Teenager, Accident, Cowvigilantes, गोरक्षा, कारदुर्घटना, राजस्थान, भिवाड़ी

Teenager, Accident

राजस्थान: अलवर में गोरक्षकों की कार से टकराकर नाबालिग की मौत, तीन गिरफ़्तार

राजस्थान: अलवर में गोरक्षकों की कार से टकराकर नाबालिग की मौत, तीन गिरफ़्तार #Teenager #Accident #CowVigilantes #गोरक्षा #कारदुर्घटना #राजस्थान #भिवाड़ी

14-09-2021 20:30:00

राजस्थान : अलवर में गोरक्षकों की कार से टकराकर नाबालिग की मौत, तीन गिरफ़्तार Teenager Accident CowVigilantes गोरक्षा कारदुर्घटना राजस्थान भिवाड़ी

यह घटना 12 सितंबर को राजस्थान -हरियाणा सीमा के पास भिवाड़ी के चोपानकी थाना क्षेत्र में हुई. गोरक्षकों का कहना है कि वे जिस ट्रक का पीछा कर रहे थे, उसमें कथित तौर पर गायों को तस्करी कर ले जाया जा रहा था. मृतक के परिवार ने पुलिस पर मामले को दबाने का प्रयास करने का आरोप लगाया है.

नई दिल्लीःराजस्थान के अलवर जिले में एक ट्रक का पीछा कर रहे स्वयंभू गोरक्षकों के वाहन से टकराकर नाबालिग की मौत हो गई. इन गोरक्षकों का कहना है कि वे जिस ट्रक का पीछा कर रहे थे, उसमें कथित तौर पर गायों को तस्करी कर ले जाया जा रहा था.दुर्घटना में मारे गए 16 साल के नाबालिग के परिवार ने स्वयंभू गोरक्षकों पर ये आरोप लगाए हैं. परिवार ने पुलिस पर मामले को दबाने का प्रयास करने का भी आरोप लगाया है.

समीर वानखेड़े के पिता दलित थे और मां मुस्लिम, फर्जी सर्टिफिकेट से पाई नौकरी : नवाब मलिक जनता से जुड़े मुद्दों पर कांग्रेस के रुख को जमीनी स्तर तक पहुंचाएं पार्टी नेता : सोनिया गांधी Petrol, Diesel Price Today : कहीं 116 तो कहीं 113 रुपये बिक रहा पेट्रोल, चेक कर लें आपके शहर में क्या है रेट

घटना 12 सितंबर को सुबह करीब 5:45 बजे राजस्थान-हरियाणा सीमा के पास अलवर जिले के भिवाड़ी में चोपानकी थाना क्षेत्र में हुई.इंडियन एक्सप्रेसकी रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस ने नाबालिग की पहचान साबिर खान के रूप में की है. 11वीं कक्षा में पढ़ने वाले साबिर अलवर जिले के तिजारा तहसील में आने वाले सरे कलां गांव के निवासी थे

पुलिस का कहना है कि खान के परिवार की शिकायत के आधार पर सात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया है. इनमें से तीन को गिरफ्तार किया गया है.चोपानकी के एसएचओ मुकेश कुमार वर्मा का कहना है, ‘सोनू, हरकेश और नरेंद्र को गिरफ्तार किया गया है, जबकि चार फरार हैं. मामले की जांच की जा रही है.’ headtopics.com

सभी आरोपी हरियाणा के रहने वाल हैं और उन पर आईपीसी की धारा 302 (हत्या), 143 (गैरकानूनी रूप से इकट्ठा होना) और 506 (आपराधिक धमकी के लिए दंड) के तहत मामला दर्ज किया गया है.साबिर के परिवार की शिकायत के बाद एफआईआर दर्ज की गई है.एफआईआर में कहा गया है, ‘साबिर नियमित तौर पर सुबह दौड़ लगाता था और उसका आरोपियों में से एक अनिल से झगड़ा भी हुआ था. अनिल की लापरवाही से ड्राइविंग करने को लेकर उससे विवाद हुआ था.’

एफआईआर में कहा गया है कि इस विवाद के दौरान अनिल ने साबिर को धमकाया था कि अगर उसने दोबारा साबिर को सड़क पर दौड़ते देखा तो वह उसे अपनी कार से कुचल देगा और गोरक्षक दल और बजरंग दल से उसकी नजदीकियों की वजह से उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता.मामले के एक प्रत्यक्षदर्शी साबिर के दोस्त का कहना है कि कथित तौर पर गायों की तस्करी कर ले जा रहे ट्रक का पीछा करने के दौरान अनिल ने अपनी कार से साबिर को टक्कर मार दी. इसके बाद अनिल के सहयोगियों द्वारा चलाई जा रही एक अन्य कार ने भी साबिर को टक्कर मारी थी.

