Election 2019, Electionswithndtv, Pollofpolls, Ram Madhav, Lok Sabha Elections Exit Polls 2019, Loksabhapolls2019, Exit Polls 2019, Lok Sabha Elections, Bengal, Tmc, Uttar Pradesh 2014 Results, Elections 2019, Election Results

Election 2019, Electionswithndtv

राम माधव का दावा: 2014 के यूपी वाले नतीजे इस बार बंगाल में आएंगे, जानें क्या कहते हैं आकंड़े

राम माधव का दावा: 2014 के यूपी वाले नतीजे इस बार बंगाल में आएंगे, जानें क्या कहते हैं आकंड़े #Election2019 #Electionswithndtv #PollOfPolls

20.5.2019

राम माधव का दावा: 2014 के यूपी वाले नतीजे इस बार बंगाल में आएंगे, जानें क्या कहते हैं आकंड़े Election2019 Electionswithndtv PollOfPolls

इस चुनाव में पश्चिम बंगाल काफी चर्चा में रहा है. वहीं भाजपा का इस प्रदेश पर विशेष फोकस भी रहा. NDTV के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स (Poll of Exit Poll 2019) के अनुसार बीजेपी को पश्चिम बंगाल में दस से ज्यादा सीटें मिल सकती हैं. जबकि टीएमसी को 24 सीटों पर जीत मिल सकती है. वहीं राज्य में कांग्रेस को भी दो सीटों पर जीत मिल सकती है. उधर, वाम दलों को भी दो सीटों पर जीत मिलने का अनुमान है.

Ram Madhav, BJP National General Secretary: Bengal will surprise all the pollsters, we are hoping to do extremely well there. Everyone has seen the tremendous outpouring of support for PM Modi & BJP in Bengal. What Uttar Pradesh was in 2014, Bengal will be in 2019. pic.twitter.com/xGixMOYcOa

वहीं ममता बनर्जी ने एग्जिट पोल को 'अटकलबाजी' करार देते हुए कहा कि उन्हें ऐसे सर्वेक्षणों पर भरोसा नहीं क्योंकि इस 'रणनीति' का इस्तेमाल ईवीएम में 'गड़बड़ी' करने के लिए किया जाता है. बंगाल भाजपा ने बनर्जी के बयान पर तुरंत प्रतिक्रिया देते हुए उनसे सपनों की दुनिया से बाहर निकलने को कहा. पार्टी ने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस सरकार के दिन गिनती के रह गए हैं. बनर्जी ने ट्वीट किया था, 'मैं एक्जिट पोल के कयासों पर भरोसा नहीं करती. यह रणनीति अटकलबाजी के जरिए हजारों ईवीएम को बदलने या उनमें हेरफेर करने के लिए प्रयुक्त होती है. मैं सभी विपक्षी पार्टियों से एकजुट, मजबूत और साहसी रहने की अपील करती हूं.'

Times Now-VMR के सर्वे के अनुसार टीएमसी को 28, कांग्रेस को दो, बीजेपी को 11 और वाम दलों को एक सीट दी है. इसी तरह Republic - Jan Ki Baat के अनुसार टीएमसी को 13-21 सीट, कांग्रेस को तीन सीट, बीजेपी को 18-26 सीट.ध्यान हो कि लोकसभा चुनाव के दौरान पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ टीएमसी और बीजेपी के बीच खासी खींचतान देखने को मिली थी.

और पढो: NDTVIndia

ग्राउंड रिपोर्ट: PM मोदी के किए गए कामों पर क्या कहता है वाराणसी का चायवाला– News18 हिंदी2014 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जब वाराणसी को लोकसभा का चुनाव लड़ने के लिए चुना, तभी से वाराणसी के लोगों में विकास की एक नई उम्मीद जग गई थी. लोगों ने इस नाम पर नरेन्द्र मोदी को जमकर वोट दिया कि वो सांसद नहीं देश का प्रधानमंत्री चुन रहे हैं. ऐसे में 2019 के चुनावों के पहले क्या वाराणसी उतना बदला, जितना लोगों को उम्मीद थी, इसका अंदाजा वाराणसी के लालबहादुर शास्त्री हवाई अड्डे पर उतरते ही मिलने लगता है. 2014 के पहले हवाई अड्डे से वाराणसी के कैंट इलाके में किसी होटल में पहुंचने का समय तय नहीं था. anilrai123 BJP4India MERA DESH JAG RHA HAI MERA DESH BADH RHA HAI anilrai123 BJP4India Itni reporting Amethi mein ki hoti to 10 saal pehle hi bhaag gaya hota pappu waha se anilrai123 BJP4India वाराणसी जितना ५ साल में बदला है उतना ५० साल में नहीं बदला था

