Kundalipolicestation, Sandipkhirwar, Dalit, Singhuborder, Nihang, Dalitmurder, Lakhwindersingh, Tarntaran, Farmers Protest, Singhu Border, Nehangs, Lakhbir Killed, Village Cheema, Amritsar News, Punjab News

Kundalipolicestation, Sandipkhirwar

मोबाइल की रोशनी में लखवीर का संस्कार: पंचायत, सत्कार कमेटी और ग्रामीणों के विरोध के चलते सिर्फ परिवार रहा मौजूद, अंतिम अरदास भी नहीं हुई

मोबाइल की रोशनी में लखवीर का संस्कार: पंचायत, सत्कार कमेटी और ग्रामीणों के विरोध के चलते सिर्फ परिवार रहा मौजूद, अंतिम अरदास भी नहीं हुई #Kundalipolicestation #Sandipkhirwar #Dalit #SinghuBorder #nihang #dalitmurder #LakhwinderSingh #TarnTaran

16-10-2021 17:33:00

मोबाइल की रोशनी में लखवीर का संस्कार: पंचायत, सत्कार कमेटी और ग्रामीणों के विरोध के चलते सिर्फ परिवार रहा मौजूद, अंतिम अरदास भी नहीं हुई Kundalipolicestation Sandipkhirwar Dalit SinghuBorder nihang dalit murder LakhwinderSingh TarnTaran

सिंघु बॉर्डर पर निहंगों की बर्बरता का शिकार हुए लखवीर सिंह की बॉडी शनिवार शाम को तरनतारन जिले में उनके गांव चीमा पहुंच गई। हरियाणा से बॉडी लेकर आई एम्बुलेंस को सीधे गांव के श्मशान घाट ले जाया गया जहां पहले से ही लखवीर के परिवार के सदस्य और पुलिसवाले मौजूद थे। लखवीर के संस्कार के समय श्मशान घाट में पर्याप्त रोशनी नहीं थी। ऐसे में मोबाइल फोन की रोशनी में संस्कार किया गया। चीमा गांव की पंचायत, सत्कार... | सिंघु बॉर्डर पर निहंगों की बर्बरता का शिकार हुए लखबीर सिंह के शव का तरनतारन जिले में स्थित उसके गांव चीमा में पहुंचने को लेकर विरोध शुरू हो गया है। ग्रामीणों के साथ पंचायत सदस्यों ने कहा कि जिस पर गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का आरोप लगा है उसका अंतिम संस्कार गांव में नहीं होने देंगे।

मोबाइल की रोशनी में लखवीर का संस्कार:पंचायत, सत्कार कमेटी और ग्रामीणों के विरोध के चलते सिर्फ परिवार रहा मौजूद, अंतिम अरदास भी नहीं हुईहरदयाल सिंह/तरनतारन18 मिनट पहलेकॉपी लिंकचीमा गांव में शनिवार शाम को अंधेरे में ही लखवीर का संस्कार कर दिया गया।सिंघु बॉर्डर पर निहंगों की बर्बरता का शिकार हुए लखवीर सिंह की बॉडी शनिवार शाम को तरनतारन जिले में उनके गांव चीमा पहुंच गई। हरियाणा से बॉडी लेकर आई एम्बुलेंस को सीधे गांव के श्मशान घाट ले जाया गया जहां पहले से ही लखवीर के परिवार के सदस्य और पुलिसवाले मौजूद थे। लखवीर के संस्कार के समय श्मशान घाट में पर्याप्त रोशनी नहीं थी। ऐसे में मोबाइल फोन की रोशनी में संस्कार किया गया। चीमा गांव की पंचायत, सत्कार कमेटी और ग्रामीणों ने सुबह ही लखवीर के संस्कार में न जाने की बात कह दी थी इसलिए शाम को श्मशानघाट में सिर्फ लखवीर की पत्नी, बहन और परिवार के दूसरे सदस्य ही मौजूद रहे। संस्कार के समय होने वाली अंतिम अरदास भी नहीं की गई।

