Khayyam, Khayyamsaab, Mohammedzahurkhayyamhashmi, Mohammedzahurkhayyam, Triveni Prasad, त्रिवेणी प्रसाद, Khayyam Passes Away, Khayyam Died, Khayyam Dead, Khayyam Age, Khayyam Profile, Music Composer Khayyam, Rip Khayyam, Khayyam Demise, संगीतकार खय्याम, खय्याम निधन, खय्याम, Khayyam, Yash Chopra, यश चोपड़ा, Khayyam Death, Khayyam Kissey, Khayyam Best Songs, Khayyam Life, Music Composer, Mohammed Zahur Khayyam Hashmi, Mumbai, Bollywood News, Bollywood News İn Hindi, Entertainment News, Entertainment News İn Hindi, Amar Ujala Entertainment, Viral Bollywood News, Bollywood Trending News, News İn Trend, Latest Bollywood News, बॉलीवुड खबरें, हिंदी में बॉलीवुड खबरें, मनोरंजन की खबरें, मनोरंजन जगत, अमर उजाला मनोरंजन, Entertainment News İn Hindi, Bollywood News İn Hindi, Bollywood Hindi News

Khayyam, Khayyamsaab

लंबी बीमारी के बाद खय्याम का निधन, शास्त्रीय गायक त्रिवेणी प्रसाद ने ऐसे किया याद

मशहूर संगीतकार मोहम्मद जहूर खय्याम ने आज दुनिया को अलविदा कह दिया।

19-08-2019 22:16:00

'उमराव जान', 'बाज़ार', 'कभी-कभी', 'नूरी', 'त्रिशूल' जैसी हिट फिल्मों के गीतों की धुन बनाने वाले मशहूर संगीतकार मोहम्मद जहूर खय्याम ने दुनिया को अलविदा कह दिया। Khayyam khayyam saab MohammedZahur Khayyam Hashmi MohammedZahur Khayyam

मशहूर संगीतकार मोहम्मद जहूर खय्याम ने आज दुनिया को अलविदा कह दिया।

त्रिवेणी प्रसाद ने खय्याम को याद कहते हुए कहा- 'एक ऐसे सुरीले कंपोजर जिनकी खासियत थी कि अगर एक गाने में तीन अंतरे हैं तो वो तीन अंतरे को अलग से कंपोज करते थे। इसके साथ ही खय्याम काफी शायराना अंदाज में लिखते थे। वो किसी भी कंपोजिशन को हल्केपन से नहीं लिखते थे। खय्याम साहब एक ऐसे संगीतकार थे कि चेतन आनंद साहब जो मदन मोहन जी के अलावा किसी दूसरे को सोचना भी पसंद नहीं करते थे। उन्होंने मदन मोहन जी की मौजूदगी में खय्याम साहब के साथ 'आखिरी खत' फिल्म की थी। इसका गाना 'बहारों मेरा जीवन भी सवारों' आज भी अपनी छाप रखता है।'

‘कोरोना आपदा को बदला लेने का अवसर मान रही मोदी सरकार’: छात्र नेताओं ने लगाया आरोप दरभंगा में ज्योति का घर बना पीपली लाइव, नींद अधूरी-खाना पीना छूटा नेपाल क्या हमेशा भारत को चीन का डर दिखाता है?

त्रिवेणी आगे कहते हैं- 'वहीं राज कपूर साहब के साथ में उन्होंने 'वो सुबह कभी तो आएगी' में काम किया था। खय्याम साहब का गाना राज कपूर साहब सुनने आए थे तो उन्होंने कहा था कि आपके अलावा कोई और इसका संगीत नहीं दे सकता है। इसके साथ ही 'कभी कभी' नज्म को भी फिल्म बनाया गया था। इस फिल्म के लिए खय्याम साहब को कोई कभी नहीं भूल सकता है। ऐसे लगता है कि उन्होंने कवि को डिस्टर्ब नहीं किया लेकिन अपनी बात कह दी।'

