सुब्रमण्यम स्वामी बोले, चीन के हाथ जाती लद्दाख-अरुणाचल की ज़मीन, मोदी सरकार चुप - BBC Hindi

सुब्रमण्यम स्वामी बोले, चीन के हाथ जाती लद्दाख-अरुणाचल की जमीन, मोदी सरकार चुप

25-10-2021 13:28:00

सुब्रमण्यम स्वामी बोले, चीन के हाथ जाती लद्दाख-अरुणाचल की जमीन, मोदी सरकार चुप

राज्य सभा में बीजेपी के सांसद सुब्रामण्यम स्वामी ने कहा है कि मोदी सरकार चुपचाप लद्दाख और अरुणाचल के इलाक़े चीन के हाथों खोती जा रही है.

3:11ब्रेकिंग न्यूज़कानपुर में ज़ीका वायरस का पहला मामला, स्वास्थ्य विभाग एलर्ट मोड पररविकानपुर से, बीबीसी हिंदी के लिएSPLCopyright: SPLकानपुर में ज़ीका वायरस संक्रमण का पहला मामला मिला है. यह उत्तर प्रदेश में भी ज़ीका वायरस का पहला मामला है.भारतीय वायु सेना के एक स्टाफ़ में संक्रमण की पुष्टि हुई है और उनका एयरफ़ोर्स हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है.

BJP सांसद गौतम गंभीर को पिछले छह दिन में तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी Rs 75 में BSNL दे रहा 50 दिन की वैलिडिटी के साथ डाटा और कॉलिंग बेनेफिट्स 'विवादित चेहरा', बेंगलुरु पुलिस बोली रद्द करो मुनव्वर फारुकी का शो, जानें- क्यों?

बीते 10 दिनों से उनका इलाज इसी अस्पताल में चल रहा था और ज़ीका जैसे लक्षण दिखने पर अस्पताल प्रशासन ने उनका सैंपल पुणे स्थित नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ वायरॉलजी (एनआईवी) भेजा.जाँच में उनके ज़ीका वायरस से पॉज़िटिव होने की पुष्टि हुई.अब केजीएमयू (लखनऊ) से डॉक्टर मानवेंद्र त्रिपाठी और दिल्ली स्थित एम्स से डॉक्टर केजी चौधरी ने टीम के साथ उनका इलाज करना शुरू कर दिया है.

कानपुर के डीएम विशाख जी. अय्यर ने बताया कि सूचना के मुताबिक़ मरीज़ की हालत अभी स्थित बनी हुई है.Ravi/BBCपरदेवनपुरवा में फ़ॉगिंगImage caption: परदेवनपुरवा में फ़ॉगिंगकंटेनमेंज ज़ोन बना इलाका, एलर्ट पर अधिकारीकानपुर के चीफ़ मेडिकल ऑफ़सिर डॉक्टर नैपाल सिंह ने बताया कि ज़ीका वायरस की पुष्टि की सूचना के बाद परदेवनपुरवा में उनके घर के एक किलोमीटर के दायरे को कंटेनमेंट ज़ोन घोषित कर दिया गया है. headtopics.com

अलर्ट मोड पर काम करते हुए रविवार को पहले दिन स्वास्थ्य विभाग की 24 टीमों ने 300 घरों में 1300 लोगों की जाँच की है. इसमें 112 लोगों में बुखार और दर्द के लक्षण वाले लोग मिले हैं.इनमें से पाँच ख़ून के नमूनों को लखनऊ जाँच के लिए भेज दिया गया है. शनिवार को भी एयरफ़ोर्स कर्मी के संपर्क में आए 24 लोगों को सैंपल केजीएमयू भेजे गए थे.

सभी की जांच रिपोर्ट देर रात रविवार को आ गई. सभी के सैंपल निगेटिव रिपोर्ट हुए हैं. किसी में भी ज़ीका वायरस की पुष्टि नहीं हुई है.कानपुर नगर निगम ने पूरे इलाके में रविवार को साफ़-सफ़ाई, एंटी लार्वा का छिड़काव और फ़ॉगिंग का कार्य शुरू कर दिया.मोहल्लों में जीका वायरस से कैसे बचा जा सकता है, इससे संबंधित पोस्टर भी स्वास्थ्य विभाग ने चिपकाना शुरू कर दिए हैं. लोगों को मच्छरों से बचाव के लिए उपाय भी बताए जा रहे हैं.

