Sikh Riots, Manmohan Singh Statement, Pv Narasimha Rao, Grandson Nv Subash

Sikh Riots, Manmohan Singh Statement

सिख दंगा: नरसिम्हा राव के पोते ने मनमोहन सिंह के दावे को किया खारिज

5.12.2019

नरसिम्हा राव के पोते ने कहा कि एक परिवार के सदस्य के रूप में मैं डॉ मनमोहन सिंह के इस बयान से दुखी हूं. यह अस्वीकार्य है

और पढो: आज तक

में तो ये सोच कर दंग हु की 1984 में ये बिना जीभ वाले मन मोहक जी कैसे बच गए। एक भूतपूर्व दुसरे भूतपूर्व को कोस रहा है इतने साल बाद जुबान खुली मोनमोहन की सारे कांग्रेसी हरामखोर हैं, इसलिए एक हिन्दू पूर्व प्रधानमंत्री जो अब जीवित नहीं उनके नाम पर नरसंहार का इल्जाम लगा दिया !! शर्म आनी चाहिए Sourabhsagar3 savegujratstudent

अगर नरसिम्हा राव गुजराल की सलाह मान लेते, तो 1984 के दंगे नहीं होते: मनमोहन सिंहपूर्व प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल ने 1984 में गृह मंत्री रहे नरसिम्हा राव को सेना बुलाने की सलाह दी थी मनमोहन सिंह ने यह बात इंद्र कुमार गुजराल की 100वीं जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में कही | Manmohan Singh on Inder Kumar Gujral & Narasimha Rao for 1984 Riots massacres Search ko shikar Kiya lekin bahut varshon bad सच को स्वीकार किए लेकिन बहुत वर्षों बाद एक नया विवाद को पैदा कर दिए स्वीकार कर मतलब बलि का बकरा नरसिम्हा राव को बना दियो।Sir वफ़ादारी कोई आप से सीखे कैसे एक परिवार के लिए कुछ भी कर सकते है। अगर राजीवगाँधी हाथ पर हाथ धरे न बैठे रहते, पेड़ गिरने की बात न कहते तो दंगे होते ही नहीं। क्यों मौनमोहनसिंह जी?आज भी आपसे सच नहीं बोला जा रहा।

पूर्व PM मनमोहन सिंह ने कहा-नरसिम्हा राव अगर मान लेते गुजराल की सलाह, तो नहीं होता सिख दंगापूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह (Former Prime Minister Manmohan Singh ) ने ये बातें गुजराल की 100वीं जयंती पर आयोजित एक समारोह में कही. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी सही बात है। आरमीको बुलानेक सख्त जरूरत था। फिर भी केन्ट्रोलमे लाना मुश्किल ही था। परंतु कासुलिटी 25% ही रहता था। Media politicians ka kutta h bhosdiwala सर केवल नरसिम्हारावको ही दोषीकरार दियाजाय येतो गलतहै इसमें जिसकी सबसे बड़ी मंजूरीथीउनका नामलेनेसेआपको परहेज हो सकताहै पर सिख समाज इस सच्चाई कोअच्छीतरह से जानताहै।सरकुछ कार्यकर्ता तो यादहै पर शायद उन कार्यकर्ताओं कोअगुआई करने वाले का नामआप भूल गए जिन्होंने इतना बड़ा नरसंहार करवाया

बढ़त के साथ खुला बाजार, डॉलर के मुकाबले 71.48 के स्तर पर रुपयासप्ताह के चौथे कारोबारी दिन यानी गुरुवार को शेयर बाजार हरे निशान पर खुला। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज का प्रमुख इंडेक्स

गुजराल की बात पर नरसिम्हा राव ध्यान देते तो नहीं होती 84 में सिख विरोधी हिंसा: मनमोहन सिंहगुजराल की बात पर नरसिम्हा राव ध्यान देते तो नहीं होते 84 के दंगे : मनमोहन सिंह Manmohansingh 1984 Sikh Riot 1984massacre Ho Gaye nahi moun Mohan ji karwaye Gaye, sikkh dange prayojit the by Congress!! तुम सरदार नही असरदार हो सर आप भी सिख हैं, कब तक गांधी परिवार को बचाते रहेंगे

चिकन के बराबर पहुंची प्याज की कीमत, कोलकाता में 150 के करीबदेश के कई बड़े शहरों में प्याज की कीमत चिकन के बराबर पहुंचने वाली है। हालांकि इसकी कीमत जल्द ही 150 रुपये के पार जा सकती irvpaswan AgriGoI आ गया मोदी का अच्छा दिन irvpaswan AgriGoI 9 की मुर्गी और नब्बे के मसाला पुरानी कहावत है, अब तो मुर्गी मसाला सब बराबर हो गए है। irvpaswan AgriGoI Modi hai to Mumkin hai

सब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाकेसब कुशल मंगल के ट्रेलर लॉन्च इवेंट में गूंजे दर्शकों के ठहाके sabkushalmanga sabkushalmangaltrailer ravikishann AkshayeOfficial

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

05 दिसम्बर 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

आज सुबह: न्यू इंडिया में तो प्याज का दाम डरा रहा है

अगली खबर

क्या खाते-पीते-पढ़ते हैं ..जानिए गूगल के सबसे ताकतवर शख्स की लाइफस्टाइल - trending clicks AajTak