Donaldtrump, America, Opinion, Columnist, Khulibaat, Trump, India&, Region, Indo-Pacific, Administration, Region, Region, Us

Donaldtrump, America

हिंद-प्रशांत क्षेत्र में भारत की बड़ी भूमिका चाहते हैं ट्रम्प

महाभियोग की कार्यवाही से दोषमुक्त होने के बाद पहली विदेश यात्रा पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति @lalitkjha @realDonaldTrump #DonaldTrump #America #Opinion #Columnist #KhuliBaat

13-02-2020 14:30:00

महाभियोग की कार्यवाही से दोषमुक्त होने के बाद पहली विदेश यात्रा पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति lalitkjha realDonaldTrump DonaldTrump America Opinion Columnist KhuliBaat

महाभियोग की कार्यवाही से दोषमुक्त होने के बाद पहली विदेश यात्रा पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपति | Trump wants India's greater role in Indo-Pacific region इसलिए ट्रम्प प्रशासन चाहता है कि भारत हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अहम भूमिका निभाए और सुनिश्चित करे कि इस क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय कानूनों का पालन हो और वैश्विक शांति को किसी तरह का बड़ा नुकसान पहुंचाने वाली कोई कार्रवाई न हो। इसके लिए अमेरिकी सरकार भारत को हर तरह के टूल व मदद देने को तैयार है।

Xअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प। (फाइल)महाभियोग की कार्यवाही से दोषमुक्त होने के बाद पहली विदेश यात्रा पर आएंगे अमेरिकी राष्ट्रपतिDainik BhaskarFeb 13, 2020, 01:32 AM ISTललित झा चीफ यूएस कॉरेस्पॉन्डेंट, पीटीआई. कई हफ्तों तक चली अटकलों के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के 24 व 25 फरवरी को अहमदाबाद व नई दिल्ली के दौरे की औपचारिक घोषणा कर दी गई। ट्रम्प की यह पहली भारत यात्रा कई मायनों में महत्वपूर्ण है। यह उनके पूर्ववर्ती राष्ट्रपतियों द्वारा स्थापित संबंधों की निरंतरता को भी दर्शाती है। बराक ओबामा पहले ऐसे राष्ट्रपति थे, जो अपने पहले ही कार्यकाल में भारत आए थे।

फ्रांस के विरोधियों को पीएम मोदी ने लिया आड़े हाथ, कहा- कुछ लोग खुलकर आतंक के समर्थन में आए शाहरुख खान के 55वें जन्मदिन का हिस्सा बन पाएंगे फैन्स, होने वाली है वर्चुअल पार्टी इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर राहुल ने दी श्रद्धांजलि, बोले- सत्य का अर्थ समझाया, शुक्रिया दादी

असल में उन्होंने 2010 व 2015 में दो बार भारत आकर नया कीर्तिमान बनाया था। बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश अपने दूसरे कार्यकाल के अंत में ही भारत आए थे। इन सभी ने भारत के साथ संबंधों को नए स्तर पर पहुंचाया था। ट्रम्प का इरादा इन संबंधों को उस नई ऊंचाई पर ले जाने का है, जहां पर अमेरिका के बहुत करीबी सहयोगी व मित्र हैं। एक रियल एस्टेट कारोबारी के तौर पर ट्रम्प पहले भी भारत आ चुके हैं।

ट्रम्प ने भारत व अमेरिका में रहने वाले भारतवंशियों के साथ अपने संबंधों का संकेत 2016 के चुनाव से पहले न्यू जर्सी में हजारों भारतीय अमेरिकियों को संबाेधित करते हुए दे दिया था। उन्होेंने कहा था कि अगर वे चुनाव जीतते हैं तो वह भारत व भारतीय अमेरिकियों के सबसे अच्छे दोस्त साबित होंगे। उन्होंने यह बात साबित भी की है।

मई 2019 में जब भारत में चुनाव चल रहे थे तो ट्रम्प प्रशासन ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में अजहर महमूद को वैश्विक आतंकी घोषित कराने के लिए दिन-रात काम किया था। पुलवामा हमले के बाद पहली बार अमेरिका ने सार्वजनिक तौर पर कहा था कि भारत को आत्मसुरक्षा का अधिकार है। अमेरिका के बाद ही दुनिया के अन्य प्रमुख देशों ने भी इसे दोहराया था। 

महाभियोग की सुनवाई से दोषमुक्त होने के बाद ट्रम्प की किसी देश की यह पहली यात्रा है। अहमदाबाद में जब वह एक रैली में करीब एक लाख लोगों को संबोधित करेंगे, तो यह विदेशों में उनकी लोकप्रियता को भी प्रदर्शित करेगा और उनके विरोधियों को भी इससे करारा जवाब मिलेगा, जो दावा करते हैं कि ट्रम्प विदेशों में लोकप्रिय नहीं हैं। इस रैली में बड़ी संख्या में भारतीय अमेरिकी भी शामिल हो सकते हैं।

ट्रम्प का मानना है कि भारत के साथ मजबूत संबंध अमेरिका के हित में हैं और दुनिया में शांति के लिए यह द्विपक्षीय रिश्ता जरूरी है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बारे में वे कहते हैं कि भारत के पास आज ऐसा नेतृत्व है, जो दोनों लोकतांत्रिक देशों के संबंधों को वहां ले जाने में सक्षम है, जिसके बारे में पूर्व में सपना ही देखा गया है। दोनों देशों की अंदरूनी चुनौतियों को देखते हुए इसमें समय लगेगा, लेकिन इस यात्रा से वह अपने लगभग तय माने जा रहे अगले कार्यकाल के दौरान इन संबंधों को उस स्तर पर ले जाना चाहेंगे, जहां से इनकी वापसी न हो सके।

