Chandrotomar, Rıp, Coronapandemic, Tapseepannu

Chandrotomar, Rıp

शूटर दादी भी नहीं रहीं: चंद्रो तोमर का भी कोरोना से निधन, दादी की लाइफ पर बनी फिल्म सांड की आंख की एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने दी श्रद्धांजलि

शूटर दादी भी नहीं रहीं: चंद्रो तोमर का भी कोरोना से निधन, दादी की लाइफ पर बनी फिल्म सांड की आंख की एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने दी श्रद्धांजलि #ChandroTomar #RIP #CoronaPandemic #TapseePannu

30-04-2021 13:45:00

शूटर दादी भी नहीं रहीं: चंद्रो तोमर का भी कोरोना से निधन, दादी की लाइफ पर बनी फिल्म सांड की आंख की एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने दी श्रद्धांजलि ChandroTomar RIP CoronaPandemic TapseePannu

शूटर दादी के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया। पिछले दिनों वे सांस लेने में परेशानी के चलते मेरठ के अस्पताल में भर्ती हुईं थीं। 89 साल की चंद्रो के संक्रमित होने की खबर उनके सोशल मीडिया हैंडल पर परिवार ने 3 दिन पहले ही पोस्ट की थी। उत्तर प्रदेश के बागपत की रहने वाली दादी के निधन पर सांड की आंख की एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी। | Shooter Dadi Chandro Tomar dies Due To covid 19 Infection\r\nचंद्रो तोमर का भी कोरोना से निधन, दादी की लाइफ पर बनी फिल्म सांड की आंख की एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने दी श्रद्धांजलि

सांड की आंख में दिखा था दादी का संघर्षफिल्म में भूमि पेडणेकर ने चंद्रो तोमर का रोल निभाया था। यूपी के बागपत जिले के जोहड़ी गांव की रहने वाली चंद्रो तोमर के 6 बच्चे और 15 नाती-पोते हैं। इन्हीं में से एक पोती शैफाली को वे डॉ. राजपाल की शूटिंग एकडेमी में लेकर गईं। जहां तीन दिन तक उनकी पोती गन से निशाना लगाने की जद्दोजहद करती रही। यह देख चंद्रो ने उसके हाथ से गन लेकर लोड की और निशाना लगा दिया। सटीक निशाना लगा देखकर एकडेमी ट्रेनर ने उनसे कहा वह भी शूटिंग शुरू कर दें। चंद्रो, दुनिया की सबसे बुजुर्ग शूटर थीं। फिल्म में ​​​चंद्रो की ननद प्रकाशी का रोल तापसी पन्नू ने निभाया था। प्रकाशी चंद्रो को देखकर शूटिंग करने लगीं थीं।

अफ़ग़ानिस्तान: तालिबान ने हेरात शहर के चौराहों पर चार लोगों की लाशें लटकाईं - BBC Hindi मोदी और योगी के ख़िलाफ़ 'अभद्र वीडियो' पोस्ट करने पर यूपी में दो गिरफ़्तार - BBC Hindi मसीहा का बयान: IT रेड पर सोनू सूद ने दी सफाई- 'मैं अपने और लोगों के खून पसीने से कमाए हुए पैसे बर्बाद नहीं करूंगा, मेरे सपने बड़े हैं'

65 की उम्र शुरू की थी निशानेबाजी65 साल की उम्र में शूटिंग की प्रैक्टिस शुरू करने के बाद चंद्रो ने पीछे मुड़कर नहीं देखा था। उन्होंने 25 नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में हिस्सा लिया और सारे टूर्नामेंट जीते। शुरुआती दिनों में चंद्रो प्रैक्टिस करने के लिए रात का समय चुनती थीं। दिनभर के कामों के बाद रात में जब सब सो जाते तब वह पानी से भरा जग लेकन घंटों गन होल्डिंग की प्रैक्टिस किया करती थीं।

और पढो: Dainik Bhaskar »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

विनम्र श्रद्धांजलि

'शूटर दादी' के नाम से मशहूर चंद्रो तोमर का कोरोना के कारण निधनअपने सटीक निशानों से कई शूटरों के लिए प्रेरणा बनीं चंद्रो तोमर ने जब निशानेबाजी को अपनाया था तब उनकी उम्र 60 वर्ष से अधिक थी लेकिन इसके बाद उन्होंने कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीतीं. यहां तक कि उन पर एक फिल्म भी बनाई जा चुकी है. ॐ शांति फिर कई सितारे आसमान में चमकने चले गए, पिछले गम गए ही नही नए फिर बहने लगे रखे सुरक्षित हम खुद को और अपनो को इंसानियत का यह फर्ज तो निभाते चले, भगवान आपकी आत्मा को शांति दे🙏🙏🙏

चेतन सकारिया के पिता के बाद पीयूष चावला के पिता का कोरोना से निधनभारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी लेग स्पिनर पीयूष चावला के पिता का सोमवार को कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे CricketNews IPL2021 PiyushChawala ChetanSakariya

कौन थीं सबसे उम्रदराज ‘शूटर दादी’ जिसने 60 की उम्र में शुरू की निशानेबाजीउत्तर प्रदेश के बागपत की रहने वाली 89 साल की निशानेबाज के ट्विटर पेज पर यह जानकारी दी गई है। उनके ट्विटर पेज पर लिखा गया है, दादी चंद्रो तोमर कोरोना पॉजिटिव हैं और सांस की परेशानी के चलते हॉस्पिटल में भर्ती हैं। ईश्वर सबकी रक्षा करे- परिवार’

कोरोनाः नहीं रहीं ''शूटर दादी'', 60 साल की उम्र में शुरू की थी प्रोफेशनल शूटिंग60 साल की उम्र में प्रोफेशनल शूटिंग शुरू करने वाली चंद्रो तोमर काफी कम समय में देश की मशहूर निशानेबाज बन गईं थी।

बंगाल चुनाव 2021: देश के ‘मोदी’ और बंगाल की ‘दीदी’ के दंभ की हारममता बनर्जी की हैट्र‍िक से यह समझना चाहिए कि इन सब के बावजूद बंगाल की जनता ममता को अपना लीडर मानती है। इस तीसरी जीत के बदले में ममता बनर्जी अब अपने बंगाल को क्‍या देती है यह सबसे अहम और देखने वाली बात है। देशभर के मीडि‍या को दीदी के तीसरे कार्यकाल पर गहरी निगाह रखना चाहिए।