Buying A Bike, Motercycle, Delivery Inspection Checklist, İmportant Thing Related Bike Purchasing, Auto News, Auto Tips

Buying A Bike, Motercycle

मोटर साइकिल लेने से पहले इन बातों पर जरूर दें ध्यान, डिलीवरी के वक्त भी यें चीजें कर लें चेक वरना हो सकते हैं परेशान

मोटरसाइकल लेने से पहले इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना होना पड़ेगा परेशान...

17-09-2021 16:49:00

मोटरसाइकल लेने से पहले इन बातों का जरूर रखें ध्यान, वरना होना पड़ेगा परेशान...

बाइक लेने की खुशी में आपने अगर इन बातों को नजरअंदाज कर दिया तो बाद में आपको पछताना पड़ सकता है। ऐसे में गाड़ी की डिलीवरी से पहले शोरूम पर इन बातों पर जरूर ध्यान चाहिए।

बजाज की पल्सर 220 घर ले जाएं बेहद कम कीमत पर।( फोटो- LINE17)अगर आप नई बाइक खरीदने जा रहे हैं या फिर जल्द ही ऐसा करने की आपकी योजना है तो यह खबर आपके लिए उपयोगी हो सकती है। हम आपको कुछ ऐसी छोटी छोटी लेकिन जरूरी बातें बताएंगे जिससे आपको मोटरसाइकिल खरीदने के बाद कोई परेशानी न हो।

राहुल गांधी बोले- पार्टी नेताओं ने दबाव बनाया तो दोबारा कांग्रेस प्रमुख बनने के बारे में सोचेंगे 'कोई पछतावा नहीं': सिंघु बॉर्डर पर क्रूर हत्या की जिम्मेदारी लेने वाले 'निहंग' ने कहा T20 WC से पहले विराट बोले- धोनी का साथ बढ़ाएगा जोश, Ind-Pak मैच पर दिया ये बयान

खरीदार शोरूम जाकर बाइक पसंद करते हैं, कीमत पता करते हैं और खरीद लेते हैं। लेकिन बाइक की डिलीवरी लेते समय अगर आप जरूरी बातों को नजरअंदाज करेंगे तो बाद में पछताना पड़ेगा।बाइक की डिलीवरी लेते समय आपको यह कन्फर्म करना चाहिए:उसका रंग यानी पेंट सही होउसके डिजाइन में किसी प्रकार की खामी न हो

बाइक को स्टार्ट करके इंजन सही होने की पुष्टि कर लेंटायर्स नए हों, चले न हों और उन पर किसी प्रकार का कट न होबाइक की बॉडी या पेंट पर खरोंच न होंसाथ में मिलने वाली गारंटी और वॉरंटी के पेपर्स देख लें।गाड़ी का आउटलुक और कलर:गाड़ी की डिलीवरी से पहले आपको बाइक की बॉडी को ध्यान से जरूर चेक कर लेना चाहिए। आप संतुष्ट हो जाएं कि बाइक में कहीं डेंट, खरोंच या फिर कोई कमी तो नहीं। अगर ऐसा कुछ दिखे तो समझिए कि बाइक के रखरखाव में उसे नुकसान पहुंचा है। बाइक पर किए गए पेंट की भी जांच जरूर करें। यह परतदार नहीं होनी चाहिए। बाइक पर हर जगह पेंट एक समान सा हो। अगर ऐसा नहीं है तो आप उसकी ना डिलीवरी ना लें। headtopics.com

शोरूम से बाइक लाने से पहले उसके हेडलैम्प्स, टेल लाइट्स, इंडिकेटर्स को चेक कर लें। इसके स्पीडोमीटर सहित सभी इलेक्ट्रिक चीजों को जांच लें और संतुष्ट हो जाएं।रिम चेक करें:बाइक के स्टैंड को भी चेक करें। यह बैलेंस्ड होने चाहिए। बाइक को साइड स्टैंड पर खड़ी करने पर यह ज्यादा झुकनी नहीं चाहिए। बाइक को स्टैंड पर खड़ा करके पहियों को घुमाकर देखें। इससे पहिए का बैलेंस पता चलता है साथ ही यह कितना फ्री घूमता है यह भी पता चल जाता है। अगले और पिछले पहिए की रिम में अगर आपको जंग दिखे तो आप उसे बदलने के लिए कहें।

इंजन से जुड़ी ध्यान रखने वाली जरूरी बातें: बाइक डिलीवरी से पहले आप शोरूम में ही बाइक को चालू कर उसके इंजन की आवाज ध्यान से सुनें। कुछ गड़बड़ लगे तो बाइक बदलने के लिए कहें। साइलेंसर को भी जांचें, यह देखें कि उससे निकलने वाले धुएं का रंग कैसा है। अगर सफेद धुंआ दिखता है तो मतलब

