Shivrajchauhan, Madhyapradesh, Hindi, Mbbs, Madhya Pradesh News, Hindi Diwas, Mp News Hindi, Mp Medical Education Minister Vishvas Sarang, Medical Education Minister Of Mp, Madhya Pradesh News İn Hindi, Latest Madhya Pradesh News İn Hindi, Madhya Pradesh Hindi Samachar

Shivrajchauhan, Madhyapradesh

शिवराज सरकार का फैसला: मध्यप्रदेश में हिंदी में होगी एमबीबीएस की पढ़ाई, कांग्रेस ने तरेरी आंखें

राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि एमबीबीएस पाठ्यक्रम, नर्सिंग और अन्य पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों

14-09-2021 20:20:00

शिवराज सरकार का फैसला: मध्यप्रदेश में हिंदी में होगी एमबीबीएस की पढ़ाई, कांग्रेस ने तरेरी आंखें ShivrajChauhan MadhyaPradesh Hindi MBBS ChouhanShivraj

राज्य के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बताया कि एमबीबीएस पाठ्यक्रम, नर्सिंग और अन्य पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों

हिंदी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई बंद की थीबता दें, पूर्व में अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय ने हिंदी में इंजीनियरिंग और चिकित्सा शिक्षा शुरू करने की घोषणा की थी। विश्वविद्यालय ने तीन धाराओं में इंजीनियरिंग की शुरुआत भी की, लेकिन पहले वर्ष में केवल तीन छात्रों ने प्रवेश लिया। इसके बाद विश्वविद्यालय ने पाठ्यक्रम बंद कर दिया। छात्रों को अंग्रेजी माध्यम में इंजीनियरिंग जारी रखने के लिए निजी कॉलेजों में स्थानांतरित कर दिया गया। इसी तरह विश्वविद्यालय एमबीबीएस पाठ्यक्रम हिंदी में शुरू करने में विफल रहा क्योंकि भारतीय चिकित्सा परिषद से अनुमति नहीं मिली थी। विश्वविद्यालय के कुलपति रामदेव भारद्वाज ने कहा कि अब मप्र सरकार ने पाठ्यक्रम के लिए अनुमति लेने का फैसला किया है। चिकित्सा विषयों की शब्दावली एक जैसी होगी ताकि छात्रों को दिक्कत न हो।

प्रियंका गांधी का 'फीमेल कार्ड' UP में लगाएगा नैया पार, 32 साल से सत्ता से बाहर कांग्रेस को मिलेगा फायदा? Kaleen Bhaiya का नया टैलेंट, ढोलक बजाते Video वायरल 'सबके बच्चे पीते हैं, क्या हुआ जो थोड़ी बहुत ले ली': थाने में राजस्‍थान की MLA का हंगामा करने का VIDEO वायरल

अब चिकित्सा छात्रों को विकलांग बनाने का प्रयास : कांग्रेसराज्य सरकार के फैसले का मप्र कांग्रेस के प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने कड़ा विरोध किया है। उन्होंने कहा कि हिंदी में इंजीनियरिंग सफल नहीं हुई, पैरा-मेडिकल सफल नहीं हुई और अब राज्य सरकार एमबीबीएस पाठ्यक्रमों के साथ एक बार और प्रयास करना चाहती है। हिंदी एक अच्छी भाषा है और लोगों को इसे जानना चाहिए, लेकिन मेडिकल कॉलेजों में हिंदी की शुरुआत करके वे विद्यार्थियों को विकलांग बनाना चाहते हैं।

मातृभाषा में ज्ञान प्राप्त करने का अवसर मिलेगा : भाजपाउधर, भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि यह कदम न केवल एक भाषा को बढ़ावा देने के लिए है बल्कि हिंदी माध्यम के छात्रों को बढ़ावा देने के लिए है, जो भाषा की बाधाओं के कारण चीजों को सीखने में कठिनाइयों का सामना करते हैं। उन्हें अपनी मातृभाषा में ज्ञान प्राप्त करने के साथ अंग्रेजी सीखने और इसे समझने के लिए पांच साल का समय मिलेगा। यह अच्छा कदम है। headtopics.com

विस्तारमध्य प्रदेश में अब एमबीबीएस की पढ़ाई हिंदी में भी होगी। मंगलवार को हिंदी दिवस के मौके पर शिवराज सरकार ने यह निर्णय लिया। को हिंदी माध्यम से कैसे शुरू किया जाए, यह तय करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया जाएगा। चिकित्सा विषयों की हिंदी में पढ़ाई शुरू करने का चिकित्सा शिक्षा विभाग और अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय का संयुक्त प्रयास होगा।

