रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो क्या करेगा अमेरिका? - BBC Hindi

रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो क्या करेगा अमेरिका?

03-12-2021 12:55:00

रूस ने यूक्रेन पर हमला किया तो क्या करेगा अमेरिका?

अमेरिकी सेना के एक प्रमुख अधिकारी जनरल मार्क मिले ने यूक्रेन सीमा पर रूसी सेना के जमावड़े पर बयान देते हुए कहा है कि इस समय हालात काफ़ी गंभीर हैं.

7:24सऊदी अरब को मनाने के लिए क्या लेबनान के सूचना मंत्री देंगे इस्तीफ़ा?Reutersलेबनान के सूचना मंत्री जॉर्ज कोर्डाहीImage caption: लेबनान के सूचना मंत्री जॉर्ज कोर्डाहीलेबनान के सूचना मंत्री जॉर्ज कोर्डाही अपना इस्तीफ़ा देकर सऊदी अरब की नाराज़गी दूर कर सकते हैं. समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से यह जानकारी दी है.

भारत में 'डेल्टा' के कारण पिछले साल जो हालात पैदा हुए, वे फिर उत्पन्न हो सकते हैं: संयुक्त राष्ट्र

कोर्डाही के इस्तीफ़े का मक़सद हाल में दोनों देशों के बीच पैदा हुए राजनयिक विवाद को हल करने की ओर बढ़ना है.फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों इस महीने सऊदी अरब के दौरे पर जा रहे हैं. बताया गया है कि मैक्रों इस दौरे में दोनों देशों के बीच के विवाद को दूर करने के लिए बातचीत कर सकते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, जॉर्ज कोर्डाही का इस्तीफ़ा बातचीत का दरवाज़ा खोलने की कोशिश हो सकती है.EPACopyright: EPAफ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों दोनों देशों के बीच सुलह की कोशिश कर सकते हैं.Image caption: फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों दोनों देशों के बीच सुलह की कोशिश कर सकते हैं. headtopics.com

क्या है पूरा विवाद?लेबनान इन दिनों खाड़ी देशों के साथ अब तक के सबसे ख़राब राजनयिक संकट का सामना कर रहा है.इसकी वजह अक्टूबर के अंत में जॉर्ज कोर्डाही की वो टिप्पणी ज़िम्मेदार है, जिसमें उन्होंने सऊदी अरब के यमन में हस्तक्षेप करने की आलोचना की थी.यमन के ईरान समर्थक हूती विद्रोहियों के पक्ष में बात करते हुए उन्होंने कहा था कि वो देश ''बाहरी दख़ल'' से जूझ रहा है.

आज का जीवन मंत्र: हमें अपनी उम्र और शक्ति के अनुसार ही काम करना चाहिए

इसके बाद विवाद बढ़ने पर उन्होंने माफ़ी मांगने या पद छोड़ने से भी मना कर दिया. उन्होंने कहा कि उनका वो इंटरव्यू उनके मंत्री बनने से पहले रिकॉर्ड किया गया था.उसके बाद, उनके बयान से नाराज़ होकर सऊदी अरब ने लेबनान के राजदूत को अपने यहाँ से निकालते हुए अपने राजदूत को भी लेबनान से वापस बुला लिया. साथ ही, लेबनान की कमज़ोर अर्थव्यवस्था को झटका देने के लिए उसने वहां से होने वाले सभी आयातों पर प्रतिबंध लगा दिया.

खाड़ी के दूसरे देश, जो लेबनान के पुराने सहयोगी रहे हैं जैसे संयुक्त अरब अमीरात और कुवैत, उन्होंने भी कड़ी सजा वाले राजनयिक क़दम उठाने का एलान किया.ReutersCopyright: Reutersसऊदी अरब के विदेश मंत्री प्रिंस फ़ैसल बिन फ़रहान अल-सऊदImage caption: सऊदी अरब के विदेश मंत्री प्रिंस फ़ैसल बिन फ़रहान अल-सऊद

सऊदी अरब को हिज़्बुल्ला से है दिक़्क़तनवंबर के मध्य में, सऊदी अरब के विदेश मंत्री प्रिंस फ़ैसल बिन फ़रहान अल-सऊद ने कहा था कि उनके देश की लेबनान के साथ जुड़ने की फिलहाल कोई योजना नहीं है.उन्होंने लेबनान को हिज़्बुल्ला के प्रभाव से मुक्त करने के लिए दुनिया के नेताओं से आवश्यक क़दम उठाने की भी अपील की थी. headtopics.com

PM Modi reviews COVID situation with CMs; expresses confidence that India will emerge victorious with everyone's efforts

हालांकि लेबनान पर पकड़ रखने वाले संगठन हिज़्बुल्ला ने सऊदी अरब के फ़ैसलों को"अतिरंजित" बताते हुए कोर्डाही के इस्तीफ़ा न देने के फ़ैसले का समर्थन किया था.उसने कहा था कि इस संकट को रियाद ने जन्म दिया और उसके आगे लेबनान को नहीं झुकना चाहिए. साथ ही आरोप लगाया कि सऊदी अरब लेबनान में गृह युद्ध कराना चाहता है.

