Rajasthan, India, News, Lockdown Imposed İn Rajasthan, Cm Ashok Gehlot, Rajasthan Govt, Rajasthan Corona Crisis, Lockdown İn Rajasthan, Rajasthan Lockdown, Rajasthan Lockdown News

Rajasthan, India

राजस्थान: कोरोना की मार के बाद मजदूरों का पलायन, बोले- रोजी-रोटी के पड़े लाले

जानकारी के मुताबिक, पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा के बाद राजस्थान के बाड़मेर जिले में मजदूरों का पलायन शुरू हुआ #Rajasthan #India #news

09-05-2021 20:45:00

जानकारी के मुताबिक, पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा के बाद राजस्थान के बाड़मेर जिले में मजदूरों का पलायन शुरू हुआ Rajasthan India news

रेलवे स्टेशन पर इकठ्ठा हुए मजदूरों का कहना है कि जिस तरीके से पिछली बार अचानक रेल सेवा और बस सेवा बंद कर दी गई थी, और हमें कई किलोमीटर का सफर पैदल तय करना पड़ा था. उसी तरह इस बार भी वही स्थिति ना आ जाए तो हम अभी से यहां से जाने के लिए तैयार हैं.

स्टोरी हाइलाइट्सलॉकडाउन के बाद राजस्थान में एमपी के मजदूरों का पलायन शुरूमजदूर बोले- कमाने को कुछ नहीं, कहां से खाएंगेदेश भर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच राजस्थान सरकार ने हाल ही में एक बड़ा फैसला लिया. राजस्थान सरकार ने बढ़ते कोरोना की चेन तोड़ने के लिए राज्य में 24 मई तक लॉकडाउन लगाने के निर्देश दिए. वहीं इस खबर के बाद राजस्थान में मध्य प्रदेश के मजदूरों ने पलायन करना शुरू कर दिया.

राम मंदिर: 'सच छुपाने को हज़ार झूठ मत बोलिए चंपत राय जी'- संजय सिंह - BBC News हिंदी पेट्रोल-डीजल में लगी 'आग' से अब NDA में शुरू हुआ मतभेद, JDU ने कहा- कीमतें अब चुभने लगी हैं आज का कार्टून: टीआरपी वाले दिन - BBC News हिंदी

जानकारी के मुताबिक, पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा के बाद राजस्थान के बाड़मेर जिले में मजदूरों का पलायन शुरू हो गया है. मध्य प्रदेश से राजस्थान के बाड़मेर जिले में काम करने वाले दर्जनों मजदूर रविवार को अचानक अपना सामान बांधकर रेलवे स्टेशन पहुंच गए.रेलवे स्टेशन पर इकठ्ठा हुए मजदूरों का कहना है कि जिस तरीके से पिछली बार अचानक रेल सेवा और बस सेवा बंद कर दी गई थी, और हमें कई किलोमीटर का सफर पैदल तय करना पड़ा था. उसी प्रकार इस बार भी वही स्थिति ना आ जाए तो हम अभी से यहां से जाने के लिए तैयार हैं. उन्होंने कहा कि हमें फिर से डर सता रहा है जिस तरीके से हालात लगातार खराब होते जा रहे हैं.

मजदूरों का कहना है कि ऐसे में हमने यह फैसला किया है कि हम अब अपने घर वापस मध्य प्रदेश जा रहे हैं. उन्होंने बताया कि ठेकेदार ने भी बोल दिया है कि काम नहीं है. साथ ही जो दुकानें खुली हैं, अचानक ही खाने पीने के सामान का दाम 5 गुना बढ़ गया है. हमारे पास पैसा भी नहीं है. इसीलिए हम मध्य प्रदेश वापस जाने के लिए रेलवे स्टेशन पहुंचे हैं. headtopics.com

मध्य प्रदेश के रहने वाले इन मजदूरों का कहना है कि वे पिछले तीन-चार महीने से यहां मजदूरी कर रहे थे. लेकिन अब कोरोना संक्रमण बढ़ने के चलते सरकार ने लॉकडाउन लगाने की घोषणा कर दी है. जिससे हमारा काम काज पूरी तरीके से बंद हो गया है और ठेकेदार ने भी घर जाने के लिए बोल दिया है. इसलिए हम बीवी बच्चों को लेकर अपने गांव जा रहे हैं.

राज्य सरकार ने मजदूरों की पलायन को रोकने के लिए इस बार लॉकडाउन में कुछ इकाइयों को छूट भी दी है, लेकिन पिछली बार कोरोना संक्रमण में मजदूरों को हुई परेशानियों के चलते इस बार मजदूरों ने खुद ही अपने घरों की ओर पलायन करना शुरू कर दिया है.Live TV और पढो: आज तक »

Delhi में अनलॉक-3 शुरू, मॉल, दुकानें, रेस्टोरेंट खोलने की मिली अनुमति

दिल्ली में आज से अनलॉक 3 शुरू होगा. पहले मॉल, सभी दुकानें ऑड इवन के आधार पर खुल रही थीं. लेकिन अब सारी दुकानें सुबह 10 बजे से खुल जाएंगी. साप्ताहिक बाजार गाइडलाइन्स के साथ खुल सकेंगे. रेस्टोरेंट में पहले टेक अवे की सुविधा थी लेकिन अब यहां लोग खाना भी सकेंगे, लेकिन 50 फीसदी क्षमता के साथ. धार्मिक स्थल खुलेंगे लेकिन श्रद्धालुओं की अनुमति नहीं होगी. ब्यूटी पार्लर और सैलून भी खुलेंगे. देखें 9 बज गए.

