येदियुरप्पा शाम में चौथी बार लेंगे कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ

बीजेपी को विधानसभा स्पीकर के एक फ़ैसले के कारण करनी पड़ी जल्दीबाजी.

26.7.2019

येदियुरप्पा शाम में चौथी बार लेंगे कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ

बीजेपी को विधानसभा स्पीकर के एक फ़ैसले के कारण करनी पड़ी जल्दीबाजी.

उन्होंने इस बात के भी संकेत दिए थे कि बाक़ी बाग़ी विधायकों को लेकर भी वो अपना फ़ैसला जल्दी ही देंगें. कहा जा रहा है कि इसी वजह से बीजेपी सरकार के गठन में कोई देरी नहीं करना चाहती है.

एक ट्वीट में येदियुरप्पा ने लिखा,"पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देश का पालन करते हुए मैं कर्नाटक के महामहिम राज्यपाल से मुलाक़ात करके सरकार बनाने का दावा पेश कर रहा हूं."

कांग्रेस ने लिखा है,"कर्नाटक बीजेपी की जैसी स्थिति है उसे देखते हुए सरकार बनाने के दावे का कोई आधार नहीं दिखता."

कांग्रेस के 76 विधायकों में से 13 अब भी ऐसे विधायक हैं जिनकी सदस्यता को लेकर स्पीकर को फ़ैसला देना है.

माना जाता है कि बीजेपी ने कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार को गिराने के लिए इन दो कांग्रेसी नेताओ को आधार बनाया.

मीडिया से बातचीत के दौरान स्पीकर रमेश कुमार से पूछा गया कि क्या बाग़ी विधायकों के पास अब भी वक़्त है कि वो अपना इस्तीफ़ा वापस ले सकते हैं?

वो कहते हैं"यह सारा कुछ एक संवैधानिक संकट की ओर बढ़ रहा है, जैसे राष्ट्रपति शासन लगाना." प्रोफेसर रामास्वामी कहते हैं कि संभव है कि हम दिसंबर में मध्यावधि चुनाव होते देखें.

और पढो: BBC News Hindi

लोकतंत्र के जीत की बधाई चलिए कर्नाटक का नाटक समाप्त हुआ । 44 महीने अच्छा से काम हो । वैसे भी नही सकता नेशनल पार्टी के सामने कुमार स्वामी । Are.o.saambha.bahoot.kharcha.kiya.ha.mana. आखिर येडे महाराज शपथ लेंगे, नही लेते तो वो सचमुच येडे हो जाते. 😂 सैयां हैं कोतवाल हार्दिक शुभकामनाएं

434 दिन बाद आज फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे बीएस येदियुरप्पाबीएस येदियुरप्पा 434 दिन बाद एक बार फिर से कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने जा रहे हैं. इससे पहले उन्होंने 17 मई 2018 को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी, लेकिन विधानसभा में बहुमत नहीं होने के चलते उनको महज दो दिन में अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था. बहुत जल्द निर्णय लिया है भाजपा को दो चार दिन ओर इन्तजार करना चाहिए था। Good news

VIDEO: मुकाबले के दौरान 28 वर्षीय मुक्केबाज के सिर में लगी चोट, अस्पताल में तोड़ा दमबॉक्सिंग के दौरान सिर में लगी चोट, अस्पताल पहुंचने पर तोड़ दिया दम. Boxing ProfessionalBoxer MMA MaximDadashev Rip. Heartbreaking, q ki Maine pehle bhi uske kuch bouts dekhe the. Ye game ab bilkul bhi achcha nahi lagta!

मीटू के आरोपों में घिरे इमाम उल हक, कई लड़कियों के साथ बातचीत के स्क्रीनशॉट्स वायरलइमाम पर 7-8 लड़कियों के साथ संबंध रखने और फुसलाने का लगा आरोप इमाम पूर्व कप्तान और मुख्य चयनकर्ता इंजमाम उल हक के भतीजे हैं | 23 साल के इमाम पाकिस्तानी टीम के प्रमुख बल्लेबाजों में से एक हैं और अपने देश की ओर से 10 टेस्ट, 36 वनडे और 1 टी20 मैच खेल चुके हैं।

कर्नाटक के नेताओं संग शाह का मंथन, येदियुरप्पा का बेटा भी बैठक में शामिलअमित शाह से मिले कर्नाटक BJP के नेता लाइव अपडेट: 😀😀 Great once again Modi Government Sarkaar banayo aish karo

भ्रष्टाचार पर लगाम के लिए मोदी सरकार की पहल, योजनाओं के लाभ के लिए जरूरी होगा आधारप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में हुई कैबिनेट की मीटिंग में आधार को लेकर बड़ा फैसला किया गया है. कैबिनेट बैठक में राज्यों की लोक कल्याणकारी योजनाओं में लोगों को मिलने वाली सब्सिडी में आधार के इस्तेमाल की मंजूरी दे दी गई है. इससे धोखाधड़ी पर लगाम लगेगी. बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा कि आधार के इस्तेमाल से राज्यों में चलने वाली योजनाओं में पारदर्शिता आएगी और धोखाधड़ी पर लगाम लगाई जा सकेगी. इसका सीधा फायदा देश के गरीबों और जरूरतमंद लोगों को मिलेगा. जावडेकर के मुताबिक, देश के करीब 128 करोड़ लोगों के पास आधार कार्ड है. ऐसे में अब आधार का सही तरीके से इस्तेमाल हो सकेगा. I gives a one idea to government. India investment 5000 /-rs only one time and earn 20%yearly interest upto 5 years. Gaur Bhupendra Bina madhya pradesh India. बहोत है भ्रष्टाचार इतना पैसा है कि देश अमीर हो जाए नेता लोग चाहते नही है देश विकसित हो अमीर वो खुद अमीर होना चाहते है

मध्य प्रदेश विधानसभा में BJP नेता गोपाल भार्गव बोले- हमारे नंबर-1 और नंबर-2 कह देंगे तो एक दिन भी नहीं चलेगी ये सरकारभाजपा नेताओं पर सदन के बाहर बार-बार कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस नीत मध्य प्रदेश सरकार के गिरने का बयान देने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस ने सोमवार को कहा कि यदि भाजपा में हिम्मत है तो वह विधानसभा के मौजूदा मानसून सत्र में साबित करे कि कमलनाथ सरकार के पास पर्याप्त संख्या बल नहीं है. कांग्रेस की मध्य प्रदेश इकाई के मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने मीडिया को बताया था, ‘भाजपा नेता सदन के बाहर मध्य प्रदेश की कांग्रेस सरकार गिरने के बयान देते हैं. बजट के दौरान मौके होते हैं. भाजपा ने सदन में मत-विभाजन क्यों नहीं मांगा?’’ teri party ko aour kuch ata hai kya?vidhayak kharid ke sarakar banana tumhari party ka pesha hai .savidhan gaya tel lane .dalal sale. Very good एक नंबर और दो नंबर कहकर उलझने क्यों बढ़ा रहे हैं, सीधे-सीधे रंगा बिल्ला कहिए ना आप ?

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

26 जुलाई 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

मोदी को खुले ख़त के जवाब में आए प्रसून, कंगना

अगली खबर

YouTube