राज्यसभा में विपक्ष और होने जा रहा कमज़ोर?

राज्यसभा में विपक्ष और होने जा रहा कमज़ोर?

19-02-2020 16:31:00

राज्यसभा में विपक्ष और होने जा रहा कमज़ोर?

राज्यसभा के 69 सांसद रिटायर हो रहे हैं और पहले से ख़ाली चार सीटों को मिलाकर 73 सीटों के लिए चुनाव हैं.

शेयर पैनल को बंद करेंइमेज कॉपीरइटGetty Imagesदिल्ली विधानसभा चुनाव ख़त्म होने के बाद अगला सियासी महाभारत राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनाव में देखने को मिल सकता है.इस साल राज्यसभा के 69 सांसद रिटायर हो रहे हैं और पहले से ख़ाली चार सीटों को मिलाकर 73 सीटों के लिए चुनाव होने हैं.

तुर्की के साथ बढ़े विवाद के बीच फ़्रांस में चरमपंथियों पर कार्रवाई तेज़ - BBC News हिंदी कांग्रेस के लिए प्रचार करने ग्वालियर पहुंचे सचिन पायलट से मिले ज्योतिरादित्य सिंध‍िया, कहा - लोकतंत्र में... पाकिस्तान की क्रिकेट टीम ने जब भारत में पहला टेस्ट मैच जीता - BBC News हिंदी

राज्यसभा में 82 सांसदों की हैसियत रखने वाली सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के 18 सांसद इस साल रिटायर होने वाले हैं.इनमें से 14 सांसदों का कार्यकाल अप्रैल, जून और नवंबर में पूरा होगा.दूसरी तरफ़ कांग्रेस के लिए भी स्थिति उतनी ही नाज़ुक है. उसके 17 सांसदों का कार्यकाल इस साल ख़त्म होने वाला है.

इनमें 11 का कार्यकाल अप्रैल में, तीन का जून में, एक जुलाई में और दो नवंबर में रिटायर होने वाले हैं.इमेज कॉपीरइटGetty Imagesबीजेपी का गणितउम्मीद की जा रही है कि राज्यसभा के द्विवार्षिक चुनावों में सत्ता पक्ष के सांसदों की संख्या कम हो सकती है क्योंकि हाल के दिनों में बीजेपी को कई राज्यों में हार का सामना करना पड़ा है.

जिन राज्यों में राज्यसभा की सीटें ख़ाली हो रही हैं, उनमें से ज़्यादातर में विपक्षी पार्टियां सरकार में हैं. इसे बीजेपी के लिए कम्फ़र्ट ज़ोन की स्थिति नहीं कहा जा सकता है.इनमें महाराष्ट्र, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तेलंगाना प्रमुख हैं.

लंबे समय से संसद कवर करने वाले पीटीआई के सीनियर जर्नलिस्ट दीपक रंजन कहते हैं,"इस साल बीजेपी के रिटायर होने वाले 18 सांसदों में 10 उत्तर प्रदेश से आते हैं. चूंकि इस राज्य में बीजेपी के पास भारी बहुमत है, इसलिए इसमें से नौ सीट पार्टी आराम से जीत सकती है. दसवीं सीट पर भी अगर राजनीतिक गुणा-भाग का ध्यान रखा जाए तो ये मुश्किल नहीं होगा."

गुजरात, असम और हरियाणा में बीजेपी सत्ता में है और बिहार में गठबंधन की सरकार है तो ऐसे में बीजेपी ज़्यादा नुक़सान की स्थिति में नहीं दिखती.इमेज कॉपीरइटGetty Imagesकांग्रेस की उम्मीदराजस्थान, मध्य प्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ में सरकार होने के बावजूद राज्यसभा में उसकी हैसियत में बहुत फ़र्क़ नहीं दिख रहा है.

दीपक रंजन कहते हैं,"कांग्रेस के पास अभी 46 सांसद हैं. राज्यसभा चुनावों के बाद कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की स्थिति सुधरने की उम्मीद है. चूंकि इतनी बड़ी संख्या में उसके सांसद रिटायर हो रहे हैं, इसलिए राज्यसभा में उसके कुल सांसद बढ़ने की उम्मीद नहीं है."

