Coronaupdate, Coronavirus, Covid 19, Coronavaccine, Corona Virus, Covid 19

Coronaupdate, Coronavirus

सरकार ने किया आगाह: कोरोना वायरस फिर से उभर सकता है, तैयारी करने की जरूरत

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वी के पॉल ने इन आरोपों को खारिज किया कि सरकार दूसरी लहर की तीव्रता से अनजान थी।

13-05-2021 22:09:00

सरकार ने किया आगाह: कोरोना वायरस फिर से उभर सकता है, तैयारी करने की जरूरत CoronaUpdate Coronavirus Covid19 Coronavaccine drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वी के पॉल ने इन आरोपों को खारिज किया कि सरकार दूसरी लहर की तीव्रता से अनजान थी।

उन्होंने कहा, यह कहा गया था कि सीरो-पॉजिटिविटी 20 प्रतिशत है, 80 प्रतिशत आबादी अभी भी जोखिम में है और यह वायरस कहीं गया नहीं है और अन्य देशों में भी इसका फिर से उभरना देखा जा रहा है।पॉल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रधानमंत्री ने 17 मार्च को दूसरी लहर के उभरने के बारे में देश को दहशत उत्पन्न किए बिना बता दिया था और कहा था कि हमें इससे लड़ना होगा।

उत्तर कोरियाः किम जोंग उन की बहन ने अमेरिका को चेताया, वो नहीं समझ रहा बात - BBC Hindi कोरोना वैक्सीनेशन: एक दिन में 53 लाख लोगों को वैक्सीन लगी, 16 लाख डोज का रिकॉर्ड बनाने वाले MP में सिर्फ 4,825 टीके लगे भास्कर इंटरव्यू: भास्कर इंटरव्यू: स्वरा भास्कर बोलीं- चुनाव प्रचार करने पर 3-4 ब्रांड्स ने डील तोड़ दी थी, फिर जब NRC का विरोध किया तो एक ब्रांड ने बाहर निकाल दिया

क्या ऐसी उच्चतम स्तर की उम्मीद थी, इस सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई भी मॉडलिंग उच्चतम स्तर किस आकार का होगा यह अनुमान नहीं लगा सकता क्योंकि वायरस के अप्रत्याशित व्यवहार के बारे में अच्छी तरह से पता है।उन्होंने कहा कि उच्चतम स्तर आएगा, वायरस फिर से उभर सकता है, हम जानते हैं। इसलिए राज्यों के सहयोग से देश स्तर पर तैयारी की जानी चाहिए, बुनियादी ढांचे को बढ़ाना होगा, रोकथाम के उपायों को लागू करना होगा और कोविड-19 के उचित व्यवहार का पालन करना होगा।

उन्होंने कहा कि हमने दहशत उत्पन्न नहीं की थी, अन्य देशों ने कई उच्चतम स्तर क सामना किया है, आखिरकार यह एक महामारी है। उन्होंने कहा कि यह बीमारी की प्रकृति है कि यह अंततः गांवों में जाएगी।उन्होंने कहा कि यह महामारी विज्ञान अच्छी तरह से ज्ञात है। पॉल ने लोगों से कोविड-19 के उचित व्यवहार का पालन करने और टीकाकरण को अपनाने का आग्रह किया। headtopics.com

ऐसे में जब भारत कोविड-19 की दूसरी लहर से जूझ रहा है, सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि वायरस फिर से उभर सकता है और इसलिए राज्यों के सहयोग से राष्ट्रीय स्तर पर तैयारी की जानी चाहिए, बुनियादी ढांचे को बढ़ाने की जरूरत है, जबकि पाबंदियां और उचित व्यवहार का अनुपालन होना चाहिए।

विज्ञापन उन्होंने कहा कि हम इस मंच से बार-बार चेतावनी देते रहे कि कोविड-19 की दूसरी लहर आएगी।उन्होंने कहा, यह कहा गया था कि सीरो-पॉजिटिविटी 20 प्रतिशत है, 80 प्रतिशत आबादी अभी भी जोखिम में है और यह वायरस कहीं गया नहीं है और अन्य देशों में भी इसका फिर से उभरना देखा जा रहा है।