विज्ञापनहिंदी में इंजीनियरिंग की पढ़ाई बंद की थीबता दें, पूर्व में अटल बिहारी वाजपेयी हिंदी विश्वविद्यालय ने हिंदी में इंजीनियरिंग और चिकित्सा शिक्षा शुरू करने की घोषणा की थी। विश्वविद्यालय ने तीन धाराओं में इंजीनियरिंग की शुरुआत भी की, लेकिन पहले वर्ष में केवल तीन छात्रों ने प्रवेश लिया। इसके बाद विश्वविद्यालय ने पाठ्यक्रम बंद कर दिया। छात्रों को अंग्रेजी माध्यम में इंजीनियरिंग जारी रखने के लिए निजी कॉलेजों में स्थानांतरित कर दिया गया। इसी तरह विश्वविद्यालय एमबीबीएस पाठ्यक्रम हिंदी में शुरू करने में विफल रहा क्योंकि भारतीय चिकित्सा परिषद से अनुमति नहीं मिली थी। विश्वविद्यालय के कुलपति रामदेव भारद्वाज ने कहा कि अब मप्र सरकार ने पाठ्यक्रम के लिए अनुमति लेने का फैसला किया है। चिकित्सा विषयों की शब्दावली एक जैसी होगी ताकि छात्रों को दिक्कत न हो।

अब चिकित्सा छात्रों को विकलांग बनाने का प्रयास : कांग्रेसराज्य सरकार के फैसले का मप्र कांग्रेस के प्रवक्ता जेपी धनोपिया ने कड़ा विरोध किया है। उन्होंने कहा कि हिंदी में इंजीनियरिंग सफल नहीं हुई, पैरा-मेडिकल सफल नहीं हुई और अब राज्य सरकार एमबीबीएस पाठ्यक्रमों के साथ एक बार और प्रयास करना चाहती है। हिंदी एक अच्छी भाषा है और लोगों को इसे जानना चाहिए, लेकिन मेडिकल कॉलेजों में हिंदी की शुरुआत करके वे विद्यार्थियों को विकलांग बनाना चाहते हैं।

मातृभाषा में ज्ञान प्राप्त करने का अवसर मिलेगा : भाजपाउधर, भाजपा प्रवक्ता रजनीश अग्रवाल ने कहा कि यह कदम न केवल एक भाषा को बढ़ावा देने के लिए है बल्कि हिंदी माध्यम के छात्रों को बढ़ावा देने के लिए है, जो भाषा की बाधाओं के कारण चीजों को सीखने में कठिनाइयों का सामना करते हैं। उन्हें अपनी मातृभाषा में ज्ञान प्राप्त करने के साथ अंग्रेजी सीखने और इसे समझने के लिए पांच साल का समय मिलेगा। यह अच्छा कदम है। headtopics.com

'चुनाव हैं इसलिए नाम के आगे 'जाटव' लिख रही, राजनीति में जाति भी जरूरी है' : NDTV से BJP की बेबी रानी मौर्य दिल्‍ली में कोरोना से एक मरीज की मौत, पिछले 24 घंटों में 36 नए मामले HC के निर्देश के बाद दिल्‍ली सरकार ने हफ्ते के सातों दिन राशन दुकान खोलने का आदेश लिया वापस

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

गैर-कश्मीरियों की Target Killing, 1990 का रिपीट टेलीकास्ट! देखें खबरदार

पिछले 12 दिनों में कश्मीर में 9 आम नागरिकों की टारगेट किलिंग हो चुकी है. मरने वालों में सबसे ज्यादा वो लोग थे जो गैर कश्मीरी थे. पाकिस्तान के हाइब्रिड आतंकवादी इस बार गैर कश्मीरियों को खासतौर पर टारगेट कर रहे हैं. गैर-कश्मीरियों की टारगेट किलिंग से लोग डरे हुए हैं. आतंकी हमलों के डर से गैर-कश्मीरी अब अपने घर लौट रहे हैं. जिसको जो भी साधन मिल रहा है वो उसके जरिए पहले जम्मू आ रहा है और फिर वहां से अपने घर जा रहा है. कश्मीर में गैर कश्मीरी प्रवासी मज़दूरों, और हिंदू और सिख अल्पसंख्यकों को टारगेट किया जा रहा है. वहां पर आतंकवादियों ने नागरिकों के लिए एक तरह से दहशत का सीज़न रिलीज़ किया है. देखिए खबरदार का ये एपिसोड.