फेसबुक‍ इंडिया की पॉलिसी हेड ने संसदीय समिति द्वारा पूछताछ के बाद द‍िया इस्तीफा Saran: रवि किशन बोले- राम मंदिर देख कर मरूंगा, जीते जी मोक्ष मिल गया Bihar Election 2020: नालंदा की जंग में वोटर हैं किसके संग? देखें बुलेट रिपोर्टर

बीजेपी के उलट कांग्रेस के लिए हालात ज़्यादा चुनौतीपूर्ण हैं.दीपक रंजन कहते हैं,"ऐसी चर्चा है कि रणदीप सिंह सुरजेवाला को कांग्रेस मध्य प्रदेश से राज्यसभा में भेज सकती है. वो पिछले दो चुनाव में हार चुके हैं. दिग्विजय सिंह चुनाव हारे हुए हैं और राज्यसभा में उनका कार्यकाल भी ख़त्म हो रहा है. कांग्रेस की दिक्क़त ये है कि उसे उन लोगों को भी जगह देनी है जो पहले से राज्यसभा में हैं और जिनका कार्यकाल ख़त्म हो रहा है और दूसरे वे लोग हैं, जो चुनाव हार गए हैं."

इमेज कॉपीरइटGetty Imagesराज्यों के समीकरणराज्यसभा चुनावों को राज्यों के समीकरण ने दिलचस्प बना दिया है.इस सिलसिले में महाराष्ट्र का नाम लिया जा सकता है जहां शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की साझा सरकार है.महाराष्ट्र में राज्यसभा की सात सीटें ख़ाली हो रही हैं जिनमें इस समय एक बीजेपी के पास, एक कांग्रेस, तीन एनसीपी और एक शिवसेना के पास है.

इस समय राज्य में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की साझा सरकार है तो ऐसे में उन्हें सीटें आपस में बांटनी होगी.ओडिशा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल के राजनीतिक समीकरणों में ज़्यादा बदलाव नहीं होने वाला है लेकिन आंध्र प्रदेश में जगनमोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआर कांग्रेस सत्ता में है और राज्यसभा में वो तेलुगूदेशम पार्टी की जगह लेगी.

ये वो राज्य हैं जहां बीजेपी हाशिए पर है.इमेज कॉपीरइटGetty Imagesमहत्वपूर्ण विधेयकइस समय चार-पाँच विधेयक ऐसे हैं जिन्हें लेकर राज्यसभा में सरकार और विपक्ष के बीच मतभेद की स्थिति हो सकती है. ये विधेयक हैं डेटा प्रोटेक्शन बिल, लेबर कोड बिल, अंतरराज्यीय नदी जल विवाद संशोधन बिल, कीटनाशक प्रबंधन बिल.

दीपक रंजन कहते हैं,"इन विधेयकों पर हंगामे की सूरत बन सकती है और विपक्ष इन्हें सेलेक्ट कमिटी भेजने की मांग कर सकता है. कीटनाशक प्रबंधन बिल तो साल 2008 से लटका हुआ है."राज्यसभा में सत्ता के गणित के लिहाज़ से देखें तो एनडीए की असहजता अब इतिहास का हिस्सा है. संख्या बल के मामले में बीजेपी ने काफ़ी पहले कांग्रेस को पीछे छोड़ दिया है.

दीपक रंजन बताते हैं,"बीजू जनता दल, तेलंगाना राष्ट्र समिति रणनीतिक रूप से बीजेपी का राज्यसभा में साथ देते रहे हैं. आंध्र प्रदेश में बदली स्थितियों के मद्देनज़र प्रधानमंत्री ने पिछले दिनों जगनमोहन रेड्डी से मुलाक़ात भी की थी. बीजेपी चाहती है कि वाईएसआर एनडीए ख़ेमे में आ जाएं."

दीपिका पादुकोण की मैनेजर करिश्मा प्रकाश के घर NCB की रेड, ड्रग्स बरामद हुई निकिता मर्डर केस: आरोपी रसूखदार, इंसाफ कब होगा सरकार? डीयू के कुलपति के खिलाफ उच्च स्तरीय जांच की राष्ट्रपति ने दी मंजूरी, जानें क्‍या है पूरा मामला और पढो: BBC News Hindi »

यहां के दशहरे का राम-रावण से कोई लेना देना नहीं, 75 दिन चलती हैं रस्में, इस बार भी सब पूरी होंगी

पुलिस रथ के रूट को सील कर रही है, पूरे इलाके को सैनिटाइज किया रहा है, सभी के लिए मास्क पहनना अनिवार्य है,बस्तर दशहरा इसलिए भी अनोखा है क्योंकि पिछले 610 साल से दशहरे में चलने वाले रथ के आकार में कोई फर्क ही नहीं आया है | There is no effect of corona on Dussehra here, every ritual of Dussehra lasting 75 days will be completed.

