सम्राट मिहिरभोज कौन हैं, जिन्हें लेकर आमने-सामने हैं राजपूत और गुर्जर? - BBC News हिंदी

सम्राट मिहिरभोज कौन हैं, जिन्हें लेकर आमने-सामने हैं राजपूत और गुर्जर?

22-09-2021 19:18:00

सम्राट मिहिरभोज कौन हैं, जिन्हें लेकर आमने-सामने हैं राजपूत और गुर्जर?

राजपूत समाज ने सम्राट मिहिरभोज को गुर्जर जाति का बताए जाने पर आपत्ति जताई है और कहा है कि वो गुर्जर नहीं बल्कि क्षत्रिय थे.

इस प्रतिमा के अनावरण के दौरान ग़ाज़ियाबाद में लोनी से बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर भी मौजूद थे. लेकिन दादरी में प्रतिमा अनावरण के लिए जब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आने का कार्यक्रम तय हुआ तो विरोध बढ़ गया.इमेज स्रोत,इमेज कैप्शन,सुरक्षाबलों की मौजूदगी

रच दिया इतिहास: अंतरिक्ष में पहली मूवी की शूटिंग करने के बाद धरती पर लौटा रूसी फिल्म क्रू; 12 दिन में शूट किया 40 मिनट लंबा सीन सरप्लस बिजली वाले MP का हाल: 20 जिलों में 2.31 लाख घरों में बिजली नहीं, छिंदवाड़ा में सबसे अधिक 83 हजार परिवार अब भी लालटेन युग में 'इनके खिलाफ आवाज उठाओगे तो टायर से कुचल दिए जाओगे', अखिलेश यादव का सरकार पर हमला

राजपूत करणी सेना के अध्यक्ष लोकेंद्र कालवी भी दो दिन पहले ग्रेटर नोएडा पहुंच गए थे और उन्होंने मिहिरभोज को गुर्जर बताए जाने पर सख़्त ऐतराज़ जताया.लोकेंद्र कालवी का कहना था, "ऐतिहासिक तथ्यों से तोड़-मरोड़ हम बर्दाश्त नहीं करेंगे. हमने इस बारे में यूपी के मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी दे रखा है.''

''राजस्थान में प्रशासनिक और राजनीतिक रूप से यह तय हो गया कि मिहिरभोज क्षत्रिय थे. मध्य प्रदेश में भी ऐसा ही है. इतिहासकारों ने तय कर दिया है कि नवीं शताब्दी में गुर्जर थे ही नहीं. फिर यूपी में इस तरह की बात करने का क्या मतलब है?"इमेज स्रोत, headtopics.com

Yogi Adityanath/Facebook'गुर्जर भी क्षत्रिय वर्ण के ही हैं'वहीं, गुर्जर समाज के राष्ट्रीय मार्गदर्शक वीरेंद्र विक्रम कहते हैं कि गुर्जर भी क्षत्रिय वर्ण के ही हैं और इसे लेकर किसी तरह का विवाद नहीं होना चाहिए.उनके मुताबिक़, "चालुक्य, चौहान, चंदेल, तोमर इत्यादि की तरह गुर्जर भी क्षत्रिय थे. राजपूत जाति तो तेरहवीं शताब्दी के बाद अस्तित्व में आई. उससे पहले तो राजपूत जाति थी ही नहीं.''

और पढो: BBC News Hindi »

सियासी बवाल के बीच राहुल गांधी का दिल्ली से लखीमपुर का सफर, देखें टाइमलाइन

लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के बाद का विवाद अबतक शांत नहीं हुआ है. लखनऊ एयरपोर्ट पर धरने के बाद आखिरकार राहुल गांधी को वहां से बाहर निकलने दिया गया है. एयरपोर्ट पर राहुल अपनी गाड़ी से जाएंगे या प्रशासन की गाड़ियों से इस पर विवाद हुआ था. अब राहुल गांधी और प्रियंका गांधी सीतापुर से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए और लखीमपुर में मृतक किसानों के परिवार से मिलने पहुंच चुके हैं. देखें राहुल गांधी के दिल्ली से लखीमपुर के सफर की पूरी टाइमलाइन.