ट्रंप चाहते हैं कि इन संबंधों का आधार रक्षा, आतंकवाद का विरोध और कूटनीति के साथ ही दोनों देशों बीच व्यापार और एक-दूसरे देश के लोगों से संपर्क को बढ़ाना भी होना चाहिए। आने वाले वर्षों में ऊर्जा के क्षेत्र में व्यापार महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। पिछले कुछ वर्षों में अमेरिका से भारत का ऊर्जा आयात 2019 तक शून्य से करीब 420 अरब रुपए (छह अरब डॉलर) पहुंच गया है और इसके इस साल दोहरी संख्या में पहुंचने की उम्मीद है। ट्रम्प के साथ इस यात्रा में उनके साथ कई प्रमुख अमेरिकी सीईओ भी दिखें तो चौंकने की जरूरत नहीं है। 

फ्रांस कार्टून विवाद के बीच मोदी बोले-कुछ लोग आतंक के समर्थन में खुलकर आ गए हैं अयोध्या: 39 माह में मंदिर निर्माण का बन रहा प्लान, एक हजार साल तक अक्षुण्ण रहेगी भव्यता पुलवामा हमले पर बोले पीएम मोदी- पड़ोसी देश ने सच स्वीकारा, राजनीति करने वालों को नहीं भूलेगा राष्ट्र

ओबामा द्वारा शुरू की गई परंपरा का पालन करते हुए ट्रम्प ने भी पाकिस्तान में न रुकने का फैसला किया है। देखा जाए तो पाकिस्तान के मामले में वह अपने पूर्ववर्ती से एक कदम आगे ही गए हैं। उन्होंने आतंक के खिलाफ लड़ाई में प्रभावी भूमिका न निभाने की वजह से पिछले दो सालों से पाकिस्तान को सभी तरह की सुरक्षा व वित्तीय मदद देनी बंद की हुई है। हालांकि, अभी ट्रम्प की यात्रा की बारीकियों पर काम हो रहा है, लेकिन यह तय है हिंद-प्रशांत क्षेत्र पर उनका फोकस रहेगा।

और पढो: Dainik Bhaskar »

10 तक: भोपाल-मुंबई-अलीगढ़ में फ्रांस के राष्ट्रपति के खिलाफ प्रदर्शन...नारेबाजी

फ्रांस इस वक्त इस्लामिक आतंकवाद का शिकार है. उसके नीस शहर में चर्च में घुसकर एक शख्स ने तीन लोगों का कत्ल कर दिया. लेकिन इस घटना का विरोध करने की जगह दुनिया के तमाम देशों से लेकर हिंदुस्तान के कई शहरों में भी मुस्लिम समुदाय के लोग फ्रांस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. उनको नाराजगी इस बात को लेकर है कि फ्रांस के राष्ट्रपति इमैन्युएल मैक्रों ने इस्लामिक कट्टरपंथ के खिलाफ सख्ती का एलान किया है. देखें 10 तक.

FATF में पाक को बेनकाब करेगा भारत, पेरिस में NIA, ED की टीमें रहेंगी मौजूदपाकिस्तान की आतंकी गतिविधियां अतंरराष्ट्रीय दबावों के बाद भी थमी नहीं हैं. पाकिस्तान को पेरिस में फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स की बैठक में भारत बेनकाब करेगा. इसके लिए भारत से 10 काबिल अफसरों की टीम पेरिस जा रही हैं.

Samsung Galaxy M31 भारत में लॉन्च को तैयार, 25 फरवरी को हो सकती है लॉन्चिंगSamsung Galaxy M31 में 64 मेगापिक्सल का मेन कैमरा मिलेगा। इसके अलावा फोन के बैक पैनल की डिजाइन काफी हद तक गैलेक्सी ए51 की तरह ही होगी।

25 फरवरी को भारत में लॉन्च होगा Samsung Galaxy M31सैमसंग भारत में 25 फरवरी को अपने नए स्मार्टफोन Galaxy M31 को भारत में लॉन्च करने वाला है. इसमें 64MP का प्राइमरी कैमरा मिलेगा.

इन दमदार फीचर्स के साथ 25 फरवरी को भारत में लॉन्च होगा Samsung Galaxy M31Samsung Galaxy M31 Specification: सैमसंग गैलेक्सी एम31 लॉन्च तारीख सामने आई गई है। Amazon पर अलग से samsung m31 के लिए एक पेज़ भी बनाया गया है जिससे कुछ अहम फीचर्स सामने आए है। जानें आगामी सैमसंग स्मार्टफोन के बारे में।

Samsung Galaxy M31 की स्पेसिफिकेशन लीक, 25 फरवरी को होगा भारत में लॉन्चSamsung Galaxy M31 में 6.4 इंच का फुल-एचडी+ सुपर AMOLED इन्फिनिटी-यू डिस्प्ले और Exynos 9611 चिपसेट दिया जाएगा। गैलेक्सी एम31 में 15W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट होगा और यह फोन यूएसबी टाइप-सी पोर्ट के साथ आएगा।

एशिया टीम बैडमिंटन चैम्पियनशिपः भारत का विजयी आगाज, पहले मैच में कजाख्स्तान को हरायाकिदाम्बी श्रीकांत की अगुवाई में भारत ने एशिया टीम बैडमिंटन चैम्पियनशिप के पहले ग्रुप मैच में कजाख्स्तान को 4-1 से हराकर