स्मृति ईरानी: मोदी विरोधी अनशन से राहुल का किला भेदने तक

स्मृति ईरानी: मोदी विरोधी अनशन से राहुल का किला भेदने तक

23.5.2019

स्मृति ईरानी: मोदी विरोधी अनशन से राहुल का किला भेदने तक

अमेठी लोकसभा सीट पर ईरानी ने राहुल गांधी से 47598 वोटों की बढ़त बना ली है और जीत की ओर बढ़ रही हैं.

Getty Images वाक कौशल का इस्तेमाल भाजपा की राजनीति के पुराने जानकार बताते हैं कि स्मृति ईरानी को राजनीति में लाने के पीछे प्रमोद महाजन थे लेकिन 2006 में उनकी हत्या के बाद स्मृति के राजनीतिक सफ़र की रफ़्तार भी घटी. कुछ समय तक उन्होंने पार्टी के भीतर चुपचाप काम किया, साथ ही अपने वाक कौशल के इस्तेमाल से पहचान भी बनाती रहीं. इसके बाद ईरानी को महाराष्ट्र भाजपा का महिला मोर्चा अध्यक्ष नियुक्त कर दिया गया. 2009 के लोकसभा चुनावों में उन्हें टिकट नहीं मिला लेकिन तीन-चार भाषाओं पर अपनी पकड़ के इस्तेमाल से उन्होंने देश भर में पार्टी का प्रचार किया. 2010 में जब नितिन गडकरी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने तो स्मृति को पार्टी के राष्ट्रीय महिला मोर्चे की कमान दे दी गई. अगले ही साल वह गुजरात से राज्यसभा सांसद चुनी गईं और फिर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय होने लगीं. यही वह दौर था जब वह खुले तौर पर तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करने लगीं. कई जानकार यह भी मानते हैं कि पार्टी में क़द बढ़ने के साथ उन्हें कुछ स्तरों पर लिंगभेद का सामना भी करना पड़ा. उन्हें वाक कौशल का फ़ायदा मिला और वह राष्ट्रीय प्रवक्ता बना गईं. टीवी चैनलों पर पक्ष रहते हुए वह भाजपा का एक चर्चित चेहरा बन गईं. इमेज कॉपीरइट Getty Images अमेठी की लड़ाई 2014 के आम चुनावों में, जब भाजपा नरेंद्र मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ रही थी, पार्टी ने उन्हें राहुल गांधी के ख़िलाफ़ लड़ने अमेठी भेजा. तब तीसरे प्रत्याशी के तौर पर आम आदमी पार्टी से लड़ रहे कवि कुमार विश्वास भी मीडिया की सुर्ख़ियों में थे. 2009 के चुनाव में भाजपा को अमेठी में सिर्फ़ साढ़े 37 हज़ार वोट मिले थे इसलिए स्मृति ईरानी के पास हासिल करने के लिए बहुत कुछ था. हालांकि यह उनके लिए एक अजनबी क्षेत्र था जहां की भाषा से भी वो अनजान थीं. उन्होंने इस चुनाव में यह प्रचारित किया कि गांधी परिवार की सीट होने के बावजूद यहां"बीते दस साल में कुछ नहीं हुआ." वह लोगों के घरों तक गईं, महिलाओं से संवाद बनाया और ग्रामीणों से चर्चा के लिए ज़मीन पर बैठीं. यहां उन्हें तीन लाख से ज़्यादा वोट मिले और राहुल गांधी एक लाख से कुछ अधिक वोटों से ही चुनाव जीत पाए. डिग्री विवाद चुनाव हारने के बावजूद राहुल गांधी से लोहा लेने का उन्हें फ़ायदा मिला और वो केंद्र सरकार में मंत्री बना दी गईं. पर उनकी डिग्री को लेकर विवाद शुरू हो गया. स्मृति ईरानी पर चुनाव के समय दाखिल शपथपत्र में अपनी डिग्री की ग़लत जानकारी देने का आरोप लगा. उन्होंने एक चुनाव शपथपत्र में दिल्ली विश्वविद्यालय से साल 1996 में कला स्नातक होने की बात कही. इमेज कॉपीरइट Getty Images वहीं दूसरे शपथ पत्र में उन्होंने 1994 में दिल्ली के स्कूल ऑफ ओपन लर्निंग से बीकॉम पार्ट वन की परीक्षा पास होने जानकारी दी. फिर 2019 चुनावों के नामांकन के समय भी उन्होंने घोषित किया कि वो ग्रेजुएट नहीं हैं. उन्होंने बीकॉम पार्ट-वन के आगे ब्रैकेट में लिखा"तीन साल का डिग्री कोर्स पूरा नहीं किया गया." रोहित वेमुला की आत्महत्या हैदराबाद यूनिवर्सिटी में दलित शोध छात्र रोहित वेमुला की आत्महत्या के बाद स्मृति ईरानी विपक्ष के निशाने पर आ गई थीं. उनके मंत्रालय ने केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय की शिकायत का हवाला देते हुए आरएसएस के छात्र संगठन एबीवीपी के एक नेता की पिटाई के आरोप में यूनिवर्सिटी को कार्रवाई करने को कहा था. इसके बाद यूनिवर्सिटी ने पांच दलित छात्रों को निष्कासित कर दिया था. निष्कासित छात्रों को छात्रावास से भी निकाल दिया गया. बाद में रोहित वेमुला ने आत्महत्या कर ली थी. रोहित की मौत पर ईरानी को संसद में बयान तक देना पड़ा था. उनके बयान पर भी विपक्ष ने उन्हें निशाने पर लिया और संसद को गुमराह करने का आरोप लगाया. बतौर सूचना-प्रसारण मंत्री ईरानी को जब सूचना प्रसारण मंत्री बनाया गया तब भी विवादों ने उनका पीछा नहीं छोड़ा. उनके पद संभालने के बाद ही सूचना-प्रसारण मंत्रालय में तैनात भारतीय सूचना सेवा के तीन दर्जन से ज्यादा अधिकारियों का तबादला कर दिया गया. उनमें ऐसे अधिकारी भी थे जो कुछ महीनों में ही रिटायर होने वाले थे. इसी विवाद के बीच ईरानी ने ग]लत रिपोर्ट‌िंग (तथ्यात्मक खामी) करने वाले पत्रकारों को दंडित करने का सर्कुलर जारी कर दिया. इसमें पत्रकारों की मान्यता रद्द करने जैसे प्रावधान रखे गए. मीडिया समूहों ने इसका विरोध किया और सर्कुलर जारी होने की रात ही पीएमओ के दख़ल से यह सर्कुलर वापस ले लिया गया. ऐसे तमाम विवादों के बावजूद स्मृति राजनीति के मैदान में डटी रहीं. वो संभवत: यह समझती थीं कि सियासत में अमेठी उनका ट्रम्प कार्ड साबित हो सकता है. (बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप और पढो: BBC News Hindi

