Wtcfinal, Indvsnz, Viratkohli, Ajinkyarahane, Wtc Final Live Score, World Test Championship Final, World Test Championship, Cricket News, Virat Kohli, Anjink Rahane

Wtcfinal, Indvsnz

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप : कोहली-रहाणे ने संभाला जिम्मा, खराब रोशनी से प्रभावित रहा दूसरा दिन

कप्तान विराट कोहली ने धैर्य और कौशल का अच्छा नमूना पेश करके एक छोर संभाले रखा लेकिन भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व

19-06-2021 21:39:00

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप : कोहली-रहाणे ने संभाला जिम्मा, खराब रोशनी से प्रभावित रहा दूसरा दिन WTCfinal INDvsNZ ViratKohli AjinkyaRahane

कप्तान विराट कोहली ने धैर्य और कौशल का अच्छा नमूना पेश करके एक छोर संभाले रखा लेकिन भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व

कोहली पहले सत्र में ही क्रीज पर उतर गए थे क्योंकि टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित भारतीय टीम ने रोहित शर्मा (68 गेंदों पर 34 रन) और शुभमन गिल (64 गेंदों पर 28 रन) के विकेट लंच से पहले ही गंवा दिए थे। इन दोनों ने हालांकि पहले विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की थी लेकिन वे एक रन के अंदर पवेलियन लौट गए थे।

पेगासस जासूसी: ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को दी चुनौती IPS राकेश अस्थाना की नियुक्ति पर हंगामा, AAP विधायक दिल्ली विधानसभा में उठाएंगे मुद्दा महाराष्ट्र कैबिनेट का बड़ा फैसला, छात्रों को राहत, निजी स्कूलों को करनी होगी फीस में 15% कटौती

ख्रराब रोशनी के कारण जब दिन का खेल रोका गया तब कोहली 124 गेंदों पर 44 रन बनाकर खेल रहे थे और उन्होंने उप कप्तान अंजिक्य रहाणे (79 गेदों पर नाबाद 29 रन) के साथ 58 रन की अटूट साझेदारी की है। रहाणे ने दूसरे सत्र में चेतेश्वर पुजारा (54 गेंदों पर आठ रन) के ट्रेंट बोल्ट (32 रन देकर एक) की इनस्विंगर पर पगबाधा आउट होने के बाद क्रीज पर कदम रखा था।

बारिश के कारण पहले दिन का खेल नहीं हो पाया था। दूसरे दिन पहले सत्र में मौसम ने कोई खलल नहीं डाला लेकिन खराब रोशनी के कारण चाय का विश्राम जल्दी लेना पड़ा और तीसरे सत्र में तो खराब रोशनी ही चर्चा का विषय रही। बीच में एक मौके पर दोनों कप्तान अंपायरों के फैसले से नाखुश भी दिखे। headtopics.com

भारत ने पहले सत्र में दो विकेट 69 रन बनाये थे लेकिन दूसरे सत्र में वह 27.3 ओवर में 51 रन ही जोड़ पाया और इसका सबसे बड़ा कारण था कीवी गेंदबाजों की बेहद अनुशासित गेंदबाजी। कोहली तक ने उन्हें पूरा सम्मान दिया और यहां तक उन्होंने कोलिन डि ग्रैंडहोम के लगातार तीन ओवर मेडन खेले।

दूसरी तरफ पुजारा ने 36 गेंदों पर अपना खाता खोला लेकिन नील वैगनर (28 रन देकर एक) पर कट शॉट से लगाया गया उनका चौका दर्शनीय था। वैगनर का बाउंसर पुजारा के हेलमेट पर भी लगा और इसके तुरंत बाद बायें हाथ के तेज गेंदबाज बोल्ट ने उन्हें पगबाधा आउट कर दिया।कोहली ने अपनी प्रतिबद्धता और दृढ़ता का अच्छा परिचय दिया और शॉट खेलने के लिये ढीली गेंदों का इंतजार किया। रहाणे ने भी अपने कप्तान का अनुसरण किया लेकिन उन्होंने कुछ आकर्षक शॉट भी लगाए। रहाणे अब तक चार चौके लगा चुके हैं जबकि कोहली ने केवल एक बार गेंद बाउंड्री तक पहुंचाई।