और पढो: BBC News Hindi »

छतरपुर के हॉस्पिटल में बाबा का हाईवोल्टेज ड्रामा: पलंग पर शीर्षासन किया, गेट से लटका; VIDEO बनाने वालों को 5वीं मंजिल तक दौड़ाया

छतरपुर जिला अस्पताल में बुधवार को अजीबो गरीब मामला सामने आया है। यहां इलाज करवाने आए एक बाबा ने जमकर ड्रामा किया। बाबा कभी योगा करता, तो कभी लोगों को डराता रहा। उसने वार्ड में पलंग फेंका, स्ट्रेचर पर खड़ा हो गया, व्हील चेयर को पटका और जमीन पर लेटता रहा। पुलिस चौकी में भी योगा करता रहा। बाबा की हरकतों से मरीज और नर्सिंग स्टाफ यहां-वहां भागते रहे। बमुश्किल बाबा को पकड़कर शांत किया गया। | Headed on the bed, hung on the gate of the Madison Ward, made the video makers run from the 4th to the 5th floor

अमरीका यूक्रेन को हथियार बेचेगा और डॉलर कमायेगा अमरीकी सर्वोच्यता रुसी-चीनी चुनौतियों से बौखलाया हैं युद्ध से पूरी दुनिया प्रभावित होगी..! अब कौन किसका क्या उखाड़ेगा ये तो वक्त ही बताएगा..!! भारत अपनी भुमिका ढूंढने में बूरी तरह से असफल रहा Ukraine se apni embassy ko helicopter se le jayega USA नोजल बंदूक 😎😎😎

पार्टी। अमेरिका का राष्ट्रपति शुक्र मनाएगा। आर्थिक प्रतिबंध लगा देगा

रूस ने अगर यूक्रेन पर हमला किया तो हम चुप नहीं बैठेंगे: अमेरिका - BBC Hindiअमेरिका के विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने बुधवार को कहा कि यूक्रेन पर रूस के हमले का ख़तरा देखते हुए अमेरिका, बड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाने को तैयार है. अरे ये क्या और कब हुआ? भारतीय मिडिया तो डकैत ही दिखा रही हैं और रुस खेला कर गया। लेकिन चीन बीच में आया तो अमेरिका चुप बैठ जाएगा 😀 रूस तो इसी घात में बैठा है की अमेरिका एक बार आये तो सही । सारी गुंडागर्दी निकाल देगा अमेरिका की ।

कांग्रेस के कन्हैया ने हिंदु बनाम हिंदुत्व पर बहस को बताया बेमतलब, एंकर ने टोका...टीवी डिबेट में जब एंकर ने कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार से सवाल पूछते हुए कहा कि आपकी पार्टी के नेता का मानना है कि हिंदू और हिंदुत्व अलग अलग है। आखिर हिंदू और हिंदुत्व में क्या फर्क है। इसके जवाब में कन्हैया कुमार ने कहा कि ये बहस ही बिना मतलब का है।

कश्मीर में गिरफ़्तारी और हत्याओं पर यूएन ने उठाया सवाल तो भारत ने किया सख्त पलटवारयूएन के बयान पर भारतीय विदेश मंत्रालय ने यूएपीए सही ठहराते हुए कहा कि संयुक्‍त राष्‍ट्र को अंदाजा नहीं है कि भारत सीमा पार के आतंकवाद का किस तरह से सामना कर रहा है।

भाजपा सांसद वरुण गांधी का सरकार पर हमला जारी, टीईटी पेपर लीक प्रकरण पर किया ट्वीटBJP MP Pilibhit Varun Gandhi पीलीभीत से भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी बीते कई महीने से सरकार के खिलाफ मुखर होते जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी-2021) का पेपर लीक होने के मामले में वरुण गांधी ने योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरा है। BJP4India लोगो का पैर पर कुल्हाड़ी पड़ती है इन्होंने पैर ही कुल्हाड़ी पर रख दिया है

प्रशांत किशोर ने फिर कांग्रेस नेतृत्व को निशाने पर लिया - BBC Hindiप्रशांत किशोर ने कहा है कि जो पार्टी पिछले 10 सालों में 90 फ़ीसदी चुनावों में हारी है, उसका विपक्ष के नेतृत्व पर कोई दैवीय अधिकार नहीं हो सकता. 👍 कश्मीरी पर जुल्म बहुत होरा किसी भी मुस्लिम को गोली मार देरा है और आतंकवादी बताया जरा है सरकार के या रवय्या से देश को डरना चाहिए क्योंकि आज कश्मीर मैं होरा पूरा देश मैं भी होरा है मुस्लिम है तो चुप है कल आप पे भी हो सकता है तानाशाही एक गंद का नाम है इस गदार को जेल भेजो

मद्रास हाईकोर्ट ने चोल वंश की आलोचना करने पर फिल्मकार के ख़िलाफ़ दर्ज केस रद्द किया2019 में जाति विरोधी नेता टीएम उमर फ़ारुख़ की पुण्यतिथि के मौक़े रंजीत ने राजा राज चोलन की यह कहकर आलोचना की थी कि उनके शासनकाल में जाति व्यवस्था प्रचलन में थी, जिसके दौरान दलितों की ज़मीनें ज़ब्त की गईं और देवदासी प्रथा शुरू हुई. इस पर तंजावुर पुलिस ने स्वतः संज्ञान लेते हुए उनके ख़िलाफ़ एफआईआर दर्ज की थी.