में कुछ दिक्कत है। अगर आपको बाइक में कुछ भी संदेहास्पद दिखे तो एक बार टेस्ट ड्राइव के लिए जरूर कहें।टायर चेक करें:मालूम हो कि शोरूम तक बाइक्स को लाने में अधिकतर ट्रकों का इस्तेमाल किया जाता है, ऐसे में आप जो बाइक ले रहे हैं इसके पहियों की जांच कर लें, टायर पर किसी तरह के कट्स ना लगें हों। अगर किसी तरह का निशान या कट्स दिखे तो शोरूम मालिक से उसे बदलने के लिए कहें। खास बात यह कि जो आपको टायर से संबंधित ध्यान में रखनी चाहिए कि बाइक में लगा टायर एक साल से अधिक समय का ना बना हो। टायर का प्रेशर भी चेक करें। क्योंकि शोरूम में गाड़ियां कई दिनों से खड़ी रहती है, ऐसे में इसकी पड़ताल करना जरूरी है। साथ ही टायर मैन्युफैक्चरिंग तारीख और साल भी पता करें।

जरूरी कागज:इन सब जरूरी चेकिंग के अलावा सुनिश्चित कर लें कि बाइक खरीदते समय आपको टूलकिट, ओनर मैनुअल, टैक्स रसीदें, बीमा के कागज मिल रहे हैं या नहीं। अगर शोरूम ऐसा नहीं कर रहा तो उसे इन सब चीजों को देने के लिए कहें।जो बाइक पसंद की वही मिल रही है या नहीं: headtopics.com

शरद पवार बोले- BSF की ताकत बढ़ाने के मामले पर करेंगे गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात श्रीनगर में गोलगप्पा बेचने वाले की गोली मारकर हत्या, 2 सप्ताह में ऐसी आठवीं हत्या सिंघु बॉर्डर से ग्राउंड रिपोर्टः शुक्रवार को सिंघु बॉर्डर पर क्या-क्या हुआ - BBC News हिंदी

गाड़ी शोरूम से लाने से पहले ये भी चेक करें कि आपको बाइक की एक्स्ट्रा Key मिली है या नहीं। कोशिश करें कि जिस दिन आप बाइक सेलेक्ट कर रहे हैं, उसी दिन डिलीवरी हो, अगर ऐसा संभव नहीं है तो जिस बाइक मॉडल को आप पसंद कर चुके हैं, उसका इंजन और चेसिस नंबर जरूर लिख लें। जिससे आगे आप उसी बाइक को डिलीवर करने के लिए कहें।

पेमेंट के दौरान मिलने वाले इनवाइस में लिखी राशि को खुद के द्वारा दी गई राशि से मिलान कर लें। कन्फर्म कर लें कि जिस बाइक को आपने शॉर्टलिस्ट किया था, वहीं गाड़ी आपको डिलीवर हो रही है या नहीं। और पढो: Jansatta »

VIDEO, थाने पहुंचा रावण दहन विवाद: विधायकजी भाषण देते रह गए... और युवक ने फूंक दिया रावण, बोला- जय श्रीराम

छिंदवाड़ा में विधायकजी भाषण देते रह गए और युवक ने रॉकेट में आग लगाकर रावण का पुतला जला दिया। इसके बाद बोला- जय श्रीराम। मामला परासिया की चांदामेटा पंकज स्टेडियम में रावण दहन कार्यक्रम का है। रावण दहन विवाद की शिकायत पुलिस में की गई गई। | राम-लक्ष्मण देखते रहे और युवक ने जला दिया रावण!

सोनू सूद से हर्ष मंदर तक- इन कार्रवाइयों का क्या मतलब है?सोनू सूद के घर आयकर टीम क्यों पहुंची? सोनू सूद ने ऐसा क्या किया कि सरकार को अपनी एजेंसियां उसके घर दौड़ानी पड़ीं? क्या वाकई दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के एक शैक्षणिक कार्यक्रम में ब्रांड अंबैसडर के तौर पर सोनू सूद का जुड़ना सरकार को इतना बुरा लगा कि उसने तत्काल उन्हें सबक सिखाने की सोच ली? सोनू सूद ने सिधा लोगों को मदद कि थी पर मोदी फंड में पैसे नहीं दिये थे इसलिए चौकीदार को बूरा लग गया है। 😜 🤣 ये तो हम बिना बताए ही जानते है सत्ता पक्ष से विरोधी विचार से आप देश द्रोही भी बन सक्ते है ED भी आ सकती है CBI भी आ सकती है इसके लिए कुछ करने की जरूरत नही केवल सत्तापक्ष से विरोधी विचार ही इन सबके लिए बहोत है मोई जी के झोले में कुछ डाल देते तो शायद बच जाते।

