शहाबुद्दीन की अंत्येष्टि सिवान में करना चाहते हैं घरवाले, नहीं मिल रही इजाज़तः ओवैसी - BBC News हिंदी

शहाबुद्दीन की अंत्येष्टि सिवान में करना चाहते हैं घरवाले, नहीं मिल रही इजाज़तः ओवैसी

5 घंटो पहले

शहाबुद्दीन की अंत्येष्टि सिवान में करना चाहते हैं घरवाले, नहीं मिल रही इजाज़तः ओवैसी

राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन 20 अप्रैल को कोरोना से संक्रमित हुए थे. दिल्ली के दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था.

42 मिनट पहलेइमेज स्रोत,Getty Imagesएआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा है कि राष्ट्रीय जनता दल के पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के घर के लोग उनकी अंत्येष्टि बिहार में उनके पैतृक स्थल सिवान में करना चाहते हैं मगर अधिकारी इसकी इजाज़त नहीं दे रहे हैं.

देश में कम्प्लीट लॉकडाउन की मांग: कोविड टास्क फोर्स ने कहा- संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए 15 दिन लॉकडाउन जरूरी, सरकार आज फैसला ले सकती है बंगाल में सादगी वाली जीत: मिट्‌टी के घर में 3 गाय और 3 बकरियां, पति दिहाड़ी मजदूर; BJP की यह महिला कैंडिडेट विधानसभा पहुंची, PM ने की थी तारीफ नंदीग्राम के नतीजे पर ममता बनर्जी बोलीं, सुप्रीम कोर्ट जाउँगी - BBC Hindi

ओवैसी ने सोमवार को ट्वीट कर लिखा - "कम-से-कम उनके ग़मज़दा घर वालों को उनके आख़री रूसूमात उनके हिसाब से करने से तो नहीं रोका जाना चाहिए. ज़ाहिर सी बात है कि वो कोविड-19 के तमाम एहतियाती तदाबीर पर अमल करेंगे."उन्होंने ट्वीट कर ये भी आरोप लगाया कि शहाबुद्दीन का इलाज ठीक से नहीं किया गया और उन्हें 'एक कोविड-19 मरीज़ के साथ रखा गया'.

अख़बार इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्टके अनुसार 28 अप्रैल को शहाबुद्दीन के वकीलों, सलमान ख़ुर्शीद और रणधीर कुमार ने दिल्ली हाईकोर्ट में अपनी एक याचिका में कहा था कि "एक अन्य क़ैदी के कोविड पॉज़िटिव होने के बावजूद जेल अधिकारियों ने आवेदक (शहाबुद्दीन) को उसी सेल में रखा, जबकि उन्हें इस बीमारी के घातक होने की बात पता थी, जेल अधिकारियों ने कोई अलग इंतज़ाम नहीं किया और कई बार आग्रह करने के बावजूद, उन्हें उसी कोविड मरीज़ के साथ उसी सेल में रखा गया, और जेल अधिकारियों ने इस तरह याचिकाकर्ता का जीवन ख़तरे में डाल दिया." headtopics.com

इस सुनवाई के बाद जस्टिस प्रतिभा एम सिंह ने दीन दयाल उपाध्याय हॉस्पिटल के सीनियर डॉक्टरों को शहाबुद्दीन की सेहत की निगरानी के लिए कहा था.छोड़कर और ये भी पढ़ें आगे बढ़ें और पढो: BBC News Hindi »

Bengal में कैसे TMC को फिर मिली बंपर जीत, चला Mamata Banerjee का जादू, फेल हो गया Modi मैजिक? देखें शंखनाद

बंगाल में खैला हो गया. ममता बनर्जी तीसरी बार सत्ता पर काबिज होने जा रही हैं. ममता ने भले ही बंगाल जीत लिया हो लेकिन वो नंदीग्राम हार चुकी हैं. ममता बनर्जी ने नंदीग्राम के नतीजों पर सवाल खड़े किए. टीएमसी ने नंदीग्राम में रिकाउंटिंग की मांग की है. चुनाव आयोग पर गड़बड़ी का आरोप लगाया है. ममता का कहना है कि वो अब इसके खिलाफ कोर्ट जाएंगें. ममता बनर्जी ने एक बार फिर बंगाल में अपनी जीत का परचम लहरा दिया. ममता बनर्जी ने बंगाल में पूर्ण बहुमत हासिल किया,इसके साथ ही बंगाल की जनता ने बता दिया कि फिलहाल उनका भरोसा ममता दीदी पर ही है, बंगाल में चल गई दीदीगीरी. देखें शंखनाद.

बिल्कुल plz ise mahimamandit mat karo...ek criminal mara hai...khushi ki baat hai.. हार जीत तो नेताओ और पार्टीयो की हो रही है लेकिन सबसे ज़्यादा दुखी तो न्यूज़ एंकर वाले देख रहे है