Mob Lynching, Pehlu Khan, Dadri Akhlaq, Alwar Pehlu Khan, Mob Lynching, Cow Smuggling, Rajasthan Cops, Pehlu Khan Sons, Lynching Of Tabrez Ansari, Jharkhand, Lynching Of Muslims, Alwar Lynching Chargesheet

Mob Lynching, Pehlu Khan

सपादकीयः भीड़तंत्र के विरुद्ध

सपादकीयः भीड़तंत्र के विरुद्ध

7/12/2019

सपादकीयः भीड़तंत्र के विरुद्ध

आयोग के सुझाव के मुताबिक इस कानून का नाम उत्तर प्रदेश कॉम्बेटिंग ऑफ मॉब लिंचिंग एक्ट रखा जा सकता है। प्रस्तावित कानून के मसविदे में ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर पुलिस अफसरों से लेकर जिलाधिकारी तक की जिम्मेदारी तय करने और दोषी पाए जाने पर सजा का प्रावधान करने का भी सुझाव दिया गया है।

इसके अलावा, इसमें भीड़ के चेहरे में हिंसा करने वालों को सात साल से लेकर आजीवन कैद तक की सजा की व्यवस्था करने की बात शामिल की गई है। लेकिन इस तरह की हिंसा के मामलों में आमतौर पर पीड़ित और उसके परिवार के सामने पैदा हालात पर गौर नहीं किया जाता है। इस लिहाज से देखें तो उत्तर प्रदेश विधि आयोग ने प्रस्तावित कानून में भीड़ की हिंसा के शिकार व्यक्ति के परिवार और गंभीर रूप से घायलों के साथ ही संपत्ति नुकसान के लिए भी मुआवजे की व्यवस्था करने का सुझाव दिया है। ऐसी घटनाएं फिर नहीं हों, इसके लिए भी पीड़ित व्यक्ति और उसके परिवार के पुनर्वास और पूरी सुरक्षा के इंतजाम किए जाने का भी प्रावधान करने की बात कही गई है।

गौरतलब है कि गोरक्षकों और भीड़ की हिंसा और किसी की हत्या कर देने के मसले पर सुप्रीम कोर्ट कह चुका है कि कोई भी नागरिक अपने हाथ में कानून नहीं ले सकता। यह राज्य सरकारों का कर्तव्य है कि वे कानून-व्यवस्था बनाए रखें। अदालत ने साफतौर पर कहा था कि लोकतंत्र में भीड़तंत्र की इजाजत नहीं दी जा सकती। हालांकि यह खुद सरकारों के लिए अपनी साख का सवाल है कि वे अपने दायरे में इस तरह की अराजकता और हिंसा पर पूरी तरह लगाम लगाएं, जिससे कानून-व्यवस्था की उपस्थिति साफ दिखे। यों भी किसी राजनीतिक पक्ष के नफा-नुकसान का मामला मान कर भी लंबे समय तक इनकी अनदेखी नहीं की जा सकती थी। लेकिन अफसोस की बात यह है कि कुछ राजनीतिकों की ओर से की गई बयानबाजियों की वजह से स्थानीय स्तर पर कुछ अराजक तत्त्वों को शह मिली और देश के अलग-अलग हिस्सों से गोरक्षा या फिर कोई खास नारा लगाने के नाम पर भीड़ की हिंसा और किसी हत्या के अनेक मामले सामने आए। इससे देश की छवि भी बुरी तरह प्रभावित हुई। इसलिए भीड़ की हिंसा पर रोक लगाने और इसके दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की कानूनी व्यवस्था की जरूरत तत्काल महसूस की जा रही थी। इस लिहाज से देखें तो उत्तर प्रदेश विधि आयोग की पहल स्वागतयोग्य है।

Also Read Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

और पढो: Jansatta

युपी लॉ कमिशन ने २०१२ से २०१९ तक के मोबलिंचिंग के मामले एकत्र करने पर पता चला कि २०१४ से पहले मोबलिंचिंग ज्यादा होती थी। हिन्दुओ द्वारा कम की गई सलैक्टिव मिडिया बदनाम कर रहा है, भारत को।। नोट कर लो होना कुछ नही है निहत्थे मनुष्यो को झुंड मे घेरकर हत्याए करने वाले अपने पालतू नरभक्षियो को माला पहनाकर सम्मानित कर हौसला बढाने वाले सत्ताधारियो को महापुरुष साबित करने का कुटिल प्रयास मत करो.... BBCHindi thewirehindi sardanarohit manakgupta