त्योहार में न करें लापरवाही: फेस्टिव सीजन में कोरोना केस बढ़ने की आशंका; शॉपिंग, ट्रैवलिंग, फैमिली गैदरिंग से लेकर धार्मिक स्थलों पर इन बातों का रखना होगा ध्यानभारत में कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच फेस्टिव सीजन की शुरुआत हो चुकी है और तकरीबन दो महीने तक ये सिलसिला चलेगा। दुनिया के किसी भी देश के मुकाबले भारत में फेस्टिवल काफी धूमधाम से मनाया जाता है। इसमें लोगों का न सिर्फ एक दूसरे के घर आना-जाना बढ़ेगा बल्कि फेस्टिवल सेलिब्रेट करने के लिए धार्मिक स्थलों पर भी भीड़ बढ़ेगी। शॉपिंग और ट्रैवलिंग के लिए भी लोग बाहर निकलेंगे। | Corona cases are expected to increase in the festive season, from shopping, traveling, family gathering to religious places, these things will have to be kept in mind Take care only during Hindu festivals. Corona misses non Hindu festivals मोदी सरकार हमेशा पूँजीपतियों की मदद करती हैं, जो ग़रीबों और मज़लूमों के साथ खड़ा होता है उसे आप अपनी एजेंसीयों से डराते हैं, IT, ED और CBI भेजकर रेड कराते हैं पर याद रखियेगा जो ग़रीबों और मज़लूमों के साथ होता है लाखों दुवायें उसके साथ चलती हैं। SonuSood AamAadmiParty यह कैसा कोरोना है त्योहारों में आ जाता है और चुनावों में चला जाता है

Bigg Boss OTT: राकेश बापट से पहले इन कंटेस्टेंट्स की वजह से रद्द हो चुका है टास्क, घर में मचा था बवालBigg Boss OTT: राकेश बापट से पहले इन कंटेस्टेंट्स की वजह से रद्द हो चुका है टास्क, घर में मचा था बवाल RakeshBapat NehaBhasin PratikSehajpaal BiggBossOTT

Bihar: इन बच्चों के Account में कहां से आ गए 900 करोड़ रुपये से ज्यादा? जानें पूरा मामलाबिहार के कटिहार में दो स्कूली छात्रों के बैंक अकाउंट में 960 करोड़ रुपये आने की खबर फैलने से लोग अचंभे में पड़ गए. इतनी बड़ी धनराशि अकाउंट में आने की खबर से छात्रों के साथ बैंक अधिकारी भी हैरान हो गए. वहीं इस बात का पता जब दूसरे लोगों को चला तो उन्होंने भी अपने अकाउंट चेक करने शुरू कर दिए. इसके चलते बैंक में लोगों की लाइन लग गई. हालांकि, बैंक की ओर अब इस खबर को फर्जी बताया गया है. दरअसल, पहले ये खबर आई थी कि बिहार सरकार द्वारा स्कूल ड्रेस के लिए भेजे जाने वाले पैसों की जानकारी के लिए आजमनगर थाना क्षेत्र के पस्तिया गांव के दो स्कूली छात्र एसबीआई के सीएसबी सेंटर पहुंचे. इन दोनों ने जब अपने अकाउंट की जानकारी ली तो पता चला कि इनके खाते में करोड़ों रुपये जमा हैं. इस वीडियो में देखें क्या है पूरा मामला.

UPSC New Notification: यूपीएससी ने इन कैंडिडेट्स के लिए जारी किया जरूरी नोटिस, यहां करें चेकUPSC Notification 2021: आयोग ने कंबाइंड मेडिकल सर्विस परीक्षा का शेड्यूल रिलीज़ कर दिया है. UPSC CMS 2021 परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्‍मीदवार आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर जाएं और जारी एग्‍जाम शेड्यूल डाउनलोड करें.

कूटनीति: तालिबान से बातचीत शुरू करने को लेकर भारत अभी भी 'वेट एंड वॉच' की नीति पर, पहले इन शर्तों पर करना होगा अमल!कूटनीति: तालिबान से बातचीत शुरू करने को लेकर भारत अभी भी 'वेट एंड वॉच' की नीति पर, पहले इन शर्तों पर करना होगा अमल! TalibanTakeover