Arnabgoswami, Republictv, Congress, Bombaygighcourt, Karnatakahighcourt, अर्णबगोस्वामी, रिपब्लिकटीवी, बॉम्बेहाईकोर्ट, कर्नाटकहाईकोर्ट, कांग्रेस

Arnabgoswami, Republictv

रिपब्लिक टीवी पर प्रतिबंध के लिए बॉम्बे और कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिकाएं दायर

कांग्रेस नेताओं ने रिपब्लिक टीवी प्रबंधन और इसके संपादक अर्णब गोस्वामी के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाईकोर्ट का रुख़ किया. वहीं, बेंगलुरु के एक आरटीआई कार्यकर्ता ने कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर की.

26-04-2020 05:00:00

रिपब्लिक टीवी पर प्रतिबंध के लिए बॉम्बे और कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिकाएं दायर ArnabGoswami RepublicTV Congress BombayGighCourt KarnatakaHighCourt अर्णबगोस्वामी रिपब्लिकटीवी बॉम्बेहाईकोर्ट कर्नाटकहाईकोर्ट कांग्रेस

कांग्रेस नेताओं ने रिपब्लिक टीवी प्रबंधन और इसके संपादक अर्णब गोस्वामी के ख़िलाफ़ बॉम्बे हाईकोर्ट का रुख़ किया. वहीं, बेंगलुरु के एक आरटीआई कार्यकर्ता ने कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर की.

मुंबईःरिपब्लिक टीवी के संपादक अर्णब गोस्वामी के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट और कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिकाएं दायर की गई हैं, जिसमें रिपब्लिक टीवी के प्रसारण और अर्णब गोस्वामी द्वारा कुछ भी प्रसारित करने पर प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है.लाइव लॉकी रिपोर्ट के मुताबिक, बॉम्बे हाईकोर्ट में महाराष्ट्र विधान परिषद के सदस्य भाई जगताप और महाराष्ट्र यूथ कांग्रेस के उपाध्यक्ष सूरज ठाकुर ने याचिका दायर की हैं, जबकि कर्नाटक हाईकोर्ट में सामाजिक कार्यकर्ता और बेंगलुरु के आरटीआई कार्यकर्ता मोहम्मद आरिफ जमील ने याचिका दायर की है.

ट्रंप ने चीन को लेकर की दो बड़ी घोषणाएं, WHO से अमरीका को किया अलग One Year of Modi-2 : पीएम मोदी ने लिखा जनता को खुला पत्र, कहा- भारत में दुनिया को चकित करने का साम‌र्थ्य बिहार में सियासी घमासान तेज, नीतीश सरकार पर आगबबूला लालू परिवार

दोनों याचिकाकर्ताओं ने अदालत से पालघर में दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट-पीट कर हत्या के मामले को गलत तरीके से सांप्रदायिक रंग देने और इस घटना को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर आरोप लगाने के लिए अर्णब गोस्वामी के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के निर्देश देने को कहा है.

याचिकाकर्ताओंने अपने वकील राहुल कामेरकर के जरिये दायर याचिका में कहा है कि जांच पूरी होने तक गोस्वामी और रिपब्लिक टीवी के सभी प्रसारण पर अंतरिम रोक लगाई जाए.इसके साथ ही अर्णब के खिलाफ जांच पूरी होने तक उनके किसी भी टीवी चैनल या ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिये बोलने पर भी प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है.

कर्नाटक हाईकोर्ट में याचिका दायर करने वाले मोहम्मद आरिफ ने31 मार्चको सुप्रीम कोर्ट की उस टिप्पणी का उल्लेख किया, जिसमें चीफ जस्टिस एसए बोबडे और जस्टिस एल. नागेश्वर राव की पीठ ने कहा था कि शहरों में काम करने वाले मजदूरों का बड़ी संख्या में पलायन इस फेक न्यूज की वजह से हुआ कि लॉकडाउन तीन महीने से अधिक समय जारी रहेगा.

उस समय सुप्रीम कोर्ट ने मीडिया से कोरोना की कवरेज के समय जिम्मेदारी से काम करने और सरकार की पुष्टि के बाद ही कोरोना के संबंध में खबरें प्रकाशित/प्रसारित करने को कहा था.याचिकाकर्ता ने सुप्रीम कोर्ट की इन टिप्पणियों के आधार पर याचिका में अर्णब के टीवी शो के दौरान कथित आपत्तिजनक बयानों का उल्लेख किया.

