मोहनजोदड़ो की समरीन सोलंगी, जो मिट्टी को भी 'सोना' बना देती हैं - BBC News हिंदी

मोहनजोदड़ो की समरीन सोलंगी, जो मिट्टी को भी 'सोना' बना देती हैं

30-07-2021 17:21:00

मोहनजोदड़ो की समरीन सोलंगी, जो मिट्टी को भी 'सोना' बना देती हैं

समरीन सोलंगी का हुनर उनके पूर्वजों की विरासत है. यूँ तो मोहनजोदड़ो की ये परंपरा सदियों पुरानी है, लेकिन हाल ही में ये फिर से फ़ैशन में आ गई है.

समाप्तनूर मुक़द्दम के क़त्ल की दास्तान जिससे दहल गया है पाकिस्ताननदी की मिट्टीहाजी लाल बख़्श शेख़ गाँव सिंधु नदी के पास स्थित है, जहाँ से वे चिकनी मिट्टी लाती हैं. मिट्टी को पहले सुखाया जाता है, इसके बाद कूट कर बारीक किया जाता है. महीन मिट्टी को मैदा कहते हैं. समरीन के मुताबिक़, मैदे को निकालने के बाद बाक़ी मिट्टी में पानी डाल कर उसे गूंथ लिया जाता है.

इमरान ख़ान को स्नेहा दुबे से मिले वे जवाब, जिनकी हो रही चर्चा - BBC News हिंदी इमरान ख़ान का यूएन महासभा में अमेरिका और भारत दोनों पर तीखा तंज़ - BBC News हिंदी पीएम मोदी के दौरे पर अमेरिकी मीडिया में क्या कहा जा रहा है? - BBC News हिंदी

उनके पास पुजारी या किंग प्रीस्ट का साँचा मौजूद है, लेकिन बाक़ीं चीज़ें हाथ से बनाई जाती हैं, जिन्हें बनाकर सुखाने के लिए रखा जाता है. ये गर्मियों में एक से डेढ़ दिन में और सर्दियों में दो से तीन दिन में सूख जाते हैं.मिट्टी के गहनेमिट्टी से गहने बनाने और पहनने की परंपरा तो मोहनजोदड़ो से लेकर सदियों पुरानी थी, लेकिन हाल ही अब यह एक बार फिर फ़ैशन में आ गया है. इन्हें अब भारत और पाकिस्तान समेत कई देशों में बनाया जा रहा है.

समरीन सोलंगी बताती हैं कि सिंध रोल सपोर्ट ऑर्गेनाइज़ेशन, नाम के एक ग़ैर-सरकारी संगठन ने उन्हें ज्वेलरी बनाने का प्रशिक्षण दिया है. समरीन कहती हैं कि तीन दिवसीय प्रशिक्षण में उनके साथ लगभग 10 लड़कियाँ थीं और उन्होंने ट्रेनिंग के दौरान सिखाई गई चीज़ों को अपने दिमाग़ में वैसे ही पका लिया है जैसे मिट्टी पकाई जाती है. headtopics.com

वो महिला पायलट जो पूछती थीं, पुरुषों के साथ विमान उड़ाने में क्या दिक्कत?अब वह मिट्टी से कान की बालियाँ, झुमके और अन्य गहने बना लेती हैं. इन्हें बनाने के लिए उनके पास कोई विशेष उपकरण नहीं हैं. उनके पास सिर्फ़ एक टूटी हुई छुरी, बॉलपॉइंट केस और एक बॉक्स है जिससे गोलाई वग़ैरह कर लेती हैं. और ये पूरा कमाल किसी स्टूडियो या कारख़ाने में नहीं बल्कि उनके कच्चे घर और आँगन में होता है.