पॉल ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रधानमंत्री ने 17 मार्च को दूसरी लहर के उभरने के बारे में देश को दहशत उत्पन्न किए बिना बता दिया था और कहा था कि हमें इससे लड़ना होगा।क्या ऐसी उच्चतम स्तर की उम्मीद थी, इस सवाल पर उन्होंने कहा कि कोई भी मॉडलिंग उच्चतम स्तर किस आकार का होगा यह अनुमान नहीं लगा सकता क्योंकि वायरस के अप्रत्याशित व्यवहार के बारे में अच्छी तरह से पता है।

उन्होंने कहा कि उच्चतम स्तर आएगा, वायरस फिर से उभर सकता है, हम जानते हैं। इसलिए राज्यों के सहयोग से देश स्तर पर तैयारी की जानी चाहिए, बुनियादी ढांचे को बढ़ाना होगा, रोकथाम के उपायों को लागू करना होगा और कोविड-19 के उचित व्यवहार का पालन करना होगा।उन्होंने कहा कि हमने दहशत उत्पन्न नहीं की थी, अन्य देशों ने कई उच्चतम स्तर क सामना किया है, आखिरकार यह एक महामारी है। उन्होंने कहा कि यह बीमारी की प्रकृति है कि यह अंततः गांवों में जाएगी। headtopics.com

CDS जनरल बिपिन रावत की पाक को चेतावनी: जम्मू-कश्मीर में ड्रोन से गोला-बारूद भेजा जा रहा है, यह सीजफायर और शांति प्रक्रिया के लिए शुभ संकेत नहीं आज का जीवन मंत्र: जाति, शरीर या रंग के आधार पर इंसानों में भेदभाव करेंगे तो देश कभी विकास नहीं कर पाएगा योगी आदित्यनाथ के केशव मौर्य के घर जाने से क्या बदले समीकरण? - BBC Hindi

उन्होंने कहा कि यह महामारी विज्ञान अच्छी तरह से ज्ञात है। पॉल ने लोगों से कोविड-19 के उचित व्यवहार का पालन करने और टीकाकरण को अपनाने का आग्रह किया।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

Superfast India: BRO ने 1 साल में किया 5 साल का काम, देखें Khabardar

पिछले एक साल में हमने चीन की नीयत देख ली, चीन की फितरत देख ली. लेकिन भारत की ताकत भी सबने देखी. फिर चाहे बात बॉर्डर पर आमने-सामने के टकराव की हो या फिर सेना को मजबूत बनाने की हो, या फिर चीन के खिलाफ हमेशा तैयारी करते रहने की सोच की हो, भारत ने कभी अपनी तैयारियों में कोई कमी नहीं की. भारत ने इस एक साल में सबसे ज़्यादा उन बातों पर ध्यान दिया, जो चीन के सामने हमेशा हमारी कमज़ोरी रही. जैसे बॉर्डर के इलाकों में इंफ्रास्ट्रक्चर का चीन के मुकाबले कमज़ोर होना. चीन हमेशा इस कोशिश में रहता था कि बॉर्डर पर भारत अपने इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत ना कर पाए. क्योंकि उसे डर था कि इससे भारत का रणनीतिक दबदबा बढ़ जाएगा. इसी वजह से उसने पहले डोकलाम और फिर पिछले साल गलवान से लेकर लद्दाख बॉर्डर पर टकराव किया. ये टकराव आज भी खत्म नहीं हुआ, लेकिन एक साल में बॉर्डर पर खेल पूरी तरह से पलट गया है. भारत ने सुपर फास्ट स्पीड में इंफ्रास्ट्रक्चर को तैयार किया है. सड़कें बनाई हैं, पुल बनाए हैं, रणनीतिक रास्ते तैयार किए हैं. और ये सब चीन के बड़े चैलेंज के बीच किया गया जो अपने आप में चीन के लिए करारा जवाब है. देखें खबरदार.

drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI bsdk pehle wala to khatam kar lo 🤣

