Loksabha, Parliament, Lok Sabha, Monsoon Session 2021, Monsoon Session Bills, Monsoon Session Of Parliament, Monsoon Session

Loksabha, Parliament

लोकसभा: भारी हंगामे के बीच तीन विधेयकों को मिली हरी झंडी

लोकसभा: भारी हंगामे के बीच तीन विधेयकों को मिली हरी झंडी #Loksabha #Parliament

29-07-2021 03:07:00

लोकसभा: भारी हंगामे के बीच तीन विधेयकों को मिली हरी झंडी Loksabha Parliament

मानसून सत्र के दूसरे हफ्ते में तीसरे आखिर लोकसभा में विधायी कामकाज को थोड़ी लय मिली। हालांकि विपक्ष के तेवर नरम नहीं

विपक्ष के शोरशराबे के बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ठान लिया कि वह विधायी कार्य नहीं रोकेंगे। एक तरफ विपक्षी सांसदों की नारेबाजी जारी रहीं दूसरी ओर प्रश्नकाल में मंत्री सदस्यों का जवाब देते रहे। इस दौरान मंत्रियों ने दस से अधिक प्रश्नों के उत्तर दिये। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जितेंद्र सिंह और विधि एवं न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने अनेक सदस्यों के पूरक प्रश्नों के भी उत्तर दिये। प्रश्नकाल के बाद राजेंद्र अग्रवाल ने आसन संभाला और हंगामे के चलते पहली बार सदन को दोपहर 12 बजे के करीब स्थगित किया गया।

नक्सलियों की आय के स्रोतों को बंद करना बेहद ज़रूरी: अमित शाह - BBC Hindi न्यायापालिका में महिलाओं को हक से मांगना चाहिए आरक्षण: सीजेआई रमन्ना - BBC Hindi इसराइल और यूरोप की कंपनियां कैसे अब खाने के लिए टिड्डे और झींगुर जैसे कीड़े तैयार कर रही हैं? - BBC News हिंदी

एक के बाद तीन बार सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद दोपहर दो बजे जब दोबारा सदन शुरू हुआ तो कॉरपोरेट मामलों के राज्यमंत्री राव इंदरजीत सिंह ने सबसे पहले आईबीसी संशोधन बिल पेश किया। अग्रवाल ने बहस करानी चाही लेकिन विपक्षी सांसद नारेबाजी में लगे रहे जिसके बाद बिना किसी बहस के बिल को ध्वनिमत से पारित कर दिया गया।

यह बिल लघु एवं मझोले इकाई के तहत आने वाले कर्जदार कारोबारियों को एख करोड़ से कम ऋण पर पहले से तैयार व्यवस्था (प्री पैकेज्ड) के तहत दिवाला निपटान प्रक्रिया की सुविधा मिलेगी। यह विधेयक कोरोना महामारी के दौरान एमएसएमई को राहत देने के लिए 4 अप्रैल, 2021 से प्रभावी दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता संशोधन अध्यादेश, 2021 का स्थान लेगा। headtopics.com

23, 675 करोड़ की पहली पूरक मांगों को भी मंजूरीलोकसभा ने अतिरिक्त 23,675 करोड़ रुपये के खर्च की पूरक मांगों को भी मंजूरी दे दी। इसमें 17 हजार करोड़ रुपये स्वास्थ्य क्षेत्र में खर्च किये जाने हैं। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले हफ्ते इन मांगों को सदन के समक्ष रखा था। इसमें स्वास्थ्य के अलावा 2050 करोड़ रुपये नागरिक उड्डयन मंत्रालय के लिए होंगे जिसमें 1872 करोड़ एयर इंडिया पर खर्च होने हैं। विपक्ष के हंगामे के बीच बिना चर्चा के ही पूरक मांगों के बिल को मंजूरी दी गई। इसके अलावा सदन ने प्रासंगिक विनियोग विधेयकों को मंजूरी दी। यह सरकार को अतिरिक्त खर्च पूरा करने के लिए भारत के समेकित कोष से धन निकालने के लिए अधिकृत करता है।

