Hathras Case, Supreme Court, हाथरस केस, सुप्रीम कोर्ट

Hathras Case, Supreme Court

हाथरस केस में कल फैसला सुनाएगा सुप्रीम कोर्ट, इन तीन अहम मुद्दों को करेगा तय..

सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच मंगलवार को हाथरस मामले में फैसला सुनाएगी

26-10-2020 16:32:00

सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच मंगलवार को हाथरस मामले में फैसला सुनाएगी

सुप्रीम कोर्ट ये तय करेगा कि वह मामले की निगरानी करेगा या इलाहाबाद हाईकोर्ट को सौंपेगा, मामले का ट्रायल दिल्ली ट्रांसफर किया जाए या नहीं और पीड़ितों व गवाहों की सुरक्षा केंद्रीय बलों को दी जाए या नहीं. सुप्रीम कोर्ट में पीड़ित परिवार ने अपील की है कि इस मामले का ट्रायल दिल्ली में हो.

खास बातेंनई दिल्ली: Hathras Case: उत्तर प्रदेश के हाथरस में कथित गैंगरेप केस और मौत के मामले (Hathras Case) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) मंगलवार को फैसला सुनाएगा. CJI एसए बोबडे, जस्टिस एएस बोपन्ना और जस्टिस वी रामासुब्रमण्यम की बेंच इस मामले में फैसला सुनाएगी. सुप्रीम कोर्ट ये तय करेगा कि वह मामले की निगरानी करेगा या इलाहाबाद हाईकोर्ट को सौंपेगा, मामले का ट्रायल दिल्ली ट्रांसफर किया जाए या नहीं और पीड़ितों व गवाहों की सुरक्षा केंद्रीय बलों को दी जाए या नहीं.

खबरदार: किसानों का डेरा, दिल्ली पर चौतरफा घेरा आज तक @aajtak कांग्रेस का शाह से सवाल- 1200 KM दूर हैदराबाद जा सकते हैं, 12 KM दूर जाकर किसानों से क्यों नहीं मिलते?

यह भी पढ़ेंपीड़िता धार्मिक रीति-रिवाजों के अनुसार अंतिम संस्कार की हकदार थी : हाईकोर्ट सुुप्रीम कोर्ट में पीड़ित परिवार ने अपील की है कि इस मामले का ट्रायल दिल्ली में हो. हाथरस कांड में एक जनहित याचिका दायर की गई है जिसमें जांच की निगरानी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट के वर्तमान या रिटायर्ड जज से कराने की मांग की गई है. इस याचिका में कहा गया है कि यूपी में मामले की जांच और सुनवाई निष्पक्ष नहीं हो पाएगी, इसलिए इसे दिल्ली ट्रांसफर किया जाए.

हाथरस केस: सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'हाईकोर्ट को सुनवाई करने दें, हम यहां नजर रखने के लिए बैठे हैं' इससे पहले की सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट में उत्‍तर प्रदेश (Uttar Pradesh Government) यूपी सरकार ने बताया था कि पीड़ित परिवार और गवाहों की तीन स्तरीय सुरक्षा की जा रही है. सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को जवाब दाखिल कर योगी सरकार ने कहा कि पीड़ित परिवार और गवाहों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए तीन-स्तरीय सुरक्षा प्रदान की गई है.गौरतलब है कि हाथरस में 14 सितंबर को एक 20 साल की लड़की के साथ कथित तौर पर गैंगरेप हुआ था. उसको बेरहमी से टार्चर भी किया गया गया था. बाद में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में उसने दम तोड़ दिया था. मामले को लेकर पूरे देश में जबर्दस्‍त रोष देखा गया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comहाथरस मामले की FSL रिपोर्ट पर सवाल उठाने वाले डॉक्टरों को हटाया गयाHathras CaseSupreme Courtटिप्पणियां भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलाव पर नज़र रखें, और NDTV.in पर पाएं दुनियाभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें.

