Factcheck, Alert, Citizens, Government, Modi, Corona, Rupees, Rs, Rupees, 7500 Relief Fund, Modi Government, Coronavirus, Covid-19

Factcheck, Alert

मोदी सरकार सभी लोगों के खाते में 7500 रुपए ट्रांसफर कर रही है? एक्सपर्ट ने भास्कर को बताया - वायरल हो रही लिंक रूस की है, इससे भारतीय यूजर के डेटा चोरी का खतरा

क्या आपके खाते में 7500 रुपए ट्रांसफर कर रही है मोदी सरकार? इस वायरल मैसेज के लिंक में है खतरा #FactCheck #ALert

26-09-2020 14:14:00

क्या आपके खाते में 7500 रुपए ट्रांसफर कर रही है मोदी सरकार? इस वायरल मैसेज के लिंक में है खतरा FactCheck ALert

और सच क्या है ? | Is the Modi government going to give a relief fund of 7500 rupees to all citizens in the Corona era? 3 month old fake message is going viral again. सोशल मीडिया पर एक मैसेज वायरल हो रहा है। इसमें दावा किया जा रहा है कि सरकार ने आखिरकार कोरोना काल में सभी नागरिकों को 7500 रुपए की राहत राशि देने का ऐलान कर दिया है। मैसेज का साथ एक लिंक भी है। दावा है कि इस पर क्लिक करके ही इस राशि का लाभ लिया जा सकता है।

और सच क्या है ?आमतौर पर सरकारी वेबसाइट के यूआरएल के आखिर में gov.in लिखा होता है। लेकिन, वायरल हो रही लिंक में ऐसा नहीं है। इसी से लिंक की विश्वसनीयता पर सवाल खड़ा होता है।अलग-अलग की-वर्ड सर्च करने से भी इंटरनेट पर हमें ऐसी कोई खबर नहीं मिली। जिससे पुष्टि होती हो कि भारत सरकार ने 7500 रुपए हर नागरिक को देने की घोषणा की है।

बागपत में अफसरों से पूछे बिना दरोगा ने बढ़ाई दाढ़ी; तीन बार की चेतावनी को अनसुना किया, एसपी ने निलंबित किया आइटम विवाद में अब इमरती बोलीं- कमलनाथ की मां और बहन होंगी बंगाल की आइटम लेह को चीन का हिस्सा दिखाया, सरकार बोली- देश की अखंडता का अपमान बर्दाश्त नहीं

वायरल हो रही लिंक पर क्लिक करने से ये पेज खुलता है। जहां से यूजर से उसकी नागरिकता के बारे में पूछा जाता है। इस सवाल का जवाब देने के बाद एक के बाद एक कई पेज खुलेंगे, जहां आपको सवालों के जवाबों पर क्लिक करना होगा। ये सवाल आपके खान - पान, हॉबी, जरूरतों से जुड़े होंगे।

कुछ सवालों के जवाब देने के बाद वेबसाइट पर ये पेज खुलेगा और आपसे कहा जाएगा कि इस लिंक को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें। यकीन मानिए शेयर करने के बाद भी आपके खाते में कोई राशि नहीं आएगी। क्योंकि फैक्ट चेक टीम ने पाठकों तक सच पहुंचाने के लिए ये पूरा प्रोसेस फॉलो किया है।

तीन महीने पहले केंद्र सरकार के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ही इस दावे को फेक बताया जा चुका है। और पढो: Dainik Bhaskar »

बलिया गोली कांड: 50 हजार का इनाम, 8 नामजद, 25 अज्ञात, पुलिस के हाथ आए सिर्फ 7

बलिया गोलीकांड का मुख्य आरोपी धीरेंद्र सिंह अबतक फरार है. यूपी पुलिस ने सभी आरोपियों के ऊपर 50-50 हजार रुपये का इनाम रखा है. लेकिन अब तक 8 नामजद और करीब 25 अज्ञात आरोपियों में से सिर्फ़ 7 की गिरफ्तारी हुई हैं और इनमें भी सिर्फ़ दो ही नामजद हैं. बाकी नामजद आरोपियों का कोई पता ठिकाना नहीं है. साथ ही अब सभी आरोपियों पर NSA और गैंग्स्टर एक्ट के तहत केस चलेगा. देखिए ये रिपोर्ट.

