Abhyas, Abhyas, Abhyas The High Speed Expendable Aerial Target, Flight Tested, Drdo, Latest News Update, İntegrated Test Range (İtr), Coast Of Bay Of Bengal

Abhyas, Abhyas

सेना की ताकत बढ़ी: डीआरडीओ के अभ्यास लड़ाकू ड्रोन का ओडिशा में हुआ सफल परीक्षण

सेना की ताकत बढ़ी: डीआरडीओ के अभ्यास लड़ाकू ड्रोन का ओडिशा में हुआ सफल परीक्षण #ABHYAS

22-10-2021 21:08:00

सेना की ताकत बढ़ी: डीआरडीओ के अभ्यास लड़ाकू ड्रोन का ओडिशा में हुआ सफल परीक्षण ABHYAS

परीक्षण के दौरान वैज्ञानिक उपकरणों की मदद से इसके मार्ग, स्पीड आदि की निगरानी करते रहे। यह एक छोटे से गैस टरबाइन इंजन

विस्ताररक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने ओडिशा में बंगाल की खाड़ी के तट पर चांदीपुर एकीकृत परीक्षण रेंज से अभ्यास हाई स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टारगेट का सफल परीक्षण किया। इस लड़ाकू ड्रोन का फ्लाइट टेस्ट शुक्रवार को किया गया। इससे भारतीय रक्षा प्रणाली को मजबूती मिलने की आशा की जा रही है। परीक्षण के दौरान लक्ष्य को जमीन-आधारित नियंत्रक से सबसोनिक गति से पूर्व-निर्धारित उड़ान पथ में उड़ाया गया। वाहन का इस्तेमाल विभिन्न मिसाइल प्रणालियों की निगरानी के लिए हवाई लक्ष्य के रूप में किया जा सकता है।

विज्ञापनयह एंडो-वायुमंडलीय, सतह से हवा और हवा से हवा में मार करने में सक्षम है। से संचालित होता है। इसे स्वायत्त उड़ान के लिए बनाया गया है और यह अपने लक्ष्य को आसानी से भेदने में सक्षम है। अभ्यास का निर्माण 2012 से चल रहा था। डीआरडीओ के मुताबिक यह हथियार प्रणाली को परीक्षण के लिए एक रियलिस्टिक खतरे का दृश्य देता है, जिसकी मदद से विभिन्न मिसाइलों या हवा में मार करने वाले हथियारों का परीक्षण किया जा सकता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

DRDO and ISRO backbone of Our Defence and Space Sector. जय हिन्द ये जमाना राम-राज्य को मीटाना चाहता हें, लेकीन इस ज़माने मैं उतना दम नही, क्युकि जमाना हमसे पैदा हुआ हें हम ज़माने से नही।।

दिग्गजों की डुगडुगी : आलिया के फैन रणबीर, सनी देओल के भक्त, फरदीन की वापसीआलिया भट्ट और रणबीर कपूर की निकटता की खूब चर्चा है और यहां तक कहा जा रहा है कि जल्दी ही दोनों शुभमंगल सावधान कर फिल्म इडस्ट्री को दावत दे सकते हैं।

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद महिला अधिकारियों की बड़ी जीत, 39 को मिला परमानेंट कमीशनपरमानेंट कमीशन मिलने के बाद अब ये महिला अधिकारी सेवानिवृत्ति की उम्र तक भारतीय सेना में अपनी सेवाएं दे सकेंगी। जबकि शॉर्ट सर्विस कमीशन के अंतर्गत महिला अधिकारी सिर्फ 10 साल तक ही अपनी सेवाएं दे सकती हैं।

IPL 2022 के ऑक्शन में शामिल होने के लिए मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक ने जताई दिलचस्पीबीसीसीआई को आईपीएल के अगले पांच साल के टेंडर में तकरीबन पांच अरब डॉलर की कमाई हो सकती है। वहीं आईपीएल 2022 के ऑक्शन में शामिल होने के लिए फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक ने भी दिलचस्पी जताई है।

IRCTC के इस Flight Package के तहत कर सकते हैं Tirupati Devasthanam के दर्शनपैकेज के जरिये आप Lord Balaji Temple Padmavathi Temple Sri Kalahasti की यात्रा कर सकते हैं। यह यात्रा 1 रात और 2 दिन के लिए होगा। टूर की तारीख 23 अक्टूबर 2021 और 19 नवंबर और 20 नवंबर 2021 है।

जनसंघ के 70 साल: स्कूल के एक कमरे में 2 घंटे की बैठक के दौरान पड़ी जनसंघ की नींव, आज वहां भाजपा का कोई नेता नहीं जाताआज से 70 साल पहले यानी 21 अक्टूबर 1951, दिल्ली के मशहूर गोल मार्केट से करीब आधा किलोमीटर दूर राजा बाजार में एक पब्लिक स्कूल में दो घंटे के लिए कमरा लिया जाता है। इसमें कुछेक लोग शामिल होते हैं और एक नई पार्टी की नींव रखी जाती है। नाम भारतीय जनसंघ पार्टी। उस वक्त कांग्रेस के विकल्प के रूप में उभरी जनसंघ आज भाजपा में तब्दील हो चुकी है। आज उसका हेडक्वार्टर 1.7 लाख स्क्वायर फीट में फैला है। देशभर में ... | The foundation of Jana Sangh was laid after a meeting which lasted for 2 hours in a school, today no BJP leader goes there, even the people around do not know anything. sandhyadwivedi1 RSSorg BJP4India BJP4Delhi ज्यादा तिरछे मत चलो...IT raid का खुमार उतर गया क्या... sandhyadwivedi1 RSSorg BJP4India BJP4Delhi अब जाता तो कोई कालापानी में भी नही टैक्स चोर दैनिकभास्कर क्या कहना चाह रहा है

सुप्रीम कोर्ट हैरान: चार साल के बच्चे के दस्तखत 12 की उम्र में भी हूबहू, हत्या के मामले में सुनवाई के दौरान मिलीं कई खामियांसुप्रीम कोर्ट हैरान: चार साल के बच्चे के दस्तखत 12 की उम्र में भी हूबहू, हत्या के मामले में सुनवाई के दौरान मिलीं कई खामियां SupremeCourt UttarPradesh CrimeNews