शशि थरूर ने किसके विरोध में किया ये फ़ैसला - BBC Hindi

शशि थरूर ने किसके विरोध में किया ये फ़ैसला

06-12-2021 11:27:00

शशि थरूर ने किसके विरोध में किया ये फ़ैसला

कांग्रेस के सांसद शशि थरूर ने एक पत्र लिखकर अपना विरोध व्यक्त किया है.

1:54पाकिस्तानी रक्षा मंत्री ने सियालकोट लिंचिंग पर कहा- लड़के हैं जोश में आकर हत्या कर दीtwitterCopyright: twitterपाकिस्तान के रक्षा मंत्री परवेज़ खट्टक ने सियालकोट में श्रीलंकाई नागरिक की लिंचिंग को लेकर कहा है कि"इस घटना को अंजाम देने वाले जवान लड़के थे, वो जोश में आ गए और ये हादसा हो गया, मैं भी जोश में आ कर ‘कुछ ग़लत कर’ सकता हूं."

उन्होंने कहा कि इस घटना को तहरीक-ए-लब्बैक पाकिस्तान (टीएलपी) पर से सरकार के प्रतिबंध हटाने के फैसले से नहीं जोड़ा जाना चाहिए.बीते शुक्रवार को सियालकोट में ग़ुस्साई भीड़ ने कथित ईशनिंदा के आरोप में एक श्रीलंकाई नागरिक को पीट-पीट कर मार डाला और उनके शव को आग लगा दी. पाकिस्तान के मंत्री का ये बयान ऐसे वक़्त आया है जब पूरा देश इस घटना की निंदा कर रहा है और प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने इसे पाकिस्तान के लिए शर्मनाक बताया है.

सोशल मीडिया पर यूजर्स इस घटना को टीएलपी से जोड़ रहे थे, लेकिन टीएलपी ने लिंचिंग से ख़ुद को अलग करते हुए इसकी निंदा की है.रविवार को पेशावर में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान एक रिपोर्टर ने खट्टक से पूछा कि सियालकोट में हुई हत्या सरकार के टीएलपी पर प्रतिबंध हटाने के बाद हुई तो क्या सरकार इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए भविष्य में ऐसे समूहों के खिलाफ़"प्रभावी कार्रवाई" पर विचार कर रही है? headtopics.com

Afghanistan Crisis: रोटी के लिए बेटियों और किडनी को बेच रहे लोग! लोगों की रुलाने वाली कहानी

इसके जवाब में उन्होंने कहा,‘’बच्चे हैं, बड़े होते हैं, इस्लामी दीन है, तो ज्यादा जोश में आ जाते हैं और ऐसा काम कर देते हैं इसका ये मतलब नहीं है कि सरकार ने ये किया तो ऐसा हो गया. वहां पर लड़के जुटे और उन्होंने इस्लाम का नारा लगाया कि ये काम इस्लाम के ख़िलाफ़ है लड़के जोश में आ गए और ये हादसा हो गया अचानक. इसका ये मतलब नहीं है कि सब कुछ बिगड़ गया.‘’

Getty ImagesCopyright: Getty Images"कृपया आप लोगों को समझाएं कि लड़के जस्बे में आ गए और ये काम हो गया, मैं भी जोश में आ सकता हूं और कुछ ग़लत कर सकता हूं. इसका ये मतलब नहीं है कि पाकिस्तान तबाही की तरफ़ जा रहा है.‘’"नौजवान लड़के 'कुछ भी करने के लिए तैयार' होते हैं और ये उम्र के साथ सीखते हैं कि अपनी भावनाओं को कैसे नियंत्रित किया जाए. ‘तो यह बच्चों के बीच होता है,झगड़े होते हैं और यहां तक कि हत्याएं भी होती हैं.’ इसका मतलब यह है कि यह सरकार की गलती है.‘’

हालाँकि इस बयान की चारों ओर हो रही आलोचना के बाद उन्होंने ट्वीट पर सफ़ाई पेश की.

और पढो: BBC News Hindi »

UP Elections: अमित शाह से मुलाकात, क्या मान जाएंगे जाट? देखें शंखनाद

उत्तर प्रदेश की सियासी बिसात बिछ चुकी है, पहले दो चरण में पश्चिमी यूपी में मतदान होना है जिसके लिए हर पार्टी ने पूरा जोर लगा दिया है. कोई मुस्लिम तुष्टीकरण की सियासत कर रहा है तो कोई ध्रुवीकरण के साथ मैदान पर है. इस सियासी खेल के दो सबसे बड़े कार्ड हैं पहला जाट और दूसरा मुस्लिम. जिसे लेकर हर पार्टी अपनी रणनीति तय कर रही है. आज केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने जाट नेताओं के साथ मुलाकात की. जहां उस नाराजगी को दूर करने की कोशिश है जो कृषि कानूनों के बाद बीजेपी और जाट नेताओं के बीच आई. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड. और पढो >>

