Balaghat, Madhyapradesh, Crimenews, Police, Lockdown, Man Killed His Son, Balaghat, बालाघाट, मध्यप्रदेश, पिता ने बेटे की हत्या, Madhya Pradesh News İn Hindi, Latest Madhya Pradesh News İn Hindi, Madhya Pradesh Hindi Samachar

Balaghat, Madhyapradesh

लॉकडाउन में परिवार को नहीं मिला भोजन तो पिता ने बेटे की हत्या की, फिर खुद पहुंचा थाने

कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के कारण बालाघाट में कथित रूप से एक व्यक्ति ने अपने बेटे की

29-05-2020 21:35:00

लॉकडाउन में परिवार को नहीं मिला भोजन तो पिता ने बेटे की हत्या की, फिर खुद पहुंचा थाने Balaghat MadhyaPradesh CrimeNews Police

कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के कारण बालाघाट में कथित रूप से एक व्यक्ति ने अपने बेटे की

Updated Fri, 29 May 2020 10:46 PM ISTविज्ञापनसांकेतिक तस्वीरविज्ञापन मुक्त विशिष्ट अनुभव के लिएअमर उजाला प्लस के सदस्य बनेंख़बर सुनेंख़बर सुनेंकोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के बीच बालाघाट में कथित रूप से एक व्यक्ति ने अपने ही बेटे की हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक बेरोजगार हुए 37 वर्षीय एक व्यक्ति ने परिवार को भोजन न मिलने से परेशान होकर अपने आठ वर्षीय बेटे के दोनों हाथ बांधकर वैनगंगा नदी में डुबोकर शुक्रवार दोपहर हत्या कर दी।

राहुल गांधी का हमला- 'सरकार का आर्थिक कुप्रबंधन लाखों परिवारों को बबार्द करने वाला है लेकिन अब...' कांग्रेस ने भारत-चीन को लेकर 2013 में किये मोदी के Tweet की दिलाई याद, 'तंज कसते हुए पूछे ये सवाल...' कैसे करोड़ों का मालिक बन गया विकास दुबे?

हत्या करने के बाद आरोपी पिता पहले अपने घर गया और परिजनों को बेटे को नदी में डुबोकर मारने की बात बताने के बाद फिर खुद कोतवाली पहुंचकर पुलिस को हत्या की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।कोतवाली प्रभारी विजय सिंह परस्ते ने बताया कि नगर के सरस्वती नगर क्षेत्र में निवास करने वाले सुनील जायसवाल ने शुक्रवार दोपहर अपने पुत्र प्रतीक जायसवाल (आठ) की नदी में डुबोकर हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि हत्या करने के बाद आरोपी स्वयं पुलिस के पास पहुंचा और मामले की जानकारी दी।

परस्ते ने बताया कि उसके द्वारा दी गई जानकारी के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बच्चे का शव बरामद किया। बच्चे के दोनों हाथ पीछे की ओर बंधे थे। उन्होंने कहा कि मामले में आरोपी पिता के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (हत्या) का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।

परस्ते ने कहा कि आरोपी पिता ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया कि लॉकडाउन के कारण उसके पास कोई काम नहीं था। इसलिए अपने परिवार को पालने में अक्षम होने के कारण उसने बेटे की हत्या कर दी है।उन्होंने कहा कि आरोपी ने कहा कि बेटे को मारकर वह अपना वंश खत्म करना चाहता था। वहीं, परिजनों के अनुसार आरोपी काम नहीं होने के कारण अक्सर तनाव में रहता था।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शुक्रवार को ही आरोपी की बड़ी बेटी जिसकी उम्र 10 साल है का जन्मदिन भी था। जिसके लिए केक लेने के नाम पर आरोपी पिता अपने बेटे को लेकर घर से निकला था।कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लागू लॉकडाउन के बीच बालाघाट में कथित रूप से एक व्यक्ति ने अपने ही बेटे की हत्या कर दी। जानकारी के मुताबिक बेरोजगार हुए 37 वर्षीय एक व्यक्ति ने परिवार को भोजन न मिलने से परेशान होकर अपने आठ वर्षीय बेटे के दोनों हाथ बांधकर वैनगंगा नदी में डुबोकर शुक्रवार दोपहर हत्या कर दी।

