Coronavirus, Covıd 19, Migrantlabourers, Migrantworkers, Lockdownextention, Lockdown-4 İn India, Millions Labourers Leave Cities, Migrant Workers Not Available For Running Factory, Coronavirus, Covid-19, Union Home Ministry

Coronavirus, Covıd 19

लाखों मजदूरों की घर वापसी: फैक्ट्री चालू करने की अनुमति तो मिल जाएगी, लेकिन कामगार नहीं मिलेंगे

हमें स्वास्थ्य का बजट रक्षा बजट के बराबर का करना होगा ताकि इतने सरकारी अस्पताल समस्त सुविधाओं से लैस हों कि किसी भी वायरस से लड़ लें।

20-05-2020 05:33:00

Analysis - लाखों मजदूरों की घर वापसी: फैक्ट्री चालू करने की अनुमति तो मिल जाएगी, लेकिन कामगार नहीं मिलेंगे Coronavirus COVID19 MigrantLabourers MigrantWorkers Lockdownextention ShuklaRajiv INCIndia

हमें स्वास्थ्य का बजट रक्षा बजट के बराबर का करना होगा ताकि इतने सरकारी अस्पताल समस्त सुविधाओं से लैस हों कि किसी भी वायरस से लड़ लें।

: लॉकडाउन का चौथा चरण शुरू हो गया है। लगता है कि बहुत कुछ बदला है, लेकिन केंद्रीय गृह मंत्रालय जो निर्देश दे रहा है उनका पालन सही तरह नहीं हो रहा है। कई राज्य सरकारें अपनी ओर से नियम बना रही हैं। इससे भी ज्यादा गलत बात यह है कि जिला और पुलिस प्रशासन अपने ढंग से काम कर रहे हैं। ऐसा लगता है कि उन्हें सख्ती करने और किस्म-किस्म की रोक लगाने को कहा जा रहा है।

बीजेपी नेता सोनाली फोगाट ने मंडी अधिकारी की चप्पलों से की पिटाई अफसर पर चप्पल बरसाती रहीं BJP नेता, मूक दर्शक बनी रही पुलिस BJP नेता सोनाली फोगाट ने अफसर को जड़ा थप्पड़, बरसाई चप्पल, वीडियो वायरल

यदि सामान नहीं बिकेगा तो उत्पादन नहीं होगा और न ही कल-कारखाने चलेंगेयदि गृह मंत्रालय के ताजा निर्देशों को देखा जाए तो शॉपिंग मॉल के अलावा सारी दुकानें खुली होनी चाहिए। उनमें सिर्फ दो गज दूरी का नियम लगाया गया है। दुकानों का खुलना और सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक लोगों का बेरोकटोक आना-जाना इसलिए जरूरी है, क्योंकि यदि सामान नहीं बिकेगा तो न तो उत्पादन होगा और न ही कल-कारखाने चलेंगे। यदि ये नहीं चले तो न लोगों को रोजगार मिलेगा और न ही काम-धंधा आगे बढ़ेगा।

यह भी पढ़ेंलोगों को दिनचर्या ऐसी बनानी होगी जिसमें कोरोना से बचकर काम किया जा सकेकोरोना से लड़ाई लड़ने के लिए हर नियम का पालन होना ही चाहिए, लेकिन इसी के साथ यह भी समझना होगा कि कोरोना इतनी जल्दी जाने वाला नहीं है। लोगों को अपनी दिनचर्या ऐसी बनानी होगी जिसमें कोरोना वायरस के संक्रमण से बचकर काम किया जा सके।

अब कोरोना के साथ ही जीवन गुजारना होगा और देश को चलाना होगायह भी पढ़ेंअब कोरोना के साथ ही जीवन गुजारना होगा और देश को चलाना होगा। कोई भी यह दावे के साथ नहीं कह सकता कि अमुक दिन कोरोना खत्म हो जाएगा? इस मामले में अमेरिका के राष्ट्रपति से लेकर दुनिया के किसी भी शासनाध्यक्ष को कुछ भी पता नहीं है। सब अंधेरे में तलवार चला रहे हैं। इन हालात में अब हर देश को अपनी गतिविधियां सामान्य बनानी होंगी।

