Cremation, Social Organization, Dead Bodies, Corona Deaths, Corona Pademic, Covid-19

Cremation, Social Organization

शवों के अंतिम संस्कार के लिए आगे आए सामाजिक संगठन

शवों के अंतिम संस्कार के लिए आगे आए सामाजिक संगठन, कहीं परिजन नहीं दे पाए मुखाग्नि तो कहीं अपनों ने ही शव लेने से किया इनकार

14-05-2021 02:20:00

शवों के अंतिम संस्कार के लिए आगे आए सामाजिक संगठन, कहीं परिजन नहीं दे पाए मुखाग्नि तो कहीं अपनों ने ही शव लेने से किया इनकार

एक परिवार तो कोरोना संक्रमण से इतना घबराया हुआ था कि उसने अपने परिजन का शव ही लेने से इंकार कर दिया था। बाद में इन शवों का संस्कार इस टीम के माध्यम से किया गया।

और पढो: Jansatta »

शंखनाद: Kashmir पर Digvijaya Singh के बिगड़े बोल, क्लब चैट ने खड़े किए कई सवाल

कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने एक और सेल्फ गोल मारा है. कश्मीर पर दिग्विजय सिंह की क्लब चैट ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं. कांग्रेस अब बैकफुट पर है और बीजेपी ने ताबड़तोड़ हमले शुरू कर दिए हैं. दिग्विजय सिंह फिर से विवादों के केंद्र में आ गए हैं. लेकिन सबसे बड़ा सवाल ये है कि दिग्विजय सिंह ने जो बयान दिया है उससे पाकिस्तान को बैठे बिठाए बड़ा मुद्दा नहीं मिला या फिर उनके बयान को बीजेपी तोड़-मरोड़कर पेश कर रही है. देखें शंखनाद का ये एपिसोड.

बिहार से आ रहे शवों के यूपी में अंतिम संस्कार पर लगी रोक! लोग बोले- हम गया में नहीं होने देंगे पिंडदानबिहार के शव को यूपी ले जाने पर यूपी सरकार ने पूरी तरह से रोक लगा दी है. सभी बॉर्डर इलाके में चैकपोस्ट बनाकर विधिवत पुलिस की तैनाती कर दी गई है और सभी शवों को एक-एक कर लौटाया जा रहा है. Yeh Bihar se aa rahe he or up se ?kya in sarkaro k pas jra vi insaniyat bachi he or nahi? Yeh lashe ku Dafan ho rahi he up aur bihar me ?chill kutte kha rahe he yeh NEW INDIA he very shame Govt nd failed govt शर्म करो योगी जी डूब मरो गंगा मईया में cancel up board exam 10 plz

कोरोना प्रोटोकॉल के तहत अंतिम संस्कार के बाद वीडियो कॉल पर शांति हवन, ब्राह्मण भोज के लिए ऑनलाइन दानकोरोना संक्रमण काल के बीच लोगों ने पंडितों को घर बुलाने की बजाय अब ऑनलाइन ही क्रिया कर्म को कराने का काम शुरू कर दिया है। पंडित अब कई जगह वीडियो कॉल के जरिए शांति हवन करवाने लगे हैं।

'अपने विचार मुझे मेल के जरिए बताएं', पार्टी कार्यकर्ताओं के इस्तीफे के बाद बोले कमल हासनएक्टर और राजनीतिज्ञ कमल हासन की पार्टी मक्कल नीधि मय्यम (MNM) को तमिलनाडु विधानसभा चुनावों में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा, उनकी पार्टी चुनावों में एक भी सीट नहीं जीत पाई थी. जिसके बाद अब पार्टी में बिखराव की स्थिति पैदा हो गई है, कई बड़े नेताओं ने खुले मंच से पार्टी में लोकतंत्र की कमी का हवाला देते हुए कमल हसन को पार्टी चलाने की समझ नहीं होने की बात कही थी. जिसके बाद मंगलवार को कमल हासन ने पार्टी कार्यकर्ताओं से मेल के जरिए अपने असंतोष और विचार व्यक्त करने की अपील की. 😜😜😂😂 झंडू Hahahaha...jis thali khata usi me chhed ...kisi bhi dharm ki burai karoge to yahi Hal hoyenga U have got ur results of HINDU HATE STATEMENTS...continuously..same happen in ASANSOL WEST BENGAL sayyani ghosh condom on god image

बिहार: विशेषज्ञों ने कहा- कोविड-19 संक्रमित शवों को नदी में बहाना ख़तरनाकबक्सर ज़िले में चौसा के पास गंगा नदी से मिले दर्जनों संदिग्ध कोविड-19 संक्रमित अज्ञात शवों को पोस्टमार्टम व डीएनए टेस्ट के लिए नमूने लिए जाने के बाद प्रशासन द्वारा दफना दिया गया. कोविड संक्रमण की दूसरी लहर के बढ़ते प्रकोप के चलते विशेषज्ञ शवों को ऐसे नदी में बहाए जाने को बेहद चिंताजनक बता रहे हैं. क्या हाल बना दिया हमारे देश का एक आदमी ने अपनी Global image बनाने के चक्कर मे । मैं_भी_किसान common_citizen_of_India COVID19 अख़बार ना बोले सबूत ना बोले अफ़सर ना बोले दूत ना बोले फिर यूँ हुआ ताबूत बोल पड़े , कोई षडयंत्र है देश के खिलाफ।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने नदियों में शवों के बहाने पर जताई चिंता, कहा- निगरानी के लिए बनाएं टीमसीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को ध्यान में रखते हुए अलग से तैयारी शुरू कर दी गई है। पीडियाट्रिक्स के आइसीयू के निर्माण होंगे। कोरोना के साथ चिंता का कारण बन रही ब्लैक फंगस रोकने को उपचार की व्यवस्था शुरू कर दी है। Plc help me प्रशासन यदि अंतिम संस्कार की ब्यवस्था स्वयं करदे तो लोग शवों का जल प्रवाह क्यों करेंगे? चिंता चिता समान होती है।

बिहार: मुजफ्फरपुर के किसानों ने नष्ट किए टमाटर, लॉकडाउन के कारण नहीं मिल रहे दामबिहार: मुजफ्फरपुर के किसानों ने नष्ट किए टमाटर, लॉकडाउन के कारण नहीं मिल रहे दाम Bihar Tomato Muzaffarpur Lockdown NitishKumar NitishKumar unko price nhi mile raha hum 40 rs ka kahredh rahe hai NitishKumar NitishKumar Ann data hai n lockdown me bhe khub kamayega Jaise baki note chhap rahe hain abhe khane wale naukri aur salary kay liye paresan hain tere tamatar ko adhik dam me kiase khariden