गुज्जर obc st mbc में क्यों हैं? प्रतिहार राजपुत्र सामान्य जाति में क्यों आते है गुर्जर क्षेत्र को कहा जाता है ना कि जाति संबंधित.....प्रतिहार वंश के लोग राज किया है विवाद पैदा करना बीमार लोगो का काम है ।कोई भी महापुरुष पूरे समाज के लिये होता है ।उन्हे जात के बंधन में बांध छोटा नही करना चाहिये Mughlo k aane se pehle yahi kuchh tha. I m not favouring them but mughal combined the country & British gave laws. Lets many of law before independence.

Ache se pata hai tumko videso se aur vamiy se funding sirf anti hindu Anti indian aur antibjo post ke liye milte hai. Band kro ye dhong. We don't need such biased hypocrite media. bbc mujhe pata hain tumhre pichwade me aag lag rhi hai. Thodi burnol laga lo, shanti pd jaegi. Saalo gandi naali ke kido. Angrezi ki trha naam badalkr hmko baatne ka soch rhe ho. Tumhre saare articles btate hai tum ek ghatiya soch wale, ghatiya patrakaro paid bikau media ka part

bbchindi tumhari koi imaan hai kya? Tum sari anti hindu, anti indian baate krte ho. Patrakarita ko sharmshar krte ho. Thukta hu aesi gandi soch pr. Hmare samaj me zehar mt gholo. antiindianbbc sbko pata hai BBC ajkal ek juthi v ektarfa patrikarita krke isse sharmshar kr rha hai. Aapne article me kha hai ki gurjar shbad pr kaalikh pot di ye galat hai wo shabd likha hi nhi tha. Dusri baat iss article me aapne articles se jyada anti hindi aur anti BJP link jyada h. Shame

भविष्य का भारत Shame on you, only society divisional theory हरबंस जी के पास कौन से साक्ष्य हैं। जिससे कि वह गूजर को गुर्जर प्रतिहार (राजपूत/क्षत्रिय) सिद्ध कर सकते हैं ? सामाजिक रीति-रिवाजों और राजपूत या क्षत्रिय समाज की अस्वीकार्यता से यह स्वतः सिद्ध है कि, गूजर हों या अहीर, यह क्षत्रिय नहीं है।

क्या होते हैं मठ और अखाड़े, क्या करते हैं वो, जानें आदि शंकराचार्य से लेकर आज के मठों तक की कहानीMahant Narendra Giri News : आज से करीब 1,300 साल पहले आदि शंकराचार्य द्वारा शुरू की गई मठ स्थापना की परंपरा कालक्रम में तेजी से फली-फूली और आज देश के हर हिस्से में विभिन्न संप्रदायों के साधुओं के मठ हैं। व्यभिचार के अड्डे बने हुए हैं आजकल तो !! देशहित में कोई योगदान हो तो बताएँ इसी तरह मदरसे हैं उनका भी योगदान देशहित में नगण्य है ।

नासमझ बन कर एक दूसरे से मत टकराईए,यह बी जे पी के बाँटो और राज करो(अंग्रेजों की पाँलिसी) का हिस्सा है।आखिर अंग्रेजों से यही तो सीखा है। Aaj se 5,6 saal phle tak toh gujjar samrat hi thy...lekin bjp ki sarkaar aate hi rajpoot ho gye.... राजपूत हों या गुर्जर इससे क्या मतलब महानायक तो महानायक होता है वो पुरे समाज और देश का होता है! बाटों और राज करो का ज़माना गया अब एक भारत श्रेष्ठ भारत का समय है। गुर्जर-राजपूत आमने- सामने नही बल्कि कंधे से कंधा मिला कर देश देशद्रोहियों से लड़ रहा और एक दूसरे के दिल में रह रहा है।

