Punjab, Congresscrisis, Amarindersingh, Cm Capt Amarinder Singh, Navjot Singh Sidhu, Punjab Bhawan, Priyanka Gandhi, Harish Rawat, Punjab Congress, Chandigarh News İn Hindi, Latest Chandigarh News İn Hindi, Chandigarh Hindi Samachar

Punjab, Congresscrisis

सियासत : कैप्टन की चाय पार्टी में ऐसा क्या हुआ कि प्रियंका गांधी को करना पड़ा फोन, सिद्धू दोबारा पंजाब भवन लौटे

कांग्रेस की पंजाब इकाई की कमान अब नवजोत सिंह सिद्धू के हाथों पर आ गई है। शुक्रवार को उन्होंने 10 हजार से ज्यादा समर्थकों

23-07-2021 23:08:00

पंजाब: कैप्टन की चाय पार्टी में ऐसा क्या हुआ कि प्रियंका गांधी को करना पड़ा फोन, सिद्धू दोबारा पंजाब भवन लौटे Punjab CongressCrisis AmarinderSingh sherryontopp priyankagandhi

कांग्रेस की पंजाब इकाई की कमान अब नवजोत सिंह सिद्धू के हाथों पर आ गई है। शुक्रवार को उन्होंने 10 हजार से ज्यादा समर्थकों

कैप्टन ने दिखाई नरमीपिछले कई दिनों से सिद्धू के प्रति तल्ख कैप्टन अमरिंदर सिंह के तेवर अब नरम हैं। उन्होंने गुरुवार को ही नवजोत सिंह सिद्धू को चाय पार्टी के लिए पंजाब भवन में आमंत्रित किया। बता दें कि इससे पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि जब तक नवजोत सिंह सिद्धू सोशल मीडिया पर दिए गए अपने बयान पर सार्वजनिक माफी नहीं मांग लेते हैं, तब तक मैं उनसे मुलाकात नहीं करूंगा। शुक्रवार को नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब भवन में कैप्टन की चाय पार्टी पर पहुंचे। लेकिन यहां भी कुछ ऐसा हुआ कि प्रियंका गांधी को दखल देना पड़ा।

बंगाल की खाड़ी के 'कॉन्टिनेंटल शेल्फ़' पर भारत के दावे से बांग्लादेश को एतराज - BBC Hindi अंबिका सोनी ने राहुल गांधी से मिलने के बाद पंजाब का सीएम बनने से किया इंकार : सूत्र उत्तराखंड में केजरीवाल का बड़ा चुनावी वादा : 6 महीने में 1 लाख जॉब्स, नौकरी न मिलने तक 5000 रुपये भत्ता

प्रियंका गांधी के कहने पर कैप्टन से मिले सिद्धूकांग्रेस भवन में ताजपोशी से पहले पंजाब भवन में कैप्टन ने सभी मंत्रियों, विधायकों और सांसदों को चाय पर बुलाया था। नवजोत सिद्धू जब पंजाब भवन पहुंचे तब तक कैप्टन वहां नहीं आए थे। इस पर सिद्धू कुछ देर विधायकों से बातचीत करने के बाद पंजाब भवन से चले गए। इस बात की सूचना तुरंत हरीश रावत ने प्रियंका गांधी को फोन पर दी, जोकि इन दिनों शिमला में हैं।

प्रियंका ने तुरंत नवजोत सिद्धू को फोन करके वापस पंजाब भवन पहुंचने को कहा। आखिरकार सिद्धू पंजाब भवन लौटे, तब तक कैप्टन वहां पहुंच चुके थे। सिद्धू ने उन्हें दूर से ही फतेह बुलाई और पूरे जोश के साथ गले मिलने के अपने चिर-परिचित अंदाज में कैप्टन से मिलने से परहेज किया। हालांकि यह माना जा रहा था कि सिद्धू पंजाब भवन में चाय पार्टी के दौरान ही कैप्टन से अपने गिले-शिकवे दूर कर लेंगे और दोनों साथ-साथ पंजाब कांग्रेस भवन के लिए रवाना होंगे। headtopics.com

