योगी सरकार का 5 लाख पेंशनरों को बड़ा तोहफा, अब 7वें वेतन आयोग के तहत मिलेगी पेंशन

सरकार ने प्रदेश के 5 लाख पेंशनर्स को तोहफ़ा देते हुए सातवें वेतन आयोग के तहत पेंशन देने का फ़ैसला किया है #UttarPradesh #Pension #Re

Uttarpradesh, Pension

14-09-2021 23:30:00

सरकार ने प्रदेश के 5 लाख पेंशनर्स को तोहफ़ा देते हुए सातवें वेतन आयोग के तहत पेंशन देने का फ़ैसला किया है UttarPradesh Pension Re

उत्तर प्रदेश में इस समय 12 लाख पेंशनभोगी है. उनमें से तकरीबन 5 लाख ऐसे पेंशनर हैं, जिन्हें अभी तक 6वें वेतन आयोग के तहत ही पेंशन मिलता आया है. लेकिन सरकार अब उन्हें भी 7वें वेतन आयोग के तहत पेंशन देने का फैसला लिया है.

स्टोरी हाइलाइट्सउत्तर प्रदेश में इस समय 12 लाख पेंशनभोगी हैं5 लाख पेंशनरों को 6वें वेतनमान के तहत मिलती है पेंशनउत्तर प्रदेश में अगले साल विधानसभा चुनाव है. लेकिन इसके ठीक कुछ महीने पहले योगी सरकार ने एक बड़ा मास्टर स्ट्रोक खेला है. सरकार ने प्रदेश के 5 लाख पेंशनरों को तोहफा देते हुए सातवें वेतन आयोग (7th Pay Commission) के तहत पेंशन देने का फैसला किया है.

5 लाख पेंशनरों को 6वें वेतनमान के तहत मिलती है पेंशनउत्तर प्रदेश में इस समय 12 लाख पेंशनभोगी हैं. उनमें से तकरीबन 5 लाख ऐसे पेंशनर हैं, जिन्हें अभी तक 6वें वेतन आयोग के तहत ही पेंशन मिलती आई है. इस श्रेणी के अधिकांश पेंशनर निगमों से हैं, जहां पर अभी तक सातवें वेतन आयोग को लागू नहीं किया गया है. लेकिन अपर मुख्य सचिव वित्त एस राधा चौहान के द्वारा जारी शासनादेश के बाद अब प्रदेश भर के सेवानिवृत्त कर्मचारियों को 7वें वेतन आयोग के तहत पेंशन दी जाएगी.

तीन महीने के भीतर पुनरीक्षण कार्य पूरा करने का निर्देशइस फैसले को लागू करने में ज्यादा देरी ना हो इसके लिए योगी सरकार ने सभी विभागों को तीन महीने के भीतर पुनरीक्षण कार्य पूरा करने का निर्देश दे दिया गया है. वहीं दूसरी तरफ केंद्र सरकार अपने सेवानिवृत्त कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के अनुसार पेंशन देने का आदेश पहले ही जारी कर चुकी है. headtopics.com

बिहार में शिक्षकों से शराब 'ढूंढवाने' के आदेश पर विवाद, शिक्षा मंत्री ने दी सफाई, कहा- बस सहयोग मांगा गया है

संयुक्त पेंशनर्स कल्याण समिति ने फैसले का किया स्वागतवित्त विभाग से मिली जानकारी के अनुसार छठे वेतन आयोग से संबंधित सेवानिवृत्त कर्मचारियों के पुनरीक्षण के तुरंत बाद 7वें वेतन आयोग से जुड़े पेंशनरों के बराबर पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी. सरकार के इस फैसले का संयुक्त पेंशनर्स कल्याण समिति ने स्वागत किया है. हालांकि इस फैसले के टाइमिंग पर जरूर सवाल उठ रहे हैं. अंदेशा जताया जा रहा है कि ऐन चुनाव से पहले आए इस फैसले के माध्यम से बीजेपी राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश कर सकती है.

Live TV

और पढो: AajTak »

राजस्थान के करोड़पति किसानों का गांव: इस गांव को कहते हैं मिनी इजराइल, हाईटेक खेती के दम पर लग्जरी गाड़ियों में चलते हैं किसान

राजस्थान का एक गांव ऐसा जो करोड़पति किसानों का है। खेती में नई टेक्नीक की मदद से हर साल लाखों रुपए कमा रहे हैं। 10 साल पहले इस गांव और किसानों की स्थिति बिल्कुल उलट थी। पारंपरिक खेती की वजह से कोई मुनाफा नहीं हुआ। इसके बाद गांव से एक किसान इजराइल से खेती की नई टेक्नीक सीख कर आया। वहां हुए प्रयोग को अपने खेतों में प्रोजेक्ट के तौर पर शुरू किया तो किस्मत बदल गई। शुरुआती दौर में लोग मजाक भी उड़ाते थे, ... | Polyhouse, green house farming made many farmers millionaires, made fun of the farmer who took the initiative 10 years ago, today everyone adopted और पढो >>

चुनाव मेरी जान Above news in zumala n lolipop nothing elase penshion in only Up or All India don't joke media also don't Gumarah people Yogi was giving only lie big talks on corona n vachine he him self don't know how many vaccine done all India 1st dose n 2 dose here joke who is aba Jan? Ha ha but Godi media showoff in all chanel offcouse there job is chatu giri n dalali that's sure

