Srilanka, Srilankaterrorattack, Srilankaterrorattacks, Srilankablasts, Vesak, Vesak 2019, Vesakday, Vesak, Vesak Day, Vesak Day Celebration İn Sri Lanka, Sri Lanka, बुद्ध जयंती, Easter Attacks Sri Lanka, Prisoners Released, 762 Prisoners Released İn Sri Lanka, Maithripala Sirisena, World News İn Hindi, World Hindi News

Srilanka, Srilankaterrorattack

श्रीलंका में कड़ी सुरक्षा के बीच मनाया गया वेसाक त्योहार, राष्ट्रपति सिरिसेना ने रिहा किए 762 कैदी

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने वेसाक (बुद्ध जयंती) के मौके पर 762 दोषियों को क्षमादान दिया। इसके साथ ही

18.5.2019

श्रीलंका में कड़ी सुरक्षा के बीच मनाया गया वेसाक त्योहार, राष्ट्रपति सिरिसेना ने रिहा किए 762 कैदी SriLanka srilanka terrorattack SriLankaTerrorAttacks SriLankaBlasts Vesak Vesak 2019 Vesak Day

श्रीलंका के राष्ट्रपति मैत्रीपाला सिरिसेना ने वेसाक ( बुद्ध जयंती ) के मौके पर 762 दोषियों को क्षमादान दिया। इसके साथ ही

ईस्टर धमाकों के चलते श्रीलंका में कड़ी सुरक्षा के बीच यह पर्व मनाया गया। 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार धमाकों की वजह से देश में तरीब 260 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 500 घायल हो गए थे। इस कारण से श्रीलंका सरकार ने पांच दिन तक चलने वाले राष्ट्रीय वेसाक पर्व को सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए दो दिन तक सीमित कर दिया था। मई के महीने में आने वाला वेसाक दिवस पूरी दुनिया के बौद्ध मतावलंबियों के लिए सबसे पवित्र दिन माना जाता है। इसी दिन महात्मा बुद्ध का जन्म हुआ था, उन्हें ज्ञान प्राप्ति हुई थी और उनकी मृत्यु हुई थी। इस मौके पर राष्ट्रपति सिरिसेना ने 762 कैदियों को रिहा किया। इनमें 26 महिलाएं शामिल थीं। हालांकि, राष्ट्रपति ने बौद्ध भिक्षु गलगोडाटे ज्ञानसारा के बारे में कुछ नहीं किया, जिनकी रिहाई की बौद्ध नेता मांग कर रहे थे। अदालत की अवमानना के लिए जेल में बंद ज्ञानसाना साल 2013 से गैर-मुस्लिम अल्पसंख्यक अभियान में सबसे आगे थे। यह उम्मीद की जा रही थी कि राष्ट्रपति सिरिसेना वेसाक के मौके पर उन्हें रिहा कर सकते हैं। जिन लोगों को रिहा किया गया वह छोटे अपराधों के लिए दोषी थे। इनमें से कोई भी हत्या, दुष्कर्म और नशीली दवाओं से संबंधित अपराधों में शामिल नहीं था। ईस्टर धमाकों के चलते श्रीलंका में कड़ी सुरक्षा के बीच यह पर्व मनाया गया। विज्ञापन विज्ञापन 21 अप्रैल को हुए सिलसिलेवार धमाकों की वजह से देश में तरीब 260 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 500 घायल हो गए थे। इस कारण से श्रीलंका सरकार ने पांच दिन तक चलने वाले राष्ट्रीय वेसाक पर्व को सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए दो दिन तक सीमित कर दिया था। मई के महीने में आने वाला वेसाक दिवस पूरी दुनिया के बौद्ध मतावलंबियों के लिए सबसे पवित्र दिन माना जाता है। इसी दिन महात्मा बुद्ध का जन्म हुआ था, उन्हें ज्ञान प्राप्ति हुई थी और उनकी मृत्यु हुई थी। इस मौके पर राष्ट्रपति सिरिसेना ने 762 कैदियों को रिहा किया। इनमें 26 महिलाएं शामिल थीं। हालांकि, राष्ट्रपति ने बौद्ध भिक्षु गलगोडाटे ज्ञानसारा के बारे में कुछ नहीं किया, जिनकी रिहाई की बौद्ध नेता मांग कर रहे थे। अदालत की अवमानना के लिए जेल में बंद ज्ञानसाना साल 2013 से गैर-मुस्लिम अल्पसंख्यक अभियान में सबसे आगे थे। यह उम्मीद की जा रही थी कि राष्ट्रपति सिरिसेना वेसाक के मौके पर उन्हें रिहा कर सकते हैं। जिन लोगों को रिहा किया गया वह छोटे अपराधों के लिए दोषी थे। इनमें से कोई भी हत्या, दुष्कर्म और नशीली दवाओं से संबंधित अपराधों में शामिल नहीं था। Recommended और पढो: Amar Ujala