इससे पहले इंग्लैंड में पहली पारी टेस्ट मैचों में पारी का आगाज करने वाले रोहित और गिल स्पष्ट रणनीति के साथ क्रीज पर उतरे थे और उन्होंने बोल्ट और टिम साउदी के सामने इसे अच्छी तरह से लागू भी किया।रोहित ने बोल्ट की इनस्विंगर से निबटने के लिये खुले स्टान्स के साथ खेल रहे थे जबकि गिल ने साउदी की आउटस्विंगर से पार पाने के लिये अपनी क्रीज से थोड़ा बाहर खड़े थे।

गिल ने बोल्ट की गेंद पुल करके भारत की तरफ से पहला चौका लगाया। जिसके बाद रोहित ने साउदी पर दो चौके जमाये। गिल ने काइल जैमीसन (14 रन देकर एक) का स्वागत उनकी इन स्विंगर को चार रन के लिये भेजकर किया। पहले 11 ओवर में एक भी मेडन नहीं था लेकिन अगले तीन ओवरों में कोई रन नहीं बना। headtopics.com

असम-मिज़ोरम सीमा विवाद: असम पुलिस के घायल जवान की मौत, मृतक संख्या सात हुई Modi सरकार vs ऑल में तब्दील हुआ Pegasus जासूसी विवाद, देखें खबरदार बिहार के स्वास्थ्य मंत्री बोले- राज्य में ऑक्सीजन की कमी से नहीं कोई मौत

जैमीसन की शार्ट पिच गेंद गिल के हेलमेट की ग्रिल पर भी लगी। इसी तेज गेंदबाज ने आखिर में रोहित को आउट करके न्यूजीलैंड को पहली सफलता दिलायी। साउदी ने तीसरी स्लिप में उनका शानदार कैच लिया। रोहित शॉट खेलने को लेकर असमंजस की स्थिति में आ गये थे जिसका फायदा गेंदबाज और कीवी टीम को मिला।

वैगनर ने अपने पहले ओवर में कोण लेती गेंद पर गिल को विकेटकीपर बी जे वाटलिंग के हाथों कैच कराया।पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ने के बाद हैंपशर बाउल में सर्द मौसम और बादलों से भरे आसमान को देखते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला करने में कोई हिचकिचाहट नहीं दिखायी।

भारत ने दो दिन पहले जो टीम चुनी थी उसमें कोई बदलाव नहीं किया जबकि न्यूजीलैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा। उसके पास पांचवां तेज गेंदबाज आलराउंडर डि ग्रैंडहोम हैं। मतलब न्यूजीलैंड ने किसी स्पिनर को अंतिम एकादश में नहीं रखा।विस्तार टेस्ट चैंपियनशिप (डब्ल्यूटीसी) फाइनल का दूसरा दिन खराब रोशनी से प्रभावित रहा जिसमें 64.4 ओवर ही हो पाए। अंपायरों ने रोशनी की स्थिति का आकलन करने के बाद भारतीय समयानुसार रात दस बजकर 40 मिनट (स्थानीय समयानुसार शाम छह बजकर 10 मिनट) पर दिन का खेल समाप्त करने की घोषणा की।

विज्ञापनकोहली पहले सत्र में ही क्रीज पर उतर गए थे क्योंकि टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित भारतीय टीम ने रोहित शर्मा (68 गेंदों पर 34 रन) और शुभमन गिल (64 गेंदों पर 28 रन) के विकेट लंच से पहले ही गंवा दिए थे। इन दोनों ने हालांकि पहले विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की थी लेकिन वे एक रन के अंदर पवेलियन लौट गए थे। headtopics.com

ख्रराब रोशनी के कारण जब दिन का खेल रोका गया तब कोहली 124 गेंदों पर 44 रन बनाकर खेल रहे थे और उन्होंने उप कप्तान अंजिक्य रहाणे (79 गेदों पर नाबाद 29 रन) के साथ 58 रन की अटूट साझेदारी की है। रहाणे ने दूसरे सत्र में चेतेश्वर पुजारा (54 गेंदों पर आठ रन) के ट्रेंट बोल्ट (32 रन देकर एक) की इनस्विंगर पर पगबाधा आउट होने के बाद क्रीज पर कदम रखा था।