Bhut achhi khabar he राज्यसभा में बहुमत से दूर ही रहेगी भाजपा, एक नहीं कई हैं चुनौतियां BBC ki abhi se Rona dhona suru How could plz explain Sansad me bhi paksh vipaksh ka aarakshan hona chahiye🤔 Koi na janta kamjor nahi ho rahi h o vipakhchh ka kaam karegi

ज़ाकिर नाइक इन दिनों कहां हैं और क्या कर रहे हैंविवादित इस्लामिक उपदेशक ज़ाकिर नाइक आजकल मलेशिया में हैं, उनकी ज़िंदगी कैसी है? बीबीसी को ऐसे लोगो।के बारे में सब पता होता ह। जरा हाफिश के।बारे के।भी बताओ जहाँ भी है बेचारे की फटी पड़ी है। No news on china It seem you dont have reporter in china

नए स्टाइल और अपडेटेड फीचर्स के साथ आई Maruti की Ignis, जानिए दाम और फीचर्सनई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने मंगलवार को कंपनी की नई इग्निस कार की कीमतों की घोषणा कर दी। इसका मूल्य 4 लाख 90 हजार से लेकर 7 लाख 20 हजार रुपए (एक्स शोरुम) तक है। इस कार को मारुति ने ऑटो एक्सपो 2020 में लांच किया था।

कांग्रेस के दो दिग्गज जवाहरलाल नेहरू और सरदार पटेल के बीच राजनीतिक रिश्तों में कटुता थीAnalysis : कांग्रेस के दो दिग्गज जवाहरलाल नेहरू और सरदार पटेल के बीच राजनीतिक रिश्तों में कटुता थी jawaharlalNehru SardarPatel IndianPolitics Awadheshkum Awadheshkum फिर भी उनमें निजी घृणा नहीं थी। Awadheshkum ✔️गांधी अंधभक्त था नेहरू का 🤣🤣🤣 Awadheshkum इन तस्वीर को देख के अन्ना जी की याद आती है जिसके दोनों तरफ दो विचारधारा के लोग बैठे हुए थे हूबहू स्थिति में ArvindKejriwal DrKumarVishwas 😉 अब इसमें कौन केजरू है आप सब अंदाज़ लगाइए 😂😂

बांग्ला फिल्मों के मशहूर अभिनेता और TMC के पूर्व सांसद तापस पॉल का निधनतापस पॉल 61 साल के थे. उन्होंने मुंबई के एक निजी अस्पताल में अंतिम सांस ली. मिली जानकारी के अनुसार, कार्डियक अरेस्ट की वजह से उनकी मौत हुई है. उनकी मौत की खबर से सिनेमा और राजनीति जगत की हस्तियां शोक में हैं. वह साल 2014 के लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर सीट से जीत हासिल कर संसद पहुंचे थे. उन्होंने TMC के टिकट पर चुनाव लड़ा था. RIP😭😭 Eishwar unki aatma ko shaanti de 😧

योगी सरकार के 5 लाख करोड़ के बजट में नई योजनाओं और पर्यटन पर खास फोकसअयोध्या में उच्च स्तरीय पर्यटक अवसंरचना के विकास के लिए 85 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है, जबकि अयोध्या हवाई अड्डे के लिए 500 करोड़ रुपये का प्रस्ताव किया गया है. तुलसी स्मारक भवन के नवीनीकरण के लिए 10 करोड़ रुपये की व्यवस्था बजट में है. वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की मौजूदगी में सदन में बजट पेश करते हुए कहा कि वाराणसी में संस्कृति केंद्र की स्थापना के लिए 180 करोड़ रुपये का प्रस्ताव है. WeMissYouSid FansDemandSidNaazShow Rojgaar k liye सरकार हो तो ऐसी

जापान के डायमंड प्रिसेंस क्रूज पर कोरोना के 88 और नए केस, एक भी भारतीय नहीं