शनिवार शाम को लखवीर की बॉडी चीमा गांव पहुंचने के बाद श्मशानघाट में विलाप करती उसकी पत्नी जसप्रीत कौर और बहन राज कौर।गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी से लोगों में रोषसिंघु बॉर्डर पर किसान आंदोलन स्थल के पास जिस बर्बर तरीके से लखवीर को मारा गया, उसका सभी ने विरोध किया। लखवीर पर आरोप था कि उसने गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी की। इसे देखते हुए चीमा गांव के लोगों और पंचायत सदस्यों ने ऐलान कर दिया कि लखवीर का शव जब भी गांव आएगा, उसका विरोध किया जाएगा। चीमा गांव की पंचायत के सदस्य सतनाम सिंह, सर्बजीत सिंह, आशीष पाल सिंह चीमा, गुरदयाल सिंह, कंवलजीत सिंह, राजिंदर सिंह, रतन सिंह, जसपाल सिंह और सुखवंत सिंह ने कहा कि वह नहीं चाहते कि लखवीर का शव उनके गांव आए। वह न ही यहां लखवीर का संस्कार होने देंगे। प्रशासन यदि जबरदस्ती करेगा तो उसका पुरजोर विरोध किया जाएगा। ग्रामीणों और पंचायत ने कहा कि लखबीर पर जो आरोप लगे हैं, वह शर्मसार करने वाले हैं। उसने गुरुग्रंथ साहिब की बेअदबी की है। पंचायत सदस्यों ने कहा कि इस बात की भी संभावना है कि लखवीर से यह बेअदबी किसी ने करवाई हो।

सत्कार कमेटी के सदस्य और गांव की पंचायत अपना फैसला सुनाते हुए।सत्कार कमेटी ने कहा-शव गांव आने दें मगर सिख मर्यादा से नहीं होगा संस्कारदोपहर बाद सत्कार कमेटी के सदस्य चीमा गांव पहुंचे। उन्होंने कहा कि लखवीर का संस्कार सिख मर्यादा के साथ नहीं होने दिया जाएगा। संस्कार से पहले कोई अरदास नहीं होगी। अखंड पाठ भी नहीं रखा जाएगा और न ही अंतिम अरदास होगी। हालांकि सत्कार कमेटी ने यह भी कहा कि चूंकि लखवीर की मौत हो चुकी है इसलिए उसकी बॉडी को गांव आने दिया जाए और संस्कार भी यहीं करने दिया जाए। इसके बाद चीमा गांव की पंचायत और ग्रामीणों ने सत्कार कमेटी के फैसले को मानते हुए लखवीर का संस्कार गांव में करने पर रजामंदी दे दी। हालांकि ग्रामीणों ने स्पष्ट कर दिया कि गांव का कोई भी आदमी लखवीर के संस्कार में नहीं जाएगा। headtopics.com

लखबीर को तो दूसरे के गांवों का भी नहीं पता थाचीमा गांव की पंचायत के मेंबर सतनाम सिंह ने बताया कि लखवीर ऐसा इंसान था, जिसे तरनतारन जिले के ही सारे गांवों का पता नहीं था। ऐसे में उसे मोहरा बनाकर सियासत खेली गई। अगर उसने बेअदबी करनी ही होती तो वह गांव में ही बने गुरुद्वारा साहिब में भी कर सकता था।

तरनतारन के गांव चीमा में वह घर, जहां लखवीर रहता था। और पढो: Dainik Bhaskar »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

क्या बेअदबी किया था लखविंदर ने ये भी बताना चाहिए नरपिशाचों को Sala bikaau akhbar....teri jada ga.....d fatti hoi aa. . ਇੱਕੀ ਦੁੱਕੀ ਪਤਰਕਾਰ ਨੇ ਲਖਬੀਰ ਨੂੰ ਰੱਬ ਬਣਾ ਰਖਿਆ ਜਿਹਨੂੰ ਜਿਆਦਾ ਚਾ ਆ ਓਹਦੀ ਓਹਦੇ ਪਿੰਡ ਚ ਜਾ ਕੇ ਕਰਤੂਤ ਪੁੱਛੋ