इस बड़े बैंक का फैसला- फाउंडर से वापस लेगा 1.44 करोड़ रुपये के बोनस का पैसा– News18 हिंदीदेश के बड़े प्राइवेट बैंक यस बैंक ने अपने फाउंडर और पूर्व सीईओ एमडी से बोनस के तौर पर दिए गए 1.44 करोड़ रुपये वापस लेने का फैसला लिया है. बैंक ने यह कदम RBI की ओर से जारी निर्देशों के बाद उठाया है.

गोरखपुरः बाहुबली पर हाथ डालने से उपचुनाव में नाराज थे ब्राह्मण, इस बार कांग्रेस ने बिगाड़ा खेललोकसभा चुनाव -2019 अपने आखिरी सफर में है. 19 मई को सातवें चरण के बाद लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व समाप्त हो जाएगा. इस चरण में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के गढ़ यानी गोरखपुर में मतदान होना है. बीते उपचुनाव में पटखनी खाने के बाद बीजेपी यहां सोशल इंजीनियरिंग के जरिए जातीय गणित साध रही है. भले ही इस सीट पर निषाद समाज के वोटर निर्णायक भूमिका में हों, लेकिन ब्राह्मणों को साधे बिना राह मुश्किल है. झूठ पे शर्म आने के बजाय गर्व की अनुभूति होंने लगे तब आत्मचिंतन करें राष्ट्रचिन्तन नही। चाणक्य ने तो नहीं बताया हो लेकिन हम बताये देते हैं। वैसे स्थानीय मत ये भी है कि योगी जिबखुद ब्राह्मण कैंडिडेट को हरवाते है ताकि ये साबित किया जाए कि अगड़ों में उनके अलवा कोई और नहीं जीत सकता ये वर्चस्व सिद्ध करने कि लड़ाई है रणचंडी बनी ममता बनर्जी ने भाजपाईयों की कलकत्ता में वो हालत कर दी है कि भाजपाई सपने में भी ममता दीदी-ममता दीदी चिल्ला रहे हैं।🤣🤣

कांग्रेस की PC में हंगामा, BJP समर्थक ने लहराया तिरंगा, लगाए नारेLoksabha Elections 2019 : मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो उस शख्स ने यह भी कहा कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को अजय सिंह बिष्ट नाम से पुकारा जाना भारतीय संस्कृति का अपमान है। फिलहाल उसकी पहचान नहीं हो सकी है।

2019 के Exit Poll के आंकड़े 2014 के नतीजों से कितने दूर और कितने पास हैं, जानिए राज्यवारLoksabha Election 2019 Exit Poll: एग्ज़िट पोल के नतीजे सामने आने के बाद लोगों में इस बात को भी जानने की दिलचस्पी है कि साल 2014 में हुए आम चुनाव में आखिरी नतीजे कैसे रहे थे. इस एग्ज़िट पोल से 2014 के आंकड़े कितने पास और कितने दूर थे. ऐसे में हम आपको 2014 के आखिरी नतीजे और 2019 के एबीपी न्यूज़-नीलसन के एग्ज़िट पोल के आंकड़ों से बता रहे हैं कि किस राज्य में कौन-सी पार्टी को कितना नुकसान या फायदा हो रहा है. RahulGandhi narendramodi जो यूपी मे 22 दे रहा है वो भी देश मे 300 दे रहा है जो यूपी में 68 दे रहा है वो भी देश मे 300 दे रहा है चिलम में भी दारु डालने लगे हो क्या ।।🤣 RahulGandhi narendramodi Nahi janna hai aaplogo se.. aaplog bik gaye ho narendramodi nak haathon.. RahulGandhi narendramodi Nahi janna hai aaplogo se.. aaplog sab k sab bik gaye ho narendramodi k haathon..