चेन्नई में CAA के खिलाफ प्रदर्शन: पुलिस की मंजूरी के बिना हजारों की संख्या में मुस्लिम सड़क पर उतरे



आज तक @aajtak

CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...'



शाहीन बाग में रास्ता खुलवाने के लिए प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने पहुंचे SC की ओर से नियुक्त मध्यस्थ

इस शख्स ने 93 साल की उम्र में हासिल की मास्टर्स की डिग्री, बने IGNOU के सबसे उम्रदराज स्टूडेंट



हैदराबाद में 'आधार' पर 127 लोगों को UIDAI ने भेजा नोटिस

राम मंदिर ट्रस्ट के 15 सदस्‍यों का ऐलान, हिंदू पक्ष के वकील रहे पाराशरन समेत ये लोग हुए शामिल



She may become foreign minister this tym.. smritiirani defeating king needs most tough fight.. RahulGandhi Jab bjp piche lag jati hai to ousko oukhar kar hi dam leti hai jaise bengol Amethi Na bhaumat mila..!! Na Bhau..!!😂 EkBaarPhirModiSarkar VijayiBharat ModiAaGaya

Election Results: स्मृति ईरानी ने तबीयत से उछाला पत्थर, राहुल ने दी बधाईResultsOnAajTak | NDA ने UPA को पछाड़ा; प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने को तैयार Electoons ElectionResults2019 लाइव ब्लॉग- लाइव TV: ये तो होना ही था फेर अक बार कर देखाया मोदी जी का नाम NDA का काम गोडसे ने आम आदमी को पछाड़ा

Uttar Pradesh Result Live: रुझानों में अमेठी से स्मृति ईरानी आगे, राहुल पीछे, साक्षी महाराज जीतेUttar Pradesh Result Live: रुझानों में अमेठी से स्मृति ईरानी आगे, राहुल पीछे, साक्षी महाराज जीते drsakshimaharaj smritikak smritiirani ElectionResults ResultsWithAmarUjala Results2019 LokSabhaElectionResults2019

UP Election Result 2019 Live: 58 सीटों पर बीजेपी, 20 पर गठबंधन और 2 सीटों पर कांग्रेस आगेUttar Pradesh Election Results Live: यूपी के आंकडे बीजेपी के पक्ष में जाते दिखाई दे रहे हैं लेकिन आपको बता दें कि फिलहाल ये रुझान हैं हालांकि थोड़ी ही देर में तस्वीर साफ हो जाएगी. अभी तक जो तस्वीर सामने आ रही है उसमें बीजेपी यूपी में जीत हासिल करती दिखाई दे रही है.

