Home, House, Sell, Realestate, Affordable Houses, Sales Of Expensive Houses, Expensive Houses Sales İncrease, Home Buyers, Real Estate, Housing Sales, Real Estate Market, Work From Home Culture, Work From Home, महंगे मकानों की बिक्री, मकानों की बिक्री, Business News İn Hindi, Business Diary News İn Hindi, Business Diary Hindi News

Home, House

सपनों का आशियाना: महंगे मकानों की बिक्री ज्यादा, किफायती मकानों की मांग में 24 फीसदी गिरावट

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शुरू वर्क फ्रॉम होम कल्चर ने बड़े और महंगे मकानों की मांग बढ़ा दी है।

22-10-2021 05:00:00

सपनों का आशियाना: महंगे मकानों की बिक्री ज्यादा, किफायती मकानों की मांग में 24 फीसदी गिरावट Home House Sell RealEstate

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए शुरू वर्क फ्रॉम होम कल्चर ने बड़े और महंगे मकानों की मांग बढ़ा दी है।

इस दौरान कुल बिक्री में किफायती मकानों की मांग घटकर 24 फीसदी रह गई। एनारॉक समूह के चेयरमैन अनुज पुरी का कहना है कि वर्क फ्रॉम होम कल्चर की वजह से लोगों में बड़े और महंगे मकानों की मांग बढ़ी है। इसमें आईटी/आईटीईएस क्षेत्र में लगातार हो रही भर्तियों की भी अहम भूमिका रही है।

हेलिकॉप्टर हादसे में बिपिन रावत की मौत, पीएम मोदी ने कहा- गहरा दुख पहुँचा है - BBC Hindi हेलिकॉप्टर दुर्घटना में बिपिन रावत और उनकी पत्नी का निधन - BBC Hindi Bipin Rawat Death News Live Updates: नहीं रहे CDS बिपिन रावत, भारतीय वायुसेना ने ट्वीट कर दी जानकारी

प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के आंकड़ों के मुताबिक, बड़े मकानों की मांग में तेजी की वजह से मुंबई जैसे शहरों में तीन बेडरूम वाले मकानों की कीमतें सालाना आधार पर चार फीसदी से ज्यादा बढ़ गई है, जबकि एक और दो बेडरूम वाले मकानों की कीमतें स्थिर बनी हुई हैं।बिक्री में दोगुना इजाफा

देश के सात प्रमुख शहरों में सितंबर तिमाही में मकानों की बिक्री सालाना आधार पर दोगुना बढ़कर 60,000 इकाई पहुंच गई। इस दौरान नए लॉन्च में सालाना आधार पर 90 फीसदी तक तेजी रही। संपत्ति सलाहकार कंपनियों का कहना है कि टीकाकरण अभियान में तेजी, वित्तीय, आईटी एवं आईटीईएस क्षेत्रों में भर्तियां बढ़ने और होम लोन की ब्याज दरें ऐतिहासिक रूप से निचले स्तर पर आने की वजह से देशभर में मकानों की मांग बढ़ी है। उनका कहना है कि आपूर्ति के मुकाबले मकानों की मांग धीरे-धीरे बढ़ रही है, इसलिए आने वाले समय में कीमतों में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। एनारॉक के मुताबिक, सितंबर तिमाही में सात प्रमुख शहरों में मकानों की औसत कीमत तीन फीसदी बढ़ी है। headtopics.com

1.4 गुना तक बढ़ सकती हैं कीमतेंसंपत्ति सलाहकार नाइटफ्रैंक का कहना है कि छह-सात साल तक कीमतों में लगातार गिरावट के बाद दाम धीरे-धीरे बढ़ने लगे हैं। हालांकि, मांग में तेजी के अनुरूप कीमतें नहीं बढ़ रही हैं। इसके बावजूद अगले चार-पांच वर्षों में देशभर में मकान की कीमतों में वर्तमान स्तर के मुकाबले 1.3-1.4 गुना इजाफा देखने को मिल सकता है।

मुंबई में मकान खरीदना सबसे महंगा, एनसीआर में सस्तामुंबई में मकान खरीदना सबसे महंगा है। यहां एक-दो बेडरूम की कीमत 50 लाख से एक करोड़ रुपये है। तीन-चार बेडरूम के दाम दो से पांच करोड़ रुपये है।दिल्ली-एनसीआर का रियल एस्टेट बाजार सबसे किफायती है। यहां एक-दो बेडरूम वाले मकानों के दाम (1,500 वर्ग फुट) 73 लाख से एक करोड़ है। तीन-चार बेडरूम (2,500 से 3,500 वर्ग फुट) की कीमत 1.7 से 2.1 करोड़ है।

