Homeloan, Tax, Shared Home Loan, Tax Saving On Shared Home Loan, Tax Saving, Home Loan, Business News İn Hindi, Business News İn Hindi, Personal Finance News İn Hindi, Personal Finance Hindi News

Homeloan, Tax

साझा होम लोन पर सात लाख तक बचा सकते हैं टैक्स, अपनाने होंगे ये तरीके

साझा होम लोन पर सात लाख तक बचा सकते हैं टैक्स, अपनाने होंगे ये तरीके #HomeLoan #tax

10-08-2020 06:09:00

साझा होम लोन पर सात लाख तक बचा सकते हैं टैक्स, अपनाने होंगे ये तरीके HomeLoan tax

आयकर के पुराने स्लैब के तहत करदाता कई तरह के टैक्स छूट का दावा करते हैं, जिनमें होम लोन सबसे आकर्षक विकल्प है।

बैंकबाजार डॉटकॉम के वाइस प्रेसिडेंट पंकज बंसल का कहना है कि कामकाजी दंपति के लिए होम लोन पर टैक्स छूट का दावा काफी फायदेमंद होता है। इससे एक तरफ तो लोन के लिए उनकी योग्यता बढ़ जाती है और बैंक में ज्यादा राशि कम ब्याज दर पर देने को तैयार हो जाते हैं।वहीं आयकर की धारा 24 (बी) के तहत होम लोन के ब्याज पर व्यक्तिगत करदाता 2 लाख तक और धारा 80(सी) के तहत मूलधन पर 1.5 लाख रुपए टैक्स छूट का दावा कर सकते हैं इस तरह एक करदाता को 3.5 लाख रुपए तक टैक्स छूट मिल जाती है होम लोन पर। वही साझा होम लोन में दंपति अपने अपने आईटीआर में इसका दावा अलग-अलग कर सकते हैं और कुल टैक्स छूट 7 लाख हो जाएगी।

किसान बिल के विरोध में इंडिया गेट पर ट्रैक्टर को लगाई गई आग IPL 2020: ओ तेवतिया.. अहा तेवतिया.. वाह तेवतिया - BBC News हिंदी कृषि बिल पर मत विभाजन की मांग के वक्त क्या वाक़ई सीट पर नहीं थे विपक्षी सांसद - BBC News हिंदी

मालिकाना हक और लोन दोनों में हिस्सदारी जरूरीआयकर की धारा (26) के तहत साझा होम लोन पर टैक्स छूट के लिए पति-पत्नी का मकान पर मालिकाना हक जरूरी है। लोन में भी दोनों की हिस्सेदारी चाहिए। अगर सिर्फ होम लोन की योग्यता बढ़ाने के लिए साझा कर्जदार बनाया है, तो छूट का दावा सिर्फ वही व्यक्ति कर सकेगा जो मालिक होगा।

वहीं, मालिकाना हक व लोन में दोनों का नाम है लेकिन ईएमआई सिर्फ एक ही व्यक्ति दे रहा है तो टैक्स छूट का दावा भी ईएमआई देने वाला ही करेगा। साझा आवेदन से लोन की योग्यता बढ़ जाती है बैंक कम ब्याज दर पर होम लोन दे सकते हैं। लोन के आवेदन में दोनों के मालिकाना हक की हिस्सेदारी नहीं लिखी है तो बैंक से 50-50 फीसदी मानते हैं।

ऐसे समझें गणित... ईएमआई में जितना हिस्सा उतना ज्यादा क्लेममान लीजिए किसी दंपति ने शादी में मकान खरीदा और बैंक से लोन भी दोनों के नाम पर ही मिला है। अब टैक्स छूट का बंटवारा मकान खरीदते समय किए डाउन पेमेंट और लोन की ईएमआई में सवारी के आधार पर तय हुआ और दोनों डाउन पेमेंट और ईएमआई में बराबर भागीदारी करते हैं, तो टैक्स छूट का लाभ भी बराबर मिलेगा।

ऐसा नहीं होने पर जो ज्यादा ईएमआई देगा उसे छूट भी ज्यादा मिलेगी। हालांकि, यह है 3.5 लाख रुपये से ज्यादा नहीं हो सकती है। बैंक लोन देते समय ही साझा आवेदक से हिस्सेदारी को लेकर एमओयू कराते हैं। एक बार कर्ज हिस्सेदारी तय हो जाए तो बदला नहीं जा सकता। यानी अगर दोनों में से किसी भी की नौकरी जाती है या वित्तीय संकट आता है तो भुगतान अनुपात में ही होना चाहिए, भले ही पैसा एक व्यक्ति ही क्यों ना दे रहा हो।

