Mayawati, Mayawati, Narendra Modi, Prime Minister Modi, Bsp, Bjp, मायावती, नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री मोदी, बसपा, भाजपा, बेनामी संपत्ति

Mayawati, Mayawati

सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग भाजपा में, मोदी देशहित के मामले में अनफिट : मायावती

सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग भाजपा में हैं लेकिन उनका हिसाब-किताब छिपा हुआ है #mayawati @Mayawati

5/15/2019

सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग भाजपा में हैं लेकिन उनका हिसाब-किताब छिपा हुआ है mayawati Mayawati

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने बेनामी संपत्ति के आरोप को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार करते हुए बुधवार को दावा किया कि सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले लोग भाजपा में हैं लेकिन उनका हिसाब-किताब छिपा हुआ है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जनहित और देशहित के मामले में उनकी तुलना में प्रधानमंत्री मोदी अनफिट हैं।

गौरतलब है कि मंगलवार को बलिया में एक चुनावी सभा में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था, करीब दो दशक से मैं मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के तौर पर काम कर रहा हूं। यह बुआ-बबुआ मिलकर जितने साल मुख्यमंत्री नहीं रहे, उससे कहीं ज्यादा समय मैं गुजरात का मुख्यमंत्री रहा हूं। मैं इन महामिलावटियों को खुली चुनौती देता हूं। ये लोग दिखा दें कि मैंने कोई बेनामी संपत्ति जमा की है। मैंने गरीब के पैसे लूटने का कोई पाप नहीं किया है।

मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए मायावती ने कहा, खुद को पाक-साफ और दूसरों को गलत तथा भ्रष्ट समझना इनकी बीमारी है। देश को पता है कि सबसे ज्यादा बेनामी संपत्ति वाले भ्रष्ट लोग भाजपा में ही हैं। प्रधानमंत्री मोदी ओबीसी की तरह दिखने के लिए केवल कागजों पर ही ईमानदार हैं। भाजपा और मोदी असल में कुछ और ही हैं लेकिन जनता के समक्ष कुछ और दिखने की कोशिश करते हैं। इनका हिसाब-किताब छिपा रहता है। उन्होंने कहा, अक्सर चुनाव में विरोधी पार्टियां खासकर दलितों व ओबीसी वर्ग के लोगों को गुमराह करती हैं और यह बताना चाहती हैं कि बसपा प्रमुख के पास गैर-ईमानदार तरीके से अर्जित की गई संपत्ति है। जबकि बसपा आंदोलन ने तो कड़ी मेहनत से, लेने वाले को देने वाला समाज बना दिया और हमारे आंदोलन के पास जो भी संपत्ति है वह सब इन्हीं की ही देन है। बसपा सुप्रीमो ने कहा, प्रधानमंत्री शालीनता को ताक पर रखकर बसपा को बहनजी की संपत्ति पार्टी कहते हैं। बसपा अपने संस्थापक और जन्मदाता मान्यवर कांशीरामजी की विरासत है। बसपा प्रमुख के पास जो कुछ भी है वह उसके समाज और शुभचिंतकों का ही दिया हुआ है तथा खुली किताब की तरह सामने है। कानून का पालन करते हुए टैक्स आदि भी ईमानदारी से जमा कराया जाता है। मायावती ने कहा कि इन्होंने (प्रधानमंत्री मोदी ने) अपरिपक्व तरीके से नोटबंदी व जीएसटी को देश पर थोपा, जबकि इनके अपने चहेते लोग जनता का बैंकों में जमा धन गबन कर विदेश भाग गए।

और पढो: Webdunia Hindi

सबसे लंबा 21.29 घंटे का रोजा आइसलैंड में, न्यूजीलैंड में सबसे छोटा 11.58 घंटे का आइसलैंड में सिर्फ 6 घंटे की रात, इफ्तार-सहरी में सिर्फ 4 घंटे फर्क रमजान सब्र के साथ भूखे प्यासे रहकर खुदा की इबादत करने का महीना गर्मियों के चलते दिन लम्बा होने से सब्र और इम्तिहान का समय भी बढ़ा | world,s longest fast of ramjan in iceland & shortest in newziland