विस्तार की मौजूदगी में कार्यभार संभाला। अंदरूनी मतभेदों से घिरी कांग्रेस को इस कार्यक्रम में एक दिखाने की कोशिश की गई। इन कोशिशों का नतीजा रहा कि नवजोत सिंह सिद्धू के धुर विरोधी पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कार्यभार ग्रहण कार्यक्रम में शिरकत की और एक साथ काम करने की बात कही।

विज्ञापनकैप्टन ने दिखाई नरमीपिछले कई दिनों से सिद्धू के प्रति तल्ख कैप्टन अमरिंदर सिंह के तेवर अब नरम हैं। उन्होंने गुरुवार को ही नवजोत सिंह सिद्धू को चाय पार्टी के लिए पंजाब भवन में आमंत्रित किया। बता दें कि इससे पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि जब तक नवजोत सिंह सिद्धू सोशल मीडिया पर दिए गए अपने बयान पर सार्वजनिक माफी नहीं मांग लेते हैं, तब तक मैं उनसे मुलाकात नहीं करूंगा। शुक्रवार को नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब भवन में कैप्टन की चाय पार्टी पर पहुंचे। लेकिन यहां भी कुछ ऐसा हुआ कि प्रियंका गांधी को दखल देना पड़ा।

प्रियंका गांधी के कहने पर कैप्टन से मिले सिद्धूकांग्रेस भवन में ताजपोशी से पहले पंजाब भवन में कैप्टन ने सभी मंत्रियों, विधायकों और सांसदों को चाय पर बुलाया था। नवजोत सिद्धू जब पंजाब भवन पहुंचे तब तक कैप्टन वहां नहीं आए थे। इस पर सिद्धू कुछ देर विधायकों से बातचीत करने के बाद पंजाब भवन से चले गए। इस बात की सूचना तुरंत हरीश रावत ने प्रियंका गांधी को फोन पर दी, जोकि इन दिनों शिमला में हैं।

प्रियंका ने तुरंत नवजोत सिद्धू को फोन करके वापस पंजाब भवन पहुंचने को कहा। आखिरकार सिद्धू पंजाब भवन लौटे, तब तक कैप्टन वहां पहुंच चुके थे। सिद्धू ने उन्हें दूर से ही फतेह बुलाई और पूरे जोश के साथ गले मिलने के अपने चिर-परिचित अंदाज में कैप्टन से मिलने से परहेज किया। हालांकि यह माना जा रहा था कि सिद्धू पंजाब भवन में चाय पार्टी के दौरान ही कैप्टन से अपने गिले-शिकवे दूर कर लेंगे और दोनों साथ-साथ पंजाब कांग्रेस भवन के लिए रवाना होंगे। headtopics.com

उम्मीद है कैप्टन कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने वाला कदम नहीं उठाएंगे, अंतरात्मा की सुनें: अशोक गहलोत उत्तराखंड: केजरीवाल ने की वादों की बौछार, 6 महीने में 1 लाख नौकरी और 5 हजार का भत्ता ईरान के परमाणु वैज्ञानिक की हत्या रिमोट कंट्रोल वाली मशीन गन से की गई थी: रिपोर्ट - BBC Hindi

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए

स्मृति ईरानी अमेठी में हैं। केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। वहां उन्होंने पकौड़ी खाई और चाय पी। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान हैं। उनके बच्चे के दिल में छेद है, जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है। | Discussion on Smriti Irani's tea in Amethi, After drinking tea at the shop, ate dumplings, asked - how are you; After hearing the problem of Ram Naresh called to Delhi, amethi news, political news, यूपी चुनाव से पहले गांधी परिवार अमेठी से दूर है, इसका फायदा स्मृति ईरानी बखूबी उठा रही हैं। बुधवार की रात अमेठी पहुंची केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। यहां उन्होंने चाय पीकर और पकौड़ी खाकर चर्चा की। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान है। उसने बताया कि उसके बच्चे के दिल में छेद है। जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है।

sherryontopp priyankagandhi जय हो कांग्रेस sherryontopp priyankagandhi Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव

पंजाब में सिद्धू की ताजपोशी आज, गिले-शिकवे भूल कैप्टन अमरिंदर भी होंगे शामिलपंजाब में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का जारी संकट कुछ हदतक कम होता दिख रहा है. शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू पंजाब कांग्रेस के अध्यक्ष का पद संभालेंगे. टुटती नाव की सवारी। तो फिर ठोको ताली

LIVE: आज सिद्धू संभालेंगे पंजाब कांग्रेस की कमान, ताजपोशी से पहले 'कैप्टन' के साथ 'चाय पार्टी'जम्मू में पुलिस ने एक पाकिस्तानी ड्रोन (Pakistani Drone) को मार गिराया है। नष्ट हुए ड्रोन के साथ IED भी बरामद की गई है। जम्मू-कश्मीर के सोपोर (Sopore Encounter) में सेना ने लश्कर के दो आतंकियों को मार गिराया है। दिल्ली में किसान संसद (Farmers Parliament in Delhi) के बीच सिंघू बॉर्डर पर पुलिस ने सुरक्षा व्यवस्था (High Security at Singhu Border) कड़ी कर दी है। राजधानी के जंतर-मंतर पर आज किसान संसद का दूसरा दिन है। पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह की तरफ से नवजोत सिद्धू के पदभार समारोह का न्योता स्वीकार कर लिया गया है। ओलिंपिक (Olympic Games) में भारत आज निशानेबाजी के इवेंट्स में हिस्सा ले रहा है। भारत और श्रीलंका के बीच तीन मैचों की क्रिकेट सीरीज का आज अंतिम मैच (IND vs SL 3rd ODI Match) खेला जाएगा। देश-दुनिया की तमाम ब्रेकिंग न्यूज (Breaking News) और ताजा तरीन खबरें (Latest News in Hindi) आपको सबसे पहले नवभारत टाइम्स ऑनलाइन पर मिलेंगी। तो बने रहिए हमारे साथ... यह तस्वीर चाय पार्टी की है जहां नवजोत सिंह सिद्धू और कैप्टन अमरिंदर सिंह साथ बैठे हुए हैं। उनके साथ पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत भी मौजूद हैं। NavjotSinghSidhu CaptainAmaridnerSingh गोदी मीडिया उल्लू बनी, बड़ा मजा आया। 😝😝

फिर झुकने को मजबूर हुए सीएम अमरिंदर, सिद्धू की ताजपोशी समारोह में होंगे शामिलभले ही कैप्टन अमरिंदर सिंह शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस भवन में होने वाले ताजपोशी कार्यक्रम में शामिल हो रहे हों लेकिन उन्होंने अभी तक नए प्रदेश अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को बधाई नहीं दी है।

पंजाब में सिद्धू बने कांग्रेस के कप्तान, मंच पर दिखे अमरिंदर और नवजोत के 'तेवर'चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष पद पर सिद्धू की ताजपोशी के दौरान मंच पर मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोतसिंह सिद्धू साथ-साथ तो दिखे, लेकिन दोनों के 'तेवर' कुछ और ही इशारा कर रहे थे। दोनों के ही भाषणों से ऐसा लग रहा है कि आने वाले समय में यह लड़ाई और तेज हो सकती है।

ओलंपिक खेलों में विजयगाथा लिखने को बेताब देश की बेटियां, अभूतपूर्व सफलता की कामनामहिलाओं को खेल में समर्थन मिलने से समाज में बड़े बदलाव देखने को मिले जिससे कई पूर्वाग्रह खत्म हो गए। अब उम्मीद है कि टोक्यो ओलिंपिक से सफलता की एक नई गाथा शुरू होगी। आज लड़कियां समाज के हर क्षेत्र और पहलू को प्रभावित कर अपनी छाप छोड़ रही हैं। Anurag_Office BJP4India जय हो

मुंबई: 7 साल की दिव्यांग बेटी से यौन दुराचार, आरोपी पिता को 5 साल की सजापत्नी पर दबाव डालने के लिए वो उसके सामने अपनी बेटी का यौन शोषण करने लगा. पहली बार जब मां ने ये देखा तो वो मानसिक रूप से बेहद परेशान हो गई. लेकिन इस घटना को वो किसी और को बता न सकी.