2021 की पहली छमाही में 6.07 लाख से अधिक साइबर हमले हुएकेंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने लिखित जवाब में लोकसभा को बताया कि 2021 की पहली छमाही में साइबर सुरक्षा के 6.07 लाख से अधिक मामले हुए। इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम के मुताबिक पिछले साल 11,58,208 मामले दर्ज हुए थे जबकि इस बार छह महीने के भीतर यह आंकड़ा छह लाख के पार चला गया है। वहीं 2019 में कुल 3,94,499 साइबर हमले हुए थे।

निशिकांत का महुआ पर आरोप: मुझे बिहारी गुंडा बुलायाभाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने बुधवार को टीएमसी की महुआ मोइत्रा पर आईटी की संसदीय समिति की बैठक में उन्हें बिहारी गुंडा बुलाने का आरोप लगाया। दुबे ने ट्वीट किया, 13 साल के संसदीय कार्यकाल में पहली बार उनके लिए इस तरह के अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया। उन्होंने ममता बनर्जी का ध्यान इस ओर आकर्षित करते हुए कहा, आपके सांसद की इस भाषा शैली से साफ होता है कि टीएमसी उत्तर भारतीयों व हिंदी भाषियों को किस तरह देखते है। उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में शशि थरूर पर आरोप लगाया कि वह संसद की परंपरा को नष्ट कर रहे हैं।

विस्तार पड़े। भारी हंगामे के बीच सदन ने बुधवार को तीन विधेयकों को मंजूरी दी और पहली बार प्रश्नकाल बिना किसी व्यवधान के पूरा हुआ।विज्ञापनविपक्ष के शोरशराबे के बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने ठान लिया कि वह विधायी कार्य नहीं रोकेंगे। एक तरफ विपक्षी सांसदों की नारेबाजी जारी रहीं दूसरी ओर प्रश्नकाल में मंत्री सदस्यों का जवाब देते रहे। इस दौरान मंत्रियों ने दस से अधिक प्रश्नों के उत्तर दिये। रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव, कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जितेंद्र सिंह और विधि एवं न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने अनेक सदस्यों के पूरक प्रश्नों के भी उत्तर दिये। प्रश्नकाल के बाद राजेंद्र अग्रवाल ने आसन संभाला और हंगामे के चलते पहली बार सदन को दोपहर 12 बजे के करीब स्थगित किया गया। headtopics.com

पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी की सरकार का पहला कैबिनेट विस्तार - BBC Hindi जीएसटी रिफंड पाने के लिए आधार कार्ड का सत्यापन हुआ अनिवार्य - BBC Hindi नीतीश ने फिर दोहराई जाति जनगणना की मांग, बताया राष्ट्र हित में - BBC Hindi

एक के बाद तीन बार सदन की कार्यवाही स्थगित होने के बाद दोपहर दो बजे जब दोबारा सदन शुरू हुआ तो कॉरपोरेट मामलों के राज्यमंत्री राव इंदरजीत सिंह ने सबसे पहले आईबीसी संशोधन बिल पेश किया। अग्रवाल ने बहस करानी चाही लेकिन विपक्षी सांसद नारेबाजी में लगे रहे जिसके बाद बिना किसी बहस के बिल को ध्वनिमत से पारित कर दिया गया।

यह बिल लघु एवं मझोले इकाई के तहत आने वाले कर्जदार कारोबारियों को एख करोड़ से कम ऋण पर पहले से तैयार व्यवस्था (प्री पैकेज्ड) के तहत दिवाला निपटान प्रक्रिया की सुविधा मिलेगी। यह विधेयक कोरोना महामारी के दौरान एमएसएमई को राहत देने के लिए 4 अप्रैल, 2021 से प्रभावी दिवाला एवं शोधन अक्षमता संहिता संशोधन अध्यादेश, 2021 का स्थान लेगा।