साबिर के शव को पोस्टमार्टम के बाद उसके परिवार को सौंप दिया गया है.भिवाड़ी सर्किल अधिकारी हरि राम कुमावत ने कहा कि जिस ट्रक में कथित तौर पर 15 गायों को ले जा रहा था, वह ट्रक हरियाणा के नूंह जिले के टौरु इलाके में एक पेड़ से टकराकर रुक गया.कुमावत ने कहा कि हरियाणा पुलिस ने ट्रक में गायों की तस्करी कर ले जाने के दावे की जांच शुरू कर दी है.

कुमावत ने बताया, ‘साबिर को दो वाहनों ने टक्कर मारी. एक वाहन में कथित तौर पर गोतस्कर थे, जबकि दूसरे में गोरक्षक थे.’हालांकि, साबिर के परिवार ने इस बयान का विरोध किया. परिवार का कहना है कि दोनों वाहन गोरक्षकों के हैं.साबिर के परिवार और दोस्तों का आरोप है कि पुलिस ने गोरक्षकों को बचाने के प्रयास के तहत मामले को डायवर्ट कर दिया है. headtopics.com

'हज़ारों किसान मौजूद थे, सिर्फ 23 चश्मदीद गवाह मिले...?' : लखीमपुर हिंसा पर SC का सवाल आर्यन खान होंगे रिहा या जेल में ही रहेंगे? जमानत अर्जी पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई मध्य प्रदेश : रेप के मामले में 6 महीने से फरार चल रहा कांग्रेस विधायक का बेटा अरेस्ट

बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि जब अलवर गोरक्षकों के बर्बर हमले को लेकर खबरों में रहा है. इससे पहले 20 जुलाई 2018 को अलवर जिले में ही गो-तस्करी के संदेह में कथित गोरक्षकों की भीड़ नेकी पीट-पीटकर हत्या कर दी थी.साल 2017 में गो-तस्करी के आरोप में 55 वर्षीय

को राजस्थान के अलवर में भीड़ ने पीट-पीटकर मार दिया था.(समाचार एजेंसी पीटीआई से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

आज की पॉजिटिव खबर: पारंपरिक खेती छोड़ नीरव ने 3 साल पहले मोतियों की खेती शुरू की, अब सालाना 5 लाख रुपए कमा रहे हैं मुनाफा

सूरत के रहने वाले नीरव पटेल एक किसान परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनके पिता पारंपरिक खेती करते थे, लेकिन कमाई उतनी नहीं होती थी। कभी मौसम की मार तो कभी मार्केट में सही कीमत नहीं मिलने से वे परेशान रहते थे। इसके बाद 2018 में नीरव ने मोतियों की खेती करना शुरू किया। इसका उन्हें फायदा भी मिला और पहले ही साल अच्छी आमदनी हुई। फिलहाल वे 5 तालाबों में मोतियों की खेती कर रहे हैं और सालाना 5 लाख रुपए का मुना... | Aaj Ki Positive Story : Know all about pearl Farming, It's Cultivation and Marketing Process

क्या न्यूज हेडलाइन है कुत्ता पालने वाले की गाड़ी से मरता तो भी कुत्ता पालक या कुत्ता रक्षक लिखते गाय पालक और सामान्य आदमी के टक्कर में अलग अलग बात है क्या नाबालिग ही मरे हैं, गाय तो नहीं मरी. ऐसे हैं गौ रक्षक सावरकर जैसी सोच रखने वाली सरकार से न्याय की उम्मीद नहीं की जा सकती है, क्यूंकि ये सरकार पुलिस संरक्षण देकर बलात्कारियों के समर्थन में रैली करवाती है Please RT 🙏 Please follow- Sanjaym810 हाथरस_की_बेटी_को_न्याय_कब हाथरस_की_बेटी_को_न्याय_कब हाथरस_की_बेटी_को_न्याय_कब

सारागढ़ी की लड़ाई के नायक की प्रतिमा का ब्रिटेन में अनावरण - BBC News हिंदीसारागढ़ी की लड़ाई 1897 में ख़ैबर-पख़्तूनख़्वा प्रांत में हुई थी. ब्रिटिश भारतीय सेना के केवल 21 सिख जवानों ने अफ़ग़ान क़बाइलियों की 10 हज़ार की विशाल फ़ौज से जमकर लोहा लिया था. हमे तो बचपन से हमेशा मुगलों के काली करतूतों के बारे में अच्छा दिखाकर बताया गया। इन जैसे महान नायकों के बारे में हमसे दूर रखा गया । 🙏 Police rank ?