इसके बाद त्रिवेणी ने कहा- 'वो हमारे बीच ही हैं। वो कही गए नहीं हैं, उनका संगीत हमारे बीच हैं। आप ये सोचिए की बप्पी लहरी का जमाना था, डिस्को का जमाना था ऐसे वक्त में उन्होंने गजल को लोगों के बीच लाया। रजिया सुल्तान के गाने ऐ दिल-ए-नादान जब गाना रिकॉर्ड हुआ थो उसका जिक्र हुआ था।खय्याम साहब ऐसे कलाकार थे कि आदमी उनके सामने बिछ जाता था।'

'उमराव जान', 'बाज़ार', 'कभी-कभी', 'नूरी', 'त्रिशूल' जैसी हिट फिल्मों के गीतों की धुन बनाने वाले खय्याम के निधन से पूरे हिंदी सिनेमा में शोक की लहर है। ऐसे में शास्त्रीय गायक त्रिवेणी प्रसाद ने भी शोक जाहिर किया।

विज्ञापनत्रिवेणी प्रसाद ने खय्याम को याद कहते हुए कहा- 'एक ऐसे सुरीले कंपोजर जिनकी खासियत थी कि अगर एक गाने में तीन अंतरे हैं तो वो तीन अंतरे को अलग से कंपोज करते थे। इसके साथ ही खय्याम काफी शायराना अंदाज में लिखते थे। वो किसी भी कंपोजिशन को हल्केपन से नहीं लिखते थे। खय्याम साहब एक ऐसे संगीतकार थे कि चेतन आनंद साहब जो मदन मोहन जी के अलावा किसी दूसरे को सोचना भी पसंद नहीं करते थे। उन्होंने मदन मोहन जी की मौजूदगी में खय्याम साहब के साथ 'आखिरी खत' फिल्म की थी। इसका गाना 'बहारों मेरा जीवन भी सवारों' आज भी अपनी छाप रखता है।'

त्रिवेणी आगे कहते हैं- 'वहीं राज कपूर साहब के साथ में उन्होंने 'वो सुबह कभी तो आएगी' में काम किया था। खय्याम साहब का गाना राज कपूर साहब सुनने आए थे तो उन्होंने कहा था कि आपके अलावा कोई और इसका संगीत नहीं दे सकता है। इसके साथ ही 'कभी कभी' नज्म को भी फिल्म बनाया गया था। इस फिल्म के लिए खय्याम साहब को कोई कभी नहीं भूल सकता है। ऐसे लगता है कि उन्होंने कवि को डिस्टर्ब नहीं किया लेकिन अपनी बात कह दी।'

इसके बाद त्रिवेणी ने कहा- 'वो हमारे बीच ही हैं। वो कही गए नहीं हैं, उनका संगीत हमारे बीच हैं। आप ये सोचिए की बप्पी लहरी का जमाना था, डिस्को का जमाना था ऐसे वक्त में उन्होंने गजल को लोगों के बीच लाया। रजिया सुल्तान के गाने ऐ दिल-ए-नादान जब गाना रिकॉर्ड हुआ थो उसका जिक्र हुआ था।खय्याम साहब ऐसे कलाकार थे कि आदमी उनके सामने बिछ जाता था।'

कोरोना अपडेटः केंद्र और राज्य द्वारा उठाए गए क़दमों में ख़ामियां: प्रवासी मज़दूरों पर सुप्रीम कोर्ट - BBC Hindi कोविड-19: तीन ख़तरनाक चरमपंथी संगठनों पर कितना असर? कोरोना अपडेटः राहुल गांधी ने कहा, 'लॉकडाउन फेल', जावड़ेकर का पलटवार - BBC Hindi और पढो: Amar Ujala »

प्रसिद्ध संगीतकार खय्याम का निधन, लंबी बीमारी के बाद मुंबई के अस्पताल में ली अंतिम सांसहिंदी सिनेमा के दिग्गज संगीतकार खय्याम का सोमवार (19 अगस्त) को 92वें साल में निधन हो गया। समाचार एजेंसी एनएनआई के अनुसार खय्याम ने मुंबई के अस्पताल में अंतिम सांस ली।