हैदराबाद में एक-दो बेडरूम वाले मकानों के दाम 45 से 70 लाख रुपये है, जबकि तीन-चार बेडरूम की कीमत एक से तीन करोड़ रुपये है।बंगलूरू में एक-दो बेडरूम वाले मकानों की कीमत 40 से 70 लाख है, जबकि तीन-चार बेडरूम के दाम एक से दो करोड़ रुपये है।(आंकड़े...प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के)

विस्तार जुलाई-सितंबर तिमाही में देश के सात प्रमुख शहरों में बिके कुल मकानों में 40 लाख से 80 लाख रुपये कीमत के मकानों की हिस्सेदारी बढ़कर 41 फीसदी पहुंच गई। 80 लाख से 1.5 करोड़ रुपये कीमत के मकानों की हिस्सेदारी 25 फीसदी रही।विज्ञापनइस दौरान कुल बिक्री में किफायती मकानों की मांग घटकर 24 फीसदी रह गई। एनारॉक समूह के चेयरमैन अनुज पुरी का कहना है कि वर्क फ्रॉम होम कल्चर की वजह से लोगों में बड़े और महंगे मकानों की मांग बढ़ी है। इसमें आईटी/आईटीईएस क्षेत्र में लगातार हो रही भर्तियों की भी अहम भूमिका रही है। headtopics.com

बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर क्रैश, '14 में से 13 की मौत' - BBC Hindi चॉपर क्रैश में जनरल बिपिन रावत की मौत, पीएम मोदी-राहुल गांधी समेत तमाम लोगों ने जताया दुख हेलीकॉप्‍टर हादसे में केवल ग्रुप कैप्‍टन वरुण सिंह की ही बची जान, इसी वर्ष अगस्‍त में मिला है शौर्य चक्र

प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के आंकड़ों के मुताबिक, बड़े मकानों की मांग में तेजी की वजह से मुंबई जैसे शहरों में तीन बेडरूम वाले मकानों की कीमतें सालाना आधार पर चार फीसदी से ज्यादा बढ़ गई है, जबकि एक और दो बेडरूम वाले मकानों की कीमतें स्थिर बनी हुई हैं।बिक्री में दोगुना इजाफा

देश के सात प्रमुख शहरों में सितंबर तिमाही में मकानों की बिक्री सालाना आधार पर दोगुना बढ़कर 60,000 इकाई पहुंच गई। इस दौरान नए लॉन्च में सालाना आधार पर 90 फीसदी तक तेजी रही। संपत्ति सलाहकार कंपनियों का कहना है कि टीकाकरण अभियान में तेजी, वित्तीय, आईटी एवं आईटीईएस क्षेत्रों में भर्तियां बढ़ने और होम लोन की ब्याज दरें ऐतिहासिक रूप से निचले स्तर पर आने की वजह से देशभर में मकानों की मांग बढ़ी है। उनका कहना है कि आपूर्ति के मुकाबले मकानों की मांग धीरे-धीरे बढ़ रही है, इसलिए आने वाले समय में कीमतों में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है। एनारॉक के मुताबिक, सितंबर तिमाही में सात प्रमुख शहरों में मकानों की औसत कीमत तीन फीसदी बढ़ी है।

1.4 गुना तक बढ़ सकती हैं कीमतेंसंपत्ति सलाहकार नाइटफ्रैंक का कहना है कि छह-सात साल तक कीमतों में लगातार गिरावट के बाद दाम धीरे-धीरे बढ़ने लगे हैं। हालांकि, मांग में तेजी के अनुरूप कीमतें नहीं बढ़ रही हैं। इसके बावजूद अगले चार-पांच वर्षों में देशभर में मकान की कीमतों में वर्तमान स्तर के मुकाबले 1.3-1.4 गुना इजाफा देखने को मिल सकता है।

मुंबई में मकान खरीदना सबसे महंगा, एनसीआर में सस्तामुंबई में मकान खरीदना सबसे महंगा है। यहां एक-दो बेडरूम की कीमत 50 लाख से एक करोड़ रुपये है। तीन-चार बेडरूम के दाम दो से पांच करोड़ रुपये है।दिल्ली-एनसीआर का रियल एस्टेट बाजार सबसे किफायती है। यहां एक-दो बेडरूम वाले मकानों के दाम (1,500 वर्ग फुट) 73 लाख से एक करोड़ है। तीन-चार बेडरूम (2,500 से 3,500 वर्ग फुट) की कीमत 1.7 से 2.1 करोड़ है। headtopics.com

हैदराबाद में एक-दो बेडरूम वाले मकानों के दाम 45 से 70 लाख रुपये है, जबकि तीन-चार बेडरूम की कीमत एक से तीन करोड़ रुपये है।बंगलूरू में एक-दो बेडरूम वाले मकानों की कीमत 40 से 70 लाख है, जबकि तीन-चार बेडरूम के दाम एक से दो करोड़ रुपये है।(आंकड़े...प्रॉपटाइगर डॉट कॉम के)