बारिश के कारण पहले दिन का खेल नहीं हो पाया था। दूसरे दिन पहले सत्र में मौसम ने कोई खलल नहीं डाला लेकिन खराब रोशनी के कारण चाय का विश्राम जल्दी लेना पड़ा और तीसरे सत्र में तो खराब रोशनी ही चर्चा का विषय रही। बीच में एक मौके पर दोनों कप्तान अंपायरों के फैसले से नाखुश भी दिखे।

दिल्ली दंगा: पुलिस ने उमर ख़ालिद की ज़मानत याचिका का विरोध किया, कहा- इसमें दम नहीं पेगासस प्रोजेक्ट: पंजाबी अख़बार ‘रोज़ाना पहरेदार’ के एडिटर की क्यों हुई जासूसी Tokyo Olympics 2021 में India का बेहतर दिन, Medals के करीब हैं ये Players

भारत ने पहले सत्र में दो विकेट 69 रन बनाये थे लेकिन दूसरे सत्र में वह 27.3 ओवर में 51 रन ही जोड़ पाया और इसका सबसे बड़ा कारण था कीवी गेंदबाजों की बेहद अनुशासित गेंदबाजी। कोहली तक ने उन्हें पूरा सम्मान दिया और यहां तक उन्होंने कोलिन डि ग्रैंडहोम के लगातार तीन ओवर मेडन खेले।

दूसरी तरफ पुजारा ने 36 गेंदों पर अपना खाता खोला लेकिन नील वैगनर (28 रन देकर एक) पर कट शॉट से लगाया गया उनका चौका दर्शनीय था। वैगनर का बाउंसर पुजारा के हेलमेट पर भी लगा और इसके तुरंत बाद बायें हाथ के तेज गेंदबाज बोल्ट ने उन्हें पगबाधा आउट कर दिया।कोहली ने अपनी प्रतिबद्धता और दृढ़ता का अच्छा परिचय दिया और शॉट खेलने के लिये ढीली गेंदों का इंतजार किया। रहाणे ने भी अपने कप्तान का अनुसरण किया लेकिन उन्होंने कुछ आकर्षक शॉट भी लगाए। रहाणे अब तक चार चौके लगा चुके हैं जबकि कोहली ने केवल एक बार गेंद बाउंड्री तक पहुंचाई।

इससे पहले इंग्लैंड में पहली पारी टेस्ट मैचों में पारी का आगाज करने वाले रोहित और गिल स्पष्ट रणनीति के साथ क्रीज पर उतरे थे और उन्होंने बोल्ट और टिम साउदी के सामने इसे अच्छी तरह से लागू भी किया।रोहित ने बोल्ट की इनस्विंगर से निबटने के लिये खुले स्टान्स के साथ खेल रहे थे जबकि गिल ने साउदी की आउटस्विंगर से पार पाने के लिये अपनी क्रीज से थोड़ा बाहर खड़े थे।

गिल ने बोल्ट की गेंद पुल करके भारत की तरफ से पहला चौका लगाया। जिसके बाद रोहित ने साउदी पर दो चौके जमाये। गिल ने काइल जैमीसन (14 रन देकर एक) का स्वागत उनकी इन स्विंगर को चार रन के लिये भेजकर किया। पहले 11 ओवर में एक भी मेडन नहीं था लेकिन अगले तीन ओवरों में कोई रन नहीं बना।

जैमीसन की शार्ट पिच गेंद गिल के हेलमेट की ग्रिल पर भी लगी। इसी तेज गेंदबाज ने आखिर में रोहित को आउट करके न्यूजीलैंड को पहली सफलता दिलायी। साउदी ने तीसरी स्लिप में उनका शानदार कैच लिया। रोहित शॉट खेलने को लेकर असमंजस की स्थिति में आ गये थे जिसका फायदा गेंदबाज और कीवी टीम को मिला।

वैगनर ने अपने पहले ओवर में कोण लेती गेंद पर गिल को विकेटकीपर बी जे वाटलिंग के हाथों कैच कराया।पहला दिन बारिश की भेंट चढ़ने के बाद हैंपशर बाउल में सर्द मौसम और बादलों से भरे आसमान को देखते हुए न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला करने में कोई हिचकिचाहट नहीं दिखायी।

भारत ने दो दिन पहले जो टीम चुनी थी उसमें कोई बदलाव नहीं किया जबकि न्यूजीलैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा। उसके पास पांचवां तेज गेंदबाज आलराउंडर डि ग्रैंडहोम हैं। मतलब न्यूजीलैंड ने किसी स्पिनर को अंतिम एकादश में नहीं रखा।आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