अमेठी में स्मृति ईरानी आगे, भोपाल में दिग्विजय और गुना में सिंधिया पीछेउप्र में भाजपा से सपा-बसपा काफी पीछे, दिल्ली की सातों सीटों पर भाजपा आगे केरल के वायनाड में राहुल गांधी और रायबरेली में सोनिया गांधी आगे सुल्तानपुर में मेनका गांधी आगे, रामपुर में जयाप्रदा पीछे; बेगूसराय में कन्हैया कुमार तीसरे नंबर पर | Election Results 2019 Live Updates; Lok Sabha seats tally trends leads trails vote counting

स्मृति का प्रियंका पर हमला, कहा- वोट के लिए अमेठी में पढ़ती हैं नमाज, MP में जाती हैं मंदिर– News18 हिंदीबता दें कि इससे पहले 2 मई को अमेठी से बीजेपी प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने प्रियंका गांधी पर जमकर हमला बोला था. इतना ही नहीं उन्होंने लोगों से अपील की थी कि सभ्य परिवार अपने बच्चों को प्रियंका गांधी से दूर रखें. स्मृति ईरानी का यह बयान उस वायरल वीडियो के बाद आया है, जिसमें बच्चे प्रियंका गांधी के सामने प्रधानमंत्री के बारे में अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे. ये तो भाजपा भी करने में माहिर है , मोदी जी ने तो पिचले पाँच साल टोपी तक पहन ने से मना किया था , और अब देखिए साहब Tu dekhne jaati hai कांग्रेस वालो की ये काम इनके पुस्तों करते आ रहे है।

राहुल, अखिलेश और मायावती से मिले नायडू, नतीजे से पहले तीसरे मोर्च की सुगबुगाहट2019 लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ही तीसरे मोर्च की सुगबुगाहट तेज हो गई है। केंद्र की अगली सरकार के गठन के मकसद से भाजपा अभी क्यों अपना समय खराब कर रहे हो अभी आराम करो।रिजल्ट तो आने दो।कहीं देश छोड़कर भागने की प्लानिंग तो नहीं कर रहे?

UP Result Live: अमेठी में 1700 वोटों से आगे हुए राहुल, बनारस से पीएम मोदी आगेअमेठी में पीछे चल रहे राहुल गांधी, स्मृति ईरानी 6 हजार वोटों से आगे ResultsOnAajTak ElectionResults2019 लाइव अपडेट- Aage hi gaya 1700 votes 😐 Rahul to giyo.

LIVE: राहुल गांधी से मिले नायडू, अब मायावती और अखिलेश से मिलने लखनऊ जाएंगेलोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों की घोषणा होने से ठीक पहले थर्ड फ्रंट की कवायद तेज हो गई है. इस कड़ी में टीडीपी चीफ और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चन्द्रबाबू नायडू ने शनिवार को राहुल गांधी से मुलाक गोदीमीडिया घनधोर चिंता में कि क्या कवर करें जुमलेनाथ की केदार यात्रा या विपक्षी पार्टियों की गठबंधन यात्रा 😂😂😁😀😀 भारत का और जनता का और खुद के परिवार का सबसे बड़ा धोखेबाज इंसान है - चंद्रबाबू नायडू ! HELP !!!

राहुल, अखिलेश और मायावती से मिले नायडू, नतीजे से पहले तीसरे मोर्चे की सुगबुगाहट2019 लोकसभा चुनाव के नतीजे आने से पहले ही तीसरे मोर्चे की सुगबुगाहट तेज हो गई है। केंद्र की अगली सरकार के गठन के मकसद से भाजपा सपने देखना बुरी बात नहीं ... देख लो सपने २३ मई तक ... आएगा तो मोदी ही ... Ye modern Harkishan Singh Surjeet hain,but aaj inki jaroorat nahi,, अपने मोदी जी ने महादेव की पूजा कर ली है मतलब मोदी जी की विजय पक्की है और जल्दी ही नायडू जैसे चोर भागने वाले हैं। तो आखिरी मुलाकात जरूरी है।

भाजपा विरोधी मोर्चा: राहुल और सीपीआई नेताओं से मिले चंद्रबाबू; माया-अखिलेश से भी मिलेंगेनायडू ने राहुल से कहा- हमें चुनाव नतीजों के लिए रणनीतिक तौर पर तैयार रहना चाहिए ‘भाजपा बहुमत से चूके तो सरकार बनाने का दावा पेश करने की तैयारी पहले ही कर लें’ | TDP chief Chandrababu Naidu meets Rahul gandhi, mayawati & akhilesh yadav for firming up anti-BJP front हमारा प्रधानमंत्री कैसा हो..... बहन मायावती जैसा हो😂🤣😂🤣😂🤣😂🤣 अच्छे राजनीतिक संकेत

