विराट कोहली को कितनी गंभीरता से लेनी चाहिए वनडे सीरीज की हार?

विराट कोहली को कितनी गंभीरता से लेनी चाहिए वनडे सीरीज की हार?

12.2.2020

विराट कोहली को कितनी गंभीरता से लेनी चाहिए वनडे सीरीज की हार?

न्यूज़ीलैंड ने लगातार तीन मैचों में भारत को हरा दिया. क्या ये कोहली के लिए चिंता की बात है?

ये एक्सटर्नल लिंक हैं जो एक नए विंडो में खुलेंगे शेयर पैनल को बंद करें इमेज कॉपीरइट Getty Images हार तो चुभती ही है. हर किसी को. कप्तान को, खिलाड़ी को और उसके फैंस को भी. न्यूज़ीलैंड में मंगलवार को एक ऐसी ही हार का सामना भारतीय टीम को करना पड़ा. ये हार इसलिए और ज्यादा चुभ रही है क्योंकि न्यूज़ीलैंड ने वनडे सीरीज में भारत को 3-0 से हरा दिया. टी-20 सीरीज में 5-0 की धमाकेदार जीत दर्ज करने के बाद टीम इंडिया को वनडे सीरीज में एक के बाद एक हार का सामना करना पड़ा. न्यूजीलैंड ने पहला वनडे 4 विकेट से जीता. दूसरे वनडे में उसने 22 रन से और तीसरे वनडे में 5 विकेट से जीत दर्ज की. 21 तारीख से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज के पहले हार की हैट्रिक मायूस करने वाली है. इस तथ्य को जानने के बाद मायूसी और बढ़ जाती है कि भारतीय टीम की वनडे रैंकिंग न्यूज़ीलैंड के मुकाबले बेहतर है. लेकिन बड़ा सवाल ये है कि क्या विराट कोहली वनडे सीरीज की हार को बहुत गंभीरता से लेंगे? क्या दस दिन बाद शुरू हो रही टेस्ट सीरीज से पहले विराट कोहली को अपनी रणनीतियों में बड़े बदलाव करने होंगे? क्या हैं वो पहलू जिसके चलते इस वनडे सीरीज में टीम इंडिया जीत के लिए तरसती रही और क्या विराट कोहली के पास बतौर कप्तान इन बातों का कोई इलाज था? कहीं ऐसा तो नहीं कि विराट इन तीन मैचों की हार के कारणों को अच्छी तरह जानते और समझते हैं और इसलिए वो 'पैनिक' बटन नहीं दबाएंगे. उनके पैनिक बटन ना दबाने की कई वजहें हैं. जिनके आधार पर ये कहा जा सकता है कि न्यूज़ीलैंड में टीम इंडिया की वनडे सीरीज में हार में किस्मत की मार भी है. वो कमियां जो बतौर कप्तान विराट को खली होंगी इमेज कॉपीरइट Getty Images ये स्थिति किसी भी कप्तान के वश के बाहर की है. किसी ने नहीं सोचा था कि शिखर धवन और रोहित शर्मा दोनों ही चोट की वजह से टीम से बाहर हो जाएंगे. लेकिन हुआ ऐसा ही. शिखर का विकल्प विराट ने तैयार किया ही था कि रोहित शर्मा भी बाहर हो गए. विदेशी पिच पर दो बिल्कुल नए बल्लेबाजों के साथ मैदान में उतरना किसी भी टीम के लिए फायदे की बात नहीं हो सकती है. इसका असर भी देखने को मिला. तीनों मैच में सलामी बल्लेबाजों की जोड़ी टीम