अब आज तक बन गया ,up सरकार का प्रदेश प्रवक्ता। Pm ka zumla he knows Muslim from up they allways travel to gujrat every 3 month for business. They kept the money with modi father here is joke of the day n of the month ha ha ha N modiji take many time small farmers name many time? Why we all know very well

Zumala baj modiji n Yogi yesterday both of them talking but there many time zumala n jokes people must laugfh but very suprize deputyCm keshav prasad m. Not invite or seats must be full ha ha Sir kanpur ke lal imli mai labour ko 40 mahine ki salary nahi mile kuch krye jane kitne parivar bhuke mar rahe hai

सबसे पहले जरूरत है कि प्रत्येक सैन्य बल को दोगुना पेंशन घोषित किया जाय।

Yogi सरकार का 5 लाख पेंशनरों को बड़ा तोहफा, अब 7वें वेतन आयोग के तहत मिलेगी पेंशनउत्तर प्रदेश में इस समय 12 लाख पेंशनभोगी है. उनमें से तकरीबन 5 लाख ऐसे पेंशनर हैं, जिन्हें अभी तक 6वें वेतन आयोग के तहत ही पेंशन मिलता आया है. लेकिन सरकार अब उन्हें भी 7वें वेतन आयोग के तहत पेंशन देने का फैसला लिया है.

कोरोना से मुकाबले के लिए तेलंगाना में प्रतिदिन 3 लाख लोगों को लगाया जाएगा टीकामुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को कोविड-19 के खिलाफ विशेष अभियान चलाने और रोजाना तीन लाख लोगों को टीका लगाने का निर्देश दिए हैं। कोरोना से मुकाबला करने के लिए तेलंगाना में टीकाकरण पर पर ज्यादा से ज्यादा जोर दिया जा रहा है।

न्यूयॉर्क में दस लाख विद्यार्थियों के लिए स्कूल फिर से खुलेकोरोना विषाणु महामारी के दौरान कोरोना रोधी टीके नए नियमों के बीच न्यूयॉर्क शहर में लगभग दस लाख विद्यार्थियों के लिए स्कूलों के दरवाजे फिर से खुल गए हैं।

मास्क की जरूरत 2022 तक बनी रहेगी, कोविड के खिलाफ दवा की आवश्यकता : नीति आयोग सदस्यभारत के नीति आयोग के एक सदस्य डॉ वीके पॉल के अनुसार, अगले साल भी लोगों को मास्क से छुटकारा नहीं मिलने वाला है क्योंकि कोविड के खिलाफ लड़ाई के लिए टीकों, प्रभावी दवाओं और अनुशासित सामाजिक व्यवहार के एक संयोजन की आवश्यकता है. उम्मीद है कि दुनिया दवाओं को लेकर भी उतनी ही भाग्यशाली होगी जितनी कि टीकों को लेकर है. अनुभवी बाल रोग विशेषज्ञ डॉ वीके पॉल ने महामारी की तीसरी लहर से इंकार नहीं किया. उन्होंने आगाह किया कि देश अब एक जोखिम भरे दौर में प्रवेश कर रहा है, जब खासकर कई सार्वजनिक त्योहारों का सिलसिला चलना है. Ndtv India please save the farmers from looteri banks and looteri corrupt badest looteri modi govt also please do something for farmers please looteri banko ko kisano k khet zameene lootne hathiyane se roko please कल फ़िरोज़ गांधी जी का जन्मदिन था। पुण्यतिथि भी इसी महीने 8 को था । नमन। ये बहुत बडा दलाल है , कोरोना के नाम पर गरीब परिवार को मारने का योजना है, दुनिया में वैक्सीन का विरोध हो रहा है , और सरकार वैक्सीन के नाम पर वाहवाही लुट रही है

पाकिस्तानी क्रिकेटर्स की सैलरी 250 फीसदी बढ़ी: देश में भीषण आर्थिक तंगी के बीच PCB की घोषणा, अब 1.4 लाख से 2.5 लाख रुपए महीने मिलेगी तनख्वाहभीषण आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान में क्रिकेट खिलाड़ियों की सैलरी में 250 फीसदी तक बढ़ोतरी कर दी गई है। सैलरी में इजाफे का सबसे बड़ा फायदा ग्रुप डी के प्लेयर्स को होगा। इनका मासिक वेतन 40 हजार पाकिस्तानी रुपए यानी करीब 17 हजार भारतीय रुपए था। अब इनकी सैलरी में एक लाख का इजाफा कर दिया गया है यानी अब इन खिलाड़ियों को एक लाख 40 हजार पाकिस्तानी रुपए मिलेंगे। | pakistan cricket board Salary of Pakistani players increased by 250 times; PCB Chief Rameez Raja said – bilateral series with India is not possible

बिहार के सीमांचल में टूट रहे हैं माता-पिताओं के सपने | DW | 14.09.2021बिहार के सीमांचल में नशे का कारोबार बढ़ रहा है. युवा और किशोर ड्रग्स की गिरफ्तर में आ रहे हैं और तस्करी के लिए महिलाओं का इस्तेमाल हो रहा है. drugscostlife BiharNews