Modi सरकार vs ऑल में तब्दील हुआ Pegasus जासूसी विवाद, देखें खबरदार

पेगासस जासूसी मामला अब विपक्ष का हथियार बन गया है, जिसे वो सरकार पर इस्तेमाल कर रही है.दिलचस्प ये है कि कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने आज सरकार पर हमले में इस बात पर जोर दिया कि सरकार ने नागरिकों के फोन में हथियार डाल दिया है. राहुल समेत पूरे विपक्ष का आरोप है कि संसद में पेगासस जासूसी पर बहस ना करा कर. सरकार सवालों से भाग रही है. दूसरी तरफ पेगासस जासूसी मामले को पहले ही साजिश का हथकंडा बता चुकी सरकार ने विपक्ष पर जनता के मुद्दों से भागने और संसद को ना चलने देने का आरोप लगाया है. देखें वीडियो.

IND vs NZ WTC Final: कोहली ने हासिल की खास उपलब्धि, तोड़ा धोनी का रिकॉर्डIND vs NZ WTC Final: कोहली ने हासिल की खास उपलब्धि, तोड़ा धोनी का रिकॉर्ड imVkohli MSDhoni WTCFinal21 INDvsNZ ViratKohli imVkohli Dristi

WTC Final: विराट कोहली ने रचा इतिहास, तोड़ दिया एमएस धोनी का बड़ा रिकॉर्डभारतीय क्रिकेट टीम टेस्ट इतिहास में पहली बार तटस्थ स्थान पर मैच खेल रही है। उसने अब तक 276 टेस्ट मैच घरेलू मैदान पर खेले हैं। इस दौरान 109 मैच जीते हैं और 53 मुकाबलों में हार मिली है। विपक्षी टीम के घर में भारत ने 274 टेस्ट मैच खेले हैं।

संन्यास: केविन ओ ब्रायन ने वनडे क्रिकेट को कहा अलविदा, विश्व कप में लगा चुके हैं आतिशी शतकसंन्यास: केविन ओब्रायन ने वनडे क्रिकेट को कहा अलविदा, विश्व कप में लगा चुके हैं आतिशी शतक KevinOBrien cricketireland KevinOBrien113

अनुष्का की शूटिंग देखते-देखते सो गए थे कोहली, इंटरव्यू में विराट ने बताई थी अपनी कमजोरीइंस्टाग्राम लाइव पर विराट और सुनील बचपन के दिनों को याद कर रहे थे। बातचीत के दौरान सुनील ने विराट से कहा, ‘जब आप लंदन में अपनी पत्नी अनुष्का शर्मा की शूटिंग देखने गए तो पांच मिनट बाद ही सो गए थे। ऐसा ही आपने प्राग में भी किया था।’

WTC Final में टॉस जीतकर भारत को क्या करना चाहिए, गांगुली ने विराट कोहली को दी सलाहगांगुली ने कहा कि न्यूजीलैंड के खिलाफ इस फाइनल मैच में रोहित शर्मा और शुभमन गिल का रोल काफी अहम रहने वाला है। उन्होंने कहा कि विदेशी धरती पर ओपनिंग काफी अहम होता है और उनके प्रदर्शन पर टीम के अन्य बल्लेबाजों का प्रदर्शन भी निर्भर होता है। imVkohli लेकिन कोहली खुद भी नहीं सुनते। गांगुली को शात्री जी को बताना चाहिए था!

लोकप्रियता के मामले में दुनिया में पीएम मोदी का बज रहा डंका, कोरोना काल में गिरी विश्‍व के कई नेताओं की साखविश्‍व के कई नेताओं की लोकप्रियता कोरोना काल में डगमगाई है लेकिन वहीं दूसरी तरफ पीएम मोदी की वर्ल्‍ड एप्रूवल रेटिंग अब भी दुनिया के कई देशों के नेताओं से कहीं अधिक है। बाइडन से तो वो काफी उपर है। narendramodi इसीलिए तो सभी विपक्षियों के पेट मे मरोड़ हो रहा है narendramodi जय हिन्द😂😂😂हाँ तोड़ फोड़ में आगे 😂😂😂 narendramodi मीडिया वालों ऐसे ही महिमामंडन करते रहो तुम लोगों ने ही देश का बंटाधार कर दिया है