मशहूर संगीतकार खय्याम का निधन, फेफड़ों की बीमारी से लड़ रहे थे जंगमशहूर संगीतकार खय्याम का निधन, फेफड़ों की बीमारी से लड़ रहे थे जंग MohammedZahur Khayyam Hashmi Khayyam Bollywood दुखद श्रद्धांजलि ऊँ शान्ति ओम शांति

उमराव जान और कभी कभी जैसी फिल्‍मों की धुन बनाने वाले संगीतकार खय्याम का निधन खय्याम ने 1953 में आई फिल्म ‘फुटपाथ’ से वो बॉलीवुड में कदम रखा. हमने एक महान संगीतकार को खो दिया । हार्दिक नमन् हार्दिक श्रद्धांजलि ।। Rajendr76194898 Sorry for him god bless him and his family friends 💐💐💐💐💐💐💐💐💐 Dukhad

ख़य्याम: नहीं रहे 'उमराव जान' में जान डालने वाले संगीतकार शर्मा जी'शाम-ए-ग़म की क़सम आज ग़मगीन हैं हम, आ भी जा, आ भी जा आज मेरे सनम...' RIP R.I.P हमने एक महान संगीतकार को खो दिया है । हार्दिक श्रद्धांजलि ।

मशहूर संगीतकार खय्याम का 93 साल की उम्र में निधनबॉलीवुड के मशहूर संगीतकार खैय्याम ( Khayyam ) का सोमवार को निधन हो गया है. उन्होंने मुंबई के जुहू स्थित सुजॉय अस्पताल में आखिरी आखिरी सांस ली. | entertainment News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी RIP..🙏 ॐ शांति🙏 महान संगीतकार खय्याम की कमी देशवासियों को हमेशा महसूस होगी। अद्भुत व्यक्तित्व के धनी और संगीत के शिखर पर विराजमान खय्याम को हमेशा याद किया जाएगा।नमन🙏🙏

भारतीय सिनेमा के मशहूर संगीतकार खय्याम का हुआ निधन, लंबे समय से थे बीमारभारतीय सिनेमा के मशहूर संगीतकार खय्याम का निधन हो गया। वह 92 साल के थे। पीएम मोदी समेत बॉलीवुड के कई सितारों ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। RIP अगर फ़ुर्सत मिले पानी की तहरीरों को पढ़ लेना हर इक दरिया हज़ारों साल का अफ़्साना लिखता है कल और आएंगे नग्मों की खिलती कलियां चुनने वाले मुझसे बेहतर कहने वाले तुमसे बेहतर सुनने वाले कल कोई मुझको याद करे क्यों कोई मुझको याद करे मशरुफ ज़माना मेरे लिए क्यों वक्त अपना बर्बाद करे .... पल दो पल मेरी हस्ती है....

योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi नेपाल ने कहा, भारत के सेना प्रमुख ने हमारे इतिहास का अपमान किया OIC में पाकिस्तान को सऊदी और UAE से भी झटका, भारत को मिला समर्थन योगी आदित्यनाथ क्या प्रवासी मज़दूरों पर बयान देकर घिर गए हैं? कोरोना वायरस: दुनिया के 10 सबसे अधिक संक्रमित देशों में भारत शामिल - BBC Hindi बलबीर सिंह सीनियर का 95 की उम्र में निधन, भारत को दिलाए थे 3 ओलंपिक स्वर्ण कोरोना अपटडेटः राहुल गांधी ने कहा, हिंदुस्तान का लॉकडाउन फेल रहा है - BBC Hindi पाकिस्तान की मिसाल देने वाली गोरखपुर की महिला टीचर निलंबित राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं 'पिंजरा तोड़' की लड़कियांः गिरफ़्तारी, ज़मानत और फिर पुलिस कस्टडी