वो कहती हैं, "पहले मैं झुमके के घूंघरू और ऊपर की चक्की बनाती हूँ. उसके बाद नीचे की कप्पी बनाकर पेन से उसका डिज़ाइन बनाती हूँ. इन दोनों भागों को जोड़कर सूखने के लिए छोड़ देती हूँ. इसके बाद गोबर के उपले डालकर इसको पकाती हूं और सुबह तक यह तैयार हो जाते हैं."

मिट्टी के इन गहनों पर हर तरह के रंगों का इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन झुमकों पर ख़ास तौर से चांदी और सोने का रंग ज़्यादा पसंद किया जाता है. समरीन के अनुसार, इस पर सुनहरा रंग लगाने के बाद, लाल और हरे रंग भर दिए जाते हैं, जिससे यह आकर्षक दिखाई देने लगते हैं.

'कोरोना ने सोशल मीडिया की ओर आकर्षित किया'समरीन के घर का रोज़गार मोहनजोदड़ो आने वाले पर्यटकों पर निर्भर था, जो कोरोना की वजह से प्रभावित हुआ है. उनका कहना है कि पर्यटक गर्मियों में कम और सर्दियों में ज़्यादा आते थे, लेकिन कोरोना के कारण यहाँ पर्यटकों का आना बंद हो गया है. इसकी वजह से उनकी बनाई हुई मूर्तियाँ और मुहरें वग़ैरह नहीं बिकती थीं. headtopics.com

Who is Sneha Dubey: भारत की दमदार ऑफिसर स्नेहा दुबे के बारे में सबकुछ, UNGA में बंद कर दी इमरान खान की बोलती युवक ने 10 मिनट में गटक ली डेढ़ लिटर कोल्ड ड्रिंक, 6 घंटे बाद मौत, डॉक्टर ने बताई ये वजह मसीहा का बयान: IT रेड पर सोनू सूद ने दी सफाई- 'मैं अपने और लोगों के खून पसीने से कमाए हुए पैसे बर्बाद नहीं करूंगा, मेरे सपने बड़े हैं'

सक्खर की एक छात्रा अक़्सा शोरो ने समरीन सोलंगी की मदद की और उन्हें सोशल मीडिया से परिचित कराया, जिससे उनका यह हुनर लोकप्रिय हो गया और अब, उन्हें मिट्टी के आभूषणों के ऑर्डर मिल रहे हैं.'हम बाबा के बेटे हैं'समरीन सोलंगी के पिता का हुनर उनके पूर्वजों की भी विरासत है. वह कहती हैं कि उसकी छह बहनें हैं लेकिन कोई भाई नहीं है. 'भाई की कमी तो होती ही है, भाई तो भाई होता है, हम सोचते हैं कि हम बाबा के लिए बेटे हैं और हम बेटों वाला ही काम करते हैं. बाबा को कभी बेटे की कमी नहीं होने दी, बेटा तो बेटा होता है. अगर बेटियों को भी इसी नज़र से देखा जाए तो बेटियाँ भी बेटे ही होती हैं."

समरीन के पिता का स्वास्थ्य ठीक नहीं रहता है. वह काम नहीं करते हैं, लेकिन इस काम में अपनी बेटियों का हाथ बँटाते हैं. समरीन और उनकी बहनें उनकी देखभाल करती हैं.वीडियो कैप्शन,पाकिस्तान की ये लड़की अपने नृत्य से सियासत को चुनौती देती हैवह सुबह जल्दी उठ जाती हैं और मिट्टी से कभी मूर्तियाँ, मुहरें और कभी आभूषण बनाने लगती हैं. एक झुमका बनाने में एक घंटा लगता है. रंग वग़ैरह करने के बाद एक झूमके की क़ीमत तीन सौ रूपये हैं.

समरीन कहती हैं, "जो आमदनी होती है उससे सिर्फ़ गुज़ारा होता है, क्योंकि राशन के अलावा, रंग और अन्य सामान के साथ-साथ पैकिंग का भी ख़र्च होता है."जब मैंने समरीन से पूछा कि उनका सपना क्या है? तो उन्होंने अपनी आदत के मुताबिक़ मुस्कुराते हुए कहा, "मेरी तो कोई इच्छा नहीं है."

