीधरपुरा, रामपुरा, गोपीपुरा, वाड़ी फलिया, सोनी फलिया, नानवट, सैयदपुरा शामिल हैं। इनमें से सबसे ज्यादा पुराने मकान गोपीपुरा, वाली फलिया,सोनीफलिया, नानावट और सैयदपुरा है। यहां सब जगहों पर करीब 250 से ज्यादा घर ऐतिहासिक महत्व के हैं।

मनपा के अधिकारियों का कहना है कि शहर में कुछ मकान सैकड़ों साल पुराने हैं। इनको संरक्षित किया जाएगा। ये सभी शहर की ऐतिहासिक धरोहर हैं। इन सभी घरों के मालिकों को उसे बचाए रखने के लिए कहा जाएगा। अगर वे ऐसा करने में असमर्थ होंगे तो समर्थ व्यक्ति को दिया जाएगा, जो उसका रखरखाव और मरम्मत कर सके। इसके बदले में मकान के मालिक को कीमत चुका दी जाएगी। इन सभी इमारतों को फिर से पहले जैसा करने की तैयारी की जा रही है।

और पढो: Dainik Bhaskar

इमरान खान के प्रलाप को देखते हुए भारत को पाक के खिलाफ तलाशनी होगी कूटनीतिक काटनई दिल्ली को पाकिस्तानी जनता तक यह बात पहुंचानी चाहिए कि कैसे अंध भारत विरोधी रुख के कारण इस्लामाबाद और रावलपिंडी ने पाकिस्तान को आर्थिक बदहाली में ढकेल दिया है।

शिक्षक दिवस आज: राष्ट्रपति देशभर के शिक्षकों को करेंगे सम्मानित, 46 को मिलेगा नेशनल टीचर अवार्डशिक्षक दिवस आज: पहली बार डिफेंस मिनिस्ट्री के अधीनस्थ सैनिक स्कूलों के शिक्षकों को भी शामिल किया गया है rashtrapatibhvn DrRPNishank HRDMinistry TeachersDay

कर्नाटक: एचडी कुमारस्वामी को कोर्ट का समन, पूछताछ के लिए 4 अक्टूबर को बुलाया गयाएचडी कुमारस्वामी (Hd Kumaraswamy) के अलावा 15 अन्य लोगों को भी समन जारी किया गया है. इन लोगों पर अवैध तरीके से राज्य सरकार परियोजना की जमीन की अधिसूचना वापस लिए जाने का आरोप है. कोर्ट ने कुमारस्वामी को 4 अक्टूबर को पूछताछ के लिए पेश होने का आदेश दिया है. एक और घोटालेबाज उजागर हुआ Next His reaction

जमीन घोटाले में पूर्व सीएम कुमारस्वामी को पूछताछ के लिए समन, 4 अक्टूबर को पेश होंगेएम महादेव स्वामी ने 2012 में लोकायुक्त के समक्ष कुमारस्वामी के खिलाफ मामला दर्ज कराया था कुमारस्वामी पर बेंगलुरु की एक जमीन की अधिसूचना अवैध तरीके से वापस लेने का आरोप था | HD Kumaraswamy News: Bengaluru Court issued summons HD Kumaraswamy in illegal denotification case hd_kumaraswamy कोई शरीफ नहीं है........सबको फूल डोज देना ही पड़ेगा hd_kumaraswamy Kumar Swamy good days come... be prepared to enjoy the deeds done in PAST.... Its India and now you will hear Karnataka Sangeet,Music.... Jai Hind. hd_kumaraswamy BJP4India BSYBJP कैसे बच गए इंटी घोटाले करने के बाद

यूएपीए अधिनियम में संशोधन के खिलाफ याचिका पर सुनवाई को तैयार सुप्रीम कोर्ट, केंद्र को नोटिससुप्रीम कोर्ट ने यूएपीए अधिनियम को असंवैधानिक घोषित करने वाली याचिका पर केंद्र को भेजा नोटिस UAPA SupremeCourt HMOIndia HMOIndia Sleeper cells apni garden bacahne ki koshish karte hue HMOIndia सबसे ज्यादा कट्टरपंथी , आतंकप्रेमी , टुकड़े टुकड़े गैंग और मुस्लिम तुष्टिकरण प्रेमी नकली सेक्यूलरों में खलबली है इस कानून से .... जय माँ भारती HMOIndia court notice ke aage kabhi action mat lena bhigi billi ki tarah chup ja

IIM से प्रबंधन और सुशासन के गुर सीखेंगे योगी के मंत्री, 8 सितंबर को पहला सत्रप्रशिक्षण का पहला सत्र 8 सितंबर को होगा. योगी सरकार के ढाई साल पूरे हो चुके हैं और हाल में ही मंत्रिमंडल विस्तार किया गया है, जिसमें से ज्यादातर चेहरे न सिर्फ युवा हैं, बल्कि वह प्रबंधन के लिहाज से एकदम नए हैं. ShivendraAajTak Good innovative idea to literate them ... ShivendraAajTak Really ? Arrogant ministers have ability or Patience to learn something and add value in governance ? ShivendraAajTak CM should also take classes

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

06 सितम्बर 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

अयोध्या मामले की सुनवाई लाइव करने के लिए गोविंदाचार्य की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

अगली खबर

पोल में दावा- 2020 के राष्ट्रपति चुनाव में देश के आधे से ज्यादा वोटर ट्रम्प को खारिज कर देंगे
पिछली खबर अगली खबर