राजभर की BJP के साथ आने की अटकलें, यूपी में 'ब्रेकअप' की तैयारी में AIMIMभारतीय सुहेलदेव समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के अगुवाई में बने भागीदारी संकल्प मोर्चा 2022 के चुनावी मैदान में उतरने से पहले ही दरार पड़ती दिख रही है. बीजेपी के साथ राजभर के जाने के आसार के साथ ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने भागीदारी मोर्चा से अलग होने की धमकी दे दी है.

आज जेल में कटेगी आर्यन की रात, आम कैदियों के सेल में किए गए शिफ्टशिप ड्रग केस में फंसे आर्यन खान की मुश्किलें दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही हैं. इसी बीच आर्यन को कैदी संख्या N956 आवंटित किया गया है. वह सुरक्षा कारणों के चलते मामलों के आरोपियों के साथ आर्थर रोड जेल में बैरक में रहेंगे. हालांकि सुरक्षा कारणों से बैरक नंबर का खुलासा नहीं किया गया है. उधर, ड्रग्स केस को लेकर NCB पर नवाब मलिक ने नया आरोप लगाया है, कहा- तंबाकू और गांजे में फर्क नहीं कर सकती है जांच एजेंसी. नवाब मलिक ने दामाद समीर खान की गिरफ्तारी को लेकर NCB पर उठाए सवाल, कहा- सियासी साजिश के तहत बनाया गया निशाना. देखें मुंबई मेट्रो. Sb drugs lene bale ko and bechne bale ko kam se kam 1 year ka jail hona chahiye and shakt karbaye kare I think you know very well that All individuals are equal before law. Is it really more important than any other issues in the country?

इन 6 खिलाड़ियों के कंधे पर है IPL 2021 के फाइनल में जलवा दिखाने की जिम्मेदारीIPL 2021 के फाइनल में चेन्नई सुपर किंग्स और कोलकाता नाइट राइडर्स की ओर से वे कौन-कौन से खिलाड़ी हैं जिनके कंधे पर खिताबी मैच में जलवा दिखाने की जिम्मेदारी है। ऐसे ही 3-3 खिलाड़ियों के बारे में इस खबर में आप जानने वाले हैं।

दशहरा उत्सव के बीच मथुरा के एक मंदिर में हुई रावण की आराधना, जानें पूरा मामलादशहरा उत्सव के बीच मथुरा के एक मंदिर में हुई रावण की आराधना, आयोजक बोले- राम को दिया था जीत का आशीर्वाद Dussehra

रूस में कोरोना का कोहराम, 1 दिन में रिकॉर्ड 1000 से ज्‍यादा लोगों की मौतमास्को। रूस में कोरोनावायरस (Coronavirus) कोविड-19 का कहर थमता नजर नहीं आ रहा है। देश में लगातार बढ़ते मामलों और मौतों से कोहराम मचा हुआ है। इसी बीच आज यानी शनिवार को भी कोरोनोवायरस महामारी की शुरुआत के बाद पहली बार 24 घंटे में 1000 से ज्‍यादा लोगों की मौत हुई है। इससे पहले बीते कल यानी शुक्रवार को एक दिन में 32196 नए मामले दर्ज किए गए थे और 999 लोगों की मौत हुई थी।

केरल में Corona के 8000 से कम केस, 24 घंटों में 57 लोगों की मौतनई दिल्ली। केरल में कोरोनावायरस (Coronavirus) के शनिवार को 8000 से भी कम के आए हैं, जबकि पिछले 24 घंटों में संक्रमण के चलते 57 लोगों की मौत हो गई।