मैंने उनसे पूछा कि कुछ तो होगा. इस पर वह एक बार मुस्कुराईं और कहा कि वे अपने परिवार और बहनों को ख़ुश देखना चाहती हैं. और पढो: BBC News Hindi »

वारदात: दिल्ली में अब तक का सबसे भयंकर गैंगवॉर, जज के सामने गैंगस्टर का कत्ल

दिल्ली का रोहिणी कोर्ट का कोर्टरूम पूरी तरह से तैयार था. जज गगनदीप सिंह अपने सीट पर मौजूद थे. मुकादमे की कार्रवाई शुरू हो चुकी थी. इसके बाद अगले केस की बारी थी. और उसी केस के सिलसिल में एक आरोपी को कोर्टरूम में लाया जाता है. कोर्टरूम में आने के बाद वो अपने सीट पर बैठने के लिए आगे बढ़ रहा था. मगर इससे पहले वो बैठ पाता. उसी कोर्टरूम में पहले से मौजूद दो लोग अचानक खड़े होते हैं और पिस्टल निकालकर उस आरोपी पर अंधाधुंध गोलियां चलाना शुरू कर देते हैं. वो दोनों वकील के पोशाक में थे. इसके बाद पुलिस अंदर आती है. और फिर मुठभेड़ होता है. दोनों हमलावरों को पुलिस मार गिराती है. ये सबकुछ कोर्ट परिसर के अंदर होता है. और जज साहब बकायदा इसके गवाह होते हैं. ये कोई फिल्मी कहानी नहीं है. बल्कि दिल्ली की रोहिणी कोर्ट का लाइव शूटआउट का सच है. देखें वारदात.

Aditya Birla sun life insurance is a fraud company and looting the people through their insurance policies. I request to all Indians not to purchase the insurance policies of Aditya Birla sun life insurance. Otherwise, you have to weep for your decision. वाव Awesome 😊

ऐश्वर्या राय बच्चन ने मणि रत्नम की फिल्म की शूटिंग शुरू कीमणि रत्नम के निर्देशन में बन रही तमिल फिल्म ‘पोन्निइन सेल्वन’ की पुदुचेरी में चल रही शूटिंग में ऐश्वर्या राय बच्चन भी शामिल हो गई हैं।

झारखंड हिट एंड रन केसः ज़िला जज की मौत की जांच के लिए एसआईटी का गठनझारखंड के धनबाद शहर में बुधवार को सुबह की सैर पर निकले झारखंड के एक जिला जज उत्तम आनंद को एक ऑटोवाले ने टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई. सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि ऑटोवाले ने उन्हें जान-बूझकर टक्कर मारी है. मृतक जज धनबाद में माफ़ियाओं से जुड़े कई मामलों की सुनवाई कर रहे थे और हाल ही में दो गैंगस्टरों की ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दी थी. जजो को भी सुरक्षा मिलनी चाहिए। JUDGE LOYA DEATH PAR SIT KA GHATAN Q NAHI HUA THA उतनी सरल नहीं है जितनी सरलता से न्यायालय ले रही है धनबाद में कोल_माफिया के खूनी संघर्ष से जिला, उच्च और सुप्रीम कोर्ट तक मामले पटे हुए हैं। काले कोयले का खेल है,कितने मिट चुके हैं इतिहास साक्षी है।टस से मस नहीं होगा। निरसा थाने का प्रत्येक रात इस काले कोयले के काले खेल का गवाह

अमेरिकी मैगजीन का खुलासा: दानिश सिद्दीकी की पहचान के बाद तालिबान ने की नृशंस हत्याअमेरिकी मैगजीन का खुलासा: दानिश सिद्दीकी की पहचान के बाद तालिबान ने की नृशंस हत्या USmagazine DanishSiddique Afghanistan नफरत का बाजार कितना गर्म है धर्म के नाम पर यहाँ तो कुछ लोग मौत पर जश्न मना रहे थे...जबकि हत्या का कारण उनका भारतीये होना था का वर्षा जब कृषि सुखाने napak kayrana harkat