लोकसभा चुनाव: आखिरी चरण में पीएम मोदी समेत इन दिग्गजों की किस्मत का होगा फैसला-Navbharat Timesलोकसभा चुनाव के आखिरी रण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। सातवें चरण के चुनाव में यूपी की 13 सीटों के अलावा हिंसाग्रस्त पश्चिम बंगाल की 9, बिहार की 8, पंजाब की 13, हिमाचल प्रदेश की 4, मध्य प्रदेश की 8, झारखंड की 3 सीटों सहित चंडीगढ़ संसदीय सीट पर कई उम्मीदवार अपना दांव आजमा रहे हैं। आखिरी चरण के मतदान में कई दिग्गजों की किस्मत का फैसला होना है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा शत्रुघ्न सिन्हा, सनी देओल, मीसा भारती और किरण खेर जैसी शख्सियतें शामिल हैं। सातवें चरण का चुनाव बीजेपी, कांग्रेस समेत बाकी दलों के लिए लिटमस पेपर टेस्ट की तरह है। इसके लिए सभी पार्टियों के नेताओं ने चुनाव प्रचार में सारी ताकत झोंक दी तो वहीं पश्चिम बंगाल में अमित शाह के रोड शो में बवाल के बाद चुनाव आयोग ने सख्ती बरतते हुए चुनाव प्रचार का समय कम कर दिया था। एक नजर आखिरी चरण के चुनाव की चर्चित सीटें और दिग्गज उम्मीदवारों पर-

MP BOARD RESULT 2019-10वीं परीक्षा में पहले पांच टॉपर्स सागर के, गंगन और आयुष्मान ने पाए 500 में से 499 अंक– News18 हिंदीमध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल 10वीं की परीक्षा का रिजल्ट आज घोषित हो गया. रिजल्ट की घोषणा के साथ 10वी के साथ साथ 12वीं परीक्षा का रिजल्ट भी जारी किया गया और 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों का इंतजार खत्म हो गया है. इस बार 18.50 लाख से ज्यादा छात्र-छात्राओं एमपी बोर्ड की परीक्षा में शामिल हुए थे. इस बार दसवीं का रिजल्ट 61.32 फीसदी रहा. बता दें कि 10वीं की परीक्षा में सागर के 5 विद्यार्थियों ने बाजी मार सागर जिले के नाम रोशन किया है.

दंगल: ममता का गढ़, शाह की हुंकार! Dangal: War between BJP and TMC over Amit Shah's roadshow - Dangal AajTakकोलकाता में बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह का रोड शो चल रहा है। ममता के गढ़ में ये बीजेपी का शक्ति प्रदर्शन है. बीजेपी और टीएमसी पहले से एकदूसरे के खिलाफ आर-पार की चुनावी लड़ाई लड़ रहे हैं, एक दूसरे के खिलाफ जोरदार बयानबाजियां हुई हैं, और इस सबके बीच इस रोड शो से बीजेपी ने बंगाल में अपनी लड़ाई और तेज कर दी है. लेकिन बीजेपी के बंगाल में सेंध लगाने की कोशिश से जमीन पर कैसे हालात बन गए हैं, इसे ऐसे समझिए कि अमित शाह के आज के रोड शो से पहले हंगामा हुआ. बीजेपी का आऱोप है कि प्रशासन ने बीजेपी के पोस्टर बैनर हटाए. उधर बंगाल सरकार ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर कहा है कि बंगाल में जरूरत से ज्यादा केंद्रीय बल तैनात कर दिए गए हैं, इससे चुनाव प्रभावित होगा. AmitShah manogyaloiwal कीचड़ ख़ुद फैलाओ, और दोष दूसरों पर लगाओ? वाह टकले जी वाह! AmitShah manogyaloiwal बंगाल कमलमय हो चुका ' 23 को महकेगा ' AmitShah manogyaloiwal कमल ना खिला तो सोचा है की आपके चैनल का क्या हाल होगा संचार आ रहा है की भाजपा की पारी १५० से नीचे पे आल आउट हो ख़त्म हो रही है 😁😁

