Coronaupdatesınındia, Hydroxychloroquine, हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन, कोरोना वायरस, कोविड 19 टीका, दवा, मलेरिया की दवा, आईसीएमआर

Coronaupdatesınındia, Hydroxychloroquine

हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन की सिफारिश वापस ले सकती है सरकार

Hydroxychloroquine, हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन, कोरोना वायरस, कोविड 19 टीका, दवा, मलेरिया की दवा, आईसीएमआर

23-05-2020 08:31:00

अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप कोविड-19 से बचने के लिए हर रोज मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन लेते हैं CoronaUpdatesInIndia

Hydroxychloroquine , हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन , कोरोना वायरस , कोविड 19 टीका , दवा , मलेरिया की दवा , आईसीएमआर

रिपोर्ट : हृदयेश जोशी अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप कोविड-19 से बचने के लिए हर रोज मलेरिया की दवा हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन लेते हैं लेकिन ईयू के विशेषज्ञ इसे कारगर नहीं मानते। अब भारत के चिकित्सा अधिकारी भी इस दवा के असर पर संदेह करने लगे हैं। 

दिल्ली पुलिस ने दाती महाराज को किया गिरफ्तार, लॉकडाउन के नियमों को तोड़ने का है आरोप ट्रंप के ट्वीट पर ट्विटर ने लगाई फैक्ट चेक वॉर्निंग, अब ट्रंप दे रहे हैं Twitter को धमकी महाभारत के कर्ण के बस्तर और करनाल में हैं मंदिर, एक्टर ने किया खुलासा

कोरोना के इलाज के लिए अब तक वैकल्पिक बचाव मानी जा रही हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन (एचसीक्यू) का प्रयोग भारत सरकार जल्द ही रोक सकती है। कुछ देशों में किए गए निर्णायक टेस्ट में फेल हो जाने के बाद इस दवा की उपयोगिता पर गंभीर सवाल खड़े हो गए हैं और देश के मेडिकल एक्सपर्ट और हेल्थ एक्टिविस्ट इसे इस्तेमाल किए जाने को लेकर वैज्ञानिक और नैतिक सवाल उठा रहे हैं।

ALSO READ: डोनाल्ड ट्रंप ने किया खुलासा, Corona से बचाव का एक तरीका है हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन...भारत की सबसे बड़ी मेडिकल रिसर्च बॉडी इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) इस दवा का इस्तेमाल रोक सकती है और अपनी तय गाइडलाइंस में बदलाव कर दवाओं का नया मिश्रण सुझा सकती है। स्वास्थ्य मंत्रालय और आईसीएमआर के भीतर इस मुद्दे पर चल रहे बहस की पुष्टि करते हुए एक अधिकारी ने डीडब्ल्यू से कहा कि इस बारे में फैसला एजेंसी की नेशनल साइंटिफिक टास्क फोर्स को ही करना है।

 महत्वपूर्ण है कि अप्रैल में जब अमेरिका ने भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन की मांग की तो बड़ा हड़कंप मचा। तब मांग उठी थी कि मलेरिया के इलाज में दी जाने वाली इस दवा को भारत पहले अपनी जनता के लिए पर्याप्त मात्रा में सुरक्षित रखे और उसके बाद ही किसी अन्य देश को सप्लाई करे। लेकिन तकरीबन डेढ़ महीने बाद यह साफ हो गया है कि हाइड्रोक्लोरोक्विन न केवल कोरोना से लड़ने में बेअसर है बल्कि टेस्ट के दौरान इंसान पर इसके प्रतिकूल असर (साइड इफेक्ट) भी दिखे हैं।

ALSO READ: कोरोना के इलाज में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन हो सकती है घातक, विशेषज्ञों की चेतावनीएहतियातन इस्तेमाल की दवाभारत में अब तक कोरोना के 1 लाख से अधिक मरीजों की पहचान हो चुकी है और 3,000 से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। इस बीमारी की कोई दवा न होने के कारण हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन को इसका इलाज सुझाया गया था। आईसीएमआर और स्वास्थ्य मंत्रालय ने बचाव के तौर पर इसके इस्तेमाल की अनुमति दी है ताकि कोरोना पॉजिटिव मरीजों के इस्तेमाल में लगे हेल्थ वर्कर और गंभीर रूप से बीमार मरीज इसे ले सकें और अपना बचाव कर सकें। इसके अलावा निजी अस्पतालों में गंभीर रूप से बीमार कोरोना मरीजों पर इसका दवा का इस्तेमाल किया जा रहा है।

