सुखबीर बादल का अजब गजब प्रचार: नेताओं को मंत्री पद और जिले बांट रहे, विरोधी बोले- काफी जल्दबाजी में नजर आ रहे शिअद अध्यक्ष

सुखबीर बादल का अजब गजब प्रचार: नेताओं को मंत्री पद और जिले बांट रहे, विरोधी बोले- काफी जल्दबाजी में नजर आ रहे शिअद अध्यक्ष #SukhbirSinghBadal #Punjab #Election #Campaign @officeofssbadal #PunjabElections2022

Sukhbirsinghbadal, Punjab

05-12-2021 19:30:00

सुखबीर बादल का अजब गजब प्रचार: नेताओं को मंत्री पद और जिले बांट रहे, विरोधी बोले- काफी जल्दबाजी में नजर आ रहे शिअद अध्यक्ष SukhbirSinghBadal Punjab Election Campaign officeofssbadal Punjab Election s2022

पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के लिए शिरोमणि अकाली दल बादल (SAD) के अध्यक्ष जोर-शोर से चुनाव प्रचार में लगे हैं। वह आम लोगों को लुभाने के साथ-साथ अपने नेताओं पर भी डोरे डाल रहे हैं। उनकी तरफ से अपनी चुनावी सभाओं के दौरान नेताओं को मंत्री पद ही नहीं, बल्कि जिले भी बांटे जा रहे हैं। हाल ही में खन्ना में चुनावी सभा के दौरान उनकी तरफ से खन्ना को जिला बनाने का ऐलान भी कर दिया गया है। | पंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के लिए शिरोमणि अकाली दल बादल (SAD) के अध्यक्ष जोर-शोर से चुनाव प्रचार में लगे हैं। वह आम लोगों को लुभाने के साथ-साथ अपने नेताओं पर भी डोरे डाल रहे हैं।

सुखबीर बादल का अजब गजब प्रचार:नेताओं को मंत्री पद और जिले बांट रहे, विरोधी बोले- काफी जल्दबाजी में नजर आ रहे शिअद अध्यक्षलुधियाना10 घंटे पहलेकॉपी लिंकपंजाब विधानसभा चुनाव 2022 के लिए शिरोमणि अकाली दल बादल (SAD) के अध्यक्ष जोर-शोर से चुनाव प्रचार में लगे हैं। वह आम लोगों को लुभाने के साथ-साथ अपने नेताओं पर भी डोरे डाल रहे हैं। उनकी तरफ से अपनी चुनावी सभाओं के दौरान नेताओं को मंत्री पद ही नहीं, बल्कि जिले भी बांटे जा रहे हैं। हाल ही में खन्ना में चुनावी सभा के दौरान उनकी तरफ से खन्ना को जिला बनाने का ऐलान भी कर दिया गया है।

वह कई तरह के ऐलान अपनी चुनावी सभाओं में कर रहे हैं। क्योंकि सुखबीर सिंह बादल अपने इस तरह के एलानों से मुख्यमंत्री की कुर्सी हासिल करने की उम्मीद बांधे हुए हैं। जबकि विरोधी इस पर कटाक्ष कर रहे हैं। कहा जा रहा है कि सुखबीर सिंह बादल काफी जल्दबाजी में हैं और बिना सोचे समझे ऐलान कर रहे हैं। अभी तो यह भी तय नहीं है कि उनकी सरकार आनी भी है कि नहीं।

पहले शरणजीत सिंह ढिल्लों और जत्थेदार तोता सिंह को मंत्री पदसुखबीर सिंह बादल की तरफ से साहनेवाल में चुनावी रैली का आयोजन किया गया था। इस दौरान स्टेज पर बगल में ही खड़े शरणजीत सिंह ढिल्लों की तरफ हाथ खड़ा करके कहा कि आने वाली सरकार में शरणजीत सिंह ढिल्लों को मंत्री बनाया जाएगा। इसके बाद वह चुनावी सभा के लिए मोगा पहुंचे थे। यहां पर उनकी तरफ से जत्थेदार तोता सिंह को कैबिनेट मंत्री बनाने का ऐलान कर दिया गया। अब वह खन्ना पहुंचे तो कहा कि लुधियाना बेहद बड़ा जिला है, इसलिए खन्ना को भी जिला बनाया जाएगा। headtopics.com

दुनिया में 22.27 लाख नए मामले दर्ज : अमेरिका और फ्रांस में दैनिक मामले घटे, ब्रुसेल्स में हिंसक प्रदर्शन, 15 घायल

कांग्रेसी बटाला को जिला बनवा नहीं पाएइससे पहले कांग्रेस के कार्यकाल के दौरान उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा और तृप्त इंद्र सिंह बाजवा ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के समक्ष बटाला को जिला बनाने की मांग रखी थी, मगर तीन माह बीतने के बाद भी उस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। सांसद प्रताप सिंह बाजवा भी पत्र लिख चुके हैं, मगर बटाला को जिला नहीं बनाया जा सका है। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मालेरकोटला को जिला जरूर बनाया था। लेकिन अब जिले बनाने की राजनीति किस पार्टी को रास आती है, यह देखने वाली बात होगी।