कोरोना काल में लाखों मजदूरों का दर्द दूर करना आसान काम नहींयह भी पढ़ेंभारत में लाखों मजदूरों को इतनी विकट परिस्थितियों में अपने घरों को लौटना पड़ रहा है कि उन्हें देख आंखें नम हो जा रही हैं। हममें से कोई भी उनकी सही तरह मदद नहीं कर पा रहा है। कोई आरोप-प्रत्यारोप कितने भी लगा ले, लेकिन मजदूरों का दर्द दूर करना आसान काम नहीं। अब ये लाखों मजदूर कब वापस लौटेंगे, कोई नहीं जानता। गांवों में भी उनकी स्थिति कैसी रहेगी, यह कोई नहीं जानता। कुछ दिन तो गांव में उनके परिवार के लोग उनकी देखभाल करेंगे, लेकिन उसके बाद उनमें भी कलह हो सकती है। फिलहाल मजदूर वापस शहर लौटते नहीं दिखते।

यह भी पढ़ेंफैक्ट्री चालू करने की अनुमति तो मिल गई, लेकिन काम करने वाले लोग नहीं हैंकई उद्योगपतियों ने मुझे बताया कि उन्हें फैक्ट्री चालू करने की अनुमति मिल गई है, लेकिन काम करने वाले लोग नहीं हैं। ऐसे में उत्पादन ठप पड़ा है। उनका यह भी कहना है कि महीने दो महीने तो जैसे-तैसे वेतन देकर निकाल लिया, लेकिन जब हमारी खुद की आमदनी जीरो है तो हम आगे वेतन कैसे दे पाएंगे? जो सरकारों की लेनदारी है उसे बजाय माफ करने के लेने की कोशिश की जा रही है। उन्हें कुछ समझ नहीं आ रहा कि आगे क्या होने वाला है। जब बेरोजगारी बढ़ेगी तो देश में सामाजिक अशांति को रोकना मुश्किल होगा।

यह भी पढ़ेंजाने माने अर्थशास्त्री रुचिर ने कहा- भारत मे सबसे कड़ा लॉकडाउन है  और पढो: Dainik jagran »

ShuklaRajiv INCIndia कामगार न मिले तो ही ठीक है बनेंगे बड़े लोग करोड़पति मगर अपने उन कामगारों को महीने भर बैठा कर खाना भी न खिला सके, तो अब भुगतना भी जरूरी है । ShuklaRajiv INCIndia Bada guman tha e sadak tujhe apne lambai par desh ke majdooro ne to tujhe padal he nap diya ShuklaRajiv INCIndia गलती तो फैक्टरी वालों की है करोड़ो रूपये कमाते हैं क्या कुछ मजदूर को सुरक्षित होस्टल नहीं दे पा रहे हैं इस महामारी में,

ShuklaRajiv INCIndia तो ये फैक्टरी वाले अपने कामगारो को अपने व्यहवार और सहायता से रोक कर क्यों रख पाये। जितना लालच किया था उससे जयादा नुकसान होगा। ShuklaRajiv INCIndia यह तो मालिकों को सोचना था जाम करना था उन लोगों के खाने-पीने का जब तो निकाल दिए अब भुगतो ShuklaRajiv INCIndia जिन फ़ैक्टरी मालिकों ने मजबूरी के समय में अपने कामगार का ध्यान नही रखा अब सब से अधिक परेशानी उन्ही मालिकों को आने वाली है.. क्या ये थोड़े दिन इन मज़दूरों को बिठा के खिला नही सकते थे..अब चलाना अपनी factory's केसे चलाओगे..

ShuklaRajiv INCIndia ShuklaRajiv INCIndia मीडिया से निवेदन है सहारनपुर जिले में बच्चों का टीकाकरण चलवाने की कृपा करे। ShuklaRajiv INCIndia Rohganiyas n Bangladeshi wud get opportunity

मुंबई से मुजफ्फरनगर गए नवाजुद्दीन का कोरोना टेस्ट नेगेटिव, 4 दिनों से थे होम क्वारनटीननवाजुद्दीन सिद्दीकी लॉकडाउन के बीच मुंबई से अनुमति लेकर अपने होमटाउन गए थे. वे मुजफ्फरनगर में बुढाना कस्बे स्थित अपने घर पर होम क्वारनटीन हुए थे. इसके बाद नवाजुद्दीन ने कोरोना टेस्ट करवाया. गनीमत ये रही कि नवाजुद्दीन का टेस्ट नेगेटिव निकला. Wah modi wah अगर अभी चुनाव करा दी जाए तो कोई मजदूर पैदल नहीं चलेंगे ना कोई भूख से और न रॉड में ऐक्सिडेंट से मारेंगे. सब नेता पॉवर में या जाते। Good hai g