हम 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ के ऊपर भारी हैं: AIMIM नेता का भड़काऊ बयान



VIDEO: कोलकाता में बच्चे को जन्म देने के बाद महिला की मौत, गुस्साए पति ने डॉक्टर को जड़ा थप्पड़

शाहीन बाग फिर पहुंचे मध्यस्थ, कहा- तकलीफें दूर करने के लिए मिलकर रास्ता निकालें



वारिस पठान का भड़काऊ बयान, कहा- हम 15 करोड़ 'मुस्लिम' 100 करोड़ लोगों पर भारी

नागौर केस: पायलट का गहलोत पर निशाना, कहा- आत्म चिंतन करना होगा



सिंधिया से समर्थकों की अपील- पिता की तर्ज पर कांग्रेस से अलग बनाएं नई पार्टी

राष्ट्रपति मैक्रों ने विदेशी इमामों के फ्रांस आने पर लगाया बैन, कहा- ये कट्टरपंथ फैलाते हैं



जनता अपनी बेवकूफी का परिचय एक बार फिर देगी, अगर बीजेपी जीतती है

सांप्रदायिक हिंसा के बाद श्रीलंका के चार कस्बों में फिर लगाया गया कर्फ्यूसांप्रदायिक हिंसा के बाद श्रीलंका के चार कस्बों में फिर लगाया गया कर्फ्यू SriLanka SriLankaTerrorAttacks SriLankaBombings curfew

बढ़ती सांप्रदायिक हिंसा के मद्देनज़र पूरे श्रीलंका में कर्फ्यू, उल्लंघन करने पर गोली मारने के आदेशदेश के सेना प्रमुख महेश सेनानायक का कहना है कि सैनिकों को कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों से कड़ाई से निपटने के निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने कहा कि अगर कोई कर्फ्यू का उल्लंघन करता है तो सेना उसे देखते ही गोली मार देगी.

भारत ने श्रीलंका के विद्रोही संगठन लिट्टे पर 5 साल के लिए बढ़ाया प्रतिबंधगृह मंत्रालय की ओर से जारी किए गए बयान में कहा गया कि लिट्टे की ओर से जारी हिंसा और विध्वंसकारी गतिविधियां भारत की एकता और अंखडता के लिए हानिकारक हैं. गृह मंत्रालय का कहना है कि लिट्टे का रुख भारत विरोधी है और यह संगंठन भारत के नागरिकों के लिए गंभीर खतरा पैदा करता है. मतलब अगली सरकार तुम्हारी ही है चचा। गेम खेल चुके हो।

श्रीलंका हमले के आरोपी पर बड़ा खुलासा, रह चुका है भारतीय एजेंसियों के रडार परश्रीलंका में ईस्टर पर हुए सिलसिलेवार धमाके का मुख्य आरोपी आदिल अमीज को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. आदिल भारतीय खुफिया एजेंसियों के रडार पर रह चुका है. सारी दुनिया में आतंकवाद का धर्म पता चल चुका है पर भारत में कुछ हिंदुओं की मती क्यों मारी हुई है ।

Lok Sabha Chunav 2019: …जब वोट डालने के लिए लाइन में खड़े हुए देश के राष्ट्रपतिआयेंगे तो मोदी ही 🙏🙏 नमो_अगेन BJP Great sir I regard you. Now I think india is in safe hands. हमारे देश के राष्टपती जी महिला के लाईन मे लागे हुऐ

ट्रंप ने साइबर हमले की आशंका में नेशनल इमरजेंसी घोषित कीअमरीका के राष्ट्रपति ने विदेशी साइबर हमले से बचने के लिए उठाया क़दम. ट्रंप को भी डर लगता है। 🌜🌚🌛🐍

