Uttarpradesh, Covıd 19outbreak, Nightcurfew, Highcourt, उत्तरप्रदेश, कोविड19महामारी, नाइटकर्फ्यू, हाईकोर्ट

Uttarpradesh, Covıd 19outbreak

यूपी: लोगों का कोविड नियमों का पालन न करना चिंतनीय, नाइट कर्फ्यू पर सोचे सरकार- हाईकोर्ट

यूपी: लोगों का कोविड नियमों का पालन न करना चिंतनीय, नाइट कर्फ्यू पर सोचे सरकार- हाईकोर्ट #UttarPradesh #COVID19outbreak #NightCurfew #HighCourt #उत्तरप्रदेश #कोविड19महामारी #नाइटकर्फ्यू #हाईकोर्ट

07-04-2021 20:00:00

यूपी: लोगों का कोविड नियमों का पालन न करना चिंतनीय, नाइट कर्फ्यू पर सोचे सरकार- हाईकोर्ट UttarPradesh COVID19outbreak NightCurfew HighCourt उत्तरप्रदेश कोविड19महामारी नाइटकर्फ्यू हाईकोर्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि कोविड-19 के मद्देनज़र पंचायत चुनाव इस तरह से कराए जाएं कि कोई जुलूस न निकले. चाहे नामांकन हो, चुनाव प्रचार या मतदान, हर चरण में कोविड-19 के सभी नियमों का पालन किया जाना चाहिए.

प्रयागराज:उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों पर चिंता प्रकट करते हुए इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने मंगलवार को राज्य सरकार से रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाने की संभावना तलाशने को कहा, ताकि सामाजिक कार्यक्रमों में भीड़भाड़ रोकी जा सके.मुख्य न्यायाधीश गोविंद माथुर और जस्टिस सिद्धार्थ वर्मा ने वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए यह निर्देश जारी किया.

गुजरात में हर चौथे दिन एक दलित महिला से होता है बलात्कार - BBC News हिंदी UP में Sunday को Complete Lockdown, मास्क न पहनने पर 10 हजार तक का जुर्माना कोरोना: पश्चिम बंगाल समेत पाँच राज्यों में चुनाव आयोग क्या कर सकता था, जो उसने नहीं किया? - BBC News हिंदी

अदालत ने कहा, ‘हालांकि, राज्य सरकार ने कोविड-19 की दूसरी लहर के खतरे से निपटने के लिए आवश्यक कदम उठाए हैं, लेकिन देखने में आया है कि राज्य द्वारा जारी निर्देशों का लोगों द्वारा ढंग से पालन नहीं किया जा रहा और यह चिंता का विषय है.’पीठ ने जिला प्रशासन और पुलिस अधिकारियों से लोगों का शत प्रतिशत मास्क पहनना सुनिश्चित करने को कहा.

अदालत ने कहा, ‘जिला प्रशासन को यह देखना चाहिए कि पूरे प्रदेश में किसी भी जगह भीड़ एकत्रित न हो.’पंचायत चुनावों पर पीठ ने कहा कि चुनाव इस तरह से कराए जाएं कि कोई जुलूस न निकले. अदालत ने कहा कि चाहे वह नामांकन हो, चुनाव प्रचार हो या मतदान हो, हर चरण में कोविड-19 के सभी नियमों का पालन किया जाना चाहिए. headtopics.com

अदालत ने कहा, ‘राज्य सरकार केवल 45 वर्ष की आयु से ऊपर के लोगों के लिए ही नहीं, बल्कि सभी के लिए टीकाकरण की संभावना तलाशे. वास्तव में घर-घर टीकाकरण करने का कार्यक्रम तैयार किया जाना चाहिए.’इस जनहित याचिका पर अगली सुनवाई आठ अप्रैल को की जाएगी.बता दें के बढ़ते कोविड-19 मामलों के बीच राजधानी दिल्ली में 30 अप्रैल तक रात दस से सुबह पांच बजे तक

नाइट कर्फ्यू लगादिया है. इसके तहत ज़रूरी सेवाओं और वाहनों की आपात आवाजाही जारी रहेगी. राशन, किराना, फल-सब्जी, दूध, दवा से जुड़े दुकानदारों को ई-पास बनवाना होगा, जिसके बाद वो अपनी सेवाएं जारी रख सकेंगे.इस बीच पंजाब सरकार द्वारा भी रात्रिकालीन कर्फ्यू लगाते हुए राजनीतिक आयोजनों पर रोक लगाते हुई विभिन्न दिशानिर्देश जारी किए गए हैं.

अमर उजालाके मुताबिक, इसके अलावा गुजरात में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ने के बीच राज्य सरकार ने 20 शहरों में 30 अप्रैल तक रात आठ बजे से लेकर सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है.गुजरात उच्च न्यायालय ने कहा था कि राज्य में कोविड-19 के कारण स्थिति नियंत्रण से बाहर हो रही है. साथ ही सुझाव दिया था कि वायरस संक्रमण की श्रृंखला को तोड़ने के लिए तीन से चार दिनों के लिए कर्फ्यू या लॉकडाउन लागू किया जा सकता है.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

VIDEO में देखिए, कटारिया को गोली से उड़ाने की धमकी: गुलाबचंद के पुतले को युवकों ने गोली मारी, चेतावनी दी- कटारिया अगर अलोली पहुंचे तो उनके सिर को भी इसी तरह उड़ा देंगे

वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप को लेकर दिए गए विवादित बयान के बाद गुलाबचंद कटारिया का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक कटारिया के खिलाफ बड़ी संख्या में विरोध प्रदर्शन जारी है। गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें गुलाबचंद कटारिया के पुतले को गोली से उड़ाकर, उन्हें जान से मारने की धमकी दी जा रही है। | Karni Sena protested by holding rally in Rajsamand, same will take resignation from Sarva Samaj Katariya on April 18 in Udaipur

कभी कभी गंदी भाषा प्रयोग करने का मन करता है इतना समझ में आना चाहिये अगर कर्फ़्यू लॉकडाउन वायरस का हल होता तो इतने केसेस आते?इतनी तबाही वायरस ने नहीं फैलाई जितनी हमारे गधे नेताओं ने फैलाई है वायरस से 2.5%चांस है मरनेका लेकिन भूख से किसी को है पता कितने लोग मर गये वायरस से ज़्यादा Night me kya takiye se corona hoga?

Night curfew se phyda kya हर स्टेट में हाई कोर्ट ऑर्डर दे रहा है judiciary + govmt अच्छा संकेत नोट for loktantra Night में बाहर होता ही कौन है up में🤣🤣 बस पंचायत चुनाव में खेला हो सकता है।