Corona vaccine: सरकार को स्थायी समिति ने 8 मार्च को ही कहा था टीका उत्पादन बढ़ाएंCorona vaccine: सरकार को स्थायी समिति ने 8 मार्च को ही कहा था टीका उत्पादन बढ़ाएं CoronaUpdate Coronavirus Covid19 Coronavaccine drharshvardhan MoHFW_INDIA BJP4India PMOIndia ICMRDELHI drharshvardhan MoHFW_INDIA BJP4India PMOIndia ICMRDELHI Hello Everyone I will help the first 20 people from earn $10,000 within just 24hrs,But after your earning you are to pay me 10% from it immediately, if interested kindly message directly on WhatsApp +447418324832

माथापच्ची : वैक्सीन पर केंद्र और दिल्ली सरकार के आंकड़ों ने उलझाया, बाकी जगह भी यही हालातमाथापच्ची : वैक्सीन पर केंद्र और दिल्ली सरकार के आंकड़ों ने उलझाया, बाकी जगह भी यही हालात Coronaviurs Delhi coronavaccin ArvindKejriwal PMOIndia MoHFW_INDIA

जनता ने जिस काम के लिए चुना है वो करें- मोदी सरकार पर भड़के अनुपम खेरCorona, Covid- 19: अनुपम खेर से जब अस्पतालों में बेड के लिए मारामारी, दवाओं की किल्लत और गंगा में बहती लाशों को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि तमाम मामलों में सरकार की... इसको राज्यसभा की सीट चाहिए इसलिये ब्लैकमेल वाले बयान दे रहा है। देर आये दुरुस्त आहे AnupamPKher यह बयान अपनी छवि को बचाने के लिए ही दे रहे हैं। दिल पर हाथ रखकर कंहें कि इस दुनिया में कौन अपनी छवि की चिंता नहीं करता है छवि बहुत दुधारी तलवार होती है और लोगों की नजरों से उतरे नहीं कि खत्म हुए छवि अगर काम करने से बनी है तो सिर्फ और सिर्फ काम करते दीखने से ही बचेगी

छत्तीसगढ़ सरकार ने नए विधानसभा भवन, राजभवन, CM निवास के निर्माण पर लगाई रोकछत्तीसगढ़ सरकार ने राज्य में नए विधानसभा भवन, राजभवन, मुख्यमंत्री निवास तथा अन्य मंत्रियों और वरिष्ठ अधिकारियों के आवास के निर्माण कार्य पर रोक लगाई कोई उस दढ़ीयल से भी कुछ कहदो.. Zameer zinda hai toh insaan zindah hai zameer mar geya insaan mar geya आसमान का फ़रिश्ता शाहीनबाग में चुपके से बिरयानी भेज सकता है 😌 लेकिन ऑक्सीजन और वेक्सीन देने की जिम्मेदारी मोदी को दे दी है हद है🥱🚩

5,000mAh बैटरी व 90Hz डिस्प्ले से लैस होगा Realme Narzo 30, कंपनी ने किया कंफर्मRealme ने हाल ही में ऐलान किया था कि Realme Narzo 30 स्मार्टफोन 18 मई को मलेशिया में लॉन्च किया जाएगा, यह लॉन्च इवेंट स्थानीय समयानुसार दोपहर 12 बजे (भारतीय समयानुसार सुबह 9.30) बजे शुरू होगा। Kisan andolan me jisaka rep hua usape reporting kiye ? आपकी अनुपम कृपा से दरूहे खुश, गोबर बीनने वाले खुश, पर हम पढ़े लिखे बेरोजगारों ने मेरिट में स्थान बनाकर कौन सी गलती कर दी है कका चयनित_अभ्यर्थी_मांगे_तत्काल_नियुक्तिbhupeshbaghel ChhattisgarhCMO TS_SinghDeo Drpremsaisingh MohanMarkamPCC GovernorCG INCChhattisgarh

‘ऑस्ट्रेलिया से सीखकर राहुल द्रविड़ ने भारत को किया मजबूत,’ पूर्व कोच के बड़े बोलकई अहम खिलाड़ियों के चोटिल होने के कारण भारत की दूसरे दर्जे की टीम ने आस्ट्रेलिया को उसी की सरजमीं पर हराकर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी जीती थी। चैपल का मानना है कि भारत ने बेहद प्रभावी खिलाड़ी विकास प्रणाली दिखाई है और उनके युवा खिलाड़ियों के पास भी विस्तृत अंतरराष्ट्रीय अनुभव है।