आज की पॉजिटिव खबर: 5 साल पहले नोएडा की इप्सिता ने घर से ही हैंडीक्राफ्ट साड़ियों की मार्केटिंग शुरू की, अब सालाना 60 लाख रुपए है टर्नओवरभारत हमेशा से ट्रेडिशनल आर्ट वर्क का हब रहा है। हमारे यहां हर जगह की अपनी एक खासियत होती है। खासकर, पहनावे को लेकर। हमारे बुनकरों की हाथ की बनाई हुई साड़ी और कपड़ों की डिमांड विदेशों में भी होती है। कई लोग अलग-अलग राज्यों के खास ड्रेसेज का कलेक्शन रखते हैं, लेकिन दिक्कत इनकी अवेलबिलिटी को लेकर होती है। कई बार ढूंढने के बाद भी हमें अपनी पसंद के कपड़े नहीं मिल पाते हैं। अगर मिलते भी हैं तो उनकी क्वालिट... | Ipsita Dash and Vinita Dash, Noida-based saree startup 6yardsandmore works with weavers in remote villages across India and sells sarees, accessories, and more वरिष्ठ_अध्यापक_भर्ती_2016 के रिक्त 1200 पदों पर रीसफल रिजल्ट & वेटिंग लिस्ट जारी करो भर्ती बिना कोर्ट विवाद के 5साल से लंबित है ashokgehlot51 Sos_Sourabh GovindDotasra RESTARajasthan me_moharsingh artizzzz zeerajasthan_ TheUpenYadav Ye kya ho raha tarikh pe tarikh Nyay kab milega ? ashokgehlot51 Sos_Sourabh GovindDotasra zeerajasthan_ 1stIndiaNews TheUpenYadav REET reet2018_नियुक्ति_दो REET2018_धरनाप्रदर्शन_बीकानेर REET2018_JOINING_DO

पेगासस जासूसी मामले में 500 लोगों और समूहों ने सुप्रीम कोर्ट से हस्तक्षेप की मांग कीभारत के प्रधान न्यायाधीश एनवी रमना को 500 से अधिक लोगों और समूहों ने पत्र लिख कर कथित पेगासस जासूसी मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा फौरन हस्तक्षेप करने का आग्रह किया है। उन्होंने एनएसओ के पेगासस स्पाइवेयर की बिक्री हस्तांतरण और उपयोग पर रोक लगाने की भी मांग की है।

Monsoon Session: Lok Sabha की कार्यवाही शुरू होते ही हंगामा, विपक्ष ने की नारेबाजीमॉनसून सत्र की कार्यवाही का आज 10वां दिन है. संसद की शुरुआत हंगामे के साथ हुई है. आज लोकसभा में कोरोना के मुद्दे पर चर्चा होनी है. वहीं, पेगासस जासूसी कांड को लेकर कांग्रेस ने स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है. वहीं, हंगामे के बीच लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने टोक्यो ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली बॉक्सर लवलीना बोरगोहेन को बधाई दी है. उन्होंने कहा कि पूरा देश आपकी इस सफलता से गौरवान्वित है. राष्ट्र अब आपकी स्वर्णिम सफलता के लिए कामना कर रहा है. राज्यसभा की कार्यवाही 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई है. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो. मतलब साफ है। भाजपा अपने करतूत स्वीकार नहीं करता,जानबूझ कर और कार्यवाही को बढ़ावा नहीं मिलता। मॉनसून सत्र के समय खराब करने में विपक्ष से ज्यादा मौजूदा सरकार का नाकाम इरादा स्पश्ट हो चुका है। क्यों नहीं बयान करता पेगासिस और कृषि बिल का मामला........?