लाइव लॉ की रिपोर्ट के अनुसार, शो के दौरान अर्णब ने कहा था, ‘अगर यह भाजपा के नेतृत्व वाले किसी राज्य में होता और अगर इसमें हिंदुओं की जगह कोई और संप्रदाय होता. मैं सीधा कहना चाहूंगा कि अगर इस घटना में कोई अल्पसंख्यक समुदाय का व्यक्ति मारा जाता तो क्या नसीरुद्दीन शाह, अपर्णा सेन, रामचंद्र गुहा, सिद्धार्थ वरदराजन या अवॉर्ड वापसी गैंग क्या आज आपे से बाहर नहीं हो जाता?’

याचिका में कहा गया, ‘अर्णब ने बेहद अनैतिक रूप से, निंदनीय ढंग से, पत्रकारिता के पेशे की धज्जियां उड़ाकर महाराष्ट्र के पालघर में हुई मॉब लिंचिंग की घटना को बार-बार सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश की. यह दिखाने की कोशिश की कि आम आदमी हर समय अपनी जिंदगी को लेकर डरा हुआ है.’

पाकिस्तान में आतंकी संगठन हि‍जबुल मुजाहिदीन का सरगना सैयद सलाहुद्दीन पर किया गया हमला क्वारंटीन पूरा कर घर जाने वाले प्रवासी मजदूरों को स्वास्थ विभाग देगा कंडोम! Earthquake In Delhi-NCR: दिल्ली-NCR में फिर हिली धरती, महसूस किए गए भूकंप के झटके

याचिका में कहा गया कि अर्णब गोस्वामी के बयान नफरत को बढ़ावा देने वाले हैं और यह दंडनीय अपराध है. इसके साथ ही यह पूरे समुदाय के जीने के अधिकार के साथ हमारे संवैधानिक मूल्यों पर हमला है.मालूम हो कि कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि बीते दिनों रिपब्लिक टीवी पर डिबेट के दौरान अर्णब ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की लिंचिंग के मुद्दे पर डिबेट के दौरान उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कथित तौर पर हिंदुओं को उकसाने की कोशिश की.

जिसके बाद कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना सहित देश के कई राज्यों में उनके खिलाफएफआईआरदर्ज कराई थी.इन एफआईआर के खिलाफ अर्णब गोस्वामी ने सुप्रीम कोर्ट का रुख था, जिस पर शुक्रवार को सुनवाई करते हुए अदालत ने उन्हें अंतरिम राहत देते हुए उनकी

गिरफ्तारीपर तीन सप्ताह की रोक लगा दी थी.इसके साथ ही अदालत ने उनके खिलाफ किसी भी तरह की ठोस कार्रवाई नहीं करने का आदेश दिया है. वह तीन सप्ताह में अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल कर सकते हैं.जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस एमआर शाह की पीठ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये मामले की सुनवाई करते हुए गोस्वामी के खिलाफ दर्ज सभी एफआईआर पर रोक लगा दी थी. हालांकि उनके खिलाफ नागपुर में दर्ज एफआईआर पर रोक नहीं लगाई गई थी.

नागपुर में दर्ज एफआईआर को अब मुंबई स्थानांतरित कर दिया गया है. और पढो: द वायर हिंदी »

Nice Yes absolutely right ripablic ty bend And Arman goswami arrested Y channel Repablc bharat Insaniyat ka dusman hi in patrkaro ka acaund chak karo karodo kysy Good

कोरोना वायरस: आख़िर मरीज़ों के पेट के बल लेटने के मायने क्या हैं?इंटेंसिव केयर यूनिट में अत्याधुनिक वेंटिलेटरों पर पेट के बल लेटे हुए मरीज़ दिखाई देते हैं. तुम जैसी एन्टी हिन्दू चेनल को कोई मायने नही रखती सो जाएं आप ताली, और थाली बजाओ सीधा हो जाएगा Bikat samasya h logo ke samne pahle se environment minister aur unko team ne kabhi biomass microorganism bact virus ki bate nahi ki 74se niyam h kabhi gambhirta se nahi liya m o e f aur c p c b ne yahi log jimedar h