NEWS FLASH: कश्मीर से कन्याकुमारी, कच्छ से कामरूप तक, सारा देश कह रहा है - अब की बार 300 पार : PMपश्चिम बंगाल में लोकसभा की उन नौ सीटों के लिए बृहस्पतिवार को रात 10 बजे प्रचार समाप्त हो गया जहां अंतिम चरण में चुनाव होने हैं. देश में यह पहली बार हो रहा है जब तय समय से 20 घंटे पहले चुनाव प्रचार खत्म कर दिया गया हो और ऐसा चुनाव आयोग के आदेश के मुताबिक हुआ है. इसके अलावा प. बंगाल के आईपीएस अधिकारी राजीव कुमार को गिरफ्तारी से संरक्षण हटाने के फैसले पर SC में सुनवाई आज होगी. तो दूसरी तरफ बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगे. इसके अलावा 3 तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बावजूद मामले सामने आ रहे जिन पर सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई होनी है. तो वहीं दिल्ली में इंडिया हैबिटेट सेंटर के 14वें हैबिटैट फिल्म फेस्टिवल संस्करण के सिनेमाई सफर अश्विन कुमार की हाल ही में रिलीज फिल्म नो फादर इन कश्मीर से आज से शुरू होगा. इस फिल्म फेस्टिवल में 19 भारतीय भाषाओं की 42 फीचर फिल्में प्रस्तुत होंगी, जिनमें डॉक्युमेंट्री, शॉर्ट्स और स्टूडेंट फिल्में शामिल हैं. देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें... निश्चितता के बादल मंडरा रहे हैं 1987 में डिजिटल कैमरा,ई मेल अटैचमेंटजनता इतनी भी बेवकुफ नही है कि ऐसे झूठे को दुबारा वोट दे । Humne to nahi bola

ममता बोलीं, प्रचार का समय घटाने का फैसला चुनाव आयोग का नहीं मोदी का हैप. बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और भाजपा के बीच मचा सियासी संग्राम खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। MamataOfficial AmitShah narendramodi KolkataViolence West Bengal Clashes electioncommisionofindia MamataOfficial AmitShah narendramodi Didi election commission is not the patent of Modi, plz have some respect in our election commision MamataOfficial AmitShah narendramodi ममता ku$ia डायन को दीदी नही दादा गुंडी बोलो।आखिर पीएम मोदी को गुंडा कैसे बोल सकती।पूरे देश का पीएम आदरणीय है।कोई कानून नही इस चुड़ैल हरामी बुड्ढी के लिए।मुसलमान मलेच्छ गुंडो के बल पर उछल रही ये बन्दरिया बुड्ढी MamataOfficial AmitShah narendramodi Modi aayega. Har har Modi

लोकसभा चुनाव 2019: बंगाल में अमित शाह के रोड शो में हिंसा से लेकर EC के सख्त कदम उठाने तक की 11 बड़ी बातेंपश्चिम बंगाल में हिंसा होना नई बात नहीं है बल्कि ये राज्य पहले भी चुनावी हिंसा का शिकार हो चुका है. मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान जो हिंसा हुई, उसके लिए बीजेपी और तृणमूल ने एक-दूसरे पर गंभीर आरोप लगाए हैं. तृणमूल का कहना है कि बीजेपी ने बाहर से भीड़ लाकर हिंसा फैलाई. वहीं बीजेपी इस हिंसा के लिए तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा रही है. शाह के रोड शो में दोनों पक्षों में जमकर पत्थरबाजी हुई थी और प्रसिद्ध दार्शनिक ईश्वरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़ दी गई. जिसके बाद पुलिस ने 100 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया और बीजेपी इस मामले को लेकर चुनाव आयोग के पास गई. जिसके बाद पश्चिम बंगाल में रैली और सभाओं पर चुनाव आयोग (Election Commission) की तरफ से रोक लगा दी गई. चुनाव आयोग की तरफ से जारी प्रेस कॉन्फ्रेंस में यह जानकारी दी गई कि रोक का फैसला 16 मई की रात 10 बजे से प्रभावी होगा. बंगाल की सभी 9 लोकसभा क्षेत्र में आज रात 10 बजे के बाद से चुनाव प्रचार (Election Campaigning) पर रोक लग जाएगी.

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

20 मई 2019, सोमवार समाचार

पिछली खबर

Exit Polls 2019: 'चंद्रबाबू नायडू बेवजह खुद को क्यों थका रहे हैं?', विपक्ष नेताओं से मिलने पर शिवसेना ने यूं कसा तंज

अगली खबर

चुनाव 2019: एग्जिट पोल के नतीजों के बाद मायावती से मिलने पहुंचे अखिलेश यादव, जानें क्या हैं इसके मायने