उप्र में भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान पहले चरण में पश्चिमी हिस्से में हो सकता है पिछले चुनाव में मुजफ्फरनगर सांप्रदायिक दंगों का फायदा भाजपा को मिला था, जिसे मोदी लहर मान लिया गया पिछली बार भाजपा विरोधी चारों दल अलग थे, मतों के बिखराव के कारण बसपा को एक भी सीट नहीं मिली थी | BJP Vs SP-BSP in UP मथुरा और फतेहपुर के लिए आंख बंद कर सो जाइये

मध्य प्रदेश में 64.24 प्रतिशत हुआ मतदान, पिछले चुनाव से 7.43 प्रतिशत अधिक इस प्रकार इस चुनाव में इन सीटों पर पिछले लोकसभा चुनाव से 7.43 प्रतिशत अधिक मतदान हुआ है. सबसे अधिक मतदान राजगढ़ लोकसभा सीट पर 73.45 प्रतिशत रहा, जबकि सबसे कम मतदान भिण्ड लोकसभा सीट में 53.09 प्रतिशत हुआ. अधिकारी ने कहा कि रात नौ बजे तक मिली जानकारी के अनुसार मुरैना में 60.67 प्रतिशत, भिण्ड में 53.09 प्रतिशत, ग्वालियर में 59.60 प्रतिशत, गुना में 67.69 प्रतिशत, सागर में 65.41 प्रतिशत, विदिशा में 70.80 प्रतिशत, भोपाल में 65.33 प्रतिशत और राजगढ़ में 73.45 प्रतिशत मतदान हुआ है.

औद्योगिक उत्पादन में गिरावट जारी, 21 महीने में सबसे खराब प्रदर्शन केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) की ओर से जारी नए आंकड़ों के मुताबिक मार्च, 2018 में औद्योगिक उत्पादन सूचकांक (आईआईपी) में 5.3 फीसदी की वृद्धि दर्ज की गई थी. आईआईपी में इससे पहले जून 2017 में 0.3 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई थी. कुल मिलाकर चौकीदार नाकारा & निकम्मा निकला !! गोदीमीडिया वालो '' डरो मत,,धोडा हिम्मत दिखाओ सच बोलने की और दिखाने की'' !! Are ye kaise...Isme congress ki kuch chal hai...🤔 फिर भी मेरा देश उन्नति कर रहा है

नीतीश सरकार ने पांच साल में दिए 500 करोड़ के ऐड, चुनावी साल में सबसे ज्‍यादा बिहार में नीतीश कुमार की सरकार ने विज्ञापनों पर काफी रुपये खर्च किए। टीवी, रेडियो, अख़बार और मैग्जीन को अरबों रुपये के विज्ञापन दिए गए।

1107 करोड़ की संपत्ति वाले रमेश इस चुनाव में सबसे अमीर प्रत्याशी नाम रमेश शर्मा। कुल संपत्ति 1107 करोड़। पाटलिपुत्र से निर्दलीय प्रत्याशी और सातवें चरण ही नहीं, इस लोकसभा चुनाव के सबसे अमीर प्रत्याशी हैं। Election2019 Loksabhaelections2019 ElectionCommissionOfIndia ElectionCommission rameshsharma