को अच्छी शुरुआत नहीं दिला पाई. पहले मैच में तो फिर भी सलामी जोड़ी ने पचास रन जोड़े. दूसरे मैच में सलामी जोड़ी ने 21 रन की साझेदारी की और तीसरे मैच में ये जोड़ी दहाई तक भी नहीं पहुंची. इसका सीधा असर विराट कोहली की बल्लेबाजी पर पड़ा. पहले मैच में एक अर्धशतक को छोड़ दें तो बाकी दोनों मैच में सस्ते में पवेलियन लौटे. दूसरे मैच में उन्होंने 15 रन बनाए और तीसरे मैच में वो 9 रन के स्कोर पर पवेलियन लौट गए. तीसरे मैच में विराट कोहली का आउट होना इसलिए खला क्योंकि जिस गेंद पर वो आउट हुए उस तरह की गेंद पर उनके कद के बल्लेबाज का आउट होना अच्छा नहीं लगता. ऑफ स्टंप से ठीक ठाक बाहर जा रही गेंद के साथ छेड़छाड़ उन्हें मंहगी पड़ी. गेंदबाजी में भी विराट का तुरूप का इक्का यानी जसप्रीत बुमराह भी इस सीरीज में अपने रोल पर खरे नहीं उतरे. इस सीरीज के तीन मैचों में बुमराह को एक भी विकेट नहीं मिला. उन्होंने किफायती गेंदबाजी तो की लेकिन विकेट दिलाने में नाकाम रहे. जो टीम इंडिया को भारी पड़ा. विराट को 'पैनिक' बटन दबाने की जरूरत क्यों नहीं इमेज कॉपीरइट Getty Images भारतीय टीम सीरीज 3-0 से हारी जरूर है लेकिन सीरीज में सकारात्मक बातें भी हैं. टीम इंडिया का मिडिल ऑर्डर बहुत ठोस बनकर सामने आया है. श्रेयस अय्यर, केएल राहुल और मनीष पांडे की तिकड़ी ने इस सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया. तीनों ही मैच में खराब शुरुआत के बाद भी भारतीय टीम ने सम्मानजनक स्कोर बनाया. पहले मैच में तो भारतीय टीम ने स्कोरबोर्ड पर 347 रन जोड़ दिए थे. जिसमें श्रेयस अय्यर के 103 और केएल राहुल के 88 रन शामिल हैं. दूसरे मैच में भी 57 रन तक भारतीय टीम के सलामी बल्लेबाजों के साथ साथ विराट कोहली भी पवेलियन लौट चुके थे लेकिन टीम इंडिया ने ढाई सौ का आंकड़ा पार किया. तीसरे मैच में भी पहले तीन विकेट के सिर्फ 62 रनों पर पवेलियन लौटने के बाद भारतीय टीम ने स्कोरबोर्ड पर तीन सौ रनों के करीब का आंकड़ा जोड़ दिया. जाहिर है इस प्रदर्शन से विराट कोहली अपने मिडिल ऑर्डर को लेकर निश्चिंत हुए होंगे. इस बात से इंकार करना टीम इंडिया के साथ ज्यादती होगी कि ये सीरीज उन चुनिंदा सीरीज में थी जहां टीम को अनुभवी खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में मैदान में उतरना पड़ा. ऐसा करना उसकी मजबूरी भी थी. अब बारी टेस्ट सीरीज की है. टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया का प्लेइंग 11 पहले से 'सेट' है. (बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप और पढो: BBC News Hindi

मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं!



कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी

कोरोना से जंग : निज़ामुद्दीन मरकज़ का मामला आने के बाद अमेरिका ने कहा- दुनियाभर की सरकारों को...



भारतीय इंजीनियरों का कायल हुआ अमेरिका, बनाया 60 गुना सस्ता वेंटिलेटर

निज़ामुद्दीन मरकज़ मामला : दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद को भेजा नोटिस, पूछे इन 26 सवालों के जवाब



PM मोदी की देशवासियों से अपील, सोशल डिस्टेंसिंग की 'लक्ष्मण रेखा' को न करें पार

चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन खोलने की योजना बनाएं अधिकारी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ



आप की जीत को कांग्रेस नेताओं ने विकास की जीत और विभाजनकारी एजेंडे की हार कहापूर्व वित्त मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि आप की जीत बेवक़ूफ़ बनाने तथा फेंकने वालों की हार है. दिल्ली के लोगों ने भाजपा के ध्रुवीकरण, विभाजनकारी और ख़तरनाक एजेंडे को हराया है. ये काँग्रेसी पहले अपने शून्य की समीक्षा करते तो बेहतर होता😂 बिल्कुल सही जो जितना बड़ा विभाजनकारी है उसकी उतनी ब्दी हार हुई कांग्रेसी नेता सही कह रहे है,काग्रेस की विभाजन कारी नीतियों ने ही काग्रेस के सभी प्रत्याशियों की जमानतें तक जब्त करा दी ,सूपड़ा साफ कर दिया। बड़े सहनशील है काग्रेसी फिर भी खुशी मना रहे है,ऐसे जैसे इन्हें ही सिंहासन मिल गया हो।

प्रभास की फिल्म में हुई मिथुन चक्रवर्ती की एंट्री, 'बाहुबली' स्टार को देंगे कड़ी चुनौतीसुपरस्टार प्रभास और पूजा हेगड़े की आने वाली फिल्म बेहद चर्चा में बनी हुई है। राधा कृष्ण कुमार निर्देशित इस लव स्टोरी

त्रिनगरः आप की प्रीति तोमर की बड़ी जीत, 10710 वोटों से भाजपा के तिलकराम को हरायात्रिनगरः आप की प्रीति तोमर की बड़ी जीत, 10710 वोटों से भाजपा के तिलकराम को हराया ResultsWithAmarUjala DelhiElection2020 DelhiElectionResults DelhiResults

शिवमंगल सिंह 'सुमन' की कविता को अटल बिहारी की बताकर धीरज बंधा रहे भाजपा नेताशिवमंगल सिंह 'सुमन' की कविता को अटल बिहारी की बताकर धीरज बंधा रहे भाजपा नेता DelhiPolls2020 DelhiElectionResults BJP4India BJP4Delhi INCIndia AamAadmiParty BJP4India BJP4Delhi INCIndia AamAadmiParty पर कहाँ से आया अटलजी का उल्लेख? चित्र मे तो नही है। BJP4India BJP4Delhi INCIndia AamAadmiParty हो कुछ भी पर हार नहीं मानूँगा - अहंकारी_रावण हो कुछ भी पर अपने को बड़ा दिखाता रहूँगा- मूर्खकंस BJP4India BJP4Delhi INCIndia AamAadmiParty aise hi fake kam karke yeh rajniti karte hain aur desh ki janta ka bebkoof banate hain jitenderbabu SubhashiniAli ReallySwara GouravVallabh

ट्रंप ने पीएम मोदी की तारीफ की, कहा- वे सज्जन व्यक्ति, मैं भारत जाने को उत्सुकअमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने फरवरी के अंत में अपने भारत दौरे को लेकर उत्सुकता जाहिर की है। उन्होंने प्रधानमंत्री

Bigg Boss 13: माहिरा शर्मा को नहीं BB ट्रॉफी जीतने की तमन्ना, कहा- पारस को जिताऊंगीBigg Boss 13 माहिरा शर्मा से पूछा गया कि अगर फाइनल कंटेस्टेंट वो और पारस होंगे तो वे क्या करेंगी? जवाब में माहिरा ने कहा कि उन्हें ट्रॉफी जीतने की तमन्ना नहीं है. अगर ट्रॉफी मिल जाए तो वो किस्मत है.



