Chardhamyatra, Yamunotri, Uttarkashi-State, Priests At Yamunotri Temple İn Uttarkashi Cover Donation Boxes With Cloth, Uttarakhand News, Uttarkashi, उत्‍तराखंड समाचार, उत्‍तरकाशी

Chardhamyatra, Yamunotri

यमुनोत्री मंदिर में पुजारियों ने कपड़े से ढक दिया दानपात्र, यात्रियों में गुस्सा; मुकदमे के निर्देश

यमुनोत्री मंदिर में पुजारी द्वारा दान पेटियों को कपड़े से ढकने का मामला आया सामने, एफआइआर दर्ज करने के निर्देश #CharDhamYatra #Yamunotri

7.6.2019

यमुनोत्री मंदिर में पुजारी द्वारा दान पेटियों को कपड़े से ढकने का मामला आया सामने, एफआइआर दर्ज करने के निर्देश CharDhamYatra Yamunotri

उत्तरकाशी के यमुनोत्री मंदिर में पुजारियों ने दान पेटियों को कपड़े से ढक दिया है। इसकी शिकायत मिलने पर प्रशासन ने मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं।

चारधाम यात्रा में यमुनोत्री धाम यात्रा का पहला पड़ाव माना जाता है। यह धाम प्रशासन और यमुनोत्री के तीर्थ पुरोहितों की संयुक्त समिति के संचालन से संचालित होता है। मंदिर समिति का अध्यक्ष बडकोट उपजिलाधिकारी पदेन होता है, जबकि उपाध्यक्ष और सचिव यमुनोत्री धाम के तीर्थ पुरोहितों में से चुने जाते हैं। यमुनोत्री मंदिर के कपाट खुलने से पहले समिति के 12 सदस्य तथा 12 पुजारियों की तैनाती की जाती है, लेकिन, इन तीर्थ पुरोहितों व सदस्यों को किसी तरह का मानदेय नहीं दिया जाता है। जिसके कारण हर वर्ष इस तरह की शिकायतें आती हैं कि पुजारियों ने मंदिर समिति के दानपात्र के ऊपर कपड़ा डाल दिया है तथा यात्रियों से दान राशि को खुले पात्र में ले रहे हैं। जिसका कोई हिसाब नहीं रखा जाता है। इस बार भी यात्रियों ने यह शिकायत की है कि यमुनोत्री मंदिर में पुजारियों ने मंदिर समिति के दानपात्र को कपड़े से पूरी तरह ढक रखा है। और एक खुले पात्र में तीर्थ यात्रियों से दान ले रहे हैं।

यमुनोत्री मंदिर के समिति के पूर्व उपाध्यक्ष पवन उनियाल ने कहा कि दानपात्र को कपड़े से ढकने की शिकायत केवल इसी वर्ष की नहीं है, यहां हर वर्ष होता आ रहा है जिन सदस्यों व पुजारियों की ड्यूटी मंदिर में लगी रहती है, उन्हें किसी तरह का मानदेय मंदिर समिति की ओर से नहीं दिया जाता है। जिसके कारण इस तरह की मनमानी चल रही है। उन्होंने कहा कि यमुनोत्री मंदिर को प्रशासन अपने अधीन ले तथा वैष्णो देवी की तरह श्राइन बोर्ड बनाए, मंदिर में जिसकी पुजारी की तैनाती हो उसे एक निश्चित मानदेय मिले और दान की राशि मंदिर के विकास और सुविधाओं में खर्च हो। इसके लिए सभी तीर्थ पुरोहित भी तैयार हैं।

और पढो: Dainik jagran
ताज़ा खबर
अभी नवीनतम समाचार

शाकिब के 200वें मैच में बांग्लादेश को मिली मात , रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड ने हरायाशाकिब की पारी पर भारी पड़ी टेलर की पारी, रोमांचक मुकाबले में न्यूजीलैंड से हारी बांग्लादेश. BANvNZ NZvBAN RossTaylor CWC2019 CWC19 CricketWorldCup2019 ICCWorldCup2019 ShakibAlHasan