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

स्पेशल रिपोर्ट: Delhi में Coronavirus बेलगाम! संक्रमितों की तादाद 5 लाख पार

दिल्ली में कोरोना संक्रमण अपने विकराल रूप में आ चुका है. कुल संक्रमितों की तादाद 5 लाख पार कर गई है. दिल्ली सरकार ने बिना मास्क पाए जाने पर जुर्माना बढ़ाकर 2 हजार रुपये कर दिया है. दिल्ली सरकार ने कोरोना से निपटने के उपायों को लेकर आज सर्वदलीय बैठक भी बुलाई. कोरोना मरीजों के लिए इंतजाम में दिल्ली सरकार हांफ रही है. जगह जगह टेस्टिंग की जा रही है. दिल्ली के बाजार बंद कराए जाने के कयास लगाए जा रहा हैं. देखें स्पेशल रिपोर्ट.

उत्तर प्रदेश सरकार और पुलिस प्रशासन कि व्यवहार से अंदाजा लगाया जा सकता है कि पिड़िता के परिजनों को न्याय दिलाने में ये सरकार सक्षम नहीं हैं। Supreme Court is modi रामराज्य में 'सीता मइया' को भी न्याय नही मिल पाया था ओन्ली फांसी Setting hogai hongi to faisala suna do क्या सजा देगी टाइम पास किया जा रहा है बस। ज़िम्मेदार योगी हैं उनको कुछ कहेगी ही नहीं अदालत

उसका क्या होगा ? एक जिलाधकारी तक हटवा न पाये !! सुप्रीम कोर्ट !! need of justice is important but more important is the punishment to be given to police officials DG&ADG . If this doesn't happen the right way than the entire society is trading on dangerous grounds.... हाई कोर्ट के अधिकतर मामलों में सुप्रीम कोर्ट का दखल क्यों ? और दखल मोदी सरकार के पक्ष में ही क्यों ?

सुप्रिम कोर्ट क्या वहीं जगह है जहा के चिफ जस्टीस रिटायर होने के बाद राज्यसभा सांसद बने हुये है If victim's family want hearing in Delhi then what's the problem to anyone? फैसला सरकार हित में ही होगा ....? Hathras Mamale Me Jin police Walo Ne Or Unhe Aadesh Dene Wale Upri Natao Per Bhi kdii Karywahi Honi Chahie. Taki Police En Netao Ke Tuglagi Farman N Mane Or Apni Duty Thik Se Nibha Ske. Ye Sandesha Jana Chahiye.

Bikne wala jaj nhi hona chahiye मनूपालिका से हमे कोई भरोसा नहीं की पीड़िता को न्याय मिलेगा जिस तरह सुप्रीम कोर्ट ने भारत के लोगों पर हो रहे अत्याचार पर कोई संज्ञान नहीं ले रहा उससे भरोसा तो नहीं होता कि कोई यह न्याय करेंगे देखना होगा संविधान के तहत सुप्रीम कोर्ट फैसला देगा या सरकार के दबाव में फैसला आएगा HathrasCase

राम मंदिर के एकतरफा फैसले के बाद कैसे विश्वास करें कि सुप्रीम कोर्ट निष्पक्ष फैसला देगा। CBI के बाद अब सुप्रीम कोर्ट भी सरकार के इशारे पर नाचने लगी है। कृपया अपनी प्रतिष्ठा का कुछ तो खयाल कीजिए। अगर इनमें कोई भी ओबीसी, एससी, एसटी का जज है तो हमें भरोसा होयेगा Are ye Manisha ke Ghar walo ko hi doshi Bata Kar jail me n dal de ajkal to aisa hi chal RHA hai

सरकार तुम्हारी जज भी तुम्हारा ओर HathrasCase का फैसला आप पहले ही कर चुके हो, सरकार बंद करों ये नौटंकी करना जनता को बेवकूफ बनाना किसी निर्दोष को सुली पर चड़ाना.. bjpsupportrapist BJPkilledDemocracy Modi_Hates_SCSTOBC Manisha is guilty ...thats the truth 😕 Kuchh nhi hoga bjp rapist ke support me h Wahi failsa jisme koi dosi nhi hoga

दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण : केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा-जल्द बनेगा कानूनदिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण : केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा-जल्द बनेगा कानून Parali Pollution DelhiNCRPollution stubbleburning SupremeCourt भारत में पहले से ही प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड मौजूद है तो फिर नए कानून बनाने की क्या आवश्यकता है क्या आप प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड कार्य नहीं कर रहा है कुछ नंही होना जाना