ChouhanShivraj कांग्रेस तो हर बात पर आंखें तरेरती है । पप्पू के वेश्नो देवी जाने से एन्टोनियो माइनो की शक्ति कम हो गई है ।।। ChouhanShivraj तालिबान में मुस्लिम महिलाओं पर हो रहेअत्याचार पर देश की मुस्लिम महिलाओं को सोचना चाहिए कि सरियत मे महिलाओ का कोई सम्मान नही हैउन्हे केवल बच्चा पैदा करने की मशीन माना जाता है

योगी आदित्यनाथ के विज्ञापन में छपी कोलकाता फ्लाईओवर की तस्वीर, अखबार ने कहा- अनजाने में हुआअंग्रेज़ी अख़बार इंडियन एक्सप्रेस के एक फ्रंट पेज पर 12 सितंबर को प्रकाशित उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के विज्ञापन में दिखाई गईं तीन प्रमुख तस्वीरों में से एक कोलकाता का फ्लाईओवर होने की वजह से विवाद हो गया है. तृणमूल कांग्रेस ने इस विज्ञापन को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है, तो भाजपा ने दावा किया कि उत्तर प्रदेश सरकार जहां एक्सप्रेसवे का निर्माण करती है, वहीं पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी शासन में फ्लाईओवर धराशायी हो जाते हैं. यूपी मैं पाँच साल मैं सब अनजाने मैं हुआ अंजाने मे नहीं, बार बार हुआ है. ऐसी बहोत सी गलतियां है ईन 7 सालो मे अंजाने मे... 😛😛😛

तमिलनाडु में NEET परीक्षा से पहले एक छात्र ने किया सुसाइड, CM ने पेश किया विधेयकतमिलनाडु में विधानसभा में मेडिकल एंट्रेस के लिए NEET (राष्ट्रीय पात्रता और प्रवेश परीक्षा) के विरोध में विधेयक पेश किया गया है। इसके माध्यम से प्रदेश सरकार नीट परीक्षा से स्थायी तौर पर छूट देने की मांग होगी। परीक्षा देने से पहले एक छात्र ने रविवार को सुसाइड किया।

गाजियाबाद में सपा नेता को बदमाशों ने दिनदहाड़े मारी गोली, दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्तीगाजियाबाद के लोनी इलाके में सपा नेता दिनेश नागर को बदमाशों ने गोली मार दी। गोली दिनेश के पेट में लगी है। बताया जा रहा है कि उन्हें दिल्ली के जीटीबी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उनका ऑपरेशन किया जा रहा है। अच्छा।।सपा का कौनसा इतना बड़ा नेता है।। गुंडों को कौन मारने लगा।। क्या होगा इस प्रदेश का। गुंडागर्दी खत्म करने का वादा भी जुमला ही होगा

ओडिशा में भारी बारिश, पुरी में 87 और भुवनेश्वर में 63 साल का रिकॉर्ड टूटाभुवनेश्वर। ओडिशा के कई इलाकों में सोमवार को रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई जिससे जगह जगह जलजमाव हो गया और गाड़ियां उसमें फंस गई। बरसात ने राजधानी भुवनेश्वर में 63 साल का, तो मंदिर नगरी पुरी में 87 वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इसे देखते हुए अधिकारियों ने बाढ़ की चेतावनी जारी की है।

भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 6.8 फीसदी कमीभारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 6.8 फीसदी कमी CoronavirusUpdates Cancel_Neet2021 Neet_Paper_Leak_2021 BJP सरकार भरस्टाचार का दूसरा नाम बन गई है कारण यह पेपर लीक पर भी NEET कैंसिल कर दुबारा नही करवा रही। पेपर कहा कहा गया यह जांच का विषय है कारण कोटा कोचिंग से पूरे भारत के छात्र आते है। It's bcoz of Saturday n sunday s rtpcr reports. As maximum govt Institute don't take samples on second Saturday n sunday so low numbers. No testing no covid

मॉर्निंग न्यूज पॉडकास्ट: भारी बारिश से बाढ़ में डूबा गुजरात, WHO ने भारत में वैक्सीनेशन की तारीफ की, MP में भगवान राम के बारे में पढ़ेंगे कॉलेज स्टूडेंट्सनमस्कार,\nआज मंगलवार है, तारीख 14 सितंबर 2021; भादों मास, शुक्ल पक्ष और अष्टमी तिथि | Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर) Morning Headlines; Here are today's top stories for you \r\nheavy rains In Gurarat, India COVID-19 Vaccination Coverage Crosses 75 Crore, Madhya Pradesh College Students Ramcharitmanas and More On Bhaskar.com.