ज़ीका वायरस एयरफोर्स कर्मी में कैसे आया, इसको लेकर भी बड़ा सवाल बना हुआ है.सीएमओ ने इस बारे में बताया कि ज़ीका वायरस एडीज़ मच्छरों के काटने से भी होता है. हालाँकि यह संक्रमण हवा के ज़रिए नहीं फैलता है.SITTITHAT TANGWITTHAYAPHUMक्या होता है ज़ीका वायरस

?ज़ीका वायरस का संक्रमण एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से भी होता है. यह मच्छर डेंगू और चिकनगुनिया की वजह भी बनता है.संक्रमित मरीज के साथ संबंध बनाने पर यह स्वस्थ व्यक्ति में भी फैल सकता है. ज़ीका वायरस से संक्रमित होने का सबसे ज्यादा ख़तरा गर्भवती महिलाओं को रहता है. headtopics.com

मन की बात LIVE: मोदी बोले- मुझे सत्ता में रहने का आशीर्वाद मत दीजिए, मैं हमेशा सेवा में जुटा रहना चाहता हूं संसद सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में नहीं पहुंचे PM मोदी, AAP नेता ने भी किया बहिष्कार Delimitation : परिसीमन का प्रारूप तैयार, जम्मू संभाग की सात और सीटें बढ़ेंगी

पहली बार ज़ीका वायरस से जुड़ी महामारी प्रशांत महासागर के याप आइलैंड में 2007 में आई थी. इसके बाद ब्राजील, अमेरिका और एशिया में ये एक महामारी की तरह फैला.इसका पहला मामला 1947 में युगांडा में सामने आया था. इसके पाँच साल बाद यह वायरस इंसानों में पाया गया.

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक यह एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर है जो इंसानों में लकवा और मौत की वजह बन सकता है. और पढो: BBC News Hindi »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

मोदी सरकार लगातार बातचीत भी कर रही है, खुलकर चुनौती भी दे रही तैयारी भी कर रही है युद्ध जहां तक टाला जाये वहाँ तक टालने का प्रयास भी कर रही है युद्ध में यूँ हीं नहीं झोका जा सकता .. चीन को साहब कभी आंख नहीं दिखा सकते हैं. चीन को आंख दिखायेंगे तो क्या वोट मे फायदा होंगा? यह घटना सच होना नहीं चाहिए। हम नहीं जानते की सच्चाई क्या है। मगर यह सच है कि चीन के हाथों भारत के बहुत बड़े जमीन और कुछ सीमा की भूखंड जरूर है। अब समय आ चुका है कि चीन के हाथों से यह सारे भूखंड वापस लाए ना कि हमारा भूखंड चीन अख्तियार करे।

सर आप की अपेक्षा और घोर अपमान अब आप के शिस्यो से देखा नहीं जा रहा है आप तो स्वयं में ही किसी पार्टी से कम नहीं है तो फिर क्यों नहीं कुछ अलग करते My modi ko jo 2039 tak pm ke post par dekhna chata hu modi modi modi Ya Pm bana cha rha hi Modi ji great Pm in India But narendramodi gov always speek that china is not aquire indian land . Even AMISHDEVGAN anjanaomkashyap sudhirchaudhary RubikaLiyaquat awasthis ZeeNews they all are supporting to gov on china solder ..Swamy39

premkumarbabloo मोदी सरकार को सिर्फ चुनावमे दिलचस्पी है Modi Election Campaign me busy hai, April me sochege China ka kya karna hai. He has been vocal on Ladak -Arunachal land grab by China. There is no response from Govt. Swami as an NDA MP on last leg and his hope of becoming a minister is zero now. This will happen to all self styled authority on anything under the sun.