सुखबीर के ऐलान पर रवनीत बिट्टू का ऐलानसुखबीर सिंह बादल द्वारा किए जा रहे ऐलानों के पर रवनीत सिंह बिट्टू ने कटाक्ष किया है। वह कहते हैं कि वह बेहद तेजी में हैं। उम्मीदवार ऐलान दिए गए हैं और वह मंत्रिमंडल बनाने में भी लग गए हैं और जिले भी बना रहे हैं, मगर अभी यह पता नहीं कि चुनाव जीत पाएंगे भी या नहीं।

और पढो: Dainik Bhaskar »

ShortURL - URL Shortener

ShortURL is a url shortener to reduce a long link. Use our tool to shorten links and then share them, in addition you can monitor traffic statistics. और पढो >>

हुड़दंग के आरोप में निलंबित सांसदों का धरना, संसद में विपक्ष के रवैए पर उठा सवालहुड़दंग के आरोप में निलंबित सांसदों के धरने पर बैठे रहने की जिद के बाद भी राज्यसभा में कामकाज चल निकलना यही बताता है कि ये सांसद एक हारी हुई लड़ाई लड़ रहे हैं। विपक्षी दल इन सांसदों का साथ देकर न केवल अपना नुकसान कर रहे हैं। लोकतंत्र की रक्षा के लिए धरना और प्रदर्शन संवैधानिक अधिकार है सत्ताधारी दल हमेशा से दबाने का प्रयास करते आए हैं चाहे अंग्रेजों से देखा जाए या अंग्रेजों के अनुयायियों से लेकिन जनता को अपनी आवाज शांतिपूर्ण ढंग से धरना और प्रदर्शन के माध्यम से उठाना ही पड़ेगा भूख हड़ताल भी

VIDEO: मध्‍यप्रदेश के भिंड में सहयोगी पुलिसकर्मियों ने पुलिस अधीक्षक को डोली में बिठाकर दी विदाईमध्‍यप्रदेश के भिंड में सहयोगी पुलिसकर्मियों ने पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार को अनोखे अंदाज में विदाई दी. विदाई समारोह में पुलिसकर्मियों ने उन्हें फूलों से सजी डोली में बैठाकर विदा किया. पुलिस जवानों ने कहार बनकर डोली उठाई. ढोल-नगाड़ों के साथ जवानों ने अफसर को विदाई दी. Unique farewell &good wishes.

रिपोर्ट: भारतीय, अफगान सरकार के सैन्य अधिकारियों को निशाना बना रहे पाकिस्तानी हैकररिपोर्ट: भारतीय, अफगान सरकार के सैन्य अधिकारियों को निशाना बना रहे पाकिस्तानी हैकर india pakistan afghanistan hackers JusticeForRailwayStudets

Michigan Shooting : हत्यारोपी छात्र के माता-पिता गिरफ्तार, बेटे की इन बातों को करते रहे अनदेखाMichigan Shooting : हत्यारोपी छात्र के माता-पिता गिरफ्तार, बेटे की इन बातों को करते रहे अनदेखा michiganshooting america student school police us Pollice appradhi kai appradh ko mattra risbat kai abhab mai acction nahi lati and protuctted karti hai usai kya sazza dangai

कोरोना काल में सिर्फ बीजेपी कार्यकर्ता लोगों के लिए काम कर रहे थेः जेपी नड्डाबीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने आजतक के कार्यक्रम एजेंडा आजतक के मिशन फाइव स्टेट सेशन में पार्टी की चुनावी रणनीति को लेकर खुलकर बात की. JPNadda For sale 🤭 JPNadda Jhuth bhi trike ka bola kro atleast,janab JPNadda ....Adani or ambani k liye , ab complete hua sentence

एक दिन में ओमिक्रॉन के 17 केस: राजस्थान में एक परिवार के 9 सदस्यों में नए वैरिएंट की पुष्टि, महाराष्ट्र में 7 और दिल्ली में एक केस मिलाकोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन राजस्थान भी पहुंच गया है। यहां के एक परिवार 4 सदस्यों में इसकी पुष्टि हुई है। यह परिवार 25 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका से दुबई और मुंबई होते हुए जयपुर पहुंचा था। यहां इनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई थी। इनके सैंपल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजे गए थे। उसकी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। यह परिवार राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय (RUHS) में भर्ती है। इनमें माता-पिता के स... | Corona new Variant| Omicron variant in India| 5th omicron case found in Indian in Delhi|तंजानिया से लौटे यात्री में मिला संक्रमण, 4 दिन में देश में 5वां केस मिला aajtak ZakiyaKINC LambaAlka MrinalPande1 bainjal romanaisarkhan इसका मतलब ये है कि ना तो बाहर से आने वाले लोग 14 दिन के क्वारंटाइन पालन कर रहे है, ना ही सरकार क्वारंटाइन का पालन करवाने के प्रति गंभीर है mansukhmandviya narendramodi PMOIndia AAI_Official समय रहते मास्क और दो गज दूरी का सख्ती से पालना सुनिश्चित करें और भीड़ को कम करने का प्लान बनाया जाए। बाहर से आने वालों को सीधा क्वारेंटाइन करना चाहिए 🙏🏻🙏🏻 नहीं तो परिणाम ठीक नहीं होंगे। रैलियां पूर्णत बंद होनी चाहिए