मशहूर वकील इंदिरा जयसिंह के मुंबई और दिल्ली स्थित घर और ऑफिस पर सीबीआई की रेडजयसिंह के फाउंडेशन 'लायर्स कलेक्टिव' पर विदेशी चंदा विनयमन कानून (FCRA) को तोड़ने का आरोप है।

सेमीफाइनल में हार के बाद बोले कोहली- वर्ल्ड कप में हो IPL स्टाइल का प्लेऑफहार के बाद टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने भविष्य में वर्ल्ड कप के नॉकआउट चरण में बदलाव करने का सुझाव दिया है. कोहली ने इसमें बदलाव कर इसे आईपीएल शैली के प्लेऑफ जैसा बनाने का सुझाव दिया है. To kya maza WC ka? Har gye ab kya Jit gye hote to history ban jati gya sab hath me se😮 Dont make excuses now we know how u played semifinal.

SC की वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के घर व दफ्तर पर CBI का छापाकेंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने गुरुवार सुबह सुप्रीम कोर्ट की सीनियर वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के दिल्ली और मुंबई स्थित घर और दफ्तर पर छापेमारी की है. misuse of power. no need for such act ये तो अघोषित एमरजेंसी है कहने वाले ,,,गैंग अभी बाहर आते होंगे । ये तो सुरेंदर कोली और पंढेर की बेगम है , उनकी फांसी रुकवाने के लिए दर दर भटक रही है, कठुवा कांड की षड्यंत्रकर्ता भी यही थी

चंद्रयान के बाद सूर्य, मंगल, शुक्र की बारी, स्पेस में जाएगी भारतीय अंतरिक्ष यात्रियों की सवारीभारतीय अंतरिक्ष एजेंसी इसरो (ISRO) अपने दूसरे मून मिशन Chandrayaan-2 की लॉन्च के बाद शांत नहीं बैठेगी. अगले 5-7 सालों में वह ऐसे मिशन करेगी जिससे दुनियाभर में इसरो और भारत के स्पेस प्रोग्राम को लेकर मौजूद भरोसा और मजबूत हो जाएगा. आइए जानते हैं इसरो द्वारा भविष्य के लॉन्च किए जाने वाले उन अंतरिक्ष अभियानों के बारे में जो देश का नाम बढ़ाने वाले हैं...

बेटे के इलाज के लिए 2 करोड़ का इंजेक्शन चाहिए, अपनी पूरी जमीन बेच चुका पिताहंटर सिंड्रोम से पीड़ित है 6 साल का बच्चा, भारत में नहीं है इलाज दो साल पहले एम्स ने की थी बीमारी की पुष्टि अब तक इलाज में 70 लाख रुपए खर्च कर चुका परिवार | Etawah\'s suffering from Dev Hunter syndrome; Its treatment cost 1.92 crores, only 5 lakhs help Pm. Se guhar lagaye kaam ho jayega, CMOfficeUP PMOIndia myogiadityanath drdineshbjp BajpayeeManoj SrBachchan AmitShahOffice Sir Ji, Requesting UP goverment & Central Goverment to pls support this family... Pls do support when parents now not able to continue. myogiadityanath

कर्नाटक-गोवा के राजनीतिक हालात पर सोनिया-राहुल का प्रदर्शन, लोकतंत्र बचाओ के नारे लगाएकर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस के 16 विधायक अब तक इस्तीफा दे चुके गोवा में कांग्रेस 15 में से 10 विधायक बुधवार को भाजपा में शामिल हो गए थे राज्यसभा में चिदंबरम बोले- राजनीतिक अस्थिरता से अर्थव्यवस्था कमजोर होगी | Parliament News Updates: Rajya Sabha Discusses Karnataka Goa Political Crisis, Congress leader P Chidambaram INCIndia RahulGandhi Lulzzzzzzzzzz.... INCIndia RahulGandhi Accept you are Sinking Ship, all will leave you. INCIndia RahulGandhi Pahle apni party bachawo phir democracy bachana

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

13 जुलाई 2019, शनिवार समाचार

पिछली खबर

चौपालः बर्बादी के बीज

अगली खबर

संपादकीयः समाधान की दिशा
चौपालः बर्बादी के बीज संपादकीयः समाधान की दिशा