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

Kushinagar को Airport की सौगात, Jyotiraditya Scindia ने की PM Narendra Modi की तारीफपीएम नरेंद्र मोदी ने कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन किया. उन्होंने कहा कि भारत बौद्ध समाज की आस्था का केंद्र है. इस कार्यक्रम में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी हिस्सा लिया. कार्यक्रम में सिंधिया ने बताया कि दिल्ली से कुशीनगर के लिए सीधी फ्लाइट 26 नवंबर से शुरू होगी. उसके बाद 18 दिसंबर को कुशीनगर को मुंबई और कोलकाता से जोड़ा जाएगा. केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग से कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट को 260 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है. इसमें टर्मिनल 3 हजार 600 वर्ग मीटर में फैला है. नया टर्मिनल भीड़भाड़ वाले समय में 300 यात्रियों को आने-जाने की सुविधा देगा. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो. यही खास है कि yadavakhilesh जी कह रहे हैं, हवाई अड्डा उन्होने ने बनवाया है और मोदी जी रिबन काट रहे हैं।

CBSE परीक्षा मोड में बदलाव की मांग, छात्र बोले- दोनों ही मोड में हो परीक्षानई दिल्ली। सीबीएसई बोर्ड परीक्षा 2022 टर्म-1 का आयोजन ऑफलाइन होने वाला है, लेकिन छात्रों का एक समूह यह मांग कर रहा है कि परीक्षा का आयोजन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों मोड में हो। हालांकि सीबीएसई ने केवल ऑफलाइन मोड में परीक्षा आयोजित करने की घोषणा की है। वहीं दूसरी ओर 10वीं और 12वीं कक्षाओं के उन छात्रों को अगले महीने से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षा के टर्म-1 के लिए शहर के परीक्षा केंद्र में बदलाव के लिए अनुरोध करने की अनुमति होगी, जो उन शहरों में नहीं हैं, जहां उन्होंने दाखिला लिया था।

मनीष गुप्ता मर्डर केस की CBI जांच की मांग, पत्नी की SC में याचिका- SIT पर भरोसा नहींकानपुर के कारोबारी मनीष गुप्ता की मौत की जांच सीबीआई से कराने की मांग को लेकर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई है. ये याचिका मनीष की पत्नी मीनाक्षी ने लगाई है. मनीष गुप्ता की हत्या पिछले महीने गोरखपुर के एक होटल में हो गई थी. mewatisanjoo Honi chahiye, I am sure all those police walas must be yadavakhilesh party supporters. mewatisanjoo ये संघी बनिया था

पंजाब कांग्रेस विधायक ने की युवक की पिटाई, युवक ने पूछा था यह सवाल...सोशल मीडिया पर पंजाब कांग्रेस के एक विधायक का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें विधायक और उनके सुरक्षा गार्ड एक युवक के सवाल करने से नाराज होकर उसकी पिटाई करते दिखाई पड़ रहे हैं। कांग्रेस विधायक की इस हरकत पर उनकी पार्टी के लोग भी काफी नाराज हैं।

कर्नाटक हाईकोर्ट की टिप्पणी: मुस्लिम निकाह एक अनुबंध है, हिंदू विवाह की तरह संस्कार नहींकर्नाटक हाईकोर्ट की टिप्पणी: मुस्लिम निकाह एक अनुबंध है, हिंदू विवाह की तरह संस्कार नहीं karnatakahighcourt जय हिन्द🇮🇳😂बेतुकी बातें कर रहे है कोर्ट विश्व भर में अनेको प्रकार से विवाह संस्कार है इस तरह किसी पर उगली उठा देना अच्छी मानसिकता व समझ नहीं है तलाक़ जैसी समस्याएँ व अन्य पारिवारिक समस्याएँ भी सभी विवाह संस्कारों में पायी जाती है रीति रिवाज विधि विधान एक समान नहीं हो सकते😂😂😂 Divorce legally process se hona chahiye so that maintenance charge utna mil jaye jitne me achhe se guzara kiya ja sake. Court bhi wohi boli bol raha hai jo bjp aur dusre bhagwa dal chahte hai. Har dharam ke apne riti riwaj hai. Court hota kaun hai kisi ke riti riwajo ko galat ya sahi kehne wala.

उत्तराखंड की नैनी झील कैसे तबाही की झील में तब्दील हुई - BBC News हिंदीउत्तराखंड के कुमाऊँ क्षेत्र में बारिश के सारे रिकॉर्ड टूट गए हैं और मशहूर नैनी झील से पानी ओवरफ़्लो होकर बह रहा है. प्राकृतिक आपदा में अब तक 46 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. प्रकृति तेज़ी से अपने को परिवर्तित कर रही है हम अभी तक उसके इस परिवर्तन को समझ नहीं पा रहे हैं या समझने की कोशिश नहीं कर रहे