19 साल के भारतीय छात्र ने व्हाट्सऐप में खोजा बग, फेसबुक ने किया सम्मानितपिछले दिनों व्हाट्सऐप में एक खतरनाक बग आ गया था, जो यूजर के मोबाइल फोन की कई फाइलों को अपने आप डिलिट कर देता था। अनंतकृष्णा

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां
• • • • • • • • • • • •
• • • • • • • • • • • •

केरल में निपाह वायरस के संक्रमण के बाद पड़ोसी राज्य कर्नाटक में अलर्टअधिकारियों को किसी भी व्यक्ति को संक्रमण का संदेह होने पर दो अलग-थलग बिस्तर तैयार रखने का निर्देश दिया गया है. इसके अलावा जिला अधिकारियों को स्वास्थ्य सहायकों और आशाकर्मियों को इस बारे में जागरूक बनाने का निर्देश दिया गया है. EVM की जांच करवा लेने दो कही EVM देवी नाराज तो नही । वैसे virus तो गंदगी से फैलती है पर इम्मयून system भी तो स्ट्रांग होनी चाहिए ।

अमेठी में हार के बाद वायनाड में पहली बार पब्लिक के सामने होंगे राहुल गांधीराहुल गांधी ने 2019 का लोकसभा चुनाव दो सीटों से लड़ा था. यूपी की अमेठी लोकसभा सीट पर करारी हार के साथ उन्हें केरल की वायनाड सीट पर शानदार जीत मिली थी. चुनाव के बाद पहली बार राहुल अपने संसदीय क्षेत्र के मतदाताओं से रूबरू होंगे. उसके बाद 2024 में😂 अब समय मिला हे क्या RahulGandhi Wayanad mein sabha ko Sambodhit karte hue!!!

कहानियों
दिन की शीर्ष समाचार कहानियां
• • • • • • • • • • • •
• • • • • • • • • • • •

NEET Result 2019: राजस्थान के नलिन खंडेलवाल ने किया टॉप, टॉपर्स ने बताए पढ़ाई के राजनीट की परीक्षा भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआई) और भारतीय दंत परिषद (डीसीआई) द्वारा मान्यता प्राप्त मेडिकल और डेंटल कॉलेजों में एमबीबीएस और बीडीएस पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) आयोजित करती है. बहुत बहुत बधाई

मोदी-नीतीश-जगन का चुनावी अभियान संभाल चुके प्रशांत किशोर अब ममता के स्ट्रैटजिस्ट बनेकिशोर ने 2019 में आंध्र विधानसभा चुनाव में जगन की वाईएसआर को 175 सीटों में से 151 सीटें दिलाईं 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रशांत किशोर ने भाजपा का चुनाव अभियान संभाला, मोदी ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई 2015 में बिहार विधानसभा चुनाव में जदयू और 2017 में उप्र विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लिए रणनीति बनाई | Prashant Kishor: West Bengal Chief Minister Mamata Banerjee Signs on Political Strategist Prashant Kishor बस अब अगला आफर पाकिस्तान से. ममता लोक सभा चुनाव में हार के बाद बोखला गई है। उसको कुछ भी समझ में नहीं आरहा है। क्या करना है। चारों और हात पैर मार रही है। प्रशांत किशोर से कुछ नहीं होने वाला। बंगाल में जनता की नब्ज नहीं पहचान पाई। मुस्लिमो की तरफ दारी छोड़नी पड़ेगी।

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

07 जून 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

एक चूहे ने गुल कर दी सात हजार घरों की बिजली, जानें- क्‍या है मामला

अगली खबर

अलीगढ़ में ढाई वर्ष की बच्ची की हत्या ने झकझोर दिया बड़ों का दिल, इंस्पेक्टर सहित पांच निलंबित
एक चूहे ने गुल कर दी सात हजार घरों की बिजली, जानें- क्‍या है मामला अलीगढ़ में ढाई वर्ष की बच्ची की हत्या ने झकझोर दिया बड़ों का दिल, इंस्पेक्टर सहित पांच निलंबित