यहाँ मेरे मुहल्ले में एक गार्ड को बाइक सवार बोल रहा था देखो कल तुम्हारे खाते में 15 लाख आने वाला है मोदी ने मुझे दिया है,जहाँ मैं पहुँची भाग गया,

SBI में कैश डिपॉजिट पर लगता है चार्ज, जानें विड्राल पर क्या है बैंक का नियमअगर कोई ग्राहक तय सीमा से ज्यादा बार अकाउंट से पैसे की निकासी करता है तो उससे 50 रुपये का चार्ज लिया जाता है। यही नहीं इसके साथ ही जीएसटी भी देना होता है।

ग्लोबल विलन चीन का भारत के खिलाफ चालबाजी का रहा है पुराना इतिहासभारत और चीन के बीच तनाव इस समय पूरे चरम पर है। सीमा (LAC) पर युद्ध जैसे हालात बने हुए हैं। चीन में शासक कोई भी रहा हो, लेकिन उसकी विस्तारवादी नीति हमेशा एक जैसी रही है। पंचशील के सिद्धांतों और हिन्दी-चीनी भाई-भाई के नारे की आड़ में लाल चीन ने हमेशा अपनी काली करतूतों को ही अंजाम दिया है।

केजरीवाल का दावा- दिल्ली में खत्म हो चुका है कोरोना का पीक, अब कम होंगे मामलेकेजरीवाल ने कहा, ‘‘दिल्ली में कोरोना वायरस के मामले बढ़े हैं क्योंकि जांच में काफी बढ़ोतरी की गई है। 16 सितम्बर को प्रतिदिन मामले करीब 4,500 थे जो अब कम होने शुरू हो गए हैं और अब प्रतिदिन करीब 3,700 मामले सामने आ रहे हैं’’

Kia Sonet का नया ऑटोमेटिक वैरिएंट हुआ लांच, जानिए क्या है इसमें खासKia Sonet कंपनी की तरफ से भारतीय बाजार में पेश की जाने वाली तीसरी वाहन है। इसे कंपनी ने पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन विकल्प के साथ पेश किया है। इस एसयूवी की शुरुआती कीमत महज 6.71 लाख रुपये तय की गई है।

समझ के साथ पढ़ना सिखाने की चुनौती, शिक्षकों को बनाता है कौशल का धनीपढ़कर सीखना बच्चे को तर्कपूर्ण ढंग से सोचने और समस्याओं का समाधान कर पाने के कौशल का धनी बनाता है। इससे उनमें चुनौतियों से जीत की तैयारी सुनिश्चित होती है। दुनिया में ओआरएफ को समझ के साथ में पढ़ने के लिए सबसे भरोसेमंद संकेतक के तौर पर देखा जाता है DrRPNishank AshishDhawanCSF CSF_India एक शिक्षिका के रूप में बच्चों में 'समझ के साथ पढ़ना' के कौशल को विकसित करने के लिए मेरा अनुभव है,मैं बच्चों से ज़्यादा से ज़्यादा संवाद करती हूँ।उन्हें कहानियों,कविताओं व चित्रों के माध्यम से उनसे जुड़ते हुए व उन्हें समझते हुए उन्हें पढ़ने के लिए प्रेरित करती हूं। EduMinOfIndia

किशनगंज: बिहार का ऐसा जिला जहां मुस्लिमों के हाथ में रहती है सत्ता की चाबीयह बिहार का अकेला जिला है जहां मुस्लिम आबादी बहुसंख्यक है. जिले में करीब 68 फीसदी मुस्लिम आबादी है तो लगभग 31 फीसदी हिंदू आबादी है. जिले में वोटों का गणित देखते हुए विधानसभा सीटों पर भी सभी पार्टियां मुस्लिम उम्मीदवारों को प्राथमिकता देती हैं. Sale jihadis rohingya India 80% hindu aur hinduo ke hath rehti he satta ki chabhi. Aur hindu hi khatre me bhi rehta he! Shame shame देश द्रोही न्यूज़ चैनल