'अनियोजित लॉकडाउन' पर भड़कीं सोनिया, कहा- दुनिया के किसी देश ने ऐसा नहीं किया

दाढ़ी ट्रिम करवा कर नए लुक में दिखे उमर अब्दुल्ला, JK डोमिसाइल नीति पर उठाए सवाल

गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत

तबलीगी जमात का मौलाना अरशद मदनी ने किया बचाव, कहा- मरकज ने कोई गलती नहीं की

कोरोना संकट के बीच कल सुबह 9 बजे देश को फिर संबोधित करेंगे PM मोदी

कोरोना वायरस: निज़ामुद्दीन मरकज़ के मरीज़ों की बाढ़ से कैसे निपटेगी दिल्ली

केजरीवाल का ऐलान- पब्लिक सर्विस वाहन चलाने वालों को मिलेंगे 5 हजार रुपये

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

12 फरवरी 2020, बुधवार समाचार

पिछली खबर

Xiaomi Mi 10 में 50W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट, 8K वीडियो रिकॉर्डिंग की होगी क्षमता

अगली खबर

केजरीवाल क्या मोदी का विकल्प नहीं, उन जैसे ही हैं?
मोदी के दीया जलाने की अपील पर तेज प्रताप का ट्वीट- लालटेन भी जला सकते हैं! कोरोना से बचने के लिए दो मीटर की दूरी काफी नहीं, MIT शोधकर्ता की चेतावनी कोरोना से जंग : निज़ामुद्दीन मरकज़ का मामला आने के बाद अमेरिका ने कहा- दुनियाभर की सरकारों को... भारतीय इंजीनियरों का कायल हुआ अमेरिका, बनाया 60 गुना सस्ता वेंटिलेटर निज़ामुद्दीन मरकज़ मामला : दिल्ली पुलिस ने मौलाना साद को भेजा नोटिस, पूछे इन 26 सवालों के जवाब PM मोदी की देशवासियों से अपील, सोशल डिस्टेंसिंग की 'लक्ष्मण रेखा' को न करें पार चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन खोलने की योजना बनाएं अधिकारी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ Coronavirus Outbreak Live Updates: कोरोना वायरस लाइव अपडेट - उत्तर प्रदेश में आज अबतक 172 नए केस आए हैं। इनमें से 42 वे हैं जो तबलीगी जमात कार्यक्रम में पहुंचे थे। Coronavirus: गाजियाबाद में अश्लील हरकतें करने वाले जमातियों का इलाज नहीं करेगा महिला स्टाफ Coronavirus Lockdown : घर से करें काम, एक माह तक मुफ्त नेट देगा BSNL बिहार में दरभंगा के डीएम को स्क्रीनिंग कराने की सलाह देने पर गोली मारने की धमकी तबलीगी जमात के मौलाना साद को क्राइम ब्रांच का नोटिस, पूछे गए 26 सवाल
'अनियोजित लॉकडाउन' पर भड़कीं सोनिया, कहा- दुनिया के किसी देश ने ऐसा नहीं किया दाढ़ी ट्रिम करवा कर नए लुक में दिखे उमर अब्दुल्ला, JK डोमिसाइल नीति पर उठाए सवाल गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत तबलीगी जमात का मौलाना अरशद मदनी ने किया बचाव, कहा- मरकज ने कोई गलती नहीं की कोरोना संकट के बीच कल सुबह 9 बजे देश को फिर संबोधित करेंगे PM मोदी कोरोना वायरस: निज़ामुद्दीन मरकज़ के मरीज़ों की बाढ़ से कैसे निपटेगी दिल्ली केजरीवाल का ऐलान- पब्लिक सर्विस वाहन चलाने वालों को मिलेंगे 5 हजार रुपये तबलीग़ी जमात: पूछताछ करने गई पुलिस पर हमला तबलीगी जमात पर बैन की मांग, यूपी अल्पसंख्यक आयोग का पीएम मोदी को खत प्रधानमंत्री के वीडियो मैसेज पर शशि थरूर बोले- अभी प्रधान Showman को सुना, ये बस PM का 'फील गुड' मूमेंट था अहमदनगर के बाद अब ठाणे की दो मस्जिदों से मिले 21 विदेशी नागरिक, क्वारनटीन में भेजा गया कोरोना वायरसः ममता बनर्जी ने PM मोदी को लिखा पत्र, मांगा 25000 करोड़ का पैकेज