ALSO READ: Corona virus : भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन की एक खेप अमेरिका पहुंचीहालांकि पहले मेडिकल पत्रिका 'न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन' में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन के बेअसर होने की खबर छपी और उसके बाद चीन और फ्रांस में मरीजों पर किए गए रेंडमाइज्डकंट्रोल ट्रॉयल (आरसीटी) में भी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन फेल हो गई। आरसीटी किसी दवा के प्रभाव को जानने का सबसे प्रभावकारी और विश्वसनीय तरीका है। दोनों ही देशों में किए गए ट्रॉयल में पाया गया कि दवा न केवल अप्रभावकारी है बल्कि मरीज पर इसका बुरा असर भी हो रहा है।

 डीडब्ल्यू ने इस बारे में आईसीएमआर के निदेशक बलराम भार्गव से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनसे बात नहीं हो सकी। लेकिन आईसीएमआर में वैज्ञानिक और मीडिया को-ऑर्डिनेटर डॉ. लोकेश शर्मा ने हमें बताया कि इस बारे में पहले से तय गाइडलाइंस पब्लिक डोमेन में हैं। कमेटी (साइंटिफिक टास्क फोर्स) में जो भी फैसला लिया जाएगा, उसकी सूचना मीडिया को दी जाएगी।

सिंधिया की राह पर रायबरेली की विधायक अदिति सिंह, ट्विटर से INC हटाया ग्लोबल पावर बनने की हनक में तो नहीं कर रहा चीन ऐसा दुस्साहस... यूपी: काशी विश्वनाथ मंदिर के कपाट खोलने की मांग, प्रधानमंत्री से की अपील

ALSO READ: अमेरिका के कई अस्पताल Covid 19 के इलाज में कर रहे Hydroxychloroquine का इस्तेमालइससे पहले आईसीएमआर के विशेषज्ञ अप्रैल में ही कह चुके हैं कि हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन के असर को लेकर इतने कम प्रमाण हैं कि उसके बहुत सीमित इस्तेमाल की सलाह दी जा रही है। आईसीएमआर के मुख्य महामारी विशेषज्ञ डॉ. रमन गंगाखेड़कर ने कोरोना बीमारी के विकराल रूप को देखते हुए चेतावनी दी थी कि यह पैनिक, जो फैल चुका है, उसमें अक्सर यह दिखाई देता है कि हमारी सोच इमोशनल हो जाती है।

 उन्होंने कहा कि हम सोचते हैं कि मैं भी खा लूं तो अच्छा होगा। इससे बचना हमारे लिए बहुत जरूरी है, क्योंकि जब तक हमारे पास उतना एविडेंस नहीं आएगा तो न तो हम मरीजों को यह दवा लेने को बोलेंगे और न उनकी सेहत के लिए यह अच्छा होगा। तो हम इसकी सलाह नहीं देंगे, क्योंकि कोई भी दवा जो होती है उसके साइड इफेक्ट होते हैं और वे डॉक्टर को ही मालूम होते हैं। किसको देना चाहिए और कैसे देना चाहिए, इसका हमने कभी पता नहीं किया।

हैरानी की बात है कि इसके बावजूद भारत में यह दवा मरीजों को बेरोकटोक दी जा रही है। जन स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम कर रहे संगठनों का कहना है कि भारत में कोरोना बीमारी से लड़ने में हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन की उपयोगिता को लेकर कभी कोई स्टडी या ट्रॉयल नहीं हुआ इसलिए आईसीएमआर और स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा इस दवा का इस्तेमाल जिस तरह से किया जा रहा, उसे लेकर कई सवाल हैं।

ALSO READ: WHO की ट्रंप को सलाह, परीक्षण कर ही वे लें hydroxychloroquine दवापब्लिक हेल्थ के लिए काम कर रहे संगठन ऑल इंडिया ड्रग एक्शन नेटवर्क की को-कन्वीनर मालिनी आइसोला कहती हैं कि हमें इस बात की जानकारी है कि राज्यों का आईसीएमआर और स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ कोई तालमेल नहीं है। मिसाल के तौर पर एचसीक्यू के इस्तेमाल के लिए महाराष्ट्र के मुंबई प्रशासन ने अपना अलग ही प्रोटोकॉल बनाया है। वहां वह न केवल गंभीर रूप से बीमार मरीजों बल्कि ऐसे मरीजों में भी इस दवा (एचसीक्यू) का इस्तेमाल कर रहे हैं, जो कोरोना के एसिम्पटोमैटिक (बिना लक्षण वाले) मरीज हैं। इन लोगों को यह दवा देना केंद्र सरकार की गाइडलाइंस का सीधा-सीधा उल्लंघन है। हमने देखा है कि निजी अस्पताल भी धड़ल्ले से मरीजों पर इस दवा को इस्तेमाल कर रहे हैं और कई बार तो मरीजों को इस बारे में बताया भी नहीं जा रहा कि उन्हें ये दवा दी जा रही है। ऐसा करना बिलकुल अनैतिक है।

 जाहिर तौर पर जब यह दवा सामान्य से लेकर गंभीर रूप से बीमार मरीजों पर बेअसर हो गई हो और इसके साइड इफेक्ट साबित हुए हों तो उसके इस्तेमाल की नैतिकता को लेकर भी आईसीएमआर पर दबाव है और इसे वापस लिए जाने की पूरी संभावना बताई जा रही है।   और पढो: Webdunia Hindi »