2 जाति अपना सह सम्मान रखती ही है नरेन्द्र गिरि और मिहिर भोज पर हम और वे गौरवान्वित हैं! हमतो इतना जानते नरेन्द्र गिरी संत अरथात ब्राहमण राजा मतलब राजपूत Shiya sunni kuresi kaun he गलत न्यूज़ मत दिखाया करो, किसी ने चोरी से स्टीकर लगाया था राजपूत हैं गुर्जरों ने जबरन अपनाया है read it!!!

भूल गए हैं अपना आधार एनरोलमेंट नंबर तो न हों परेशान, ऐसे करें डाउनलोडआज आधार कार्ड हर चीज के लिए जरूरी हो गया है। कई बार हम आधार कार्ड भूल जाते हैं और नंबर भी याद नहीं रहता। ऐसे में बिना इनके भी हम ऑनलाइन आधार कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं।

Samrat se to rajput hi hai gurjar to tab aaye nahi honge 100M Complete👌💯👌💯 👇👇👇👇👇👇👇👇👇👇 Only drama Rajput tha आप लोग धर्मों की लड़ाई कब बंद करेंगे... कभी-कभी मुझे ट्विटर से संन्यास लेने का मन करता है...जागो भारत 🙏 Police yeh tay karke na chale ki, 12 pages ki note kisi aur ne likhi hogi. Mahant itna nahi likhte the, woh sirf sign kiya karte the. Agar koi Suicide Karna tay kar chuka ho, toh kabhi kuchch na likhne wale bhi Antim samay me 12 pages tho Kya,120 pages ka bhi note likh sakte hai.

राकेश टिकैत हैं 'डकैत', 'सिखिस्तान' से प्रेरित है किसान आंदोलन- BJP सांसद का दावाभाजपा सांसद अक्षयवरलाल गोंड ने किसान नेता राकेश टिकैत को डकैत बताया है। योगी सरकार के साढे़ चार वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में बहराइच के सांसद ने भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत के ऊपर अपमानजनक शब्द का प्रयोग किया। Sarkar hai dakait desh ko lootkar Adani ambani ko malamal jar rahi hai gahlotshagufta BJP ka pichwada her samay Lal 😜🤣

पिता हैं पुलिस अधिकारी, बेटे ने दो बार क्लियर किया UPSC एग्जाम, जानिए कौन हैं प्रियांक किशोरप्रियांक किशोर ने दो बार यूपीएससी एग्जाम क्लियर किया था। पहले प्रयास में उन्हें IRS मिला था, लेकिन दूसरे प्रयास में उन्होंने IAS बनने का सपना पूरा कर लिया था।

ऑकस पनडुब्बी सौदों का विवाद : भारत के लिए क्या हैं संकेतअमेरिका और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई परमाणु पनडुब्बियों के सौदे को लेकर नए सिरे से विवाद उठ खड़ा हुआ है। अबे हरामखोर! ब्रिटेन का रक्षा बजट कितने का है! ग़लत जानकारी क्यों दे रहा है बे?

Cryptocurrency : आखिर Bitcoin या दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतें इतनी चढ़ती-उतरती क्यों रहती हैं?क्रिप्टो बाजार इतना अस्थिर क्यों है- इसका जवाब हो सकता है कि क्योंकि क्रिप्टोकरेंसी बाजार अब भी अपने बिल्कुल शुरुआती स्तर पर है. एक करेंसी और निवेश के माध्यम के रूप में अभी इसकी शुरुआत हो ही रही है. जल्दी पैसा बनाने की धुन में निवेशक अपने पैसे के साथ प्रयोग कर रहे हैं. अबकी बार आपकी स्टडी बिटकॉइन के बारे में बिल्कुल सही है Bitcoin