यह नेता सुर्खियों में रहना चाहता है।जमीन भारत की कही नही जा रही है।कभी किसी पर बोलता है कभी किसी पर इनकी किसी बात का कुछ एक्शन हुआ हो कभी भी तो बता दो

भारत के साथ विवाद के बीच चीन ने सीमा सुरक्षा को लेकर बनाया क़ानून - BBC Hindiभारत के साथ चल रहे सीमा विवाद के बीच चीन ने अपनी सरहदों की सुरक्षा को और मजबूत बनाने के लिए शनिवार को एक नया क़ानून पारित किया है. चीन अपना तरीका अपनायेगा। हमें मुक़ाबला करना होगा। ये तो हमेशा हि होता है।डर क्यों ? China doesn't need any law. Law means to be followed. And China becomes headache for whole world. Chinamission2un XHNews चीन चाहे जितना क़ानून बना ले, BBC चाहे चीन का जितना भी साथ दे दे, लेकिन भारत इस बार चीन का भूत उतार देगा ।

Mtlb blem bi kon kar rhe h 😅😅😅 भारत का कमान जब विदेशी दलालों के हाथ में जनता सौंप ही दी है तो उसका खामियाजा तो भुगतना ही पड़ेगा। लद्दाख अरुणाचल प्रदेश की बात छोड़िए देश का आम जनता भुखमरी के चपेट है। एक-एक दाने का मोहताज है। भेंट भरने की सोचें या देश की सरहद के बारे में सोचें। मोदी_है_तो_मुमकीन_है Sir sarkar to aap hi ka hai

मोदी जी चाहते हैं जैसे चुनावों में झुठे वादे कर वोट लेते हैं वैसे ही चीन को बातों से ही भगाया जा सकता है Laal ankh ni dhika pa rhe feku ji.. Sharm kro bjp walo.. Nai sambhal rha to resign krdo🙄 एक कमज़ोर प्रधानमंत्री जिसका जोर केवल देश की जनता पर ही चलता है... Sachee desh bhagat hai swami ji Hamesha satik mudda uthate hai

ऐसे कैसे 😝😝 भगवान आपकी हजारी उम्र करें आपने सत्य बोला आज Swamy jee boliye nahi Kuch karke dikhaye Ap rastrbhakat hai Nahi to desh ki janta Samjege ki ap modibhakat Hai

फिलीपींस ने चीन के खिलाफ तेज किया राजनयिक विरोध, उकसावे की गतिविधियों पर जताई सख्‍त आपत्तिदक्षिण चीन सागर में चीन की गतिविधियों के खिलाफ फिलीपींस ने आक्रामक रुख अपनाया है। फिलीपींस ने राजनयिक विरोध तेज कर दिए हैं। पिछले पांच वर्षों की तुलना में फिलीपींस ने इस साल चीन के खिलाफ सबसे ज्यादा राजनयिक विरोध दर्ज कराए हैं ...

ये सच है। चीन के खिलाफ किसी भी सरकार की हिम्मत नहीं होती। ये बात चीन बखूबी समझता है। बोलो राम राम राम 😥 तुम्हे भी जवाब देना होगा बहुत .... थे तब Masterstroke, china Sir, you're part of that group...why don't you do anything? B'coz the country is setting wrong standards. क्या करे भाजपा और RSS का इतिहास ही कुछ ऐसा है। 😃

सौगंध मुझे इस मिटटी की मै देश नही झुकने दूंगा!! कोई कुछ भी कह ले,कर ले चीन का च या ची नही बोलूंगा !!! सब चला जाय लेकिन कुर्सी न जाय। 😜😜😜😜😝😝😝😝😝😝😝

भारत के साथ मिलकर चीन के CPEC को बर्बाद करना चाहता है अमेरिका, इमरान के सलाहकार का बड़ा आरोपCPEC: सीपीईसी के तहत मजबूत हाइवे और रेल नेटवर्क तैयार किया जा रहा है साथ ही ग्वादर और कराची के लिए अलग से हाइवे बनाया जाएगा। चीन पाक इकोनॉमिक कॉरिडोर अब ड्रैगन के गले की फांस बन गया है। अरबों का पैसा लगाने के बाद भी चीन को वह फायदा नहीं मिल रहा है जिसके लिए उसने 60 अरब डॉलर का निवेश किया था। भारत मे इन्दरा अम्मा अब कब?