कर्जधारक बरतें सावधानी..सबसे पहले तो मकान खरीदते समय यह दोनों का नाम ऑनरशिप में जरूर शामिल कराएं। इससे बैंक को भी साझा लोन देने में आसानी होगी। क्योंकि विवाद की स्थिति में दोनों के पास प्रॉपर्टी की जारी रहेगी। इसके बाद अपनी राय और टैक्स देनदारी के हिसाब से लोन में भी पहले से हिस्सा तय कर लेना चाहिए।

बलवंत जैन चीफ एडिटर, अपना पैसा साझा होम लोन में सिर्फ कर्ज की राशि बढ़ जाती है बल्कि टैक्स छूट भी दोनों को अलग-अलग मिलती है। आईटीआर में साझा लोन पर कितना और कैसे टैक्स क्लेम कर सकते हैं।विज्ञापनबैंकबाजार डॉटकॉम के वाइस प्रेसिडेंट पंकज बंसल का कहना है कि कामकाजी दंपति के लिए होम लोन पर टैक्स छूट का दावा काफी फायदेमंद होता है। इससे एक तरफ तो लोन के लिए उनकी योग्यता बढ़ जाती है और बैंक में ज्यादा राशि कम ब्याज दर पर देने को तैयार हो जाते हैं।

आर्मीनिया-अज़रबैजान के बीच छिड़ी लड़ाई, दशकों पुराना है नागोर्नो-काराबाख का विवाद - BBC News हिंदी रणबीर कपूर को बहन ऋद्धिमा ने दी जन्मदिन की बधाई, शेयर की थ्रोबैक फोटो UP Crime: फिर पलटी मुंबई से आ रही यूपी पुलिस की गाड़ी, गैंगस्टर की मौत

वहीं आयकर की धारा 24 (बी) के तहत होम लोन के ब्याज पर व्यक्तिगत करदाता 2 लाख तक और धारा 80(सी) के तहत मूलधन पर 1.5 लाख रुपए टैक्स छूट का दावा कर सकते हैं इस तरह एक करदाता को 3.5 लाख रुपए तक टैक्स छूट मिल जाती है होम लोन पर। वही साझा होम लोन में दंपति अपने अपने आईटीआर में इसका दावा अलग-अलग कर सकते हैं और कुल टैक्स छूट 7 लाख हो जाएगी।

मालिकाना हक और लोन दोनों में हिस्सदारी जरूरीआयकर की धारा (26) के तहत साझा होम लोन पर टैक्स छूट के लिए पति-पत्नी का मकान पर मालिकाना हक जरूरी है। लोन में भी दोनों की हिस्सेदारी चाहिए। अगर सिर्फ होम लोन की योग्यता बढ़ाने के लिए साझा कर्जदार बनाया है, तो छूट का दावा सिर्फ वही व्यक्ति कर सकेगा जो मालिक होगा।

वहीं, मालिकाना हक व लोन में दोनों का नाम है लेकिन ईएमआई सिर्फ एक ही व्यक्ति दे रहा है तो टैक्स छूट का दावा भी ईएमआई देने वाला ही करेगा। साझा आवेदन से लोन की योग्यता बढ़ जाती है बैंक कम ब्याज दर पर होम लोन दे सकते हैं। लोन के आवेदन में दोनों के मालिकाना हक की हिस्सेदारी नहीं लिखी है तो बैंक से 50-50 फीसदी मानते हैं।

ऐसे समझें गणित... ईएमआई में जितना हिस्सा उतना ज्यादा क्लेममान लीजिए किसी दंपति ने शादी में मकान खरीदा और बैंक से लोन भी दोनों के नाम पर ही मिला है। अब टैक्स छूट का बंटवारा मकान खरीदते समय किए डाउन पेमेंट और लोन की ईएमआई में सवारी के आधार पर तय हुआ और दोनों डाउन पेमेंट और ईएमआई में बराबर भागीदारी करते हैं, तो टैक्स छूट का लाभ भी बराबर मिलेगा।

ऐसा नहीं होने पर जो ज्यादा ईएमआई देगा उसे छूट भी ज्यादा मिलेगी। हालांकि, यह है 3.5 लाख रुपये से ज्यादा नहीं हो सकती है। बैंक लोन देते समय ही साझा आवेदक से हिस्सेदारी को लेकर एमओयू कराते हैं। एक बार कर्ज हिस्सेदारी तय हो जाए तो बदला नहीं जा सकता। यानी अगर दोनों में से किसी भी की नौकरी जाती है या वित्तीय संकट आता है तो भुगतान अनुपात में ही होना चाहिए, भले ही पैसा एक व्यक्ति ही क्यों ना दे रहा हो।

कर्जधारक बरतें सावधानी..सबसे पहले तो मकान खरीदते समय यह दोनों का नाम ऑनरशिप में जरूर शामिल कराएं। इससे बैंक को भी साझा लोन देने में आसानी होगी। क्योंकि विवाद की स्थिति में दोनों के पास प्रॉपर्टी की जारी रहेगी। इसके बाद अपनी राय और टैक्स देनदारी के हिसाब से लोन में भी पहले से हिस्सा तय कर लेना चाहिए।