23, 675 करोड़ की पहली पूरक मांगों को भी मंजूरीलोकसभा ने अतिरिक्त 23,675 करोड़ रुपये के खर्च की पूरक मांगों को भी मंजूरी दे दी। इसमें 17 हजार करोड़ रुपये स्वास्थ्य क्षेत्र में खर्च किये जाने हैं। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले हफ्ते इन मांगों को सदन के समक्ष रखा था। इसमें स्वास्थ्य के अलावा 2050 करोड़ रुपये नागरिक उड्डयन मंत्रालय के लिए होंगे जिसमें 1872 करोड़ एयर इंडिया पर खर्च होने हैं। विपक्ष के हंगामे के बीच बिना चर्चा के ही पूरक मांगों के बिल को मंजूरी दी गई। इसके अलावा सदन ने प्रासंगिक विनियोग विधेयकों को मंजूरी दी। यह सरकार को अतिरिक्त खर्च पूरा करने के लिए भारत के समेकित कोष से धन निकालने के लिए अधिकृत करता है।

2021 की पहली छमाही में 6.07 लाख से अधिक साइबर हमले हुएकेंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी राज्यमंत्री राजीव चंद्रशेखर ने लिखित जवाब में लोकसभा को बताया कि 2021 की पहली छमाही में साइबर सुरक्षा के 6.07 लाख से अधिक मामले हुए। इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम के मुताबिक पिछले साल 11,58,208 मामले दर्ज हुए थे जबकि इस बार छह महीने के भीतर यह आंकड़ा छह लाख के पार चला गया है। वहीं 2019 में कुल 3,94,499 साइबर हमले हुए थे। headtopics.com

निशिकांत का महुआ पर आरोप: मुझे बिहारी गुंडा बुलायाभाजपा सांसद निशिकांत दुबे ने बुधवार को टीएमसी की महुआ मोइत्रा पर आईटी की संसदीय समिति की बैठक में उन्हें बिहारी गुंडा बुलाने का आरोप लगाया। दुबे ने ट्वीट किया, 13 साल के संसदीय कार्यकाल में पहली बार उनके लिए इस तरह के अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया। उन्होंने ममता बनर्जी का ध्यान इस ओर आकर्षित करते हुए कहा, आपके सांसद की इस भाषा शैली से साफ होता है कि टीएमसी उत्तर भारतीयों व हिंदी भाषियों को किस तरह देखते है। उन्होंने एक दूसरे ट्वीट में शशि थरूर पर आरोप लगाया कि वह संसद की परंपरा को नष्ट कर रहे हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

Cyclone Gulab Live Updates: चक्रवात गुलाब से पहले आंध्र प्रदेश में NDRF की टीम का मॉक ड्रिल, मछुआरों को समुंदर में न जाने की चेतावनी

बंगाल की खाड़ी पर बने चक्रवाती तूफान 'गुलाब' (Cyclone Gulab) के आज आंध्र प्रदेश और उससे लगे ओडिशा के दक्षिणी हिस्सों से टकराने की संभावना है। ओडिशा में तूफान की चेतावनी के बीच राज्य सरकार ने सात जिलों में हाई अलर्ट जारी किया है। ओडिशा आपदा त्वरित कार्य बल (ODRAF) के 42 दलों और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (NDRF) के 24 दलों के साथ दमकल कर्मियों को सात जिलों गजपति, गंजम, रायगढ़, कोरापुट, मल्कानगिरी, नबरंगपुर, कंधमाल भेजा। मौसम विभाग ने बताया कि चक्रवाती तूफान के प्रभाव से 95 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार तक हवा चलने का अनुमान है। इस दौरान आंध्र और ओडिशा के कई हिस्सों में भारी बारिश का भी अनुमान है। पल-पल के अपडेट के लिए बने रहिए हमारे साथ...

