वसीम रिजवी बने हरबीर नारायण सिंह त्यागी, इस्लाम छोड़ अपनाया हिंदू धर्म

सनातन धर्म दुनिया का सबसे पहला मजहब- रिजवी

Waseem Rizvi, Shia Waqf Board Chairman Waseem Rizvi

06-12-2021 11:15:00

सनातन धर्म दुनिया का सबसे पहला मजहब- रिजवी

Syed Waseem Rizvi Conversion: डासना मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती ने वसीम रिजवी को हिंदू धर्म की दीक्षा दी। अब वसीम रिजवी, हरबीर नारायण सिंह त्यागी के नाम से जाने जाएंगे।

वसीम रिजवी ने अपनाया हिन्दू धर्म (फोटो-@prem_ssingh)Waseem Rizvi converts to Hinduism: उत्तर प्रदेश शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपना लिया है। धर्म परिवर्तन करके उन्होंने अब अपना नाम हरबीर नारायण सिंह त्यागी रख लिया है। वसीम रिजवी इससे पहले अपने कई विवादित बयानों के कारण भी चर्चाओं में बने रहे हैं।

लता मंगेशकर का इलाज अब भी आईसीयू में ही चल रहा है - BBC Hindi

और पढो: Jansatta »

UP Elections: चुनाव का आना.... 'स्वामी' का जाना! समाजवादी पार्टी ने चला 'मौर्य' दांव! देखें हल्ला बोल

यूपी में चुनाव से पहले ही सियासत गरमा गई है. योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे और मौर्य समाज के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने अपने मंत्रीपद से इस्तीफा दे दिया है और फटाफट समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए है. उनके बाद बीजेपी के तीन और विधायकों ने भी समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है. बीजेपी को ये झटका उस वक्त लगा जब दिल्ली में पार्टी के केंद्रीय नेताओं और सूबे के नेताओं के बीच उम्मीदवारों के नाम पर माथापच्ची चल रही थी. नई चाल और बड़े दांव के बाद मौर्य समाज के बड़े नेता ने योगी सरकार पर दलितों, पिछड़ों, किसानों, बेरोजगार नौजवानों और छोटे कारोबारियों की उपेक्षा का आरोप लगाया है. उधर, अखिलेश यादव ने स्वामी प्रसाद मौर्य का स्वागत करते हए एक बार फिर जीत का दम भरते हुए ट्वीट किया है. देखें हल्ला बोल का ये एपिसोड.

इस्लाम छोड़ हिंदू बनेंगे वसीम रिजवी, यति नरसिंहानंद ग्रहण करवाएंगे सनातन धर्मअक्सर मुस्लिम संगठनों के निशाने पर रहने वाले वसीम रिजवी अब इस्लाम छोड़ हिंदू धर्म अपनाने जा रहे हैं. उन्हें डासना मंदिर के महंत यति नरसिम्हानंद सरस्वती हिंदू धर्म ग्रहण करवाएंगे. aap_ka_santosh ये मुस्लिम था ही कब? इसको तो बस नाम बदलना है!! aap_ka_santosh Very good . Go in dustbin aap_ka_santosh जाति क्या होगी इनकी हिंदू धर्म में और इनके परिवार का निकाह शादी हिंदू धर्म की किस जाति में वैध होगा?

इस्लाम छोड़ हिंदू बनेंगे वसीम रिजवी, यति नरसिंहानंद ग्रहण करवाएंगे सनातन धर्मअक्सर मुस्लिम संगठनों के निशाने पर रहने वाले वसीम रिजवी अब इस्लाम छोड़ हिंदू धर्म अपनाने जा रहे हैं. उन्हें डासना मंदिर के महंत यति नरसिम्हानंद सरस्वती हिंदू धर्म ग्रहण करवाएंगे. aap_ka_santosh ये मुस्लिम था ही कब? इसको तो बस नाम बदलना है!! aap_ka_santosh Very good . Go in dustbin aap_ka_santosh जाति क्या होगी इनकी हिंदू धर्म में और इनके परिवार का निकाह शादी हिंदू धर्म की किस जाति में वैध होगा?

Waseem Rizvi ने इस्लाम छोड़ अपनाया हिंदू धर्म, मंदिर में हुआ धर्म परिवर्तनविवादास्पद बयानों में रहने वाले वसीम रिजवी ने इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपना लिया है. वसीम रिजवी अब जितेंद्र नारायण त्यागी हो गए. शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन रिजवी ने गाजियाबाद स्थित डासना देवी मंदिर में अपना धर्म परिवर्तन किया. इस दौरान मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद गिरि ने अनुष्ठान किया. धर्म परिवर्तन करने के बाद वसीम रिजवी ने कहा कि - अब वो सिर्फ हिंदुत्व के लिए काम करेंगे. वसीम रिजवी लगातार अपने बयानों को लेकर विवादों में रहे हैं. पिछले काफी वक्त से वो ऐसे बयान देते आए हैं जिन्हें इस्लाम विरोधी और मुस्लिम विरोधी माना गया. मुस्लिम समाज में भी वसीम रिजवी के खिलाफ काफी गुस्सा देखने को मिला. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो. Ise to bahut pahle shiya se nikal diya gya tha, koi bolte ki batt h आपका स्वागत है सत्यं शिवं सुन्दरम् 🙏🙏

जेडीयू नेता केसी त्यागी के बेटे ने बीजेपी का दामन क्यों थामा?जेडीयू महासचिव केसी त्यागी के बेटे अमरीश त्यागी ने रविवार को बीजेपी का दामन थाम लिया. अमरीश त्यागी ने पिता की इजाजत लेने के बाद बीजेपी की सदस्यता ग्राहण की है. ऐसे में सवाल उठता है कि केसी त्यागी के बेटे ने जेडीयू की बजाय बीजेपी में आखिर क्यों शामिल होने का फैसला किया.

JDU महासचिव के बेटे अमरीश त्यागी बीजेपी में शामिल, ट्रंप और नीतीश कुमार के लिए कर चुके कामलखनऊ में उपमुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा और लक्ष्मीकांत वाजपेयी की मौजूदगी में जेडीयू के अलावा समाजवादी पार्टी, बसपा और भीम आर्मी के नेता भी बीजेपी में शामिल हुए.

तेज गेंदबाजी छोड़ स्पिनर बने थे एजाज, कीवी दिग्गज की सलाह पर लिया था सबसे बड़ा फैसलाएजाज पटेल ने भारत के खिलाफ एक पारी के सभी 10 विकेट लेकर एक भीषण और अविस्मरणीय रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है। वे ऐसा करने वाले दुनिया के तीसरे गेंदबाज बन गए हैं। उनका जन्म मुंबई में हुआ था। वे 8 वर्ष की उम्र में ही न्यूजीलैंड शिफ्ट हो गए थे।