सरकारी दावों के बावजूद यूपी के गन्‍ना मंत्री के क्षेत्र में ही किसानों का 300 करोड़ रुपए अभी तक बकाया

सरकारी दावों के बावजूद यूपी के गन्‍ना मंत्री के क्षेत्र में ही किसानों का 300 करोड़ रुपए अभी तक बकाया

Uttar Pradesh, Sugarcane Farmers İssue

02-12-2021 15:41:00

सरकारी दावों के बावजूद यूपी के गन्‍ना मंत्री के क्षेत्र में ही किसानों का 300 करोड़ रुपए अभी तक बकाया

14 दिन में भुगतान और भुगतान न होने पर ब्याज देने की बात कही गई थी, लेकिन मूलधन के साथ किसानों का करीब 6 हजार करोड़ रुपए ब्याज का भी बकाया है. जानकार भी मानते हैं कि मिलें चीनी बेचने के बाद आए पैसे को दूसरे मद में लगाती है.

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार गन्ना किसानों का वक्त पर भुगतान करने के दावे बढ़चढ़ कर करती है, लेकिन खुद उत्तर प्रदेश सरकार में गन्ना मंत्री सुरेश राणा के शहर शामली में किसानों का करीब 300 करोड़ रुपए बकाया है. गुरुवार को जब राणा सहारनपुर में योगी और अमित शाह की रैली सफल बनाने में जुटे थे तब उनके शहर के गन्ना किसान अपने पैसे के लिए दफ्तरों की ठोकर खा रहे थे. शामली में पांच एकड़ के किसान रजनीश कुमार ने बताया,"मेरा फरवरी से एक लाख बीस हजार का बकाया है, बच्चे की फीस के लिए तीन रुपए सैकड़ा ब्याज पर पंद्रह हजार का कर्ज लिया है और फीस जमा की है, तब जाकर मेरा बच्चा परीक्षा दे पाया है." रजनीश अकेले नहीं हैं. कपिल और गयूर जैसे हजारों किसानों के पास गन्ना बेचने की पर्चियां हैं, लेकिन पैसे नहीं है. जबकि शामली के थाना भवन से खुद राज्‍य सरकार के गन्ना मंत्री सुरेश राणा विधायक हैं, लेकिन जिले की तीन चीनी मिल, शामली मिल पर करीब 83 करोड़, ऊन मिल पर करीब 60 करोड़ और सबसे ज्यादा थाना भवन चीनी मिल पर करीब 165 करोड़ रुपए का बकाया है.

यह भी पढ़ें'यूपी चुनाव को कांग्रेस पार्टी विकास के नाम पर लड़ेगी' : मुरादाबाद की रैली में प्रियंका गांधीगंदराऊं गांव के किसान गयूर हसन का कहना है,"हमारे जिले के गन्ना मंत्री हैं, लेकिन पूरे प्रदेश में गन्ना के भुगतान में हमारा जिला सबसे पीछे है. इससे क्या अंदाजा लगाते मंत्री जी के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है. सब गेटिंग सेटिंग का मामला है नेता मिल मालिक और अधिकारियों का."

लखनऊ में बेरोजगारी के मुद्दे पर छात्र संगठनों ने निकाला मार्च, पुलिस ने NDTV के कैमरे को बंद करने के लिए कहाकृषि जानकार हरवीर सिंह ने कहा,"पिछली अखिलेश सरकार में भी दो हजार करोड़ के ब्याज का भुगतान नहीं हुआ, इस सरकार में भी ब्याज का भुगतान नहीं किया गया है. सरकार भी चीनी मिलों पर दबाव नहीं डाल रही है. जबकि किसानों को ब्याज लेकर अपना काम चलाना पड़ता है."  headtopics.com

प्रधानमंत्री मोदी आज देशभर के BJP कार्यकर्ताओं से करेंगे बातचीत, नमो ऐप के माध्यम से जुड़ेंगे

उधर शामिली से किसान नेता कपिल कुमार ने कहा,"ये ब्याज का बड़ा खेल है. 2014 तक जैसे ही चीनी की बोरी बनी लिमिट हो जाती थी ऐर किसानों का भुगतान हो जाता था, लेकिन 2014 के बाद से किसी चीनी मिल ने अपनी लिमिट नहीं बनवाई. हर महीना पांच से छह करोड़ रुपए का ब्याज अधिकारी नेता और मिल मालिक खा जाते हैं." अब चुनावी मौसम में जब गन्ना किसान धरना प्रदर्शन करने लगे तो शामिली के तीनों चीनी मिलों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया है. 

यूपी चुनाव को लेकर प्रियंका गांधी ने मुरादाबाद में की रैलीListen to the latest songs, only on JioSaavn.comUttar Pradeshsugarcane farmers issueSugarcane Farmers Protestटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें:

और पढो: NDTV India »

भारत में #Omicron वैरिएंट का कम्युनिटी स्प्रेड शुरू.