लोन मोरेटोरियमः केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में दाख़िल किया एफ़िडेविट - BBC News हिंदीलोन मोरेटोरियम मामले में केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में एक विस्तृत एफ़िडेविट दायर कर कहा है कि 1 मार्च से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि के लिए तयशुदा लोन खातों वाले बौरोअर्स (कर्ज़दार) ब्याज में छूट ले सकते हैं. कोई भरोसा नही सरकार बोलेगी कुछ करेगी कुछ ज्यादा क्यूं लेना ...फिजूल का भार क्यूं देना... कोई काम के दबाव में ही तो लिया होगा ना.... उसको लगान के बोझ से.... क्यों मारना....😏 जब जनता असमंजस की स्तिथि में मौत से लड़ रही थी तब बैंक आम जनता की मारने में लगा हुआ था

कोर्ट ने टीवी एक्ट्रेस प्रीतिका को 8 नवंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा, NCB ने ड्रग्स मामले में रंगे हाथ गिरफ्तार किया थाप्रीतिका सावधान इंडिया, संकट मोचन हनुमान जैसे TV सीरियल्स में काम कर चुकी है | सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में ड्रग्स एंगल पर जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने नए ड्रग्स रैकेट का खुलासा किया है। NCB ने इस मामले में टीवी एक्ट्रेस प्रीतिका चौहान समेत 5 लोगों को गिरफ्तार किया है। प्रीतिका कई टीवी सीरियल में भी काम कर चुकी हैं।

कोयला घोटाला मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री दिलीप रे को 3 साल की सजानई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने झारखंड में 1999 में कोयला खदान आवंटन में अनियमितताओं के एक मामले में पूर्व केन्द्रीय मंत्री दिलीप रे को सोमवार को 3 साल की सजा सुनाई। दिलीप रे अटलबिहारी वाजपेयी सरकार में कोयला मंत्री थे।

प्रदूषण के खिलाफ कमजोर लड़ाई, हवा को जहरीला बनने से रोकने में आम लोग सजग नहींवायु प्रदूषण को दूर करने में कोई कोताही इसलिए स्वीकार नहीं की जा सकती क्योंकि उससे लोगों की सेहत पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है और देश की अंतरराष्ट्रीय छवि खराब हो रही है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने चीन और रूस के साथ भारत की हवा को गंदी बताया। PMOIndia Sanjaygupta0702 नेता,मिनिस्टर, सरकारी अधिकारी खुद दर्जनों ac में रहते है,,और उम्मीद कर रहे है कि आम जनता सजग रहे,,इन जाहिलो को कोई समझाए की प्रदूषण तुम पढ़े लिखे जाहिलो ही फैला रहे हो,,आम जनता को तो दो जून की रोटी का जुगाड़ करने से ही फुर्सत नही,,,, PMOIndia Sanjaygupta0702 दीपावली आ रही हैं इसलिए पहले ही रंडी रोना चालू करोगे हमें पता था दल्लो PMOIndia Sanjaygupta0702 फ़र्जी युद्ध प्रदूषण के विरुद्ध

टेरर फंडिंग के बादशाह पाकिस्तान को झटका, एफएटीएफ के ग्रे लिस्ट में बरकरारटेरर फंडिंग पर नजर रखने वाली वैश्विक संस्था एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में ही बरकरार रखा और चेतावनी भी दी कि अगर फरवरी तक उसने अपनी जमीन पर आतंकवादियों के खिलाफ एक्शन नहीं लिया तो उसे ब्लैक लिस्ट कर दिया जाएगा. लेकिन पाकिस्तान की इमरान सरकार इस बात की खुशी से फूली नहीं समा रही कि एफएटीएफ ने उसे ब्लैक लिस्ट में नहीं डाला, ग्रे लिस्ट में ही रहने दिया. देखें वीडियो. माफी मांगो रिपब्लिक का , फेक न्यूज फ़ैलाने के लिये । इतना आतंकवाद तो चलता है PakistanMovingForward to GreyList PMImranKhan.. जैसा बोओगे वैसा ही पाओगे... Kashmir राग अलापने का अबतक ढोंग रचाओगे.. नहीं भाई मेरे।आपसे निवेदन है कि आप अन्यथा न समझें। Pakistani का ख्याल रखें। ImranKhan GREY Anatomy Pakistan kashmir_with_india Article370 NewsTwitter