कोरोना वायरस से लड़ने में भारत की मदद करेगी यह दवा, बेचने की हो रही तैयारी कोरोना वायरस से लड़ने में भारत की मदद करेगी यह दवा , बेचने की हो रही तैयारी CoronaUpdate Lockdown4 coronavirus CoronaHotSpots CoronaVirusUpdate coronaupdatesindia PMOIndia MoHFW_INDIA DrHVoffice

बाहुबली स्टार राणा दग्गुबाती ने की मिहीका बजाज से सगाई, यहां देखिए दोनों की खूबसूरत तस्वीरेंबाहुबली स्टार राणा दग्गुबाती ने की मिहिका बजाज से सगाई, यहां देखिए दोनों की खूबसूरत तस्वीरें RanaDaggubati MiheekaBajaj Weddingbells RanaDaggubati RanaDaggubati SSC_RESULTS_WITHOUT_IMAGINARY_UFM अगर SSC 30 दिन किसी Result को delay करती है, 20 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी जो इस देश का भविष्य है उनके जीवन के 30 दिन waste होते है । Speed Up SSC. Aspirants have a life too. Remove imaginary UFM, Give Results. DoPTGoI PMOIndia DrJitendraSingh RanaDaggubati Bahubali me sab 🃏 hi dikhate hai.. stupid movie..

Choked Review: लॉकडाउन की ट्रेजेडी में अनुराग कश्यप लेकर आए नोटबंदी के दिनों की ब्लैक कॉमेडीChoked Review: लॉकडाउन की ट्रेजेडी में अनुराग कश्यप लेकर आए नोटबंदी के दिनों की ब्लैक कॉमेडी anuragkashyap72 Choked ChokedPaisaBoltaHai NetflixIndia anuragkashyap72 NetflixIndia Aundhe muh giregi yeh movie, log jayenge hi nahi dekhne ke liye 😉😜 anuragkashyap72 NetflixIndia Kabhi papu par bhi film banalo you...anuragkashyap72 anuragkashyap72 NetflixIndia Looking forward for another motion picture treat from the master maker.

सैमसंग इंडिया ने फेसबुक से की साझेदारी, ऑफलाइन रिटेलर्स को मिलेगी डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंगसैमसंग इंडिया ने फेसबुक से की साझेदारी, ऑफलाइन रिटेलर्स को मिलेगी डिजिटल मार्केटिंग की ट्रेनिंग SamsungIndia Facebook SamsungIndia Facebook MarkZukerberg आप लोगों को प्रणाम

गांगुली को ICC चेयरमैन बनाने की चर्चाएं, इंग्लैंड के बाद दक्षिण अफ्रीकी दिग्गज ने की वकालतग्रीम स्मिथ से पहले इंग्लैंड के पूर्व कप्तान और कमेंटेटर डेविड गावर ने भी सौरव गांगुली को चेयरमैन बनाने की मांग की थी। उन्होंने पिछले सप्ताह कहा था कि गांगुली के पास आईसीसी चीफ बनने के लिए जरूरी सारी योग्यताएं हैं। बहुत ही सुंदर

भारत की दो टूक- LAC पर चीन की आपत्ति गलत, हमें अपनी जिम्मेदारी मालूमभारत चीन सीमा पर बने तनावपूर्ण माहौल को कम करने के प्रयासों पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि दोनों तरफ से बातचीत के जरिए शांतिपूर्ण तरीके से समस्या के हल करने की कोशिश की जा रही है. Geeta_Mohan bijlibill_maaf_karo_yogi_sarkar

राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं युद्ध की तैयारी में चीन! राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सेना को तैयार रहने के दिए आदेश कांग्रेस का आरोप- यूपी में दलितों-पिछड़ों को निशाना बना रही योगी सरकार VIDEO: राहुल बोले- लॉकडाउन हुआ फेल, मोदी सरकार माने नाकामी नेपाल के साथ क्या हुआ, लद्दाख में कैसे हालात? देश के सामने सच्चाई बताए सरकार: राहुल गांधी सोनू सूद के बाद मजदूरों के मसीहा बने प्रकाश राज, घर पहुंचाने में कर रहे मदद राहुल गांधी ने किया आदित्य ठाकरे को फोन, महाराष्ट्र को लेकर दिए बयान पर दी सफाई चीन को जवाब देने की तैयारी, तीनों सेनाओं ने पीएम मोदी को सौंपा ब्लूप्रिंट '2021 की शुरुआत में मिलेगा कोविड-19 का टीका', राहुल गांधी से चर्चा में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर का दावा - BBC Hindi कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi पिता के साथ बेचते थे सब्जी, यह हैं बिहार दसवीं के टॉपर हिमांशु राज