Airtel के इस रीचार्ज पैक के साथ मिलेगा 1 साल के लिए Disney+ Hotstar VIP सब्सक्रिप्शनDisney+ Hotstar VIP सब्सक्रिप्शन के अलावा 401 रुपये वाले एयरटेल प्रीपेड प्लान में ग्राहकों को इस्तेमाल के लिए 3 जीबी डेटा मिलता है। वैधता 28 दिनों की है। एयरटेल की नेटवर्क प्रॉब्लम बहुत है और कोई सुनवाई नहीं है मैने पिछले 10दिनो से इनको नेटवर्क के लिए मेल की है लेकिन कोई सुनवाई नहीं है Faltu plan सबसे बड़ा झूठ है यह

दिल्ली के एलजी के अज़ान पर रोक लगाने के दावे का सच- फ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें एक कॉन्स्टेबल कह रहे हैं कि एलजी साहब का ऑर्डर है, अज़ान नहीं होगी. सारे रूल नवरात्र के लिए ही थे रमजान के लिए कोई lockdown नही ? Delhi police kyun nafrat fela rahi h jabki yeh bhout galat h LtGovDelhi अजान पर रोक लगाना ठीक था अजान से नमाज का कोई संबंध नहीं है लोग घड़ी में समय देखकर घर पर यह कार्य करेंगे। असामान्य और विरोधी आवाज सुनकर लोग क्रोध से उत्तेजित हो जाते हैं जिससे अजान ना देकर अच्छा रहता।

कोरोना वायरस के इलाज में 3500 आयुष दवाओं के प्रभावी होने के दावे, होगा ट्रायलकोरोना वायरस के इलाज में 3500 आयुष दवाओं के प्रभावी होने के दावे, होगा ट्रायल AyushMinistry coronavirus coronavirustreatment आयुष का डंका पूरे विश्व में बजेगा। Only drama.. Don't spread fake news, And Follow Doctors suggestions only

कोरोना वायरस के संक्रमण के दौर में कैसे रखें रमज़ान के रोज़े?रमज़ान के दौरान दुनिया भर में मुसलमान सुबह से लेकर शाम तक कुछ भी खाए-पिए बग़ैर रहते हैं. इस साल लोगों को लॉकडाउन में रोज़े रखने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है Corona virsu ke time pe our bhi kayi dharmo ke utsav aye par in jaahil bbc walon kon sirf apma propoganda karna aata hai our kujh nahi waise Ireland jaldi aajaad hone wala hai suna hai Ghar par rahakai. ओ भाई, उन्हें सब पता है, ज्यादा स्याणा मौलवी बनने की कोशिश मत कर।

यूपी के एटा में दर्दनाक घटना, घर में मिले परिवार के 5 लोगों के शव

चीन के साथ सरहद पर तनाव को लेकर पीएम मोदी का 'मूड ठीक नहीं' है: ट्रंप Modi Government 2: भाजपा दस करोड़ घरों तक पहुंचाएगी पीएम मोदी की उपलब्धि इंडिया हटा कर देश का नाम भारत रखने की मांग, SC में 2 जून को होगी सुनवाई चुनौतियों को अवसर में बदलते योगी: देश के सबसे प्रभावी, ईमानदार और कठोर परिश्रमी मुख्यमंत्री मोदी सरकार में मध्यम वर्ग क्या ताली और थाली ही बजाएगा? सोनिया गांधी की डिमांड- प्रवासी मजदूरों के लिए खजाना खोले मोदी सरकार खबरदार: पुलवामा पार्ट-2 में पाकिस्तान की भूमिका का विश्लेषण कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का केंद्र सरकार को सुझाव- खजाने का ताला खोलिए और जरूरतमंदों को राहत दीजिए Rising India: जादुई कोटिंग से आपके कपड़े बन जाएंगे 'कोरोना रोधी कवच' अयोध्या में राम मंदिर निर्माण शुरू होने पर तिलमिला उठा पाकिस्तान, बयान पर संत भड़के दिल्ली: AAP विधायक प्रकाश जारवाल की जमानत अर्जी कोर्ट से खारिज