विज्ञापनहत्या करने के बाद आरोपी पिता पहले अपने घर गया और परिजनों को बेटे को नदी में डुबोकर मारने की बात बताने के बाद फिर खुद कोतवाली पहुंचकर पुलिस को हत्या की जानकारी दी। इसके बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।कोतवाली प्रभारी विजय सिंह परस्ते ने बताया कि नगर के सरस्वती नगर क्षेत्र में निवास करने वाले सुनील जायसवाल ने शुक्रवार दोपहर अपने पुत्र प्रतीक जायसवाल (आठ) की नदी में डुबोकर हत्या कर दी। उन्होंने कहा कि हत्या करने के बाद आरोपी स्वयं पुलिस के पास पहुंचा और मामले की जानकारी दी।

परस्ते ने बताया कि उसके द्वारा दी गई जानकारी के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर बच्चे का शव बरामद किया। बच्चे के दोनों हाथ पीछे की ओर बंधे थे। उन्होंने कहा कि मामले में आरोपी पिता के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (हत्या) का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया गया है।

गलवान घाटी से गायब हुए चीनी सेना के ठिकाने, देखें ताजा सैटेलाइट तस्वीरें कानपुर कांड में जांच के घेरे में आए डीआईजी एसटीएफ अनंतदेव का योगी सरकार ने किया तबादला Indian Railways: ट्रेन के आते ही स्टेशन पर जलेंगी सारी लाइट, जाते ही 70 फीसद होंगी बंद

परस्ते ने कहा कि आरोपी पिता ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया कि लॉकडाउन के कारण उसके पास कोई काम नहीं था। इसलिए अपने परिवार को पालने में अक्षम होने के कारण उसने बेटे की हत्या कर दी है।उन्होंने कहा कि आरोपी ने कहा कि बेटे को मारकर वह अपना वंश खत्म करना चाहता था। वहीं, परिजनों के अनुसार आरोपी काम नहीं होने के कारण अक्सर तनाव में रहता था।

और पढो: Amar Ujala »

Kaise haalat ho gayee.. kam se kam manregaa hi shuroo karo.. ये सब झूठ है। Uppolice कृपया इस अखबार की तहकीकात के कि ये न्यूज़ सही है क्या? अगर न्यूज गलत है तो इस अख़बार के विरूद्ध कड़ी कारवाही करे। myogiadityanath Rip. Stupid man... Agr thane hi jana tha to mara kyo , agr bhook lagi thi to bina mare , thane jata aur apni problem batatat , koi na koi to help krta hi😠

Very bad news.. So said आत्म निर्भर भारत मे कॉरोना का आयातक.... Corona time men samaj toot raha hai. Uski naitiktayen khatam ho rahi hain Kuch dhram krlo fake news chapne se phle.... Beta bap ko mar deta h ... Lekin bap bete ko nhi.... Or bnda agr thane ja rha h to mangar bhi kha Sakta h lo sun lo desh ke mukhyamantri yo aur pradhanmantri ji

Modi ka developed india Oh मीडिया का फेलाया हुआ झूठ। Gjb

कश्मीर में पुलवामा में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता, नाकाम की कार बम विस्फोट की साजिशपुलवामा पुलिस, सीआरपीएफ और आर्मी ने एक साथ एक्शन लेते हुए इस गाड़ी की पहचान की और इसमें IED के होने का पता लगाया।Pulwama

तेजस्वी ने की गोपालगंज में हुई हत्याओं की सीबीआई जांच की मांग, राज्यपाल को सौंपा ज्ञापनगोपालगंज की घटनाओं का जिक्र करते हुए तेजस्वी ने लिखा है कि विगत एक पखवाड़े में गोपालगंज में ही अनिल तिवारी, शम्भु मिश्रा, मुन्ना तिवारी समेत अनेक व्यक्तियों की हत्याएं हुई हैं. गोपालगंज में हुई इन सब घटनाओं में एक ही ढंग से हत्याओं को अंजाम दिया गया है. हम गोपालगंज में हुई इन सब हत्याओं की सीबीआई जांच की मांग करते हैं. नीतीश कुमार अमरेन्द्र पाण्डेय जो हत्यारोपित है उसे बचाने का काम कर रहे हैं अगर नहीं तो अभी तक गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई। आरोपी कह रहा हैdgp और sp मेरे जात का है तो क्या बाकी जातियों को न्याय नहीं मिलेगा? Failure talking 😂😂 विपक्ष हमला तो बोल ही रहा है सरकार में शामिल भाजपा का छात्र संगठन भी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रहा है ,कहीं भाजपा अंदर ही अंदर नीतीश कुमार को किनारे लगाने का खेल तो नहीं खेल रही हैं