अमित शाह के कोलकाता रोड शो में हिंसा: TMC ने मांगा EC से समय तो BJP बोली- ममता के प्रचार पर लगे बैन, 10 बड़ी बातेंभाजपा अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के मंगलवार को कोलकाता में हुए विशाल रोड शो के दौरान भाजपा और तृणमूल कांग्रेस (TMC) समर्थकों के बीच हिंसक झड़पें हुईं. हालांकि शाह को किसी तरह की चोट नहीं आई और पुलिस उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले गई. अधिकारियों ने बताया कि शहर के कुछ हिस्सों में हिंसा भड़क उठी जब विद्यासागर कॉलेज के भीतर से टीएमसी के कथित समर्थकों ने शाह के काफिले पर पथराव किया, जिससे दोनों पार्टियों के समर्थकों के बीच झड़प हुई. गुस्साए भाजपा (BJP) समर्थकों ने भी उसी तरह प्रतिक्रिया दी और कॉलेज के प्रवेशद्वार के बाहर टीएमसी प्रतिद्वंद्वियों के साथ मारपीट करते नजर आए. बाहर खड़ी कई मोटरसाइकलों को आग के हवाले कर दिया गया. ईश्वर चंद्र विद्यासागर की आवक्ष प्रतिमा भी झड़प के दौरान तोड़ दी गई. पुलिसकर्मी पानी भरी बाल्टियों से आग बुझाने की कोशिश करते देखे गए. रोडशो के लिए तैनात किए गए कोलकाता पुलिस (Kolkata Police) के दस्ते ने तुरंत हरकत में आते हुए इन समूहों का पीछा किया. ये सच है कि एसी तस्वीर किसी और राज्य की होती तो देश असुरक्षित क़रार दे दिया जाता। भारत छोड़ने की इच्छा प्रकट करने वालों की क़तारें लग गई होती। लोकतंत्र चूर चूर हो गया होता। भला लोकतंत्र की दो परिभाषा कैसे हो सकती है? BAN MAMTA FROM CAMPAIGN IMMEDIATELY पिक्चर में साफ़ साफ़ दीख रहा है कि भगवा कलर की कमीज़ पहने भाजपा के गुंडे पत्थरों से लाठी/डंडों से हमला कर रहे हैं...

ईस्टर संडे के बाद से श्रीलंका में बढ़ी सांप्रदायिक हिंसा, पूरे देश में लगा कर्फ्यूकटेला जहा जहा हिंसा अत्याचार अशांति वहां वहाँ हर एक देश से कटेला नाम की गंदगी को साफ करनी चाहिए। It will happen in India if we will not make population law in future. Jai hind

वो फेसबुक पोस्ट जिससे श्रीलंका में भड़की हिंसा, मस्जिदों पर हुए हमले, एक शख्स की हत्यारिपोर्ट के मुताबिक श्रीलंका के पुत्तलम जिले में दंगाइयों ने 45 साल के दुकान पर धारदार हथियारों से हमला कर दिया. इस घायल शख्स को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई. इस इलाके में दंगाइयों ने मस्जिदें जला दी और मुसलमानों के घरों पर हमला किया. पुलिस ने बताया कि ये लोग डंडों से लैस थे और हथियार लिए हुए थे. मस्जिदों पर हमले 😱😱, लगता है दुनिया को पता चल रहा है, आतंकवाद के बारे में। रोज़ा सिर्फ इसी लिए रखा जाता है बम कहाँ कहाँ फोड़ना है .. असमानीं 📖 शांति से रहना है मुल्लो के बारे में कुछ तो सोचना ही होगा😁

श्रीलंका में लगातार फैल रही सांप्रदायिक हिंसा के बाद पूरे देश में लगा कर्फ्यूश्रीलंका में ईस्टर के दिन हुए आत्मघाती हमले के बाद भड़की सांप्रदायिक हिंसा के लगातार फैलते रहने पर प्रशासन ने सोमवार को पूरे देश में 6 घंटे की कर्फ्यू लगा दिया. आत्मघाती हमले में करीब 260 लोग मारे गए थे. एक पुलिस प्रवक्ता ने कहा, आज रात 9 बजे से कल तड़के 4 बजे तक के लिए कर्फ्यू लगाया गया है. इस बीच सेना प्रमुख महेश सेनानायक ने कहा है कि सैनिकों को कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों से कड़ाई से निपटने का निर्देश दिया गया है. इसे सांप्रदायिक हिंसा नहीं बल्कि सच से सामना कहते हैं

श्रीलंका में फेसबुक पोस्ट से भड़की हिंसा के बाद फिर लगा कर्फ्यू, एक की मौतइससे पहले दिन में पुलिस ने चार शहरों कुलियापिटिया, हेट्टीपोला, बिंगिरिया और दुम्मालासुरिया से कर्फ्यू हटाने के कुछ हुआ तो हुआ



चेन्नई में CAA के खिलाफ प्रदर्शन: पुलिस की मंजूरी के बिना हजारों की संख्या में मुस्लिम सड़क पर उतरे

पूर्व PM मनमोहन सिंह का निशाना- 'मंदी' शब्द मान ही नहीं रही मोदी सरकार, अगर समस्याओं की पहचान नहीं हुई तो...