यूपी: मुख्तार अंसारी के गुर्गों ने बुलेट प्रूफ कराईं अपनी गाड़ियां, पुलिस जांच में खुलासा कॉमेडियन कपिल शर्मा ने बेटी के लिए लिखा स्पेशल नोट, शेयर की क्यूट Photos टिकटॉक पर बैन के आदेश पर अमरीकी अदालत ने लगाई रोक - BBC News हिंदी और पढो: Amar Ujala »

अटल सरकार में विदेश, रक्षा और वित्त तीनों पोर्टफोलियो संभाले, 1999 में हाईजैक प्लेन छुड़ाने में अहम रोल निभाया था

1998 में परमाणु परीक्षण के बाद अमेरिका ने भारत पर सख्त प्रतिबंध लगाए थे, तब जसवंत ने ही अमेरिका से बातचीत की थी,2014 में उन्हें भाजपा ने लोकसभा चुनाव का टिकट नहीं दिया, इसके बाद उन्होंने भाजपा छोड़ दी, निर्दलीय लड़े लेकिन चुनाव हार गए | Jaswant Singh, who was a minister in the Atal government, died at the age of 82, Modi said - he will be known for different kinds of politics

सर्वे में जनता ने बताया, यूपी के योगी आदित्‍यनाथ हैं देश के सबसे लोकप्रिय मुख्‍यमंत्रीLucknow Samachar: इस सर्वे में अकेले योगी (up cm yogi adityanath) ही ऐसे सीएम हैं जो बीजेपी से हैं। बाकी के टॉप 6 मुख्‍यमंत्री गैर बीजेपी और गैर कांग्रेसी हैं। इसके अलावा पिछले सर्वे में टॉप पर रही ममता बनर्जी भी पिछड़कर चौथे पायदान पर आ गई हैं। Fake CM Yogi is Great👍 😁

जोधपुर में पाकिस्तान से आए विस्थापितों के एक परिवार के 11 लोगों के शव मिलेराजस्थान के जोधपुर में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की खबर से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. जानकारी के अनुसार जोधपुर के डेंचू इलाके में एक ही परिवार के 11 लोगों के शव मिले हैं. पूरा परिवार पाकिस्तान से विस्थापित बताया जा रहा है. जानकारी मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं.

आज से मध्यप्रदेश के बाहर के श्रद्धालु भी कर सकेंगे महाकाल के दर्शनआज से मध्यप्रदेश के बाहर के श्रद्धालु भी कर सकेंगे महाकाल के दर्शन Ujjain ujjainkemahakal Mahakal ChouhanShivraj BJP4India

बिहार चुनाव में नए समीकरण के आसार, जीतनराम मांझी और ओवैसी आ सकते हैं साथसीटों के बंटवारे को लेकर अभी दोनों दलों के बीच में कोई बात नहीं हुई है. बता दें, 2019 में सीएए और एनआरसी के खिलाफ असदुद्दीन ओवैसी और जीतन राम मांझी किशनगंज में एक साथ मंच साझा कर एक रैली करने वाले थे मगर आखिरी मौके पर जीतन राम मांझी ने अपने कदम वापस खींच लिए. rohit_manas Worst for worst rohit_manas This is unfair to take exam in this pandemic situation. Really exam is more important than our health. Is true so why you postponed when only 500 cases in all india. Now 20 lacs that is good situation for exam ,wow that's great. postponegujcet HRDPostponeJEE_NEET DrRPNishank rohit_manas बोलो भक्तो बोलो तुमरी मा की ............ बेरोजगारी पर बोलो अर्थव्यवस्था पर बोलो जीडीपी पर बोलो शिक्षा पर बोलो लगावो नारा तुमारी मा की कसम

World Cup 2021 के टलने से दु:खी हैं इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइटलंदन। इंग्लैंड की कप्तान हीथर नाइट (Heather Knight) न्यूजीलैंड में आयोजित होने वाले महिला एकदिवसीय विश्व कप 2021 World Cup 2021के स्थगन से काफी दु:खी हैं। हीथर नाइट ने उम्मीद जताई कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) का यह फैसला सदस्य राष्ट्रों के लिए महिला क्रिकेट को हाशिए पर घकेलने का ‘बहाना’ बनाने का मौका नहीं देगा।

राम के बाद बुद्ध पर विवाद, विदेश मंत्री के बयान पर नेपाल ने जताई आपत्तिJust cut it. Nepal is like a village. Don't ever report anything from Nepal until its officially added to Bharat. Nepal🤣 Soon Chinese stooge will realise its mistake.. I see