🧐😳😓😓😥😥😥😥😓😥 MisaBharti Anshan pe kyon nahi baith jata Swamy39 ? modimadedisaster BJPLies BJPfails ChinaIndiaFaceoff सरकार ने तो कई बातों पर चुप्पी साध रखी है अपनी इमेज खुद खराब कर रहे स्वामी जी । चीन के अंदर दम नहीं अब घुश जाते । ये पहले की सरकारों के समय था सेना भी ठण्डी में वापिस बुला ली जाती थी।

क्या सुब्रमण्यम स्वामी सच बोल रहे हैं? स्वामी को एक पद मिल जाने दो अभी भौंकना बंद कर देगा LambaAlka चुप नही बेच रहा है कोई बात नही अक्षय कुमार और सन्नी देओल से एक फिल्म बनवायेगे और अरुणाचल प्रदेश, लद्दाख व वुहान् भी भारत में शामिल हो जायेंगे। LambaAlka आप ने क्या सांसद पद से इस्तीफा दिया हैं? एक मिसाल तो पेश कर सकते थे!

ये कमीनों की फौज है। जज वकील तक सब बिक गए हैं। मेरा Pinned Tweet देखो । बिक जाना इनकी फितरत है।

ताइवान को लेकर चीन के साथ जंग की तैयारी में US! क्‍या है बाइडन के ताजा बयान के निहितार्थ- जानें-एक्‍पर्ट व्‍यूबाइडन ने कहा कि ताइवान की सुरक्षा अमेरिका की जिम्‍मेदारी है। बाइडन के इस संदेश का मतलब एकदम साफ है कि अगर चीन ने ताइवान पर आक्रामक रुख अपनाया तो अमेरिका खुलकर समर्थन करेगा। ऐसे में सवाल उठता है कि क्‍या ताइवान को लेकर अमेरिका-चीन में जंग हो सकती है।

BBC बस B B C !? चुप नही है गद्दारी कर रहा है कौन ले रहा किससे .. कौन दे रहा किस को .. भाव में भेद किस के .. स्वभाव में मेल किस से🧬 चीन हमारी सीमा में घुस रहा है मोदी UP का चुनाव जीतने के लिए जुमले सुना रहा है…?

तुर्की के राष्ट्रपति अर्दोआन का अमेरिका समेत 10 देशों के ख़िलाफ़ बड़ा फ़ैसला - BBC News हिंदीयह बहुत बड़ा फ़ैसला है और शायद इसका मक़सद शक्ति प्रदर्शन है, ख़ासकर चुनाव से डेढ़ साल पहले. कुछ लोगों का मानना है कि अर्दोआन इससे तुर्की की राजनीति में अपना दबदबा दिखाना चाहते हैं. 😅😅 😊 He's psycho

कर्नाटक: भगत सिंह की किताब के चलते यूएपीए के तहत गिरफ़्तार आदिवासी पिता-पुत्र बरीमामला मंगलुरु का है, जहां साल 2012 में पत्रकारिता के छात्र विट्टला मेलेकुडिया और उनके पिता को गिरफ़्तार करते हुए उनके पास मिली किताबों आदि के आधार पर उन पर यूएपीए के तहत राजद्रोह और आतंकवाद के आरोप लगाए गए थे. एक ज़िला अदालत ने उन्हें बरी करते हुए कहा कि पुलिस कोई भी सबूत देने में विफल रही. भगत सिंह की किताबें या अख़बार पढ़ना क़ानून के तहत वर्जित नहीं हैं. girijeshadams इन्हें डर भगत सिंह के सितारों से ही तो है जिनका नारा था हर तरह के शोषण के खिलाफ तब तक संघर्ष रहे जब तक कि आदमी से आदमी का भेद ना खत्म हो जाती।