मोदी की राहुल से 6 गुना ज्यादा सर्चिंग, प्रियंका-ममता से आगे मायावतीगूगल ट्रेंड्स पर मौजूद 10 मार्च से लेकर 15 मई तक के डेटा का विश्लेषण गूगल पर सभी राज्यों में मोदी और भाजपा की सर्चिंग सबसे ज्यादा, बंगाल में भी तृणमूल से ज्यादा भाजपा सर्च हुई मोदी सबसे ज्यादा 27 मार्च को सर्च हुए, क्योंकि इसी दिन उन्होंने ए-सैट की घोषणा की थी राहुल ने 22 अप्रैल को सुप्रीम कोर्ट में माफी मांगी थी, इस दिन उनकी सर्चिंग सबसे ज्यादा हुई | google trends comparison pm modi rahul gandhi njp congress searching during loksabha election campaign 2019 obviosly, modi zada popular hain कैसे और कितने सीटो से हारेगी बीजेपी ये देखने के लिये गुगल पर सर्च कर रहे लोग, राहुल प्रियंक को सर्च कि जरुरत नही,😃😃



मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत

CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर

दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सुंदरकांड का पाठ करवाएगी AAP, ट्वीट में ऐलान

शरजील के लैपटॉप में छुपा था दिल्ली ठप करने का प्लान, चार्जशीट का बना आधार

अधीर रंजन बोले- क्या ट्रंप कोई भगवान है, जो 70 लाख लोग करेंगे स्वागत

धार्मिक नेता बोले- पीरियड्स में पति के लिए खाना बनाया तो अगले जन्म में 'कुत्ता' बनेंगी महिलाएं, खाने वाले बनेंगे बैल

J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

24 मई 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

नरेंद्र मोदी बोले- 'बदइरादे और बदनीयत से कोई काम नहीं करूंगा'

अगली खबर

BBC News Hindi @BBCHindi
चेन्नई में CAA के खिलाफ प्रदर्शन: पुलिस की मंजूरी के बिना हजारों की संख्या में मुस्लिम सड़क पर उतरे आज तक @aajtak CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...' शाहीन बाग में रास्ता खुलवाने के लिए प्रदर्शनकारियों से बातचीत करने पहुंचे SC की ओर से नियुक्त मध्यस्थ इस शख्स ने 93 साल की उम्र में हासिल की मास्टर्स की डिग्री, बने IGNOU के सबसे उम्रदराज स्टूडेंट हैदराबाद में 'आधार' पर 127 लोगों को UIDAI ने भेजा नोटिस राम मंदिर ट्रस्ट के 15 सदस्‍यों का ऐलान, हिंदू पक्ष के वकील रहे पाराशरन समेत ये लोग हुए शामिल JNU केस: राजद्रोह का केस चलाने की इजाजत नहीं, कोर्ट ने दिल्ली सरकार से मांगी रिपोर्ट बहन रंगोली ने किया खुलासा, कंगना रनौत को घर बुलाकर जावेद अख्तर ने दी थी ये धमकी आज तक @aajtak RRB, Railway Recruitment: रेलवे में 10वीं पास के लिए 570 पदों पर होनी है भर्ती, बिना परीक्षा होगा चयन, ऐसे करें अप्लाई पीएम मोदी के लोकसभा में जोरदार भाषण के दौरान ZEE NEWS रहा नंबर-1
मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सुंदरकांड का पाठ करवाएगी AAP, ट्वीट में ऐलान शरजील के लैपटॉप में छुपा था दिल्ली ठप करने का प्लान, चार्जशीट का बना आधार अधीर रंजन बोले- क्या ट्रंप कोई भगवान है, जो 70 लाख लोग करेंगे स्वागत धार्मिक नेता बोले- पीरियड्स में पति के लिए खाना बनाया तो अगले जन्म में 'कुत्ता' बनेंगी महिलाएं, खाने वाले बनेंगे बैल J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई 15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चेन्नई में बड़ा प्रदर्शन RSS चीफ मोहन भागवत बोले- खुद का कट्टर सनातनी हिंदू मानते थे महात्मा गांधी CAA पर शिवसेना और NCP में मतभेद? उद्धव ने किया समर्थन तो पवार बोले- हम खिलाफ स्वाति मालीवाल और नवीन जयहिंद का हुआ तलाक, DCW अध्यक्ष बोलीं- कई बार अच्छे लोग साथ नहीं रहे पाते, बहुत मिस करूंगी