ब्रिटेन: प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की मां का निधन, 79 वर्ष की आयु में ली अंतिम सांसब्रिटेन: प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की मां का निधन, 79 वर्ष की आयु में ली अंतिम सांस Britain CharlotteJohnsonWahl London Died BorisJohnson PMOIndia POTUS

उत्तर कोरिया का नई तरह की क्रूज़ मिसाइल का सफल परीक्षण करने का दावा - BBC Hindiउत्तर कोरिया ने बताया उसने शनिवार और रविवार को दो मिसाइलों को लॉन्च किया है जो 1500 किलोमीटर से अधिक की दूरी का सफ़र तय कर सकती हैं. नई तरह का क्या आशय है। खुद पर प्रहार करती है?

सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद सरकार ने विभिन्न न्यायाधिकरणों में 37 सदस्यों की नियुक्ति कीकेंद्र ने राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण, आयकर अपीलीय न्यायाधिकरण और सशस्त्र बल अधिकरण में विभिन्न पदों के लिए नियुक्ति की है. ये नियुक्तियां ऐसे समय में भी हुई हैं जब सुप्रीम कोर्ट ने यह कहते हुए चिंता जताई है कि केंद्र सरकार कर्मचारियों की कमी का सामना कर रहे न्यायाधिकरणों में नियुक्ति न करके उन्हें ‘निष्क्रिय’ कर रही है. अभी आगे आगे देखिये होता है क्या, पेगासस से चोरों की तरह जासूसी करवा कर निजता के मौलिक अधिकारों का अतिक्रमण करने वाला, न्याय के पवित्र मंदिर के सामने रोता है क्या। बड़ी अकर से कह दिया हम हलफनामा नहीं देंगे, न्यायपालिका जो तुला के कसौटी पर बैठा है खड़ा उतरता है क्या। मोदीजी को रंजन गोगोई ढूंढने मे वक़्त लगता है। सब इतनी आसानी से अपने ज़मीर बेचने को तैयार नहीं होते हैं ना।

Aligarh का ताला और सीतापुर की यादें, PM Modi ने याद की बचपन की वो कहानीआज प्रधानमंत्री मोदी ने अलीगढ़ का दौरा किया है और राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी का तोहफा राज्य को दिया. प्रधानमंत्री मोदी ने राजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया. इस अवसर पर उन्होंने जनता को संबोधित भी किया. अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने बचपन की वो कहानी याद की जहां उनके घर एक मुस्लिम ताले वाले आया करते थे और वो उनके पिताजी के अच्छे दोस्त भी थे. अलीगढ़ में अपने बचपन का किस्सा सुनाते हुए पीएम मोदी बोले, 'अलीगढ़ से ताले के मुस्लिम सेल्समैन हर तीन महीने में हमारे गांव आते थे. अभी भी मुझे याद है कि वह काली जैकेट पहनकर आते थे. उनकी मेरे पिताजी से अच्छी दोस्ती थी. आते थे तो दो-चार दिन गांव में रुकते भी थे. आसपास के गांव में भी व्यापार करते थे. वो जो पैसे दूसरे दुकानदारों से वसूल करके लाते थे उनको मेरे पिता के पास छोड़ देते थे. मेरे पिताजी उनके पैसों को संभालते थे. फिर जब वो गांव छोड़कर जाते थे तब अपने पैसे ले जाते थे. देखें आगे क्या बोले पीएम मोदी. Chacha ne ab taj Afghanistan se bachpan ka rishta nahin nikala In short, PM's Verbal Diahorrea.

ओडिशा में भारी बारिश, पुरी में 87 और भुवनेश्वर में 63 साल का रिकॉर्ड टूटाभुवनेश्वर। ओडिशा के कई इलाकों में सोमवार को रिकॉर्ड तोड़ बारिश हुई जिससे जगह जगह जलजमाव हो गया और गाड़ियां उसमें फंस गई। बरसात ने राजधानी भुवनेश्वर में 63 साल का, तो मंदिर नगरी पुरी में 87 वर्ष का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इसे देखते हुए अधिकारियों ने बाढ़ की चेतावनी जारी की है।