धार्मिक नेता बोले- पीरियड्स में पति के लिए खाना बनाया तो अगले जन्म में 'कुत्ता' बनेंगी महिलाएं, खाने वाले बनेंगे बैल

15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ

CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...'

अधीर रंजन बोले- क्या ट्रंप कोई भगवान है, जो 70 लाख लोग करेंगे स्वागत

NRC का क्या होगा असर? जबेदा बेगम के बाद अब पढ़िए फखरुद्दीन की दर्दभरी दास्तां, नागरिकता साबित करने में जुटे 19 लाख

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

18 मई 2019, शनिवार समाचार

पिछली खबर

राहुल, अखिलेश और मायावती से मिले नायडू, नतीजे से पहले तीसरे मोर्चे की सुगबुगाहट

अगली खबर

'पहले इतिहास पढ़कर आया कीजिए फिर बहस कीजिए', वरिष्ठ पत्रकार से भिड़ गए इतिहासकार
हम 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ के ऊपर भारी हैं: AIMIM नेता का भड़काऊ बयान VIDEO: कोलकाता में बच्चे को जन्म देने के बाद महिला की मौत, गुस्साए पति ने डॉक्टर को जड़ा थप्पड़ शाहीन बाग फिर पहुंचे मध्यस्थ, कहा- तकलीफें दूर करने के लिए मिलकर रास्ता निकालें वारिस पठान का भड़काऊ बयान, कहा- हम 15 करोड़ 'मुस्लिम' 100 करोड़ लोगों पर भारी नागौर केस: पायलट का गहलोत पर निशाना, कहा- आत्म चिंतन करना होगा सिंधिया से समर्थकों की अपील- पिता की तर्ज पर कांग्रेस से अलग बनाएं नई पार्टी राष्ट्रपति मैक्रों ने विदेशी इमामों के फ्रांस आने पर लगाया बैन, कहा- ये कट्टरपंथ फैलाते हैं सेना मुख्यालय साउथ ब्लॉक से शिफ्ट होगा दिल्ली कैंट, राजनाथ करेंगे भूमि पूजन प्रशांत किशोर को लेकर सुशील मोदी का बड़ा बयान- 'लालू-नीतीश की फिर दोस्ती कराने में लगे थे PK, दाल नहीं गली तो...' गृह मंत्री अमित शाह पहुंचे अरुणाचल तो चीन को लगी ‘मिर्ची’, दौरे का किया विरोध आज तक @aajtak भारत से नेपाल जा रहे रोहिंग्या मुसलमान, नेपाल के जेहादी गुटों से मिल रही फंडिंग
चेन्नई में CAA के खिलाफ प्रदर्शन: पुलिस की मंजूरी के बिना हजारों की संख्या में मुस्लिम सड़क पर उतरे पूर्व PM मनमोहन सिंह का निशाना- 'मंदी' शब्द मान ही नहीं रही मोदी सरकार, अगर समस्याओं की पहचान नहीं हुई तो... धार्मिक नेता बोले- पीरियड्स में पति के लिए खाना बनाया तो अगले जन्म में 'कुत्ता' बनेंगी महिलाएं, खाने वाले बनेंगे बैल 15 दस्तावेज देकर भी खुद को भारतीय साबित नहीं कर पाई असम की जाबेदा, कानूनी लड़ाई में खो बैठी सब कुछ CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...' अधीर रंजन बोले- क्या ट्रंप कोई भगवान है, जो 70 लाख लोग करेंगे स्वागत NRC का क्या होगा असर? जबेदा बेगम के बाद अब पढ़िए फखरुद्दीन की दर्दभरी दास्तां, नागरिकता साबित करने में जुटे 19 लाख - jnu sedition case probe delhi police writes to delhi government seeking nod for prosecution against kanhaiya kumar - AajTak शरजील के लैपटॉप में छुपा था दिल्ली ठप करने का प्लान, चार्जशीट का बना आधार दौरे से पहले बोले ट्रंप- भारत हमारे साथ बहुत अच्छी तरह पेश नहीं आया, बड़ा व्यापारिक समझौता नहीं जामिया हिंसाः पुलिस की कार्रवाई में 2.66 करोड़ रुपये की संपत्ति का नुकसान, एचआरडी को सौंपा बिल नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चेन्नई में बड़ा प्रदर्शन