दाऊद का गुर्गा टाइगर हनीफ नहीं आएगा भारत, ब्रिटेन का प्रत्यर्पण से इनकारभारत में वांछित अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के मददगार टाइगर हनीफ को ब्रिटेन प्रत्यर्पित नहीं करेगा। ब्रिटिश सरकार भगोड़ों को पालने का ब्रिटेन का पुस्तैनी पेशा है। ऐसा ही क्यों होता है हर बार जिसकी जरूरत होती है वही नही आता है MEAIndia Ye phale yaha se le jate the ab aane nhi de rhe hai

'कभी वापस नहीं आएंगे',चंडीगढ़ से साइकिल से बिहार जा रहे मजदूरों का छलका दर्दचारों ने बताया कि 1,500 किलोमीटर साइकिल से मुश्किल सफर को वो मजबूर हुए तो इसके पीछे लालफीताशाही के अलावा भ्रष्टाचार भी बड़ी वजह है. उन्होंने दावा किया कि सेक्टर 43, चंडीगढ़ और आसपास तैनात पुलिसकर्मियों ने उनसे पैसे की मांग की थी. यहीं से दूसरे राज्यों के लिए बसें भेजी जा रही हैं. manjeet_sehgal आखिर ज़ी मीडिया ने कोरोना बम की बात क्यों छिपाई। क्या इनकी मंशा पूरे देश में कोरोना बम से वार करने की थी। ज़ी मीडिया में मिले 15 कोरोना पॉज़िटिव। ऑफिस को अभी तक नहीं किया गया सील। जिस थाली में ये खाते हैं उसमें ही छेद करते हैं। ZeeNewsSealKaro manjeet_sehgal manjeet_sehgal

अर्णब गोस्वामी का मामला सीबीआई को सौंपने से सुप्रीम कोर्ट का इनकारसोनिया गांधी पर अपने टीवी शो में टिप्पणी को लेकर अर्णब गोस्वामी पर देश के कई इलाक़ों में उन पर केस दर्ज किया गया है. Jb sanya bhai kotwal to dar kahe ka sahab ke rehte baal bhi banka nhi ho sakta dalal patrakar arnab ka He is dog of Indian media BBC to mithai baategi aaj congress ke saath mil ke 😂😂

अम्फान तूफान: अमित शाह ने ममता और पटनायक से की बात, मदद का दिया भरोसाकेंद्रीय मंत्री अमित शाह ने मंगलवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से बात की। AmphanCyclone AmitShah HMOIndia MamataOfficial Naveen_Odisha

विवादों के कारण TikTok का नुकसान, Google Play पर ऐप की रेटिंग 4.0 से हुई 2.0विवादों के कारण TikTok का नुकसान, Google Play पर ऐप की रेटिंग 4.0 से हुई 2.0 TikTok tiktokdown BanTikToklnlndia tiktokexposed Nice Abhi to aur girega Ek se niche jaye to samjhna murge ne bhi anda diya he 😂

राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र शामली: एक को गिरफ्तार करने गई पुलिस ने 35 मुस्लिम घरों में तोड़फोड़ व मारपीट की कोरोना वायरस: दुनिया भर में 65.6 लाख से ज़्यादा संक्रमित, 3.87 लाख लोगों की मौत - BBC Hindi रेलमंत्री पीयूष गोयल ने आरपीएफ जवान को पुरस्कृत करने का ऐलान किया, भोपाल स्टेशन पर भूखी बच्ची को चलती ट्रेन में पहुंचाया था दूध मोदी सरकार पर सिब्बल का वार, कहा- आत्मनिर्भर भारत अभियान एक और जुमला जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? मास्क नहीं होने पर चालान काटा, विरोध करने पर पुलिस ने युवक की गर्दन को घुटने से दबाया और पीटा, दो लोग पैर पकड़े रहे एटलस साइकिल ने बंद किया आख़िरी कारखाना, हज़ार के क़रीब कर्मचारी बेरोज़गार सीएए: प्रदर्शनकारियों को दिल्ली दंगों से जुड़े मामलों में गिरफ़्तारी पर सांसदों ने उठाई आवाज़ कोरोना अपडेटः जॉर्ज फ़्लॉयड को कोरोना संक्रमण भी हुआ था - BBC Hindi हथिनी की मौत पर राहुल गांधी से मेनका का सवाल, पूछा- क्यों नहीं की कार्रवाई