Video : अमरनाथ गुफा के ऊपर फटा बादल, भारी तबाहीजम्मू-कश्मीर में अमरनाथ गुफा के ऊपर बादल फटा है। मीडिया खबरों के मुताबिक बादल फटने से बीएसएफ, सीआरपीएफ और जम्मू पुलिस के कैंपों को भारी नुकसान पहुंचा cloudburst amarnath BSF CRPF JammuKashmirPolice crpfindia BSF_India JmuKmrPolice

डिजिटल मुद्रा: बिटक्वाइन, इथेरियम, डॉजक्वाइन, आदि में भारी उछाल, जानिए प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी के दामडिजिटल मुद्रा: बिटक्वाइन, इथेरियम, डॉजक्वाइन, आदि में भारी उछाल, जानिए प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी के दाम Bitcoin cryptocurrency etherium dogecoin Transaction received - 850,000,000 SHIB COINS. Thank you SHIBA_BONUS We are with you SHIBA INU 🤘🥰

आईएमएफ ने भारत की विकास दर के पूर्वानुमान में की भारी कटौती | DW | 28.07.2021अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने एशियाई अर्थव्यवस्थाओं की वृद्धि के पूर्वानुमान में भारी कमी की है. कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों और टीकाकरण की धीमी रफ्तार का असर उभरती अर्थव्यवस्थाओं की रफ्तार पर नजर आ रहा है. i know this

इंस्टाग्राम पर LPU के एथलीट्स के लिए पोस्ट करना कोहली को पड़ा भारी, फैंस ने कहा 'काश आपने भी LPU से पढ़ाई की होती'इंस्टाग्राम पर टोक्यो ओलंपिक को लेकर पोस्ट कर ट्रोल हूए विराट कोहली, एक व्यक्ति ने लिखा, ‘’काश विराट ने भी एलपीयू से पढ़ाई की होती, तो कम से कम वो कभी फाइनल तो न हारते।‘’ Viratkohli Instagram LPU Tokyo2020 TeamIndia Cheer4India Olympics imVkohli

CAA लागू करने के लिए सरकार को चाहिए वक्त: गृह मंत्रालय ने लोकसभा और राज्यसभा से 6 महीने और मांगे, कहा- नियम बनाने के लिए 9 जनवरी 2022 तक का समय दें2019 में संसद से पास होकर कानून बन चुके CAA (नागरिकता संशोधन कानून) को लागू करने में अभी अभी करीब 6 महीने का वक्त और लगेगा। कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई के एक सवाल का जवाब देते हुए गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने मंगलवार को संसद में कहा, 'गृह मंत्रालय को कानून को लागू करने के नियम बनाने के लिए 9 जनवरी 2022 तक का समय चाहिए। उन्होंने कहा कि राज्यसभा और लोकसभा की कमेटी से कानून को लागू करने के लिए और ... | Citizenship Amendment Act; Narendra Modi Government Seeks Extension Till January 9 For Framing CAA rules, गृह मंत्रालय ने लोकसभा और राज्यसभा से 6 महीने और मांगे, कहा- नियम बनाने के लिए 9 जनवरी तक का समय दें तब तक यूपी चुनाव का समय आ जायेगा। एक मुद्दा होगा सारी नाकामी छिपाने के लिए। बिलकुल UP चुनाव के दौराण ही चाहिए वक्त !और SC भी मूकदर्शक बनकर सब देखता रहेगा! लगता है एक छापा का असर हुआ है। 😁

दिलीप कुमार के 350 करोड़ के बंगले को बचाने के लिए PM मोदी तक पहुंच गई थीं सायरा बानोदिलीप कुमार ने 1953 में मुंबई के पाली हिल स्थित बंगले को कमरुद्दीन लतीफ से 1.4 लाख रुपये में खरीदा था। साल 2018 में समीर भोजवानी नाम के एक बिल्डर ने दावा किया कि प्रोपर्टी पर मालिकाना हक दिलीप कुमार के बजाय भोजवानी का है।