जनता एसी है तो सरकार जिम्मेदार नहीं The Govt. of Rajastan should look into the problems of labours and help them with immediate effect to have food, shelter and medical facilities. Ek to ye sarkar ka drama khatam ni hota.... Lockdown ho gya ya saapsedi ka game.... Kahi khula h to kahi band .... Janta k maje mat lo.....badduva lagegi...!🤬

RahulGandhi कहा छुप कर बैठे हो मियाँ मजदूर का बेहाल होगा सरकारें इनके खान पान की व्यवस्था करवाये 2014 से पहले कहीं भी कोई घटना होती थी मीडिया प्रधानमंत्री का नाम लेकर सवाल करती थी आज तो प्रधानमंत्री का नाम लेकर सवाल करना तो दूर की बात है देश को ही टुकड़ो में बांटने में लगी है प्रधानमंत्री का बचाव करने के चक्कर में

It's very painful. Plz help. 🙏🇮🇳 DrSatishPoonia मैने पहले ही कहा था कि कोरोना महामारी से बच भी गए तो महंगाई और भुखमरी से लोग मर जायेंगे 🙏🛌🌍 मैने बहोत पहले ही कहा था कि कोरोना महामारी से बच भी गए तो महंगाई और भुखमरी से लोग मर जायेंगे 🙏🙏 Fadanvis saheb tr ashe bolat ahe js bjp shashit rajyat coronach nhi.. 😀😀😀😀

तस्वीर पुरानी तो नही

कर्नाटक का ऑक्सीजन कोटा बढ़ाने के हाईकोर्ट के आदेश में दख़ल से सुप्रीम कोर्ट का इनकारकेंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अपील दायर कर कहा था कि कर्नाटक हाईकोर्ट ने राज्य में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने का आदेश पारित किया है. इससे तरल चिकित्सीय ऑक्सीजन के आपूर्ति नेटवर्क व्यवस्था पर बुरा प्रभाव पड़ेगा और यह व्यवस्था पूरी तरह से ढह जाएगी. शीर्ष अदालत ने कहा कि कर्नाटक के लोगों को लड़खड़ाते हुए नहीं छोड़ा जा सकता है. Ye hai centre state coordination double engine ki sarkar dekh lo jinko jinko double engine chahiye apni hi party ke state government ko oxygen na dena pade iske liye supreme Court ja rahe hai dhanya hai prabhu kuch sambhlega aapse ya phir mann ki baat wali bakaiti hi hogi...... इसे ऐसे समझें । UP High Court - सरकार 1 हफ्ते का lockdown लगाए । UP सरकार ने आदेश रोकने के लिए SC चले गए । SC ने UP HC के आर्डर पर रोक लगा दी । UP सरकार ने 2-2 दिन बढ़ाकर 1 हफ्ते का LOCKDOWN लगा दिया । अब इसमें SC तो ANI बन गया ना, इसलिए वो इस पचड़े में पड़ना ही नही चाहते ।

चेतन सकारिया के पिता के बाद पीयूष चावला के पिता का कोरोना से निधनभारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी लेग स्पिनर पीयूष चावला के पिता का सोमवार को कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे Cricket News IPL2021 PiyushChawala ChetanSakariya

चला गया दिल्ली क्रिकेट का इनसाइक्लोपीडिया, बीसीसीआइ के स्कोरर-अंपायर केके तिवारी का कोरोना से निधनलोकल मैचों में अंपायरिंग करने के साथ-साथ कई कोर्स पास करके केके बीसीसीआइ के स्कोरर बन गए। हरदिल अजीज केके बीमार होने के बावजूद आइपीएल के मैचों में स्कोरिंग करने को व्याकुल थे लेकिन तबीयत खराब होने के कारण उन्हें 27 अप्रैल को झज्जर स्थित एम्स में भर्ती किया गया।

मुरादाबाद : क्रिकेटर पीयूष चावला के पिता का कोरोना से निधन, नोएडा के अस्पताल में तोड़ा दममुरादाबाद : क्रिकेटर पीयूष चावला के पिता का कोरोना से निधन, नोएडा के अस्पताल में तोड़ा दम PiyushChawla CoronaSecondWave CoronavirusPandemic ओमशान्ति RIP 🙏

UP के गांवों से Ground Report : आगरा के दो गांवों में 64 मौतों से मचा हड़कंपउत्तर प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना ने अपना रौद्ररूप दिखाना शुरू कर दिया है। ग्रामीण इलाकों में कोविड 19 की दस्तक होने के बाद चिंता की लकीरें उभरने लगी है। ताजा मामला ताजनगरी आगरा के दो गांवों का है, जहां पिछले कुछ दिनों में 64 मौतें होने से प्रशासन में हड़कंप मच गया है।