India Ranks, Prominent, Countries, Highest, Social İnequality, World, According United Nations, More Than Twenty Six Million, People World, Victims, Social İnequalities, Various, Reasons, Feeling Of Caste, Discrimination, Untouchability, Sublime, Prominent Behind, Practice Of Discrimination, Basis Of Caste, Birth İs Old İn India, Even Today Indian Society

India Ranks, Prominent

सामाजिक विषमता का कलंक

सामाजिक विषमता का कलंक

14-06-2021 21:47:00

सामाजिक विषमता का कलंक

भारत का सामाजिक ढांचा ही विषमता का कारण है। जन्म के आधार पर ही यहां मान लिया जाता है कि ऊंची जाति का व्यक्ति अच्छा है और नीची जाति का व्यक्ति उपेक्षणीय है। इस जन्मगत जाति-व्यवस्था को खत्म करने के लिए जितने भी आंदोलन चलाए गए, उन्हें सफलता तो मिली, लेकिन हमेशा के लिए इस बुराई को खत्म नहीं किया जा सका है।

और पढो: Jansatta »

आज की पॉजिटिव खबर: गुजरात के किसान ने बंजर जमीन पर 10 साल पहले ऑर्गेनिक खजूर लगाए, अब हर साल 35 लाख रुपए की कमाई

जहां तापमान ज्यादा हो, पानी की कमी हो, दूसरी फसलों की खेती न के बराबर होती हो, उन जगहों पर ऑर्गेनिक खजूर की खेती की जा सकती है। इसमें लागत भी कम होगी और बढ़िया आमदनी भी होगी। गुजरात के पाटन जिले के रहने वाले एक किसान निर्मल सिंह वाघेला ने इसकी पहल की है। करीब 10 साल पहले उन्होंने अपनी जमीन के बड़े हिस्से में ऑर्गेनिक खजूर के प्लांट लगाए थे। अब वे प्लांट तैयार हो गए हैं और उनसे फल निकलने लगे हैं। इ... | Farmer of Gujarat started farming of organic dates on barren land, earning Rs 35 lakh in first year itself

जानें- जी-7 देशों में कैसा है कोरोना महामारी का वर्तमान हाल, दुनिया का साथ देने का किया है वादाजी-7 सदस्‍य देशों ने पूरी दुनिया से महामारी से लड़ाई में मदद का भरोसा दिया है। इन देशों का कहना है कि वो दुनिया को वैक्‍सीनेट कराने में भी मदद करेंगे। हालांकि इस संगठन के सभी देश फिलहाल इस महामारी से उबर नहीं सके हैं। हमें नहीं लगता कि विश्वव्यापी मीटिंग होती है उसका कोई प्रभाव किसी भी देश पर पड़ता है अगर थोड़ा पढ़ता भी होगा तो हमें ज्यादा महत्वपूर्ण लगता नहीं इसीलिए मैं मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत का समर्थन करता हूं

Corona Vaccine पर चुंबकीय अफवाहें, देखें क्या है दावों का पूरा सचवैक्सीनेशन बढ़ने के साथ ही अफवाहों का वायरस भी तेजी से फैल रहा है. वैक्सीन लगवाने के बाद शरीर में चुंबक जैसी शक्ति का दावा किया जा रहा है. डॉक्टर इसे मानने को तैयार नहीं लेकिन दावा करने वाले अपनी बात पर अडिग हैं. ऐसे में ये जानना जरूरी है कि आखिर कोरोना वैक्सीन का ये कैसा चुंबक चक्र है. क्या कोरोना वैक्सीन में वाकई में कुछ ऐसा है, जिसे लेकर देश के कुछ शहरों से चौंकाने वाले दावे किए जा रहे हैं? देखें ये रिपोर्ट.

गाजियाबाद: बुजुर्ग की पिटाई और दाढ़ी काटने का वीडियो वायरल, पुलिस ने कहा- पुराना है मामलापुलिस अधिकारियों का कहना है कि वायरल हो रहा वीडियो पुराना है और मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी पहले ही की जा चुकी है. जानकारी करने पर पता चला है कि कुछ ऑटो चालकों ने बुजुर्ग को एक सुनसान जगह पर ले जाकर पिटाई की थी.

OnePlus Nord 2 फोन हो सकता है Realme X9 Pro का रीबैज्ड वर्ज़नRealme X9 Pro फोन को लेकर अटकलें हैं कि यह दो अलग वेरिएंट्स में आ सकता है, एक वेरिएंट चीनी मार्केट के लिए होगा जो कि क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 870 प्रोसेसर से लैस होगा और दूसरा ग्लोबल मार्केट के लिए होगा, जो कि मीडियाटेक डायमेंसिटी 1200 प्रोसेसर के साथ आ सकता है।

Muzaffarpur News: 'ये पारस बाबू का अंदरूनी गुस्सा है....एलजेपी में टूट नीतीश का किया धरा है'संदीप कुमार, मुजफ्फरपुर। लोक जनशक्ति पार्टी के युवा प्रदेश महासचिव कुमोद पासवान ने पार्टी में टूट के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार के खिलाफ चिराग पासवान ने जो मुद्दे उठाए गए थे, उसे लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भाजपा पर दबाव बनाकर पहले लोजपा को किनारे करवाया और उसके बाद पार्टी के सांसदों को तोड़ने में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू यादव ने जो बात कही थी, वह आज बिल्कुल सच साबित हो रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी में कोई टूट नहीं है। पार्टी एक बार फिर मजबूती के साथ एकजुटता दिखाते हुए उभर कर सामने आएगी।

यूपी के शामली में प्रधान के उत्पीड़न से पलायन का क्या है मामला - BBC News हिंदीस्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस और प्रशासन उनकी शिकायतों पर ध्यान नहीं दे रहा है, पुलिस ने इन आरोपों से किया इनकार. BBC मुसलमानों और तथाकथित सेकुलर वामपंथियों के साथ मिलकर यूपी में ब्राम्हण राजपूतों के बीच वैमनस्य फैलाने का एजेंडा चला रहा है, ताकि यूपी चुनाव में भाजपा को कमजोर किया जा सके.. कहां गये भाजपाई जो सपा सरकार में हल्ला कर रहे थे,अब ये सब क्या..