Jharkhand, Nitishkumar, Jharkhand Assembly Election, Nitish Kumar, Bihar Chief Minister, Address, Jdu, Elections, Janata Dal United, Party Workers, झारखंड विधानसभा चुनाव 2019, बिहार के मुख्यमंत्री, नीतीश कुमार, संबोधित, जनता दल यूनाइटेड, भाजपा, चुनाव, Reasons, Jharkhand News İn Hindi, Latest Jharkhand News İn Hindi, Jharkhand Hindi Samachar

Jharkhand, Nitishkumar

विधानसभा चुनाव 2019: वो चार कारण जिनकी वजह से नीतीश ले रहे हैं झारखंड में दिलचस्पी

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को रांची में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुआ

9.9.2019

विधानसभा चुनाव 2019: वो चार कारण जिनकी वजह से नीतीश ले रहे हैं झारखंड में दिलचस्पी jharkhand nitishkumar NitishKumar BJP4India

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को रांची में जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुआ

जदयू झारखंड में अपनी खोई साख को एक बार फिर पाना चाहती है। 2005 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में जदयू को चार फीसदी वोटों के साथ छह विधानसभा सीटों पर जीत मिली थी। सीटों की संख्या 2009 में कम होकर दो हो गई और वोटों का आंकड़ा 2.8 फीसदी पर आ गया। इसके बाद 2014 में हुए चुनावों में वोटों का आंकड़ा महज एक फीसदी रह गया और पार्टी ने एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं की।

माना जा रहा है कि जदयू चाहेगा कि भाजपा झारखंड में भी उसके लिए कुछ सीटें छोड़ दे। लेकिन भाजपा ने विधानसभा चुनाव में 81 में से 65 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है। तो इसके लिए जितना हो सके पार्टी को उतनी सीटों पर चुनाव लड़ना होगा। पूर्व मंत्री सुदेश महतो के नेतृत्व वाले स्थानीय संगठन ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन के साथ भाजपा का पहले से ही गठबंधन है। इससे नीतीश कुमार के लिए झारखंड के लिए एनडीए में जगह कम हो गई है। वहीं राम विलास पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी ने भी कुछ सीटों की मांग की है।

कि उनकी पार्टी झारखंड में अकेले चुनावों में उतरेगी। जहां सहयोगी भाजपा सत्ता में है। इस दौरान नीतीश ने भाजपा को निशाने पर लिया और कहा कि झारखंड ने उस तरह से प्रगति नहीं की है जैसी अपेक्षा की गई थी। उन्होंने कहा कि भाजपा बिहार के लोगों से कहती है कि शराब के लिए झारखंड आओ।

झारखंड अविभाजित बिहार का ही हिस्सा रह चुका है और जदयू का मानना है कि ब्रांड नीतीश की राज्य में काफी महत्ता है। पार्टी के उपाध्यक्ष प्रसांत किशोर ने पार्टी कैडर से दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव को भविष्य के चुनावों के लिए महत्वपूर्ण बताया है।

और पढो: Amar Ujala

NitishKumar BJP4India के mycity में हिन्दू संन्यासियों व ऋषियों का इस तरह मजाक बनाना व अखबारी चुटकलों को परमज्ञान बताना बहुत ही आपत्तिजनक है मै अभी और आज से अमर उजाला अखबार पढना बन्द कर रहा हूँ और आप...? narendramodi myogiadityanath myogioffice UPGovt DrKumarVishwas NitishKumar BJP4India Bihar me to jitne Ke thikana nai hai Ekra ...aur ee jharkhand me jitega