केंद्र जारी करे लॉकडाउन की गाइडलाइंस, राज्यों पर छोड़े फैसला लेने की आजादी: सचिन पायलटराजस्थान के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि हमें कोरोना के साथ अब जीना होगा. लॉकडाउन कोई समाधान नहीं. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार लॉकडाउन की गाइडलाइंस जारी, लेकिन फैसला लेने की स्वतंत्रता राज्यों पर छोड़ दे. केन्द्र की सुनता कौन है 😝 Lockdown 4 bhi to rajya pe nirbhar tha....

प्रधानमंत्री ने बिजली क्षेत्र की समीक्षा की, उपभोक्ताओं की संतुष्टि को प्राथमिकता बतायाप्रधानमंत्री मोदी ने उपभोक्ताओं की संतुष्टि को प्राथमिकता देते हुए कहा, बिजली क्षेत्र में परिचालन दक्षता को बढ़ाने के साथ ही इसे सस्ता और सुलभ बनाना जरूरी है NarendraModi

MP में मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारियां अंतिम दौर में, दावेदारों की धड़कनें तेजMP में मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारियां अंतिम दौर में, दावेदारों की धड़कनें तेज MadhyaPradesh CabinetExpansion ShivrajSinghChouhan इस कोरोनाग्रस्त माहौल में मन्त्रिमण्डल विस्तार.. वाह 😡 Ohk .... Ek lockdown me sarkar giri . Agle lockdown me nayi sarkar bani to aane wale lockdown me mantri mandal ka vistar hoga ....MP alag hi itihas rach raha मतलब शिवराज सिंह जी और भाजपा को लोगो से ज्यादा सरकार की चिंता है

शिवपाल सिंह यादव की सदस्यता रद्द करने की याचिका वापस, सपा में वापसी की तैयारीसियासी गलियारों में एक बार फिर मुलायम परिवार में एका के कयास लगाए जा रहे हैं। ShivpalSinghYadav SamajwadiParty yadavakhilesh ShivpalSYadav yadavakhilesh ShivpalSYadav देखिए, कितने भोले लग रहे हैं सिबपाल जी।

कोरोना को 'मामूली फ़्लू' कहने वाले राष्ट्रपति बोलसोनारो हुए संक्रमित दिल्ली से सटे सोनीपत में 7 मुस्लिम परिवारों ने अपनाया हिंदू धर्म 10तक: ह‍िंदुस्तान ने LAC पर दिखाया दम तो चीन ने पीछे ल‍िए कदम अमेरिका का एलान, चीन से टकराव की स्थिति में भारत का देंगे साथ, ड्रैगन को किया आगाह Police Encounter: CM योगी आदित्यनाथ का ऑपरेशन क्लीन, भदोही में शातिर अपराधी दीपक पुलिस मुठभेड़ में ढेर लद्दाख में चीन के पीछे हटने की खबर पर ओवैसी ने पूछे सवाल, कहा- जब घुसे ही नहीं, तो पीछे कैसे हट रहे हैं? चीन ने दी धमकी: तिब्बत मामले को न छुए भारत, नहीं तो होगा नुकसान - trending clicks AajTak चीन के कारण अमेरिका और बाकी दुनिया को भारी क्षति पहुंची : डोनाल्‍ड ट्रंप India-China Tension: गलवन से 2 किमी पीछे हटी चीनी सेना, टेंट और निर्माण को हटाया PM ओली की कुर्सी बचाने में जुटी चीनी राजदूत, राष्‍ट्रपति से की गुप्त मुलाकात LAC से चीन का पीछे हटना पीएम मोदी की आक्रामक रणनीति का असर? देखें दंगल