लोकसभा चुनाव 2019 : क्या तस्वीर हुई साफ? छठे चरण के मतदान की 11 बड़ी बातें लोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को पश्चिम बंगाल में भाजपा उम्मीदवार भारती घोष पर हमला किया गया और उत्तरप्रदेश में भगवा दल के एक विधायक ने एक चुनाव अधिकारी की कथित तौर पर पिटाई की. इस चरण में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और छह राज्यों की 59 सीटों पर 63 फीसदी से अधिक वोट पड़े. इस चरण में उत्तरप्रदेश में 14 सीटों, हरियाणा की दस सीटों, बिहार, मध्यप्रदेश और पश्चिम बंगाल में आठ - आठ सीटों, झारखंड में चार सीटों और दिल्ली में सात सीटों पर वोट डाले गए. दिल्ली में वोट डालने वाली प्रमुख हस्तियों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शामिल हैं. आज के मतदान के साथ ही 543 लोकसभा क्षेत्रों में से करीब 89 फीसदी सीटों पर चुनाव संपन्न हो गए जबकि शेष 59 सीटों पर 19 मई को चुनाव होंगे. चुनाव आयोग ने विभिन्न राज्यों और दिल्ली में 63.48 फीसदी मतदान की घोषणा की, वहीं पश्चिम बंगाल में 80 फीसदी से अधिक वोट पड़े जबकि राष्ट्रीय राजधानी में महज 60.21 फीसदी मतदान हुआ. 2014 में यह 63.37 प्रतिशत था. चुनाव आयोग ने कहा कि मतदान प्रतिशत रात नौ बजे दर्ज किया गया. यह आंकड़ा अंतिम नहीं है और इसमें वृद्धि हो सकती है क्योंकि कुछ स्थानों पर मतदान चल रहा है. खास बात यह है कि अब सिर्फ अंतिम चरण का चुनाव ही बचा है लेकिन अभी तक कोई भी दावे से नहीं कह सकता है कि केंद्र में किसकी सरकार बनने वाली है. हालांकि नेताओं को अपने-अपने दावे जरूर हैं. चुनाव की स्थिति स्पष्ट है बोया पेड़ बाबुल का तो आम कहां से खाए जो जग दी आपने वही तो जग लौट आई

लोकसभा चुनाव 2019: ‘धनकुबेर’ उम्मीदवारों में उत्तर-पूर्व टॉप पर, 4.14 करोड़ है औसत संपत्ति लोकसभा चुनाव 2019: ‘धनकुबेर’ उम्मीदवारों में उत्तर-पूर्व टॉप पर, 4.14 करोड़ है औसत संपत्ति Mahasangram LokSabhaElections2019 VoteKaro वोटकरो Candidates

बैंक धोखाधड़ी मामले में ईडी ने 483 करोड़ रु की संपत्ति जब्त की मुंबई के तायल समूह पर बैंक धोखाधड़ी का आरोप ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई की | Enforcement Directorate attaches properties worth Rs 483 cr in bank

नोटबंदी: AXIS बैंक मनी लांड्रिंग मामले में 2 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति कुर्क ईडी ने कहा कि मोहित गर्ग, नितिन गुप्ता और कुशवाहा लोगों से चलन से हटाये गये नोट लेते और मुखौटा कंपनियों के खाते में जमा करते. यह काम एक्सिस बैंक के अधिकारियों की मदद से किया गया. अमित शाह का 600 करोड़ का क्या हुआ ..? ? ? ?

लोकसभा चुनावः सबसे ज्यादा किसान तो 200 उम्मीदवारों ने खुद को बताया बेरोजगार चुनावी घोषणा पत्र और सुर्खियों में बने रहने के साथ-साथ किसान और बिजनेसमैन 17वीं लोकसभा के लिए हो रहे चुनाव में एक अन्य मामले में शीर्ष पर बने हुए हैं. 2019 के आम चुनाव में किस्मत आजमा रहे उम्मीदवारों में सबसे बड़ी संख्या इन्हीं 2 वर्गों किसान और बिजनेसमैन की है. यानी इस बार कुल उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा उम्मीदवार किसान और बिजनेसमैन ही हैं. NikhilRampal1 क्या खोज हैं ! NikhilRampal1 desh ka sabse bada kissan to rabart vadra he wo to pura kheti se juda huahe jishki zamin pe nazar padi wo zamin vadra ki hogeya NikhilRampal1 हेमा मालिनी एक मेहनती नेता है वह दूसरी अदाकारा ओं की तरह नहीं कि जीतने के बाद अपने क्षेत्र से भाग जाएं वह अपने क्षेत्र में पूरी ताकत के साथ काम करती है वे उन्होंने 5 साल पूरी ताकत के साथ काम किया भी है और इस बार भी उनकी जीत सुनिश्चित है

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

15 मई 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

अगर Aadhaar में बदलवाना हो पता और नहीं हो कोई दस्तावेज तो...

अगली खबर

'छेड़खानी का विरोध करने गए' पिता की हत्या की पूरी कहानी
अगर Aadhaar में बदलवाना हो पता और नहीं हो कोई दस्तावेज तो... 'छेड़खानी का विरोध करने गए' पिता की हत्या की पूरी कहानी