Aditya Birla Sunlife insurance is a fraud company and looting the people through their insurance policies. I request to all Indians not to purchase the insurance policies of Aditya Birla Sunlife insurance. Otherwise, you have to weep for your this decision like me. और यहाँ पे लिंचिंग करने वाले को मंत्री माला पहनाते हैं😃

इंसान को इंसान नहीं समझने बालो,अब प्रदशर्न से क्या होगा रे...? गंदा देश। गन्दे लोग। Aur hamare yahan to patra jaise kitne hain jo sath dete aise logo ka... Bas jiski mout hui woh musalman hona chahiye ज़ुल्म के खिलाफ़ आवाज़ बुलंद करो चाहे वो जिसके खिलाफ़ हो । Ek hamara mulk hai lynching waalon ka fool mala se swagat kiya jata See the difference

शशि थरूर का ऐलान, '12 सांसदों का निलंबन रद्द होने तक ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की मेजबानी नहीं करूंगा'थरूर ‘संसद टीवी’ पर ‘टू द प्वाइंट’ नामक शो की मेजबानी करते हैं.उन्होंने एक बयान में कहा, ‘‘मेरा मानना है कि भारत के संसदीय लोकतंत्र की सर्वश्रेष्ठ परंपरा के तहत मैंने संसद टीवी पर कार्यक्रम की मेजबानी करने का निमंत्रण स्वीकार किया और उस सिद्धांत को पुन: रेखांकित किया कि हमारे राजनीतिक मतभेद हमें संसदीय संस्थाओं में एक संसद सदस्य के तौर पर भागीदारी करने से नहीं रोकते.’’ बढ़िया है नहीं तो वहां भी फ्लर्ट ही करता किसी से! तो मत कर किसको ज़रूरत हे तेरी फेकू जी से करवाओ मेजबानी.

Sunday Interview: रवीना टंडन की दो टूक, ‘महिलाओं को अब भी दफ्तर से आकर अपना खाना खुद पकाना होता है’Sunday Interview: रवीना टंडन की दो टूक, ‘महिलाओं को अब भी दफ्तर से आकर अपना खाना खुद पकाना होता है’ TandonRaveena netflix NetflixIndia Aranyak TandonRaveena netflix NetflixIndia पितृसत्तात्मक व्यवस्था जब कभी समाप्त होगी तभी बुनियादी बदलाव होने की सम्भावना बनेगी। कामकाजी महिलाएं अपेक्षाकृत अधिक घरेलू हिंसा की शिकार है तथा उनका आर्थिक व मानसिक शोषण एक अघोषित बुराई है। TandonRaveena netflix NetflixIndia Toh kya apni saas se pakwaogi Khana 😅😅 TandonRaveena netflix NetflixIndia पुरुषों को दफ्तर से लौटने के समय खाने पीने का सारा सामान कंधों पर लाद कर लाने के बाद हीं खाना नसीब होता है।

कर्नाटक के CM ने पश्चिमी घाट को ईको-सेंसेटिव जोन घोषित करने का किया विरोधकेंद्रीय पर्यावरण, वन और श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में आयोजित एक वर्चुअल मीटिंग में भाग लेते हुए बोम्‍मई ने पश्चिमी घाटों पर कस्तूरीरंगन रिपोर्ट पर राज्य का पक्ष प्रस्तुत किया.

अमेरिकी सांसद ने परिवार के साथ बंदूकें लेकर तस्वीर की पोस्ट, भड़क उठे लोग - BBC Hindiअमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के एक सांसद को अपनी एक तस्वीर के लिए आलोचना का सामना करना पड़ा हैं. ये तो इस्लामिक लग रहे है भारत में तो पत्रकार ऐसे हथियार रखता है। 🏹🏹

पाकिस्तानी रक्षा मंत्री सियालकोट लिंचिंग पर बोले- लड़के हैं जोश में आकर हत्या कर दी - BBC Hindiपाकिस्तान के रक्षा मंत्री परवेज़ खट्टक ने सियालकोट में श्रीलंकाई नागरिक की लिंचिंग को लेकर कहा है कि 'इस घटना को अंजाम देने वाले जवान लड़के थे, वो जोश में आ गए और ये हादसा हो गया.' वहां भी वही हाल है! मुलायम सिंह यादव की तरह के नेता पाकिस्तान में भी हैं। यहाँ मुलायम सिंह बलात्कार करने वालों को बच्चों की गलती कहते थे वहाँ लिंचिग की घटना को बच्चों की गलती कह रहे हैं। Kaisa bakwash statement

अफ़ग़ानिस्तान को लेकर फ़्रांस के राष्ट्रपति का यह बयान चर्चा में - BBC Hindiइमैनुएल मैक्रों ने कहा है कि कई यूरोपीय देश अफ़ग़ानिस्तान में संयुक्त राजनयिक मिशन खोलने पर विचार कर रहे हैं.