झारखंड में शराबबंदी को लेकर नीतीश कुमार ने साधा निशान, बोले- ये कितनी गंदी बात है...रांची में अपनी पार्टी द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में नीतीश कुमार ने कहा, यह क्या तरीक़ा है भाई...ये कितनी गंदी बात है. हालांकि नीतीश ने रघुबर दास का नाम नहीं लिया, लेकिन उनका इशारा साफ़ था. बेहतर है देश भर में शराब बंदी हो!! Are bhaiya koi tu sun lo is garib ki fariyaad RRC ne RRC level 1 ka form lakho candidates ka rejact Kar diya h sir bin kisi modification link ke 2018 ki vacancy mein Rrb ne modification link active Karaya tha kintu is baar koi modification link active nhi Karaya Gaya h isse bahut sirf 19 lakh ashutosh83B ye kya sirf? Hai

मध्य प्रदेश में स्कूली बच्चों को 'आनंद सभा' के जरिये सिखाएंगे 'हैप्पीनेस' के गुरमध्य प्रदेश में स्कूली बच्चों को 'आनंद सभा' के जरिये सिखाएंगे 'हैप्पीनेस' के गुर MadhyaPradesh HappynessClass

कश्मीर के कई हिस्सों में कर्फ्यू जैसी पाबंदियां, मोहर्रम के जुलूस को रोकने के लिएमोहर्रम का जुलूस निकालने से रोकने के लिए शहर सहित कश्मीर के कई हिस्सों में रविवार को कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई गई हैं. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

ऑटोमोबाइल सेक्टर को राहत देने में मोदी सरकार को लगेगी 30,000 करोड़ की चपत!Economic Slowdown: टैक्स विभाग के आकलन के मुताबिक, अगर 28 पर्सेंट जीएसटी को घटाकर 18 पर्सेंट करने के ऑटोमोबाइल सेक्टर की डिमांड को मान लिया गया तो सरकार को जीएसटी रेवेन्यू में कम से कम 30 हजार करोड़ रुपये की चपत लग सकती है।

कश्मीर में गिरफ़्तारियों को लेकर चिंतित, सरकार को जल्द से जल्द कराना चाहिए चुनाव: अमेरिकाकश्मीर में गिरफ़्तारियों को लेकर चिंतित, सरकार को जल्द से जल्द कराना चाहिए चुनाव : अमेरिका America India Kashmir अमेरिका भारत कश्मीर American are Anti National It's an Emergency. लगता है मोदी जी के कारनामे सारी दुनियां में भारत की नाक कटवाने का सबसे बड़ा कारण बन रहे हैं।

370 हटने के बाद 2,500 उपद्रवियों को हिरासत में लिया गया था: डोभालआज तक से खास बातचीत के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल ने बताया कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद सुरक्षा बलों ने करीब 2,500 उपद्रवियों को हिरासत में लिया था. ये कश्मीर घाटी में उपद्रव फैलाने की फिराक में थे. हालांकि बाद में ज्यादातर लोगों को रिहा कर दिया गया. रिहाई से पहले सरकार ने इन लोगों के परिजनों के साथ काउंसलिंग भी की. manjeetnegilive बिना थर्ड डिग्री की सेवा किये ये दोगले आतंकी नहीं सुधरेंगे , इन जेहादियों ने तो कश्मीर को अपने बाप दादाओं की जागीर समझ रखा है ... इन गद्दारों से सख्ती से निपटा जाए ... इनकी फितरत ही दोगली है manjeetnegilive Save Kashmiris. manjeetnegilive देश को कमज़ोर करने वालों के लिए कोई भी डिग्री लगाओ, बस देश सुरक्षित रहना चाहिए।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

09 सितम्बर 2019, सोमवार समाचार

पिछली खबर

चार्जिंग पोर्ट गर्म होने पर मिलेगा अलर्ट, एंड्रॉयड 10 में है यह खास फीचर

अगली खबर

बिहार: दो गुटों के बीच हुई अंधाधुंध फायरिंग, तीन की मौत, कई घायल लापता
चार्जिंग पोर्ट गर्म होने पर मिलेगा अलर्ट, एंड्रॉयड 10 में है यह खास फीचर बिहार: दो गुटों के बीच हुई अंधाधुंध फायरिंग, तीन की मौत, कई घायल लापता