और पढो >>

profamishra नहीं_चाहिए_भाजपा UP ki jantaa sab kuch bhool jaiye or Hindu Muslim mandir masjid me lage rhiye wrna hindutwa khatre me aa jayega😂😂😂 AnuragVerma_SP योगी हैं तो मुमकिन है😎 अब यूपी चुनाव तक NDTV INDIA चैनल तो ऐसे लग रहा है यूपी चुनाव में सरकार के विरोधी गड़जोड़ का चुनाव प्रचारक है। Abki bar shupdha saff

NDTV ko up ki badi padi rahi hai ,rajsthan panjab ki to kabhi khabar hi nahi milti tumhare channel par गोबर भुंड भक्तो को झूठ लग रहा है. आज तो ये देखकर तुम्हारी जल रही होगी। बरनोल का ट्रक मंगा लो 🤣🤣 True

मुजफ्फरपुर में मोतियाबिंद के ऑपरेशन में गड़बड़ी, 65 में से 15 लोगों की निकालनी पड़ी आंखजानकारी के लिए बता दें कि बीते 22 नवंबर को मुजफ्फरपुर के आई हॉस्पिटल में 65 लोगों का मोतियाबिंद का ऑपरेशन हुआ था. जिसमें ज्यादातर लोगों की आंखों में इंफेक्शन हो गया.

कॉलेजों में कराया जाए HIV टेस्ट, त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देब का आदेशएड्स कंट्रोल सोसाइटी ने जो डाटा जारी किया है, उसके अनुसार-त्रिपुरा में अब तक 2,459 एचआईवी केस पिछले 20 साल में सामने आए हैं. इनमें 750 महिलाएं और 1709 पुरुष हैं. अब तक 640 लोगों की मौत एचआईवी के कारण राज्य में हुई है. अप्रैल से अक्‍टूबर के बीच 560 लोगों में एचआईवी होने की पुष्टि हुई है.

Nothing Ear 1 का ब्लैक एडिशन भारत में लॉन्च, क्रिप्टोकरेंसी में कर सकेंगे पेमेंटNothing Ear 1 Black Edition की कीमत 6,999 रुपये रखी गई है। बता दें कि व्हाइट वेरियंट की कीमत भी 6,999 रुपये ही है। Nothing Ear 1 Black की बिक्री 13 दिसंबर से

Omicron Alert: देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की एंट्री, कर्नाटक में मिले दो मामलेOmicron Alert: देश में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन की एंट्री, कर्नाटक में मिले दो मामले OmicronVarient Covid19 Karnataka mansukhmandviya MoHFW_INDIA mansukhmandviya MoHFW_INDIA कर्नाटक सरकार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था बहाल करना चाहिए ताकि वायरस को तेजी से वायरल होनें से रोका जाए। इसें मज़ाक में कतई न लें , नहीं तो बहुत जल्दी विकराल रूप धारण कर लेगा. सज़ग रहे , सतर्क रहें mansukhmandviya MoHFW_INDIA

घबराएं नहीं, भारत में ओमिक्रॉन के मामले सामने आने के बाद केंद्र की अपील : 5 बातेंपिछले कुछ दिनों से दुनिया भर में हड़कंप मचा रहे कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन ने आख‍िरकार भारत में भी दस्‍तक दे ही दी. कर्नाटक में इसके दो मरीज सामने आए हैं. स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने गुरुवार को प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर इसकी जानकारी दी. दोनों में से एक मरीज की उम्र 66 साल है जबकि दूसरे की 46 साल. दोनों में ही फिलहाल कोई गंभीर लक्षण नहीं दिख रहे. क्या हर एक छोटे बड़े शहरों में ऑमिक्रॉन की जांच हो सकती है? क्या सिर्फ वायरल लोड से इसका पता चल जाएगा या जीनोम सिक्वेंसिंग आवश्यक है? 11 और 20 नवम्बर को आए थे... तो इन्हें भारत में ही हुआ है... PMOIndia केन्द्र सरकार को लापरवाही से बचना चाहिए। ऐसा पहली बार नहीं हो रहा, सरकार को सबक लेना चाहिए था।

वरिष्ठ ब्रिटिश वैज्ञानिक का दावा: दिसंबर के बाद ही 'ओमिक्रॉन' के बारे में पता चलेगा सबकुछ, लोग हल्के में न लें इसेवरिष्ठ ब्रिटिश वैज्ञानिक का दावा: दिसंबर के बाद ही 'ओमिक्रॉन' के बारे में पता चलेगा सबकुछ, लोग हल्के में न लें इसे Coronavirus COVID19 OmicronVariant OmicronAlert क्या वीर सावरकर के बारे में आप ये रोचक बात जानते हो | veersawarkar interstingfacts yudhveerkadyan